Tea tree oil beauty benefits for skin and hair care – बालों और त्वचा पर टी ट्री आयल के गुण

टी ट्री (Tea tree)आयल हमेशा से ही कई सुन्दर महिलाओं के जीवन का चमत्कारी राज़ रहा है। इस तेल में कई गुण होते हैं और इसका प्रयोग करने के बाद महिलाओं पर काफी प्रभावी असर भी होता है। यह तेल पर्यावरण के अनुकूल और काफी स्वास्थ्यवर्धक तेल है। टी ट्री आयल का रंग आमतौर पर काफी साफ़ से लेकर हलके सुनहरे तक होता है, तथा इसमें से कपूर (camphor) जैसी खुशबू भी आती है। यह तेल एंटी माइक्रोबियल और एंटी बैक्टीरियल है जिससे कि यह हमारे घर तथा शरीर में प्रयोग करने के लिए बिलकुल सुरक्षित है। यह फंगल इन्फेक्शंस तथा जुओं पर भी काफी अच्छा काम करता है।

त्वचा को साफ़ करने तथा धब्बे दूर करने में कारगर (For cleaning skin and spot checking blemishes)

चेहरे के काले दाग धब्बे, सिर्फ कुछ ही लोग इतने भाग्यशाली होते हैं कि उनकी त्वचा दाग धब्बों से रहित होती है। पर जिनके चेहरे पर काफी मात्रा में दाग धब्बे तथा त्वचा (skin) से जुडी अन्य समस्याओं ने हमला बोल दिया हो, उनपर टी ट्री (tea tree) आयल काफी अच्छा काम करता है। यह त्वचा (skin) पर काफी बेहतरीन है और इसकी कुछ बूंदें किसी सूती के कपड़े में डालकर प्रभावित जगह पर लगाने से कमाल के परिणाम सामने आते हैं। अन्य कठोर केमिकल्स तथा अल्कोहल के मुकाबले यह त्वचा (skin) पर काफी सौम्य है।

टी ट्री आयल के फायदे ये पिंक आई से छुटकारा दिलाए (Get rid of pink eye hai tea tree oil ke labh)

नारियल के तेल के स्वास्थ्य तथा सुंदरता आधारित गुण

वैसे तो हमें इस समस्या का ज़्यादा सामना नहीं करना पड़ता है, पर हमें इसके लिए हमेशा तैयार रहना चाहिए। अगर कभी हम इससे ग्रस्त हो भी जाते हैं, तो टी ट्री (tea tree) आयल इस समस्या का भी समाधान है। गरम पानी में टी ट्री बैग डालें तथा इसे कुछ देर तक ठंडा होने दें। एक बार आपकी त्वचा (skin) के अनुसार पर्याप्त रूप से ठंडा हो जाने पर टी ट्री आयल से भरपूर ग्रीन टी के बैग को अपनी बंद आँखों की पलकों पर रखें। इससे आपको तुरंत आराम मिलेगा।

रेजर से कटने छिलने तथा अंदरूनी बाल को हटाने में कारगर (Razor burn and ingrown hairs ke liye chai ke ped ka tel)

टी ट्री आयल रेजर बर्न तथा अंदरूनी बाल बढ़ने की स्थितियों में काफी कारगर होता है। रेजर बर्न्स काफी पीड़ादायक और परेशानी पैदा करने वाले होते हैं, और अगर ये इन्फेक्टेड हो गए तब परेशानी बढ़ जाती है। शेविंग करने के बाद धीरे से प्रभावित भाग के ऊपर एक रुई के फाहे में टी ट्री आयल लगाकर इसे सहलाएं। अगर आप इसे बिकिनी लाइन पर प्रयोग करना चाहें, तब भी यह काफी सुरक्षित होता है।

जले कटे से निपटने के लिए एंटीसेप्टिक (Anti-sceptic to heal cuts and burns hai tea tree oil ke gun)

टी ट्री आयल का प्रयोग जलने का इलाज, जले, कटे और संक्रमित भागों पर काफी मात्रा में किया जाता है। टी ट्री आयल आसानी से ऐसे भागों को ठीक करता है और काफी आसानी से उपलब्ध भी होता है। जलने पर घरेलू उपचार, एक रुई के फाहे का प्रयोग करके धीरे से टी ट्री आयल का प्रयोग कटी जगह को जल्दी ठीक करने के लिए करें। अंदरूनी बालों को हटाने के लिए टी ट्री आयल का प्रयोग पानी के साथ करना बेहतर रहेगा।

