Hindi tips for motion / constipation – कब्ज से छुटकारा पाने के लिए सर्वोत्तम खाद्य पदार्थ

कब्ज पाचन संस्था की एक आम बिमारी है जो किसी भी उम्र की व्यक्ति को हो सकती है। कब्ज के लक्षण, कब्ज होने के साधारण लक्षण हैं पेट फूलना, एसिडिटी, भूक न लगना, साँसों में बदबू, सरदर्द, मुंहासे और मुह के छाले। कब्ज होने के प्रमुख कारण हैं अनियमित आहार, बहुत कम पानी पीना,पेट के मांसपेशियों की कमजोरी, कोई कसरत न करना, तनाव और कुछ किस्म की दवाइयां।

कब्ज कैसे दूर करे, बिगड़ा पेट आपका पूरा दिन ख़राब कर सकता है। पेट साफ होने के उपाय, हम किसी भी बात पर काबू पा सकते हैं लेकिन कब्ज से पीड़ित गुर्राता पेट भीड़ में आपको अलग दिखाता है। हालांकि, कब्ज से निपटने में सहायता के लिए कई खाद्य पदार्थ उपलब्ध हैं।

पेट साफ होने के उपाय, उच्च मात्रा में तंतु भरे खाद्य पदार्थ कब्ज का मुकाबला करने और एक हद तक इससे बचने में मदद करते हैं। कब्ज के कारण, एक औसत वयस्क व्यक्ति को दैनिक आधार पर 26 से 35 ग्राम तंतु लेना चाहिए।

तंतु से भरे खाद्य पदार्थ कब्ज से छुटकारा दिलाने में मदद करते हैं। (Foods that are high in fiber helps in relieving constipation)

  • फल, सब्जियां, साबुत अनाज: इनमे तंतु होने के कारण यह पाचन में मदद करते हैं। सब्जियों के पत्तों में, फलों के छिलकों में और सब्जियों में तंतु पाए जाते हैं। सेब को बिना छिले ही खाएं। हरी सब्जियां तंतु के साथ शरीर को अवाश्यक मैग्नीशियम खनिज दिलाती हैं।

दमा का नियंत्रण करने के लिए सर्वोत्तम खाद्य पदार्थ

  • सूखे आलूबुखारे : सूखे आलूबुखारे रेचक की तरह काम करते हैं। अंतड़ियों को उत्तेजित करके मल को बाहर निकालने में आलूबुखारे काम करते हैं।
  • कॉफ़ी और अन्य गरम पेय : कॉफ़ी से शरीर को कोई स्वास्थय लाभ नहीं होता पर यह शरीर को तनाव से मुक्ति देता है। कॉफ़ी पिने से कब्ज से छुटकारा मिलता है।
  • पानी: तंतु का काम सफल होने के लिए पानी की आवश्यकता होती है। अगर हम पर्याप्त मात्रा में पानी नहीं लेंगे तो यह पानी शरीर के मल से खिंचा जाता है और मल शरीर से निकलना मुश्किल होता है।
  • अलसी के बीज : बड़ी मात्रा में तंतु होने के कारण अलसी के बीज पाचन में मदद करते हैं। रात में सोने से पहले 1 गिलास गरम दूध में अलसी के बीज मिलाकर पियें। अलसी के बीज सुबह भी खाए जा सकते हैं।
  • यूरोपियन सलाद : सलाद में कई पोषण मूल्य होते हैं। युरोप में भोजन के बाद सलाद खाया जाता है जिसके तंतु पाचन में मदद करते हैं।

पेट साफ करने के लिए उपाय, कब्ज से छुटकारा पाने के लिए खाद्य पदार्थ (Foods that help to get rid of constipation)

  • नींबू – कब्ज का घरेलू इलाज, कब्ज से छुटकारा पाने के लिए सबसे गुणकारी है। सुबह खाली पेट एक गिलास गरम पानी में नींबू का रस, एक चुटकी नमक और थोडा शहद मिलाकर पियें।
  • सौंफ – अपचन, पेट फूलना और कब्ज से राहत दिलाता है। सौंफ को भुनकर पिस लें। रोज आधा चम्मच सौंफ की पाउडर पानी में मिलाकर पियें।
  • अंजीर – कब्ज का घरेलू इलाज, प्राकृतिक रूप में रेचक का काम करता है। ताजे और सूखे अंजीर खाए जा सकते हैं। 2 या 3 बादाम पानी और सूखे अंजीर थोड़ी देर के लिए पानी में भिगोयें। बादाम छीलकर अंजीर के साथ पिस लें। यह पेस्ट रात में 1 बड़े चम्मच शहद के साथ लें।
  • रेंडी का तेल हर उम्र की व्यक्ति ले सकता है और यह अंतड़ियों का कार्य सुधारता है। खाली पेट 1 बड़ा चम्मच रेंडी का तेल लें या इसे किसी फल के रस में मिलाकर लें।

