Advantages and benefits of having male friends – मर्दों से दोस्ती के फ़ायदे

दोस्तों का होना हमेशा ही अच्छा रहता है, पर पुरुष दोस्तों का होना एक लड़की के लिए और भी ख़ुशी की बात होती है। अगर आपके पुरुष साथी हैं तो आप अपना जीवन निश्चित तौर पर ख़ुशी से बिता पाएंगी। पुरुष दोस्त होना आपके लड़की होने की रूकावटों को दूर करता है और दुनिया को और भी करीब से जानने के लिए आपके लिए एक नया द्वार खोलता है। हालांकि कई बार आपको यह सोचकर दुःख हो सकता है कि आपके पुरुष दोस्त आपको उस नज़र से नहीं देखते जिस तरह से वे अन्य महिलाओं को देखते हैं, पर लड़कों के साथ दोस्ती करने पर आपको जीवन जीने और आसपास की चीज़ों को लेकर काफी नयी शिक्षा प्राप्त होती है। नीचे पुरुष साथी होने के कुछ फायदों के बारे में बताया गया है।

कई लड़कियां लडको से दोस्ती करना और उनके साथ घूमना पसंद करती हैं और आज की पीढ़ी में ये आम बात है। कई बार लड़कियों से ज्यादा लड़के उन्हें ज्यादा अच्छे से समझ पाते हैं। जिन लड़कियों के दोस्त अधिकतर लड़के होते हैं उनका मानना है कि वे लड़कों से साथ, लड़कियों की अपेक्षा ज्यादा सहज और खुश रहती हैं। एक टॉम बॉय व्यक्तित्व वाली लड़की लड़कों के साथ वाकई बहुत प्रसन्न रहती है।

आप सीमा से बाहर जाने को आज़ाद हैं (You are free to go out of limits)

आपकी महिला मित्रों की अपनी सीमाएं होती हैं और अगर आप उन लोगों में से हैं जिनका नज़रिया और दुनिया को देखने का ढंग नया है, तो आपके लिए किसी ऐसी महिला की तलाश करना मुश्किल साबित होगा, जो आपकी इन खूबियों को समझ सके और आपके साथ नयी चीज़ें समझने और जानने के लिए सीमाएं तोड़ दे। दूसरी तरफ लड़के हमेशा कुछ नया करने और नयी सीमाएं तय करने के लिए हमेशा तैयार होते हैं। अगर आपके पास कोई नया विचार और इच्छा है जो लड़की होने की श्रेणी में नहीं आता तो इन सीमाओं से निकलने के लिए आपके पुरुष मित्र ही आपका श्रेष्ठ विकल्प हैं।

लड़के काफी अच्छे मित्र साबित होते हैं (Guys make great friends)

टिप्स और उपाय से अपनी रिलेशनशिप को मजबूत बनाएँ

यह एक बिल्कुल सच्ची बात है। दोस्ती लड़कों के लिए काफी महत्वपूर्ण स्थान रखती है और अगर उन्होंने आपको अपना दोस्त मान लिया, तो वे अपनी दोस्ती को निभाने के लिए किसी भी हद तक जा सकते हैं। अगर आप दोस्ती में भरोसे को काफी ऊँचा दर्जा देती हैं तो इस चीज़ में लड़के लड़कियों से काफी बेहतर साबित होते हैं। आपकी महिला मित्र आपके लिए कुछ करने से पहले दो बार सोचेंगी, पर आपके पुरुष मित्र आपके लिए, आपके परिवार के लिए तथा आपके दोस्तों के लिए भी बिना ज्यादा सोच विचार किये कुछ भी कर सकते हैं।

सुरक्षा की चिंता न करें (No worry of safety)

अगर आपके आसपास आपके पुरुष मित्र मौजूद हों तो आपकी माँ को आपकी सुरक्षा की ज़्यादा चिंता नहीं सताती है। अगर आप अपनी महिला मित्रों के साथ रात बिताने या ट्रेक (trek) करने के लिए जाती हैं तो आप असुरक्षा का अनुभव कर सकती हैं। पर अगर आपके पास पुरुष दोस्तों का झुण्ड है तो आपको चिंता करने की कोई ज़रुरत नहीं है। वे आपको काफी अच्छी सुरक्षा प्रदान करते हैं और आपको वे सारी चीज़ें करने की आज़ादी देते हैं जो आप अपने जीवन में करना चाहती थीं।

आप उनसे मन की सारी बातें कर सकती हैं (You can pour yourself out)

हो सकता है कि आप अपनी महिला मित्रों के काफी करीब हों, पर जब अपने दिल की भावनाओं को व्यक्त करने की बात आती है तो आपसे ये बातें अन्य लड़कियों के सामने करने में झिझकने की अपेक्षा की जाती है। ऐसा आमतौर पर इसलिए होता है क्योंकि लडकियां कई बार काफी आलोचनात्मक हो जाती हैं। लेकिन जब बात पुरुष मित्रों की आती है तो आप अपने मन में आई कोई भी बात उनसे कह सकती हैं। आप उनके सामने किसी भी चीज़ को मान सकती हैं और इस बात की अपेक्षा करके चल सकती हैं कि उनके पास एक ऐसी कहानी तैयार होगी जिसमें उन्होंने आपसे भी बड़ी कोई गलती की होगी। अतः अगर आपको ऐसा दोस्त चाहिए जो बिना ज्यादा आलोचना किये आपकी सारी बकवास सुने तो इस लिहाज से पुरुष मित्र श्रेष्ठ होते हैं।

