Foods that fight Cold and Flu – ज़ुकाम और फ्लू से लड़ने के लिये 10 भोजन

ज़ुकाम और फ्लू श्वास सम्बंधित सामान्य समस्या है। जिससे लाखों लोग विश्व में पीड़ित हैं। जुकाम के लक्षण, ज़ुकाम फ्लू की तुलना में मृदु श्वास की समस्या है। ज़ुकाम से लोग कम समय तक पीड़ित रहते है जबकि फ्लू से पीड़ित लोग कुछ दिनों तक या हफ्तों तक पीड़ित रहते हैं। ज़ुकाम और फ्लू के होने के 200 से अधिक विषाणु कारण हैं। ज़ुकाम के ज्यादातर लक्षण गर्दन के ऊपर रहते है जैसे गले में खरास, नाक बंद होना, बल्गम और छींक। इन लक्षणों के साथ बुखार, सिर दर्द, शरीर दर्द और अत्यधिक कमज़ोरी फ्लू का लक्षण देता है। ज़्यादा ज़ुकाम न्यूमोनिया, कान का संक्रमण या अस्थमा का कारण हो सकता है। अनुसंधानकर्ताओं ने पता लगाया है कि केवल औषधियां ही लाभकारी नहीं होती हैं बल्कि प्रतिरक्षा को मजबूत बनाने वाले भोजन का उपभोग(jukam ke desi ilaj) सहायता देगा।

भोजन जो ज़ुकाम और फ्लू से लड़ेगा (Foods That Fight Cold and Flu)

  • चिकन सूप: यह आपको ज़ुकाम और फ्लू से लड़ने में सहायता देगा। इसमें मृदु सूजन विरोधी गुण पाया जाता है जो श्वास नली के ऊपर के भाग में होने वाली सूजन को कम करेगा जो ज़ुकाम का लक्षण होता है। शाकाहार और चिकन का मिश्रण ज़ुकाम के लक्षणों से आराम पहुंचायेगा। चिकन सूप नाक को बंद करने वाले श्लेषमा के उत्सर्जन को कम करता है जो नाक, सीना और गले को साफ करता है। नूडल्स का सन्योजन इसमे कार्बोहाइड्रेट को बढ़ाकर ऊर्जा के स्तर को ऊपर उठाने में सहायता करता है। दूसरी तरफ सब्जियां इस सूप में पोषण को बढ़ाकर तंत्रिकाओं के संघर्ष को बेहतर बनाती हैं।

अच्छा खाना जो आपके मस्तिष्क शक्ति को बढ़ाये

  • सर्दी के उपाय – लहसुन, प्याज और गंदना: इनमे एंटीसेप्टिक और तंत्रिका को प्रोत्साहित करने का गुण वृहत मात्रा में पाया जाता है। लहसुन बंद साइनस को खोलने में सहायता करता है। लहसुन में एलाइस तत्व होता है जो सल्फर का मिश्रण है और एंटीऑक्सीडेंट का उत्पादन करता है। कच्चा खाये जाने पर लहसुन अत्यधिक एंटीऑक्सीडेंट उपलब्ध करता है।
  • जुकाम का आयुर्वेदिक इलाज – रसदार फल: शोधों ने पता लगाया है कि विटामिन सी एंटीऑक्सीडेंट है और रसदार फलों में सामान्यतया पाया जाता है जो ज़ुकाम के लक्षणों को कम करता है। यह आहार पूरको या ताज़े रसदार फल, लाल शिमला मिर्च, फूलगोभी, अंकुरित, स्क्वास, पपीता, मीठे आलू, टमाटर और सफेद अखरोट में पाया जाता है।
  • सर्दी का इलाज – अदरक: इसमे पाया जाने वाला रसायन ज़ुकाम के विषाणुओं पर सीधा हमला करता है। यह बुखार और दर्द को कम करने में सहायता करता है। अदरख की चाय गले की खरास में फायदेमन्द है।
  • जुकाम का उपचार – शहद: यह विषाणुओं, कवको और कीटाणुओं के संक्रमण से लड़ने में सहायक है। बक्वीट शहद में उच्च स्तर का एंटीऑक्सीडेंट पाया जाता है। इसमे कई चिकित्सकीय गुण है। यह कफ को कम कर खुजलाहट से आराम पहुंचाता है।
  • जुकाम के घरेलू उपाय – दही: दही में मिलने वाला लैक्टोबैसिलस बैक्टीरियम किसी बिमारी के विषाणु को बढ़ने से रोकता है।
  • सेलेनियम भरपूर भोजन: यह ब्राज़ील मे पाया जाता है। सेलेनियम से साइटोकिंस का उत्पादन होता है जो फ्लू के विषाणुओं से छुटकारा दिलाता है। अन्य भोजन जैसे समुद्री झींगा, घोंघा, रोटी, केकड़ा, ट्यूना आदि में भी सेलेनियम पाया जाता है।
  • लाल वाइन: लाल वाइन में पाये जाने वाले रेसवरट्रॉल और पॉलीफेनॉल्स, दही में पाये जाने वाले बैक्टीरिया के समान लाभदायक है। यह भी शरीर में बिमारियों को बढ़ाने वाले विषाणुओं को रोकता है।
  • सर्दी जुकाम का घरेलू उपचार – मशरूम: इस हर्बल औषधि में साइटोकिन पाया जाता है जो संक्रमण से लड़ने में सहायता करता है। इसमें पाया जाने वाला पॉलीसैक्केराइड्स आपके तंत्रिका तंत्र को सशक्त बनाता है।

करेले से बालों की देखभाल कैसे करें?

  • जुकाम की दवा – काली मिर्च: यह दर्द और बुखार को कम करने का गुण रखती है।आयुर्वेद के अनुसार दालचिनी, धनिया, और अदरख पसीने को बढ़ाती है जो बुखार को कम कर सकती है। भोजन का मसाले में प्रयोग बंद नाक खोलता है और खून की नसों को सिकोड़ कर जकड़न को कम करता है। सौंफ के बीजों में कीटाणु विरोधी गुण पाया जाता है जो कफ को कम कर ऊपरी श्वास नली को साफ करता है।
  • हरी चाय: हरी चाय में एंटीऑक्सीडेंट गुण पाया जाता है जो शरीर के तंत्रिका तंत्र को मजबूत बनाता है। हरी चाय अधिक कोशिकाओं को बनाता है जो ज़ुकाम और फ्लू के कीटाणुओं से लड़ सके।
loading...

Subscribe to Blog via Email

Get Hindi tips to your inbox everyday