Carom seeds benefits in Hindi – अजवाइन के स्वास्थ्य लाभ – अजवाइन के गुण

अजवाइन भारतीय रसोइयों में मसाले की तरह इस्तेमाल किया जाने वाला एक बीज है। भारतीय और मध्य-पूर्व के  खाड़ी देशों के भोजन में अजवाइन का बहुत इस्तेमाल किया जाता है। बेहतरीन स्वाद के अलावा इसके कई फायदे भी हैं। अजवायन खाने के फायदे, दोपहर या रात के खाने के बाद अजवाइन लेकर आप भोजन को बड़े आराम से पचा पाएंगे। तंदरुस्त बनाने के साथ-साथ यह सांसों की दुर्गंध भी दूर करता है। अजवायन खाने के फायदे, इन बीजों को बहुत आसानी से किसी भी सुपर बाज़ार या किराना स्टोर से प्राप्त किया जा सकता है। यूँ तो आप इसे खुली मात्रा में भी ले सकते हैं लेकिन पैक किए हुए और आई एस आई प्रमाणित बंद पैकेटों में आप ज्यादा अच्छी गुणवत्ता वाली अजवाइन प्राप्त कर सकते हैं।

अजवाइन के बीज प्राकृतिक रूप से प्राप्त किए जाते हैं और इनसे भोजन पचाना काफी आसान होता है। आमतौर पर लोग खाना खाने के बाद अजवाइन का सेवन करते हैं। इसका अर्थ यह है कि वे अपनी पाचन क्षमता में वृद्धि करने के लिए अजवाइन का सेवन करते हैं। पर इसके अलावा भी अजवाइन के कई गुण होते हैं। नियमित रूप से अजवाइन चबाते रहने से पेट साफ़ और स्वस्थ रहता है। यह एक काफी तत्व है जिसका हर घर में प्रयोग किया जाता है और इसके सेवन से पेट की हर समस्या दूर होती है।

अजवायन के गुण और अजवाइन के फायदे (Health benefits of carom seeds)

  1. अजवाइन (ajwain) में ऐसे सक्रिय तत्व होते हैं जो कि पाचन क्रिया में मदद करते हैं, क्योंकि ये आँत से पेट के लिए फायदेमंद रसायन का निकलना तेज करते हैं और उससे आँत में खाना जल्दी पच जाता है।
  2. अजवाइन (ajwain ke fayde) में थाइम नामक एक बेहद ज़रूरी तेल पाया जाता है जो कि खुशबूदार गंध छोड़ता है। इसी से लोगों का मन इसे खाते वक्त खुश हो जाता है।
  3. शोधकर्ताओं के मुताबिक अजवाइन में उम्र बढ़ने से रोकने वाले गुण बहुत मात्रा में होते हैं। अगर आपके शरीर में उम्र बढ़ाने वाले घटक होते हैं तो आपकी प्रतिरोधी क्षमता प्रभावित हो सकती है। रेशेदार होने के कारण अजवाइन पाचन क्रिया को चुस्त रखकर जरूरी विटामिनों और खनिजों की उपलब्धता बनाए रखता है।
  4. अजवाइन में बैक्टीरिया और फंगस से लड़ने वाला तेल भी होता है।

कद्दू के बीज के स्वास्थ्य और सौन्दर्य गुण

अजवाइन का उपयोग और अजवाइन के दवा वाले गुण (Ajwain ke upyog with medicinal properties)

अजवाइन (ajwain )के गैर-सेप्टिक गुण की वजह से आप इसे कटने या इंफेक्शन होने पर इस्तेमाल कर सकते हैं। अगर आप लंबे समय से खाँसी या जुकाम से परेशान हैं तो इसके ये गुण बहुत फायदेमंद हैं। अस्थमा के मरीजों को भी ये बीज फायदा पहुँचाते हैं।

अजवायन के फायदे, पहले जब दवाओं का विज्ञान इतना विकसित नहीं था तब अजवाइन ही कई तरह की बीमारियों में आयुर्वेदिक दवा की तरह इस्तेमाल किया जाता रहा है। अपच जैसी समस्याओं का अजवाइन एक बेहतरीन इलाज है।

अजवायन के लाभ और अजवाइन के रसोई में इस्तेमाल (Kitchen uses and ajwain ke labh)

भारतीय तथा मध्य-पूर्व रसोइयों के अलावा अजवाइन पाकिस्तानी रसोइयों में भी इस्तेमाल होता है। कुछ जगहों पर इसे इस्तेमाल से पहले अच्छी तरह से पीसा जाता है। बीजों के सीधे इस्तेमाल की उपेक्षा इससे खाना पकाने में तेजी आती है। क्योंकि ज्यादा देर तक पकाने से जरूरी तेल उड़ जाते हैं।