किसी नाटक की ज़रुरत नहीं (No need of drama)

लड़कों को नौटंकी पसंद नहीं होती और जब कोई महिला उनके सामने किसी चीज़ को लेकर बेइंतहा नाटक करने लगती है, तो वे इस चीज़ को झेल नहीं पाते। पुरुष मित्र होने से आपकी दोस्ती के रिश्ते से नौटंकी कोसों दूर रहती है। इससे आपको अपने मन की बात कहने, अपने विचार रखने और अपने सपनों के बारे में बताने का मौका मिलता है और इन सब में कोई भी नाटक नहीं होता बल्कि एक ख़ुशी का भाव होता है। अतः अगर आप ईमानदार दोस्तों की तलाश में हैं तो लड़के आपके लिए बेहतर विकल्प साबित होते हैं।

टीनएज रिलेशनशिप, क्या करें क्या न करें

दिखावे की ज़रुरत नहीं (No need of showoff)

महिलाओं में दिखावा करने की आदत काफी ज़्यादा होती है और इसीलिए इस बात की काफी संभावना होती है कि आपकी कोई ऐसी महिला मित्र नहीं होगी जो कि दिखावा ना करती हो। अगर आपकी महिला मित्र दिखावा कर रही है तो एक समय ऐसा भी आएगा, जब आपकी आपस की बातचीत से सारा मज़ा गायब हो जाएगा। जहां तक बात दिखावे के होती है तो लड़कों को इससे कोई मतलब नहीं होता। हम यह नहीं कह रहे कि कोई भी लड़का दिखावा नहीं करता, पर ज़्यादातर लड़के अपने दोस्तों के सामने दिखावा नहीं करते।

आपको असल सुझाव प्राप्त होंगे (You can get real suggestions)

अगर आप अपनी महिला मित्रों से कोई सलाह या उनकी राय लेने का प्रयास करेंगी, तो इसके साथ कई और कारक जुड़कर जाएंगे। उदाहरण के तौर पर आपका वर्तमान रिश्ता कैसा है या फिर क्या आज आप उनसे सुन्दर दिख रही हैं। जब बात महिला मित्रों को सलाह देने की आए तो लड़के ना सिर्फ सही सलाह देते हैं, बल्कि वे इस सम्बन्ध में अपनी विचारधारा बताने से भी परहेज नहीं करते और यह भी बताते हैं कि उनके हिसाब से आपको क्या करना चाहिए।

लड़के मन में बदले की भावना नहीं पालते (Boys don’t hold grudges)

कम से कम आपकी महिला मित्रों से तो कम। अगर आपका अपने किसी पुरुष साथी से झगड़ा या कहासुनी हुई है तो इस बात को लेकर निश्चिन्त रहें कि ये एक हफ्ते में ही पूरी तरह ठीक हो जाएगा और आप पहले की ही तरह काफी अच्छे दोस्त बन जाएंगे। महिला मित्रों के बीच लड़ाई काफी खराब रूप धारण कर सकती है और इसके फलस्वरूप सारे जीवन की जुदाई भी भुगतनी पड़ती है। लड़के पुरानी बातें भूल जाते हैं और अगर वे आपको एक दोस्त के रूप में पसंद करते हैं, तो वे खुद आगे आकर झगड़े को ख़त्म करने का प्रयास करेंगे।

वे आपके लिए सबसे अच्छी डेट तय करते हैं (They are the best date-setters)

आपके पुरुष मित्रों को आपकी पसंद नापसंद के बारे में काफी अच्छे से पता होता है और उन्हें इस बात की भी चिंता रहती है कि आपको अच्छा बॉयफ्रेंड (boyfriend) मिले। वे लड़कों को अच्छी तरह समझते हैं और इसीलिए एक महिला के लिए डेट तय करवाने वाले की भूमिका काफी अच्छे से निभा सकते हैं। अगर आपके किसी पुरुष मित्र ने आपको किसी से मिलवाने की योजना बनाई है, तो बिना देर किये उससे मिल लें।

कुछ इस तरह पाए कन्या राशि के पुरुष का प्यार

वे आपकी पुरुषों को अच्छे से जानने में मदद करेंगे (They will help you to know the opposite gender better)

लड़के और लड़कियों की विचारधारा हमेशा एक जैसी नहीं हो सकती। वे ज़्यादातर एक ही चीज़ को बिल्कुल अलग अलग तरीकों से व्यक्त करते हैं। पुरुष मित्र होने से आपको दूसरे लिंग की भावनाओं और मनोस्थिति को समझने में आसानी होती है जो कि आपके लिए उस मानदंड का काम करता है जिसमें आप बाद में जाकर अपने जीवनसाथी को देखती हैं।

