How to cure pimples & acne with aloe vera – एलोवेरा की मदद से कैसे करें पिंपल और मुंहासों का इलाज

जब आप मुंहासे और पिंपल्स से पीड़ित रहते हैं, तो आप उसे ठीक करने में अपनी पूरी जी जान लगा लेते हैं। मुहांसे के कारण, हम अक्सर पिंपल के उपाय (pimple ke upay) जानने के लिए बेताब रहते हैं, ताकि हमें तुरंत इनसे निजात मिल जाए। हालांकि हम जिन उपचारों का इस्तेमाल कर हम अपने मुंहासे और पिंपल्स से छुटकारा पाने की कोशिश करते हैं, उनसे हमें अच्छे परिणाम नहीं मिलते हैं और ना ही मुंहासों और पिंपल्स से पूरी तरह से छुटकारा मिल पाता है।

हम अक्सर पिंपल्स का इलाज (pimples ka ilaj) करते रहते हैं, लेकिन पिंपल इन इलाजों या उपचारों से पिंपल से राहत नहीं मिलती। हम आपको बता दें कि जिन कॉस्मेटिक प्रोडक्ट्स (cosmetic products) का इस्तेमाल आप अपने मुंहासों और पिंपल्स को ठीक करने के लिए करती हैं, वह हकीकत में कहीं ना कहीं आपकी त्वचा को किसी ना किसी रूप में नुकसान पहुंचाता है।

कॉस्मेटिक प्रोडक्ट्स का इस्तेमाल करने से बेहतर अगर किसी तरह के घरेलू उपचार की मदद से मुंहासों और पिंपल्स को अलविदा कहें। घरेलू उपचारों से ना ही आपको किसी तरह की परेशानी होती हैं और ना ही यह आपके चेहरे के लिए हानिकारक होता है। ऐसे में आपको ज्यादा खर्च करने की जरूरत भी नहीं है। जब मुंहासों और पिपंल्स का उपचार आपके घर पर ही रखा हुआ है तो इसके लिए आपको मार्किट में घुमने की भी कोई जरूरत नहीं है।

लेकिन अगर मुंहासे और पिंपल्स थोड़े मोटे हो गए हैं, तो ऐसे में आपको ऐसा होने के पीछे का कारण ढूंढना होगा और फिर उसका उपचार करें। हार्मोनल असंतुलन, मेकअप या फिर स्वच्छता ना होने के कारण भी ऐसा हो जाता है। एक बार जब आपको इसके बारे में जानकारी हो जाए तो आप घरेलू उपचारों की मदद से इनसे निजात पा सकते हैं। इन घरेलू उपचारों का इस्तेमाल करके आप मुंहासों और पिंपल्स से आसानी से घर बैठे बैठे छुटकारा पा सकते हैं।

बंद स्किन पोर्स को खोलने के लिये घरेलू उपचार

जब बात पिंपल्स और मुंहासों के उपचार की होती है, तो ऐसे में ऐलोवेरा काफी अच्छा रहता है। ऐलोवेरा का पौधा आसानी से आपके घर में मिल जाता है, और यह आसानी से एक छोटे से पौधे में उगाया जा सकता है। आप इसका सेवन भी कर सकते हैं और इसे सीधे त्वचा संबंधित समस्याओं जैसे पिंपल्स और मुंहासों पर इलाज के लिए इस्तेमाल किया जा सकता है। ऐलोवेरा जूस का सेवन करने से आपका पाचन तंत्र बेहतर हो जाता है, जिससे पिंपल्स और मुंहासे होने का खतरा कम हो जाता है।

आइए जानते हैं कि ऐलोवेरा किस तरह पिंपल्स और मुंहासों को कम करने में मदद करता है?