टी ट्री आयल के फायदे ये सम्पूर्ण स्वास्थ्य का रक्षक (Health remedy hai tea tree oil ke fayde)

अरंडी का तेल (कैस्टर ऑयल) के स्वास्थ्य तथा सौंदर्य गुण

इसका प्रयोग एक्ने, फोड़े फुंसियों तथा साइनस के इन्फेक्शन को दूर करने में किया जाता है। इसकी मदद से सिर से डैंड्रफ भी दूर होता है और जुएं भी दूर हो जाते हैं। थोड़े से टी ट्री आयल को पानी में मिलाकर प्रयोग करने से शरीर की दुर्गन्ध भी दूर होती है। अरोमाथेरपी के लिए इसका प्रयोग सर्दी, कफ, एक्ने, दांत के दर्द और सनबर्न को ठीक करने के लिए किया जाता है। घर में आप इसका प्रयोग प्राकृतिक क्लीनर के रूप में कर सकते हैं।

त्वचा पर टी ट्री आयल के गुण (Tea tree oil benefits for skin)

  • दाग धब्बे और पिम्पल्स से ग्रसित व्यक्तियों के लिए टी ट्री आयल एक वरदान की तरह है। आप प्रभावित भागों पर यह तेल रुई के फाहों की मदद से लगा सकते हैं, या फिर आप टी ट्री आयल युक्त फेस वाश और जेल का भी प्रयोग कर सकते हैं।
  • रेजर बर्न पर अगर रुई के फाहे में मिश्रित टी ट्री आयल का प्रयोग किया जाए तो इससे त्वचा को काफी सुकून मिलता है। अंदरूनी बाल भी टी ट्री आयल में पानी मिलाकर दूर किया जा सकता है।
  • टी ट्री आयल दाद, खाज और खुजली का भी काफी अच्छा इलाज है। गाँठ और मस्सों (warts) पर बिना मिलावट वाला टी ट्री आयल लगाएं। वे अपने आप गायब हो जाएंगे।
  • रूखी त्वचा के लिए भी टी ट्री आयल अत्यंत उपयोगी है। 1 चम्मच बादाम के तेल में 5 चम्मच टी ट्री आयल मिलाएं और त्वचा पर हलके से मसाज करें। इसे कुछ देर छोड़ने के बाद नहा लें। त्वचा का रूखापन कम हो,
    इससे त्वचा नरम मुलायम और चमकदार लगेगी।

बालों पर टी ट्री आयल के गुण (Tea tree oil benefits for hair)

छाछ के स्वास्थ्य और सौंदर्य लाभ

  • बाल बढाने का तेल, यह पाया गया है कि टी ट्री आयल से बाल बढ़ने में भी सहायता मिलती है। यह बालों के रोमछिद्र (hair follicles )को खोलता है और जड़ों को मज़बूत बनाता है। रोज़ाना अपने सिर को टी ट्री आयल और अन्य किसी कैरियर आयल के साथ मालिश करें। बालों की ग्रोथ बढ़ाने के लिये, इससे आपके सिर को काफी अच्छी तरह से पोषण मिलेगा।
  • टी ट्री आयल डैंड्रफ और जुओं से लड़ता है। शैम्पू में टी ट्री आयल की कुछ बूँदें मिलाएं और इससे रोज़ाना बाल धोएं। सदियों से ये तेल डैंड्रफ को दूर करने में प्रयोग किया जाता रहा है।
  • टी ट्री आयल में मौजूद प्राकृतिक गुण सिर में उत्पन्न होने वाले बैक्टीरियल और वायरल इन्फेक्शन को दूर करने में महत्वपूर्ण भूमिका निभाते हैं। ये इन्फेक्शन आमतौर पर सिर की खुजली के मुख्य कारण होते हैं।
  • बाल झड़ने का इलाज, टी ट्री आयल बालों का झड़ना कम करने में काफी महत्वपूर्ण भूमिका निभाता है। यह बालों के सारे गुण वापस दिलाने में एक अग्रणी तेल है।

Subscribe to Blog via Email

Get Hindi tips to your inbox everyday