Is eating fruits help to improve your health – क्या फल खाना सेहत के लिए लाभदायक होता है? शरीर पर फलों का प्रभाव

फल (fruits) इस धरती का सबसे बेहतरीन आहार है। फल न केवल हमें अच्छी सेहत देते हैं बल्कि हमारे जीभ को खुशनुमा स्वाद देने के साथ मन को भी प्रफुल्लित कर देते हैं। अपने घर में मौसमी फलों को रखकर और नियमित रूप से उनका सेवन कर आप सेहत के लिए भरपूर पोषण प्राप्त कर सकते हैं।

एक स्टडी में यह बात सामने आई है की अपने रोज के आहार का फल और सब्जियों का पांचवा हिस्सा आपको कई प्रकार की बिमारियों और संक्रमण (infection)आदि से बचाने में मदद करता है। अगर आपको फल खाना ज़्यादा पसंद नहीं है और आप अपने नियमित आहार के साथ फल नहीं खाते तो अभी से अपनी इस आदत को बदल लीजिये और अपने आहार में फलों को शामिल कीजिये।

इस आर्टिकल के माध्यम से हम आपको जानकारी देने जा रहे हैं की कैसे, अपने आहार के साथ फलों का सेवन कर आप अच्छी और रोगमुक्त सेहत प्राप्त कर सकते हैं।

अपने प्राथमिक चुनाव में आप अपने लिए ऐसे फलों को चुन सकते हैं जिनमें पर्याप्त रेशे (fiber), विटामिन्स (vitamins), प्रोटीन (proteins) और पानी (water) की मात्रा हो। फलों में एंटीऑक्सीडेंट (antioxidant) तत्वों का होना भी बहुत ज़रूरी है, इसीलिए अपनी अच्छी सेहत के लिए आपको जिन खास फलों का सेवन करना आवश्यक है उनकी खास जानकारी यहाँ दी जा रही है।

फल के फायदे हैं ये पाचन में सहायक (Fruits promotes better digestive health)

शरीर को सभी प्रकार से संतुलन देने के लिए पाचन तंत्र (digestive system) की महत्वपूर्ण भूमिका होती है। फल पाचन क्रिया को बेहतर करने में मदद करते हैं और आंतों को भी सही तरीके से कार्य करने के लिए प्रोत्साहित करते हैं। आसान शब्दों में कहें तो फलों में मौजूद फाइबर (fiber) या रेशे पेट में जाकर भोजन को पचने में मदद करते हैं। पाचन क्रिया के सुचारु होने से शरीर और पेट को कई तरह के लाभ मिलते हैं और पेट की समस्याओं जैसे एसिडिटी (acidity) , पेट फूलना और कब्ज़ आदि का सामना नहीं करना पड़ता। फल शरीर के पाचन तंत्र को तो सुचारु रखते ही हैं साथ ही यह शरीर में विटामिन और मिनरल्स (minerals)की कमी को भी दूर करता है।

अच्छा खाना जो आपके मस्तिष्क शक्ति को बढ़ाये

तुरंत ऊर्जा प्राप्त करने के लिए लाभदायक होते हैं फल (Fallon ke gun for instant energy)

फलों में प्राकृतिक मिठास या चीनी होती है जो आसानी से शरीर के द्वारा अवशोषित कर लिए जाते हैं और पचने में भी आसान होते हैं। तो जब भी आपको शरीर में ऊर्जा की कमी महसूस हो रही तो तो आपको फलों का सेवन करना चाहिए। फल आपको तुरंत ऊर्जा देने में सहायक होते हैं। ये आपको ऊर्जा के साथ ज़रूरी विटामिन्स और मिनरल्स की कमी को भी पूरा करते हैं।

Subscribe to Blog via Email

Join 45,326 other subscribers

मल्टीविटामिन्स का बेहतर विकल्प है फल (Fruits are the best natural substitute for multivitamin)