Subscribe to Blog via Email

Join 45,326 other subscribers

मुंहासों और पिंपल्स पर एलोवेरा किस तरह काम करता है (How aloe vera works on pimples and acne)

ऐलोवेरा में प्राकृतिक एंटी बैक्टीरियल और एंटी इनफलामेटोरी गुण होते हैं। ऐसा माना जाता है कि ऐलोवेरा में होने वाला ग्लाइकोप्रोटीन आपकी त्वचा में हुए पिंपल्स या मुंहासे के रेडनेस (redness) और सूजन को कम करने में मदद करता है।

ऐलोवेरा में पॉलिसेकराइड और गीबरीलीन होता है, जो संक्रमण के बैक्टीरिया को मारने में मदद करता है। ऐलोवेरा में विटामिन सी, विटामिन ई जैसे एंटी ऑक्सीडेंट होते हैं, जो हमारी त्वचा को पोषण और प्राकृतिक तरह से पिंपल्स और मुंहासों से छुटकारा पाने में काफी मददगार होता है। ऐलोवेरा पिंपल्स और मुंहासों के दर्द को कम करता है और यह सुनिश्चित करता है कि यह दाने और मुंहासे जल्द से जल्द ठीक हो जाए।

पिंपल उपाय एलोवेरा से पिंपल्स का इलाज (Curing pimples with aloe vera)

पिंपल्स मुंहासों के मुकाबले काफी अधिक गंभीर रूप ले लेते हैं। इसलिए आपको पिंपल्स से निजात पाने के लिए एक मजबूत घरेलू उपचार का इस्तेमाल करना चाहिए। आइए आपको कुछ ऐसी घरेलू उपचार के बारे में बताते हैं, जिनकी मदद से आप पिंपल्स से आसानी से छुटकारा पा सकती हैं।

सूखी त्वचा को मुलायम बनाये रखने के लिए सौंदर्य टिप्स

एलोवेरा को सीधे पिंपल के इलाज में इस्तेमाल करना (Direct aloe vera application for muhase ka ilaj)

ऐलोवेरा को आप सीधे इस्तेमाल करके पिंपल्स पर लगा सकते हैं। इसमें आपको और कोई अन्य सामग्री जोड़ने की जरूरत नहीं है। अच्छे परिणाम पाने के लिए आप सीधे ऐलोवेरा पल्प को अपने चेहरे पर हुए पिंपल पर लगा सकते हैं। इस प्रक्रिया को करें फॉलो

  • एक ऐलोवेरा के पत्ते को लें और एक साफ चाकू से उसकी छाल निकाल लें।
  • इसके बाद ऐलोवेरा के पल्प को मोर्टार और मूसल में हल्के से पीस लें।
  • इसके बाद इस पेस्ट को सीधे चेहरे पर उस हिस्से में लगा लें, जहां पर पिंपल्स हुए हो।
  • इसके बाद इस पेस्ट को कुछ देर के लिए पिंपल्स पर लगा रहने दें।
  • इसके बाद इसे साफ पानी से धो लें। कुछ दिन इस उपचार को उपयोग कर आप पिंपल्स से आसानी से छुटकारा पा सकती हैं।

पिंपल्स से निजात पाने के लिए एलोवेरा और नींबू का रस (Aloe vera and lemon juice for curing pimples quickly)

नींबू के रस में विटामिन सी होते हैं, जो संक्रमण के बैक्टीरिया को जल्द से जल्द मारने की कोशिश करते हैं। ऐलोवेरा से पिंपल्स का इलाज आसानी से हो जाता है। हालांकि आप इस उपचार का इस्तेमाल तब ना करें, जब पिंपल फट गया हो।आइए आपको बताते हैं कि किस तरह आप इस उपचार को इस्तेमाल कर सकते हैं।

  • ऐलोवेरा के पत्तों को काट कर उसमें से पल्प निकाल कर आप इसका रस निकाल लें।
  • इसके बाद ऐलोवेरा के रस में 4 से 5 बूदें नींबू के रस की डाल लें।
  • इन दोनों को अच्छी तरह से मिलाकर एक रूई की मदद से पिंपल्स पर सीधे इस्तेमाल करें।
  • इसके बाद इसे 10 मिनट के लिए छोड़ दें। आप इसे थोड़े लंबे समय के लिए भी रख सकती हैं। लेकिन अगर आपको जलन जैसा महसूस हो तो इसे 10 मिनट में ही धो लें।

सफ़ेद मुहाँसे / गाँठ को ठीक करने के घरेलू नुस्खे

  • इसके बाद साधे पानी से धो लें। इस उपचार का इस्तेमाल आप दिन में 2 से 3 बार कर सकते हैं।

एलोवेरा और अनानास के रस से पिंपल्स का उपचार (Aloe vera and pineapple juice treatment for pimple cure)

