Treatment guide for acne vulgaris in Hindi – Guidelines for the management of acne – एक्ने वल्गैरिस के इलाज के नुस्खे

परिचय (Introduction)

एक्ने वल्गैरिस त्वचा की काफी गंभीर समस्या है जो सामान्य एक्ने एवं मुहांसों से काफी अलग होती है। इसके मरीज़ पर मनोवैज्ञानिक प्रभाव भी पड़ सकते हैं। सामान्य एक्ने के उलट इसे ठीक करना मुश्किल है एवं इसके साथ दर्द का होना एवं त्वचा का संवेदनशील हो जाना सामान्य है।

एक्ने वल्गैरिस क्या है? (What is acne vulgaris?)

सिस्टिक एक्ने का इलाज कैसे करें?

एक्ने वल्गैरिस मुख्य रूप से त्वचा, छाती के ऊपरी भाग एवं पीठ पर होता है, यानि ऐसे भागों पर जहां सेबाशियस फॉलिकल्स (sebaceous follicles) काफी घने होते हैं। यह समस्या त्वचा में मौजूद पिलोसिबेकस (pilosebaceous) इकाइयों की ब्लॉकेज (blockage) या सूजन की वजह से होती है। यदि आप गंभीर एक्ने से पीड़ित हैं, जो काफी दर्दनाक होता है एवं अपने साथ बुखार की समस्या भी ले आता है, तो आपको चिकित्सकीय सहायता लेनी चाहिए। डिसमेनोरिया (dysmenorrhea) से पीड़ित महिलाओं के इस समस्या से ग्रस्त होने की काफी अधिक संभावनाएं होती हैं। हार्मोनल (hormonal) असमानता भी त्वचा की इस समस्या का एक बड़ा कारण है।

What-is-acne-vulgaris?

एक्ने वल्गैरिस के इलाज के घरेलू नुस्खे (Home treatment of acne vulgaris)

अज़ाडिरैक्टा इंडिसिया एवं तुलसी के पेस्ट का मिश्रण (Use the blend of Azadirachta Indicia and Basil Paste to remove anti-fungal agents)

अज़ाडिरैक्टा इंडिसिया एवं तुलसी एंटी फंगल एवं एंटी बैक्टीरियल (anti-fungal and anti-bacterial) गुणों से भरपूर होते हैं जो त्वचा से जीवाणुओं एवं बैक्टीरिया को दूर रखते हैं। इन दोनों को मिश्रित करें एवं धीरे धीरे इसका प्रयोग प्रभावित भाग पर करें। इसे रात भर के लिए छोड़ दें। यह पेस्ट बैक्टीरिया दूर करता है जो संक्रमण पैदा करने के लिए प्रमुख रूप से उत्तरदायी होते हैं। इस पेस्ट के नियमित प्रयोग से एक्ने जड़ से दूर हो जाता है। इससे आपकी त्वचा भी मुलायम एवं अशुद्धियों से मुक्त रहती है।

Azadirachta-Indica-And-Basil-Paste

एलो वेरा (Aloe Vera: A universal formula for a blemish free skin)

यदि आप अशुद्धियों से मुक्त त्वचा प्राप्त करना चाहते हैं तो एलो वेरा जेल से बेहतर कुछ भी नहीं है। प्रभावित भाग पर नियमित रूप से एलो वेरा जेल का प्रयोग करें। आप कुछ ही दिनों में अच्छे परिणाम देखकर चकित रह जाएंगे। एलो वेरा जेल प्रभावित भाग पर लगाने पर एक ठंडा एवं पोषक प्रभाव प्रदान करता है। यह दर्द एवं लालपन कम करता है। आपको 7-10 दिनों के अंदर साफ़ एवं मुलायम त्वचा प्राप्त होगी।

हल्दी (Turmeric: An anti-bacterial formula)

हल्दी एक संक्रमणरोधी पदार्थ है, अतः यह एक्ने के इलाज का जांचा परखा तरीका है। आप हल्दी, तेल एवं गुलाबजल का मिश्रण करके बने हुए पेस्ट का प्रयोग प्रभावित भाग पर कर सकते हैं। इस पेस्ट को रात भर के लिए छोड़ दें और सुबह ठन्डे पानी से धो लें। एक्ने के दाग एवं मुहांसे धीरे धीरे गायब हो जाएंगे।

पुदीना (Mint: Provides Authentic cooling and nourishing effect)

मुँहासे की रोकथाम के लिए बाजार मे उपलब्ध क्रीम

पुदीना एंटी बैक्टीरियल होता है एवं त्वचा को प्राकृतिक रूप से ठंडक प्रदान करता है। प्रभावित भाग पर पुदीने के पेस्ट के नियमित प्रयोग से आपको तुरंत आराम मिलता है एवं लालपन भी दूर होता है। पुदीने में त्वचा की मरम्मत करने के बेहतरीन गुण होते हैं एवं इसका रोज़ाना इस्तेमाल आपको अशुद्धियों से मुक्त त्वचा प्रदान करता है।

Provides-Authentic-cooling-and-nourishing-effect

Subscribe to Blog via Email

Join 44,913 other subscribers

खीरा (Cucumber)

खीरे को इसके अंदर मौजूद त्वचा की मरम्मत करने वाले गुणों की वजह से जाना जाता है। यह त्वचा से अतिरिक्त तेल हटाने एवं इसे मॉइस्चराइज़ (moisturize) करने में आपकी मदद करता है। यह त्वचा के रोमछिद्रों से मृत कोशिकाएं हटाता है। खीरे में मौजूद ठंडक प्रदान करने वाले तत्व चिड़चिड़ापन दूर करने में सहायता करते हैं। एक्ने दूर करने के लिए इसका प्रयोग फेस वाश ( face wash) के रूप में भी किया जा सकता है। एक ताज़ा खीरा लेकर इसे पीस लें। इसमें थोड़ा सा पानी मिलाएं एवं प्रभावित भाग पर लगाने से पहले इसे अच्छे से ब्लेंड (blend) कर लें। आप खीरे का रस निकालकर इसे गाजर के रस के साथ मिश्रित भी कर सकते हैं। इस रस का सेवन रोज़ाना करने से एक्ने की समस्या दूर होती है।

loading...