आजकल मल्टीविटामिन्स (multivitamins) का प्रचलन ज़ोरों पर है। इन मल्टीविटामिन दवाओं में कई तरह के अलग अलग विटामिन्स हैं जो हमारे मेटाबोलिस्म (metabolism) को बढ़ाने में मदद करते हैं। प्रत्येक फल में कम या ज़्यादा मात्रा में विटामिन और मिनरल्स मौजूद होते हैं, जिनकी हमारे शरीर को ज़रूरत होती है। आप नियमित रूप से संतुलित उपयोग कर मल्टीविटामिन दवाओं की जगह ताज़े फलों को चुन सकते हैं।

फलों के फायदे इम्युनिटी बढ़ाने में सहायक होते हैं (Fallon ke fayde help in boosting your immunity)

विभिन्न प्रकार के फल हमारे प्रतिरक्षा तंत्र (immune system) में सुधार कर शरीर को कई तरह के रोगों और इन्फेक्शन आदि से दूर रखते हैं। रोज़ के आहार के साथ फल खाने से शरीर को ज़रूरी पोषण मिलता है और हमारा इम्युन सिस्टम (immune system) बेहतर तरीके से काम करता है। ज़्यादातर फलों में कुछ खास विटामिन जैसे विटामिन A (vitamin a) , विटामिन C (vitamin c) और विटामिन E (vitamin e) पाये जाते हैं जो उम्र के साथ हमारे प्रतिरक्षा तंत्र या इम्यून सिस्टम को मजबूत बनाए रखने में मदद करते हैं।

हृदय की कार्यप्रणाली को बेहतर करते हैं फल (Fruits can ensure a better cardiovascular health)

बालों के लिए पौष्टिक खाना और हेयर पैक

नियमित रूप से फलों के सेवन से हृदय में हो रही अनेक प्रकार की समस्याओं से राहत मिलती है। फलों में पाये जाने वाले पोषक तत्व शरीर को अंदर से स्वस्थ रखने में मदद करते हैं। फलों में पाए जाने वाले विटामिन, मिनरल्स और पोटेशियम आदि हृदय के साथ शरीर को सही पोषण देते हैं। जैसे केले में पाया जाने वाला पोटेशियम तत्व हृदय की कार्यप्रणाली को सुचारु रखने में मददगार होता है। इसके साथ ही यह रक्त में मौजूद कोलेस्ट्रॉल के स्तर को कम करने में भी मदद करता है। यह दिल के खतरों जैसे हार्ट अटैक और स्ट्रोक जैसे खतरों की संभावना को भी कम करता है।

कैंसर से लड़ने में सहायक फल (Fallon ke labh helps in fighting cancer)

फलों में प्राकृतिक रूप से एंटीऑक्सीडेंट (antioxidants) मौजूद होते हैं। यह शरीर को आंतरिक डैमेज से बचाकर कैंसर आदि रोगों से भी बचाए रखते हैं। फलों में उच्च मात्रा में प्राकृतिक रेशे या फाइबर (fibre) मौजूद होते हैं जो पाचन क्रिया को बेहतर बनाते हैं जो पेट के कैंसर या इंटेस्टाइन (intestine) कैंसर से बचाते हैं। फलों में ऐसे कुछ तत्व भी होते हैं जो शरीर के सम्पूर्ण हिस्सों को पोषण के साथ रोगों से भी बचाने का कार्य करते हैं। असामान्य कोशिकाओं के निर्माण और ट्यूमर आदि के बनने को भी नियमित फलों के सेवन द्वारा रोका जा सकता है।

फलों द्वारा एनीमिया का प्राकृतिक उपचार (Fruits – The best cure for anaemia)

अगर एनीमिया (anaemia) बहुत ही गंभीर हो जाये तो यह नियमित जीवन शैली के लिए एक बाधा बन जाता है। हमारे यहाँ और खासकर भारतीय महिलाओं में एनीमिया एक बहुत ही सामान्य रोग है जिसे कुछ सामान्य फलों के सेवन द्वारा ठीक किया जा सकता है। अपने रोज के आहार में बेरी, अनार, नारियल और जैतून जैसे आयरन से भरपूर फलों के सेवन द्वारा आप एनीमिया से लड़ सकते हैं। एनीमिया अगर बहुत गंभीर रूप ले ले तो यह स्वास्थ्य के लिए बहुत खतरनाक हो जाता है। इसीलिए शरीर में रक्त के अनुपात को सही रखने के लिए आपको इस तरह के आयरन से भरपूर फलों का सेवन करना चाहिए।

फलों के लाभ हड्डियों को बेहतर रखते हैं फल (Fruits for better bone health)

इस गर्मी में खाने के लिए सबसे अच्छा फल क्या हैं?

