Fruits to consume during pregnancy – गर्भावस्था के दौरान खाए जाने वाले सर्वश्रेष्ठ फल

गर्भावस्था वह समय होता है जब एक लड़की औरत का रूप लेती है और माँ की ज़िम्मेदारी निभाने के लिए तत्पर होती है। यह एक ऐसा अनुभव है जो उसने पहले कभी नहीं किया होता है और वह अपने अंदर एक और प्राणी के बढ़ने को महसूस कर पाती है।

इस समय बुज़ुर्गों और माओं द्वारा बहुत सी सलाह दी जाती है। गर्भावस्थ के दौरान एक माँ के खानपान में सारी स्वास्थ्ययवर्धक चीज़ें होनी चाहिए जैसे पालक, गोभी, दाल, बीन्स, अंडे, दूध और दही। इसके अलावा कई फल भी ऐसे हैं जो गर्मियों में माँ और बच्चे को स्वस्थ रखते हैं। गर्भावस्था में देखभाल :-

स्वस्थ गर्भावस्था के लिए आहार – गर्मियों में गर्भावस्था के दौरान खाए जाने वाले फल (Fruits during pregnancy in summer)

1. गर्भावस्था में भोजन, सेब गर्भवती महिलाओं के लिए काफी अच्छे होते हैं। इसमें काफी आवश्यक पोषक तत्व और विटामिन होते हैं जैसे मैलिक एसिड, टैनिन और फाइबर। सेब भ्रूण के बढ़ने में काफी महत्वपूर्ण भूमिका निभाता है और पाचन क्रिया को सुचारू रूप से चलाता है। यह अनीमिया को ठीक करता है एवं तेज रहित त्वचा में रौनक लाता है।

2. ड्रैगन फ्रूट गर्मियों का एक प्रसिद्ध फल है जो मीठा, खट्टा और ठंडा होता है और गर्भवती महिलाओं में बलगम को कम करता है।

3. गर्भावस्था में भोजन, बेर शरीर की गर्मी को कम करता है और गर्म दिनों में शरीर की प्यास बुझाता है।

क्या गर्भावस्था के समय एक्सरे कराना सुरक्षित है ?

4. चेरी में आयरन,कैरोटीन,विटामिन बी १, बी २ तथा सी, कैल्शियम तथा फॉस्फोरस के गुण होते हैं। यह खून का स्तर बढ़ाती है और पाचन क्रिया को सुधारने में मदद करती है। चेरी भ्रूण में पल रहे बच्चे को स्वस्थ और गोरी त्वचा देने में भी मदद करती है।

5. स्ट्रॉबेरी में विटामिन सी के गुण होते हैं और यह ठण्ड को नियंत्रित करने में आपकी मदद करती है। यह भूख बढ़ाती है और भोजन से वसा को पिघलाने में सहायता करती है।

6. अंगूर गर्भवती महिलाओं के सेवन के लिए सबसे बेहतरीन एवं पोषक फलों में से एक हैं। इनमें विटामिन सी, ए, कैल्शियम, जैविक एसिड, आयरन तथा फॉस्फोरस की भरपूर मात्रा होती है। अंगूर एनीमिया, निम्न रक्तचाप तथा कमज़ोरी की शिकार महिलाओं के लिए काफी उपयोगी है।

7. गर्भावस्था में भोजन, केला गर्भवती महिलाओं के लिए एक स्वास्थ्यवर्धक फल है। केला शरीर के विषैले तत्व बाहर निकालने में मदद करता है। यह अनियमित मलोत्सर्ग ठीक करने में अहम भूमिका निभाता है एवं पाचन की प्रक्रिया को दुरुस्त करता है।

गर्भवती महिलाओं के लिए खास टिप्स – गर्मियों में गर्भवती महिलाओं के लिए स्वास्थ्यकर फलों के रस (Healthy summer juices for pregnant women)

फलों का रस गर्भवती महिलाओं के स्वास्थ्य के लिए काफी अच्छा और पोषक होता है। गर्मी के मौसम में गर्भवती महिलाओं को शरीर में पानी की कमी और कब्ज़ जैसी समस्याओं से निपटने के लिए स्वास्थ्यकर द्रव्यों की ज़रुरत होती है। फलों के रस मल को नरम करते हैं,शरीर के विषैले तत्व निकालकर उसे साफ़ करते हैं तथा शरीर में पानी की कमी नहीं होने देते।

1. गर्भावस्था के दौरान आहार (pregnancy mai khana), तरबूज़ के रस में पानी की काफी ज़्यादा मात्रा होती है और यह गर्भावस्था के समय शरीर को ठंडा रखता है।

मिसकैरेज के लिए क्या कारण हैं? गर्भपात से कैसे बचा जाए?

2. मीठे नींबू के रस से शरीर को ठंडक मिलती है एवं पाचन क्रिया,कब्ज़ तथा मतली को ठीक करने में काफी सहायता मिलती है जो गर्भावस्था के समय आम हैं।

3. नींबू के रस से शरीर में पानी की कमी नहीं होती तथा इससे जी मिचलाने तथा सुबह की बेचैनी से राहत मिलती है। यह शरीर के विषैले तत्वों को भी बाहर निकालता है।

4. कम वसा वाला दूध गर्भवती महिलाओं के लिए स्वास्थ्यवर्धक तथा पोषक होता है। इसमें भरपूर मात्रा में कैल्शियम और आयरन होते हैं।

5. गर्भावस्था के दौरान आहार (garbhavastha me khana), पुदीने का पानी एक स्वास्थ्यकर द्रव्य है जो शरीर को ठंडक देता है तथा जी मिचलाने एवं उलटी की समस्या को प्राकृतिक तरीके से ठीक करता है।

6. गर्मी आमों का मौसम होती है। गर्भावस्था के दौरान कम मात्रा में आम का रस या मिल्क शेक स्वास्थ्य के लिए काफी अच्छा होता है।