कब्ज से छुटकारा पाने के लिए सर्वोत्तम खाद्य पदार्थ

  • शहद सौम्य रेचक है। दिन में 3 बार 2 बड़े चम्मच शहद लें।
  • अंगूर में तंतु होते हैं जो पेट साफ़ रखते हैं। रोज 15-20 अंगूर खाएं।
  • पालक – कब्ज का घरेलू इलाज, कब्ज के लिए उपयुक्त सब्जी है। पालक में कई घटक हैं जो पाचन संस्था सुधार देते हैं।
  • गुड का रस सर्वोत्तम प्राकृतिक रेचक है। 1 चम्मच गुड का रस रात में सोने से पहले दूध या फल के रस में मिलाकर लें।
  • खाने का सोडा – कब्ज की आयुर्वेदिक दवा, कब्ज से राहत दिलाता है। 1 बड़ा चम्मच सोडा 1/4 कप गरम पानी में मिलाकर पियें।
  • मेथी के बीज में तंतु होते हैं जो रेचक का काम करते हैं।
  • दही में अच्छे कीटाणु होते हैं जो पाचन सुधारते हैं।
  • आमला की पाउडर – कब्ज की आयुर्वेदिक दवा, 1 गिलास गरम पानी में मिलाकर सुबह खाली पेट या रात में सोने से पहले लें।
  • गरम दूध में 1 चम्मच घी मिलाकर रात में सोने से पहले पिने से कब्ज से आसानी से राहत मिलती है।

कब्ज़ दूर करने के मुख्य भोजन (Food for preventing constipation or constipation treatment in hindi)

पेट साफ होने के उपाय केला से (Banana se kabaj ke upay)

यह उपाय हमारे दादा और दादी के द्वारा सदियों से अपनाया जाता रहा है। कब्ज़ एक ऐसी स्थिति है जहां आपका मल काफी कड़ा हो जाता है और मलद्वार से बाहर नहीं आ पाता। इससे मलत्याग करने की आपकी प्रक्रिया परकाफी फर्क पड़ता है। इसके अलावा कुछ लोगों के मलद्वार पर कटने के निशान बन जाते हैं जिनसे खून रिसता है। केला एक ऐसा फल है जो आपके मल को नरम बनाता है और आपको कब्ज़ की समस्या से मुक्ति दिलाने में मदद करता है।

कीवी से कब्ज़ का इलाज (Kiwi helping constipation)

अच्छा खाना जो आपके मस्तिष्क शक्ति को बढ़ाये

कीवी एक ऐसा प्राकृतिक फल है जिसमें प्रचुर मात्रा में फाइबर और विटामिन (fibers and vitamins) भरे हुए होते हैं। इसके हमारे शरीर पर कई प्रकार के स्वास्थ्य लाभ होते हैं। इनमें से एक स्वास्थ्य लाभ यह होता है कि यह हमारे पेट की समस्याओं को जड़ से खत्म करता है और मलत्याग अच्छे से करने में मदद करता है। क्योंकि यह एक फाइबर से भरा हुआ फल है, अतः इसके सेवन से आप कब्ज़ की समस्या से दूर रह सकते हैं।

कब्ज का घरेलू इलाज मीठे आलू से (Sweet potatoes se constipation ke gharelu nuskhe)

काफी कम लोगों को मीठे आलू के गुणों के बारे में पता है। इसका प्रयोग सामान्य आलुओं की तुलना में सब्ज़ियाँ बनाने के लिए कम किया जाता है। खाद्य विशेषज्ञों के अनुसार मीठे आलू में 3.8 ग्राम फाइबर पाया जाता है। अतः यह कब्ज़ दूर करने की काफी अच्छी औषधि साबित होता है। अगर आप अपने स्वास्थ्य को दुरुस्त रखना चाहते हैं तो मीठे आलुओं को भुन लें और इनका सेवन करें।

कब्ज़ दूर करने के लिए नट्स (Nuts to qabz ka desi ilaj)

नट्स एक और महत्वपूर्ण खाद्य पदार्थ है, जो ना सिर्फ स्वादिष्ट होता है, बल्कि आपको कब्ज़ की समस्या से दूर रखने में भी काफी सहायक होता है। नट्स के सबसे सामान्य प्रकार अखरोट, पेकंस (pecans) और बादाम होते हैं। जब भी आपको कब्ज़ की समस्या हो तो आप इन नट्स का सेवन करके काफी लाभ प्राप्त कर सकते हैं।