अनानास में विटामिन सी होता है, जिसमें कीटाणुओं को मारने का प्राकृतिक गुण होता है। इसमें एंटी ऑक्सीडेंट भी होता हैं, जिससे पिंपल्स से आसानी से छुटकारा मिल जाता है। आइए बताते हैं कि आप इस उपचार को किस तरह इस्तेमाल कर सकते हैं।

  • सबसे पहले अनानास का एक टुकड़ा लें और इसका रस निकाल लें।
  • इसके बाद ऐलोवेरा के पल्प में से रस निकाल लें।
  • अब आधा चम्मच अनानास का रस और ऐलोवेरा का रस को अच्छी तरह मिला लें।
  • इस मिक्स किए हुए मिक्चर को पिंपल्स में लगा लें।
  • इसे पिंपल पर 20 से 30 मिनट तक के लिए रखा रहने दें और फिर पानी से धो लें।
  • अच्छे परिणाम के लिए आप इस उपचार को दिन में 2 से 3 बार इस्तेमाल कर सकती हैं।

एलोवेरा और कैलेंडुला टिक्चर से पिंपल हटाने के तरीके (Aloe vera with calendula tincture for pimple ka ilaj hindi me)

कैलेंडुला टिक्चर में किसी भी तरह के संक्रमण को खत्म करने और त्वचा की चिकित्सा को बढ़ाने की क्षमता होती है। इसमें होने वाला एल्कोहोल त्वचा के पोर्स और पिंपल्स का उपचार करने में मदद करता है। आप इस उपचार को कम से कम 5 मिनट के लिए ही इस्तेमाल कर सकते हैं। आइए आपको बताते हैं कि इसका इस्तेमाल कैसे किया जा सकता है।

  • ऐलोवेरा के पल्प से रस निकाल लें।

ब्‍लैकहेड के घरेलू उपचार

  • इसके बाद दो चम्मच पल्प में एक चम्मच कैलेंडुला टिक्चर डालें।
  • इसके बाद इस मिक्चर को सीधे पिंपल्स पर रूई से लगा लें।
  • इसे 5 मिनट रखने के बाद पानी से धो लें।
  • अगर आपको इस उपचार से किसी तरह की जलन नहीं हो रही हो, तो ऐसे में आप इसे दिन में दस से बारह घंटे का ब्रेक लेकर दो बार जरूर इस्तेमाल करें।

मुंहासों से छुटकारा पाने के लिए ऐलोवेरा (Curing acne with aloe vera se pimple ke upay)

मुंहासे का इलाज (muhase ka ilaj) करने के लिए ऐलोवेरा काफी लाभदायक होता है। ऐलोवेरा को सीधे मुंहासे पर लगाने से जल्द से जल्द मुंहासे ठीक होते हैं। आइए बताते है कि आप इसका इस्तेमाल कैसे कर सकते हैं।

एलोवेरा को सीधे मुंहासों पर लगाना (Using aloe vera directly for treating pimple ka ilaj)

ऐलोवेरा काफी हल्का होता है कि आप इसे सीधे मुंहासों पर इस्तेमाल कर सकते हैं। इसके लिए आप ऐलोवेरा का पल्प लें और उस पल्प को सीधे अपने चेहरे पर लगा लें। इसे अपने चेहरे पर लंबे समय के लिए लगा रहने दें। इसके बाद पानी से त्वचा को साफ कर लें। इस उपचार को दिन में 2 से 3 बार मुंहासों पर इस्तेमाल करें।

मुंहासे का इलाज, मुंहासों से निजात पाने के लिए एलोवेरा और मुल्तानी मिट्टी (Aloe vera and fuller’s earth for curing acne quickly)

मुंहासे के इलाज के लिए ऐलोवेरा और मुल्तानी मिट्टी काफी शक्तिशाली घरेलू उपचार है। इसमें मिनरल्स की मात्रा काफी अधिक होती है। यह अतिरिक्त आॅयल को अवशोषित करने में मदद करता है और पोर्स को मजबूत बनाने की कोशिश करता है। आइए आपको बताते हैं कि इसे किस तरीके से इस्तेमाल कर सकते हैं।