कैल्शियम एक ऐसा तत्व है जो हमारी हड्डियों और दांतों को सुरक्षित रखने में महत्वपूर्ण भूमिका निभाता है। शरीर में कैल्शियम की कमी की वजह से हड्डियों से संबन्धित रोग हो जाते हैं जिनमें आर्थराइटिस (arthritis), हड्डियों के बीच का घनत्व बढ़ना और स्पोंडेलाइटिस (spondylosis) जैसी बिमारियाँ प्रमुख हैं। अक्सर ये रोग कम उम्र में भी आसानी से देखे जा सकते हैं।कैल्शियम की सही मात्रा के लिए संतरा, खुबानी, कीवी (kiwi), खजूर और अंजीर आदि का सेवन करना चाहिए। इनमें मौजूद कैल्शियम (calcium) तत्व को शरीर जल्दी और आसानी से शोषित कर लेता है। अच्छी सेहत और लाभ के लिए इन फलों को रोज़ नियमित रूप से खाना चाहिए।

वज़न संतुलित रखने के लिए खाएं फल (Fruits helps in better weight management)

वज़न का अधिक या कम होना, दोनों ही सेहत के लिए हानिकारक होता है। सही सेहत का आनंद उठाने के लिए ज़रूरी है कि, आपका वज़न भी संतुलित हो। फल आपके शरीर में होने वाली विटामिन (vitamin) या मिनरल्स (mineral) की कमी को पूरा करने में मदद करते हैं ये शरीर के लिए सबसे बेहतर पोषक तत्व का काम करते हैं। यह पोषण आपके शरीर के साथ चेहरे पर भी दिखाई देता है। यह शरीर में पोषण की कमी को दूर करता है और आपको एक सही वज़न प्रदान करता है। फलों में मौजूद प्राकृतिक रेशे आपके आहार में बिना कैलोरी की मात्रा बढ़ाए आपको पेट भरे होने का अहसास कराता है। यह आपको वजन को कम करने में मदद करता है। साथ ही ऐसे फल जो पानी की उच्च मात्रा से भरपूर होते हैं उनके प्रयोग से भी आपको पोषण के साथ वजन संतुलन में सहायता मिलती है। तरबूज, खरबूजा, खीरा और लीची आदि ऐसे कुछ फल हैं जो पानी से भरे होते हैं।

स्वस्थ त्वचा और खूबसूरत बालों के लिए फल (Fruits for beautiful skin and healthy hairs)

आपके बालों और त्वचा को फलों से वाकई बहुत अच्छा पोषण मिलता है। यह पाचन को सुचारु कर आपके पूरे शरीर का ख्याल रखते हैं। अगर आपके शरीर में पोषण की कमी है तो यह आपके बालों और त्वचा पर दिखाई देती है। कुछ फलों में ऐसे महत्वपूर्ण मिनरल्स (minerals) होते हैं जो त्वचा और बालों को सेहतमंद रखने में मदद करते हैं। फलों में मौजूद उच्च एंटीऑक्सीडेंट जैसे विटामिन ई (vitamin e), विटामिन सी (vitamin c) और विटामिन ए (vitamin a) बढ़ती उम्र के निशान, और मुरझाई त्वचा को बेहतर करने का काम करते हैं। तो अगर आप इस तरह की किसी समस्या से परेशान हैं तो आपको भी रोज़ नियमित रूप से फलों का सेवन करना चाहिए।

loading...