वे आपका श्रेष्ठ सहारा सिद्ध होते हैं (They are your best support)

चाहे आपने कोई गलती की हो, आपकी अपने बॉयफ्रेंड से लड़ाई हुई हो या कॉलेज की परीक्षा उत्तीर्ण करने की बात हो, आपके पुरुष मित्र हर स्थिति में आपके लिए काफी अच्छा सहारा सिद्ध होते हैं। परीक्षा भवन में आपकी मदद करने से लेकर बार (bar) में हो रहे झगड़े में  आपको बचाना और आपके भावनात्मक रूप से टूट जाने की स्थिति में आपका साथ देना, आपके पुरुष दोस्त आपको आपके जीवन के सफ़र में हर तरह का सहारा प्रदान करने में सक्षम होते हैं।

अतः सभी महिलाओं से निवेदन है कि अपने दोस्तों की सूची को सिर्फ लड़कियों तक सीमित ना रखें। लड़के आपके श्रेष्ठ मित्र बनने की क्षमता रखते हैं और वे आपके जीवन में काफी महत्वपूर्ण स्थान रखते हैं।

ईमानदार रहें (Be honest)

मर्द अक्सर संकोची स्वाभाव के होते हैं और बहुत ज्यादा दोस्त नहीं बनाते। अगर वो आपको अपना सच्चा दोस्त समझते हैं तो कभी भी उनका विश्वास न तोड़ें और हमेशा ईमानदार रहें क्यूंकि वे अक्सर अपनी भावनायें छुपा कर रखते हैं।

लड़के दोस्ती और मस्ती के लिए हैं (Guys are friendly and fun to have)

लड़के हर स्थिति में ज्यादा सहज होते हैं और हर परिस्थिति को बहुत अच्छे से संभाल लेते हैं। जितने ज्यादा लड़के दोस्त होंगे उतना ही ज्यादा मजा भी आता है।

दोस्ती का महत्व – सुरक्षा (Security)

13 संकेत खोजने के लिए की “वह” आपके प्यार में है

अगर आपका सबसे अच्छा दोस्त लड़का है तो यह आपकी ख़ुशी और सुरक्षा दोनों के लिए अच्छा होता है। लड़कों के साथ होने पर राह चलते लड़के आप पर कमेंट भी नहीं कर पाते।

दोनों के लिये फायदे हैं (Both the genders have their own benefits)

भले ही आप कितने ही विपरीत लिंग वाले क्यो न हों पर अगर आपसी समझ अच्छी है तो आप दोनों ही अपनी हदों में रह कर खूब मस्ती कर सकते हैं। बस हमेशा अपने दिमाग में सिर्फ अपनी अच्छी दोस्ती को रखें।

सलाह ले सकती हैं (Dosti ka matlab – Get advice)

अगर आपके कई सारे लड़के दोस्त हैं तो आप उनसे हर तरह की चुनौतीपूर्ण परिस्थितियों में सलाह मांग सकती हैं। 

मित्रता का अर्थ – साहसी (Adventurous)

अधिकांश मर्द खेलों में रूचि रखने वाले और साहसी होते हैं, उन्हें रोमांचकारी चीजों में ज्यादा मज़ा आता है तो अगर आप भी इस तरह की गतिविधियों को पसंद करती हैं तो उनके साथ आसानी से अपना ये शौक पूरा कर सकती हैं।

सजने धजने की ज़रूरत नहीं (Don’t need to run behind make-ups)

अधिकांश लड़कियां श्रंगार करने और गप्पें करने में व्यस्त रहती हैं जबकि दूसरी ओर लड़के हमेशा काम के चीजों से मतलब रखते हैं। इसलिये उनके साथ सजने धजने और बेकार की बातें करने की ज़रूरत नहीं पड़ती।

दोस्ती का रिश्ता – नौटंकी नहीं करते (Hate dramas)

महिलाओं एवं पुरुषों में सम्भोग के आदर्श साथी की उम्र अलग होती है

मर्द बेकार की नौटंकी में यकीन नहीं करते जबकि लड़कियों में ये आदत पायी जाती है। जब आप लड़कों के साथ होंगी तो आपको इस तरह के बेकार के दिखावों की जरूरत नहीं होती है।

सादा दिखना पसंद करते हैं (Scenes are simple)

लड़कियों में अक्सर एक दूसरे से अधिक सुन्दर दिखने की होड़ लगी रहती है और उनका अधिकांश समय आईने के सामने गुज़रता है। जबकि अगर आप लड़कों के बीच हैं तो आप साधारण कपड़े पहन कर भी जा सकती हैं।

दिखावों की ज़रूरत नहीं (friendship – No need to show-off)

लड़कों से दोस्ती का सबसे बड़ा फायदा यह होता है कि आपको बेकार का दिखावा नहीं करना पड़ता। लड़कियां हमेशा एक दूसरे की चीजों को लेकर आपस में तुलना करती हैं जबकि लड़कों में यह प्रवृत्ति नहीं पाई जाती।

loading...

Subscribe to Blog via Email

Get Hindi tips to your inbox everyday