Lauki khane ke fayde aur nuskhe – लौकी खाने के फायदे और नुकसान

लौकी (घिया) यह नाम इसके आकार की वजह से आता है। इसमें 92% पानी होता हैं। कई लोग लौकी की सब्जी और व्यंजन खाना पसंद नहीं करते। यह सब्जी भारतीय खाने में नजरअंदाज की गयी सब्जी है।

लौकी का स्वाद अद्भुत है। अपने स्वाद के साथ साथ, इसके विविध स्वास्थ्य लाभ भी हैं। बाजार में इसकी कई किस्म जैसे हुक़्क़ुम लौकी, घिया, लौकी, दूधी उपलब्ध हैं। यह बाहर से हरा होता है और इसकी परत मोम की तरह होती है। काटने पर अन्दर यह सफेद और नरम होता है। कुछ लोग लौकी की लुगदी बनाकर अनुकूल स्वाद पाने के लिए झींगा के साथ इसे मिलते हैं। अन्य लोग इसका सूप पिते हैं।

Lauki(Ghiya) khane ke fayde aur nuskhe – लौकी (घिया) खाने के फायदे और नुकसान

शीतलन प्रभाव (Cooling effect hai lauki ke fayde)

लौकी का रस / जूस में अत्यधिक पानी होता है जो आपके शरीर को शीतलता प्रदान करता है। इसी कारण लौकी आम तौर पर गर्मियों के मौसम के दौरान सेवन की जाती है। इस मौसम के दौरान बहुत अधिक पसीना होने से आपके शरीर से पानी की कमी की पुनः पूर्ति में लौकी की मदद मिलेगी और वह आपको जलायोजित रखेगी।

लौकी के फायदे, अनिद्रा से राहत (Helps sleeping disorder)

अनिद्रा की समस्या से पीड़ित लोग लौकी के रस के साथ तिल का तेल मिलाकर पी सकते हैं।

लौकी के रस के फायदे – स्वस्थ ह्रदय (Healthy heart with lauki)

खजूर से स्वास्थय एवं पौष्टिक तत्वों का लाभ प्राप्त करें

आजकल लोगों में दिल की कई समस्याओं के बारे में सुना जाता है जो हल्के और गंभीर दिल के दौरे को जन्म दे सकती हैं। कुछ लोगों को यह तकलीफ अनुवांशिक होती है और कुछ लोगों की जीवनशैली और अनुचित आहार इसका कारण होती है। अपने दिल को स्वस्थ रखने के लिए लौकी का रस पी सकते हैं। यह रक्तचाप को नियंत्रित करके दिल का प्रभावी ढंग से विकास करके उसे स्वस्थ रखेगा।

लौकी का रस बालों की सफेदी रोकता है (Lauki ka ras prevents hair graying)

आज के वातावरण का प्रदूषण और मिलावटी भोजन खाने से लोगों के बाल 24 से 30 की उम्र में भूरे हो रहे है। इसे रोकने के लिए सुबह जल्दी लौकी के रस का एक गिलास पीना चाहिए।

रूसी पर उपचार (Dandruff treatment with bottle gourd)

आपके बाल और सर की खाल आपके स्वास्थ्य का एक महत्वपूर्ण हिस्सा है। रूसी के कारण आपके बाल और सर की खाल मृत त्वचा की परतों से भर जायेगी। आंवला रस और लौकी के रस के बराबर मात्रा के साथ पीना रूसी कम करता है। दोनों रसों को मिलाकर सिर पर मालिश करने से पूरी तरह से रूसी का उन्मूलन हो जाता है।

तनाव में कमी (Stress reduction hai lauki ke labh)

बच्चे से लेकर बुजुर्ग व्यक्ति तक तनाव काफी आम हो गया है। अगर आप अस्वास्थ्यकर आहार लेते रहें, तो स्थिति बिगड़ती जा सकती है। पर्याप्त पानी की मात्रा होने के कारण आप लौकी खा सकते हैं जो शरीर को ठंडा प्रभाव देगी। लौकी में पित्तशामक गुण होने के कारण आप अपने शरीर को आंतरिक रूप से शांत महसूस करेंगे।

लौकी के जूस के फायदे – रक्तचाप नियंत्रण (Reduction of blood pressure with lauki)

लौकी का रस पिने से उच्च रक्तचाप दूर किया जा सकता है। अगर आपका रक्तचाप नियंत्रित हो तो आप लंबे समय तक स्वस्थ रह सकते हैं। उचित और स्वस्थ आहार से रक्तचाप का स्तर नियंत्रित रहेगा।

Subscribe to Blog via Email

Join 44,899 other subscribers

  • लौकी में 92% पानी और बाकी पाचन में हल्का तंतु होने के कारण यह आसानी से पाचन होने वाला अन्न पदार्थ है।
  • शक्कर काफी कम होने के कारण मधुमेह के रोगियों के लिए यह उत्तम आहार है।
  • लौकी से शरीर का तापमान नियंत्रण में रहता है।

यूरिक एसिड से भरपूर खाने कौन से है?

  • लौकी का रस वजन घटने में उपयोगी है। लौकी की छिलका निकालकर अन्दर के सफ़ेद भाग के टुकडें बनाकर उनका रस बनाये। रस छानकर पियें।
  • खून की शक्कर के स्तर का नियंत्रण करने के लिए नियमित रूप से लौकी भोजन में शामिल करें या सुबह लौकी का रस पियें।
  • लीवर और किडनी की सुजन कम करने में लौकी मदद करती है।
  • दस्त रोकने के लिए लौकी के रस में एक चुटकी नमक मिलाकर पी लें।
  • लौकी में ज्यादा पानी और तंतु होने के कारण यह कब्ज से राहत दिलाता है।
  • अनिद्रा के तकलीफ में तिल का तेल और लौकी का रस समान मात्रा में मिलाकर बालों और सिर पर लगाने से अच्छी नींद आती है।
  • मूत्र मार्ग के कीटाणु का संसर्ग निकालने में लौकी काम आती है। लौकी का ताजा रस निकालकर नींबू का रस उसमे मिलाकर पी लें।
loading...