Best Home remedies to cure menstrual pain – बेहतरीन घरेलू नुस्खों से अपने माहवारी या पीरियड्स के दर्द को दूर करें

माहवारी के दौरान जो दर्द होता है वो असहनीय होता है। सुन्न होना और बेचैनी रहती है, इसलिए आप उन नुस्खों को ढूंढती है जो आपको इस दौरान बेहतरीन महसूस करा सकें। आप सही पोषण के खाने को अपना सकती है और कुछ कसरत कर सकती है जिस से इन दौरान आप बढ़िया और अच्छा महसूस कर पाए।

अब ज़रूरी यह है की आप अपने दर्द की वजह को जाने और इस से आप सही नुस्खे को अपनाकर दर्द से छुटकारा पाए। प्रोस्टाग्लैंडीन (prostaglandin) नामक एक हॉर्मोन (hormone) है जो माहवारी के समय आपके गर्भाशय मांसपेशियों (muscles) को संकुचन करता है।

माहवारी का दर्द में पानी आपके दर्द को प्रबंधन करने में सहायता करता है। (Water will help in managing the pain)

मासिक धर्म के घरेलू उपाय है सही मात्र में पानी का ग्रहन करने से आप माहवारी के सूजन से छुटकारा पा सकती है और यही नहीं इस से आपका दर्द और बेचैनी भी कम हो जाती हैं। जब तनाव हो तब आप गरम पानी का उपयोग करें। गरम लिक्विड (liquid) के कारण रक्त का बहाव बेहतर बढ़ जाता है। इस से त्वचा और मांसपेशियों (muscles) को बेहतर आराम मिलता है। आप पानी आधारित खाने का भी प्रयोग कर सकती है जिस से आपका शारीर हाइड्रेटेड (hydrated) रहेगा। पानी आधारित खाना जैसे खीरा, सलाद, तरबूज, अजवायन, जामुन और अन्य आपके दर्द को इस दौरान दूर रखते है।

कैल्शियम से आप तंदरूस्त रह सकते है (Calcium can make you stay well)

सेल्यूलाइट डिम्पल से छुटकारा

कैल्शियम एक महत्व घटक है जो दर्द भरे मांसपेशियों को कम करने में मदद करता है। यह दर्द माहवारी के दौरान उत्पन होता है और यही कारण है जो महिलाओं को 1000 mg कैल्शियम रोज़ लेना चाहिए। और यह संतुलित डोज़ में 19 से 50 उम्र के बीच महिलाओं का लेना आवश्यक है। तील के बीज, दुग्ध उत्पाद, हरी सब्जियां, बादाम, और अन्य खाना जिन्मे ज्यादा मात्रा में कैल्शियम मिलता हो उन्हें ग्रहण करना चाहिए। आप कैल्शियम परिशिष्ट (supplement) के रूप में भी ले सकती है। लेकिन परिशिष्ट लेने से पहले आप अपने चिकित्सक से परामर्श कर ले क्योंकि वह सही इंसान है जो आपको इसे लेकर सही जानकारी दे सकते है।

पीरियड्स में दर्द में दालचीनी एक सही उपाय है (Cinnamon se period me pet dard ke upay)

एलर्जी और ज़ुकाम को दूर रखने में दालचीनी बेहतरीन तरीके से काम करती है और यही नहीं यह पचाने में भी उपयोगी है। और यह माहवारी के दौरान दर्द को हल्का रखती है जिस से आप सही और तंदरूस्त रहेंगी। यह मसाला एक सही डाइटरी फाइबर (dietary fibre) का किरदार निभाता है और साथ ही यह आयरन और कैल्शियम का स्रोत भी है। यह सही मात्रा में मैंगनीज (manganese) भी प्रदान करता है, जिस से आपको माहवारी के दौरान दर्द से छुटकारा मिलेगा।

पीरियड की समस्या में तुलसी की उपयोगिता (Mahwari me dard ka ilaj basil se)

मासिक धर्म के समय दर्द में तुलसी एक उपयोगी जड़ी बूटी है जो माहवारी के दौरान दर्द को कम करने में सहायता करती है। तुलसी में काफ्फ़िक (caffeic) एसिड होता है जो एक प्रकार का पीड़ाहर है और जिसमे दर्द को दूर करने का फीचर उपलब्ध है। आपको एक कप उबलते हुए पानी में तुलसी के पत्ते को डालना चाहिए। जब यह पानी ठंडा हो जाए तब आपको इसे पी लेना चाहिए और इस नुस्खे को हर घंटे दोहराते रहना चाहिए ताकि यह दर्द को कम करे और आपको आराम प्रदान करें। आप तुलसी के पत्ते को खाने में भी डाल कर इनका प्रयोग कर सकती है। इस से आपके खाने की खुशबू भी बढ़ जाती है साथ ही यह आपको स्वस्थ भी रखता है।

Subscribe to Blog via Email

Join 45,326 other subscribers

गर्भधारण के लिए महीने का सबसे सही दिन कौन सा?

सौंफ (Fennel) में आपको अन्तिस्पस्मोदिक (antispasmodic), एंटी-इंफ्लेमेटरी (anti-inflammatory) और फ्य्तोएस्त्रोजेनिक (phytoestrogenic) गुण मिलते है। यह गुणों से आपको गर्भाशय के मांसपेशियों को आराम प्राप्त हो सकता है। यह बेकार के दर्द और ऐंठन को दूर करने में भी लाभकारी है। सौंफ के बीज को एक कप उबलते हुए पानी में डालें। यह मिश्रण को 5 मिनट के लिए कम आंच पर बनने दे। फिर इस मिश्रण को आंच से दूर करें और पतियों को पानी में से छान ले। फिर उसमे शहद मिलाये और ध्यान रखें की आप इसको सही तरह से मिला रहे है। अब इस पानी को आप पी सकते है। इस जड़ी बूटी पानी को आप दिन में दो बार ग्रहण करें। यह सही में लाभकारी है जो आपके माहवारी के समय के दर्द को दूर करता है।

पीरियड्स के दर्द में शीरा आपकी सहायता कर सकता है (Blackstrap molasses masik dharm me dard ke liye)

एक और चीज़ जिसका आप माहवारी के दौरान ग्रहण कर सकती है जो है शीरा। शीरा आयरन और कैल्शियम से भरपूर है और इनमे मैग्नीशियम (magnesium) , पोटैशियम (potassium) , विटामिन B6 (vitamin B6) और अन्य भी है। शीरा आपके रक्त के थक्के (blood clots) को कम करेगा और आपके गर्भाशय की मांसपेशियों को आराम पहुंचाएगा। यह एक उपाय जो माहवारी के दौरान दर्द को कम करेगा और साथ ही आपको रिलैक्स महसूस कराएगा। अब पीरियड्स के दौरान दर्द और बेचैनी को आसानी से दूर करें और साथ ही स्वस्थ रहे।

loading...