भारत के पंजाब में इसे बहुत इस्तेमाल किया जाता है जैसे कि कुछ खास तरह के ब्रेड और अजवाइन पराठों में। भारत के ही विभिन्न भागों में अजवाइन कई प्रकार की दालों, व्यंजनों, सब्जियों और माँस पकाने में इस्तेमाल किया जाता है। इसके इस्तेमाल से एक खुशनुमा फ्लेवर आ जाता है। अजवायन के फायदे, इसके अलावा इसे कई तरह के अचार और सूप, बिस्किट इत्यादि बनाने में भी इस्तेमाल किया जाता है।

अजवाइन का पानी, कैसे करें अजवाइन का इस्तेमाल? (How you can use ajwain?)

सरसों के बीज के आश्चर्यजनक स्वास्थ्य लाभ

आप अजवाइन (ajwain) का कई तरह से इस्तेमाल कर सकते हैं। एक तरीका यह है कि इसे एक कप पानी में पानी आधा होने तक उबालें और छानकर अजवाइन का पानी को पिएँ। गर्भवती महिलाओं के लिए भी यह बहुत ही फायदेमंद है। पाचन तंत्र को दुरुस्त रखने के अलावा यह सूजन आने में भी दवा का काम करता है।

आप अजवाइन (ajwain) के कुछ दानों को गुड़ के साथ पीसकर इस्तेमाल कर सकते हैं। इस्तेमाल पर ये कॅाफी का स्वाद देता है। कुछ बीजों को लेकर कपड़े में बांध लें और गरम प्लेट पर रखकर गर्माएं। इसका इस्तेमाल सांस लेने में होने वाली तकलीफों में करें। इस गरम पैक को अब छाती पर धीरे धीरे  लगाएँ इससे सांस न ले पाने की समस्या में आराम मिलेगा।

अजवाइन के स्वास्थ्य लाभ (Health benefits of ajwain / carom seeds)

गर्भवती महिलाओं के लिए लाभकारी (Ajwain ke gun for pregnant women)

गर्भ में बच्चे को रखने वाली माओं को कई प्रकार की स्वास्थ्य समस्याओं का सामना करना पड़ता है। इनमें से एक है मतली जिसे मॉर्निंग सिकनेस (morning sickness) भी कहा जाता है। इस स्थिति में उन्हें हाज़मे की समस्या का भी सामना करना पड़ता है। अगर ऐसे समय में उन्हें अजवाइन के कुछ दानों का सेवन करवाया जाए तो उनकी स्थिति में काफी सुधार देखा जाता है। इसके सेवन से उनका स्वभाव भी अच्छा रहता है। एक गर्भवती महिला का हमेशा अच्छे मूड (mood) में रहना काफी आवश्यक है। मॉर्निंग सिकनेस एक ऐसी समस्या है जब वे बेचैन होने लगती हैं। थोड़े से अजवाइन का सेवन करने से ही उनका स्वास्थय काफी अच्छे से निखर जाता है।

दमे का इलाज (Relieve from asthma)

इलायची के स्वास्थ्य लाभ

दमे की समस्या सारे विश्व में कई लोगों को काफी बुरी तरह सताती है। अब वह समय आ गया है कि इसका प्रभावी रूप से इलाज किया जाए। कई बार आपको ठण्ड लगने की वजह से भी दमे का शिकार होना पड़ता है। कफ को भी दमे की समस्या से जोड़कर देखा जाता है। आप अब थोड़े से अजवाइन को चबाकर इस समस्या से आसानी से निपट सकते हैं। अजवाइन के उपचार से फंगस और बैक्टीरियल संक्रमण (fungus and bacterial infection) से भी छुटकारा मिल जाता है।

कान का दर्द कम करे (Reducing ear pain)

जब भी कभी हमें कानों के दर्द की समस्या सताती है तो हमारे पास इसके इलाज के लिए कोई ठोस तत्व उपलब्ध नहीं होता। पर एक घरेलू उपाय ऐसा है, जिसके प्रयोग से आपके कानों के दर्द की समस्या पूरी तरह दूर हो जाती है। अजवाइन और लहसुन को ग्राइंडर (grinder) में मिश्रित करके एक पेस्ट तैयार करें और इसका प्रयोग अपने कानों के उन भागों पर करें, जहां पर आपको दर्द हो रहा है। अगर आप कानों में गन्दगी जमने की समस्या से भी पीड़ित हैं तो यह एक काफी बेहतरीन उपचार है।

Subscribe to Blog via Email

Get Hindi tips to your inbox everyday