गोरा चेहरा पाने के लिये शीर्ष घरेलू सौंदर्य टिप्स

  • 1 चम्मच मुल्तानी मिट्टी को 30 मिनट तक ताजा पानी मंे भिगोकर रखें।
  • इसके बाद ऐलोवेरा की पत्तियों को काटकर उसके पल्प से रस निकाल लें।
  • 1 चम्मच ऐलोवेरा के जूस में 1 चम्मच मुल्तानी मिट्टी मिला लें और 10 मिनट के लिए इस पेस्ट को मिक्स करके छोड़ दें।
  • इसके बाद इस पैक को मुंहासों पर लगाएं और उसे सूखने दें।
  • जब वह सूख जाएं तो नम सूती कपड़े से इसे साफ कर लें।
  • बेहतर परिणामों के लिए इस पेस्ट को दिन में 1 से 2 बार इस्तेमाल करें।

कील मुँहासे का घरेलू उपचार एलोवेरा और टी ट्री ऑयल से (Aloe vera with tea tree oil for curing acne)

कील मुंहासे का घरेलू इलाज (keel muhase ka gharelu upchar) करने के लिए टी ट्री ऑयल राहत का काम करता है। टी ट्री ऑयल में एंटी बैक्टीरियल गुण होते हैं, जो जल्द से जल्द मुंहासों से निजात पाने में मदद करता है। आप बेहतर परिणामों के लिए ऐलोवेरा जूस के साथ इस तेल का इस्तेमाल कर सकते हैं। आइए जाने कैसे इस उपचार को बना सकते हैं।

  • आधा चम्मच ऑलिव ऑयल और 5 से 8 बूंद टी ट्री ऑयल लें। इसके अलावा अगर आप टी ट्री ऑयल को सीधे अपने चेहरे पर ना लगाएं।
  • ऐलोवेरा की ताजा पत्तियों से ऐलोवेरा का रस निकाल लें।
  • टी ट्री ऑयल में ऑलिव ऑयल मिला लें और इसमें 2 चम्मच ऐलोवेरा रस होता है।
  • इस मिक्चर को मुंहासों पर लगाकर सूखने के लिए छोड़ दें।
  • इसके बाद पेस्ट सूखने पर पानी से उसे साफ कर लें।

धुप से काला हुआ चेहरा उजला करने के लिए घरेलु स्क्रब

नीम के पत्तों और एलोवेरा की मदद से मुंहासों का उपचार (Aloe vera and neem leaf extract for treating acne quickly)

नीम में एंटी बैक्टीरियल गुण होते हैं, जो मुंहासों से छुटकारा दिलाता हैं और उसका उपचार भी करता है। ध्यान रहे कि आप नीम की पत्तियों को ताजे ऐलोवेरा जूस के साथ इस्तेमाल करें। इसका कोई साइड इफेक्ट नहीं होता है और यह मुंहासों से राहत दिलाता है।

  • 20 नीम की पत्ते लें, और उसे एक कप पानी में उबाल लें। और तब तक उबालें, जब तक की पानी आधा ना हो जाए।
  • इसके बाद नीम के इस पानी को अलग कर दें।
  • ऐलोवेरा जैल बनाने के लिए ऐलोवेरा पल्प को मोर्टार और मूसल में पीस लें।
  • इसके बाद 2 चम्मच ऐलोवेरा जैल और 1 चम्मच नीम जोड़े।
  • इन्हें मिक्स करके मुंहासे पर लगाएं।
  • इसके सूखने के बाद साफ पानी से धो लें।
  • बेहतर परिणाम के लिए इस पेस्ट को दिन में 2 बार इस्तेमाल करें।

ओट्स और एलोवेरा के साथ मुंहासों से छुटकारा (Aloe vera with oats for curing acne naturally)

पिम्पल के उपाय, ओट्स में तेल को अवशोषित करने की क्षमता होती हैं, जो मुंहासों का इलाज करने में काफी मददगार होता है। ओट्स से त्वचा शांत होती है और सूजन भी कम होती हैं। आइए जाने किस तरह ओट्स और ऐलोवेरा मिलाकर किस तरह आप मुंहासों से निजात पा सकते हैं।

त्वचा के मस्सों को निकालने के घरेलू उपचार

  • सबसे पहले आधा कप ऐलोवेरा का रस ले लें।
  • इसमें 2 चम्म्च ओट्स मिला लें और इसका पेस्ट तैयार करने के लिए इसमें गर्म पानी मिला लें।
  • इसके बाद इसे मुंहासे पर लगाएं और सूखा लें।
  • कम से कम 20 मिनट के बाद पानी से धो लें।
  • इस उपचार को दिन में 2 बार दोहराएं।
loading...