पिम्पल्स हटाने के उपाय – मुंहासे और उनके दाग का उपचार

मुहासे होने का मुख्य कारण हैं त्वचा पर जीवाणु का जमा हो जाना। इस वजह से त्वचा उस जगह से फूल जाती है और उसमे पस जमा हो जाती है। मुहासे मुख्यतः चेहरे, गले, पीठ और गर्दन पर पाए जाते हैं। मुहासे होने का कारण, चेहरे पर मौजूद तेल ग्रंथियो से यदि अधिक मात्रा मे तेल निकालने से चेहरे पर चिकनाई बढ़ जाती है जो जीवाणु पैदा करते हैं।

मुहासे कोई बड़ी समस्या नही है पर यह आपकी खूबसूरती कम कर सकता है और उससे भी ज़्यादा परेशन कर सकते है मुहासो के बाद रहने वाले उसके दाग। वैसे तो बाज़ार मे मुहासो / डार्क स्पॉट्स (dark spots) से मुक्ति पाने के कई उपाए मौजूद हैं पर आप यह काम खुद घर पर भी कर सकते हैं। यह घरेलू उपचार किसी भी बाज़ारी द्वा के तरह ही काम करते हैं और मुहासो से मुक्ति पाने मे आप की मदद कर सकते हैं।

मुंहासे और उनके दाग का उपचार (muhase aur inke daak ga upchaar)

मुहांसे के कारण, आज की युवा पीढ़ीं मे मुहासे एक बड़ी समस्या बनती जा रही है। इस से जल्दी निजात पाने के लिए वह बाज़ार मे पाए जाने वाले केमिकल युक्त उत्पाद का प्रयोग करते है, बिना उनके दुष्प्रभवओ के बारे मे सोचे।

यदि देखा जाए तो इन उत्पादो के कितने प्रभावी परिणाम हैं उसका कोई ठोस प्रमाण नही है। इसके विपरीत घरेलू उपचार पूरी तरह से प्रभावी और दुष्प्रभाव मुक्त होते हैं भले ही समय कुछ अधिक लग सकता है।

मुहासे से छुटकारा, यह घरेलू उपचार ना केवल मुहासे ख़तम करते हैं बल्कि उसके निशान भी मिटाने मे सक्षम हैं। शायद यही वहज है की हमारे देश मे इन उपचारो का इतना महत्व है।

यहाँ पर हम मुहासे मिटाने वाले कुछ उपचारो के बारे मे बात करेंगे जो अत्यन्त प्रभावी हैं।

चेहरे पर कील-मुंहासे के लिए एप्पल साइडर विनेगर (Apple Cider Vinegar)

मुंहासों को दूर करने के घरेलू उपचार

सेब का सिरका कई रोगों में प्रयुक्त होने वाला एक प्रसिद्ध नुस्खा है, जिसे मुहांसों के दाग हटाने के लिए भी प्रयुक्त किया जा सकता है। सिरका एक शक्तिशाली एस्ट्रिंजेंट (astringent) है जो प्रभावित क्षेत्रों में रक्त का प्रवाह सुचारू बनाता है, जिससे कोशिकाओं की मरम्मत तेज़ी से और प्रभावी रूप से होती है। इसका प्रयोग करने के लिए केवल पानी और सेब का सिरका आपस में मिश्रित करें। इस मिश्रण में रुई डुबोएं एवं मुहांसों के दाग पर इसका प्रयोग करें।

मुंहासे के लिए खीरा (Cucumber)

खीरा आपकी त्वचा के लिए काफी गुणकारी होता है, क्योंकि इसमें विटामिन एवं मैग्नीशियम (vitamin and magnesium) होता है जो आपकी त्वचा को ऊर्जा एवं चमक प्रदान करते हैं। एक ताज़ा खीरा लें एवं इसके टुकड़े करें। इन टुकड़ों को त्वचा के प्रभावित क्षेत्रों पर लगाएं। इन टुकड़ों को मुहांसों के दाग पर करीब आधे घंटे के लिए छोड़ दें।

पिम्पल्स के दाग हटाने के नारियल का तेल (Coconut Oil)

नारियल का तेल त्वचा की देखभाल के लिए एक प्रभावी तत्व है, क्योंकि यह नमी प्रदान करने वाले श्रेष्ठ प्राकृतिक कारकों से भरपूर होता है। यह त्वचा की मरम्मत में काफी सहायक होता है। हालांकि नारियल तेल को चेहरे पर लगाकर छोड़ना प्रस्तावित किया जाता है, परन्तु यदि आप ऐसा नहीं करना चाहते हैं तो इसे चेहरे पर लगाकर आधे घंटे के लिए छोड़ दें एवं इसे किसी सौम्य फेस वाश (face wash) से धो लें।

Subscribe to Blog via Email

Join 44,900 other subscribers

पिम्पल्स के दाग हटाने के कच्चा शहद (Raw Honey)

शहद साफ एवं दमकती त्वचा के लिए काफी बेहतरीन तत्व होता है एवं मुहांसे के दाग दूर करने में काफी प्रभावी साबित होता है। इसका त्वचा पर प्रयोग करने से आपका चेहरा मुलायम एवं नमीयुक्त हो जाता है। एक चम्मच शहद लें और इसका प्रयोग अपनी त्वचा के प्रभावित भागों पर करें। इससे धीरे धीरे चेहरे पर गोलाकार मुद्रा में मालिश करें और इसे 10 मिनट के लिए छोड़ दें। समय की समाप्ति होने पर अपनी त्वचा को ठन्डे पानी से धो लें।

लहसुन से पिम्पल के दाग मिटाने (muhase hatane ke lahsun)

कील-मुहाँसो के लिए सबसे अच्छे साबुन

लहसुन में एंटीफंगल गुण मौजूद होते हैं जो मुंहासों को दूर करने के साथ ही साथ एक्ने मार्क्स या पिम्पल के दाग को भी हल्का करने में मदद करते हैं. इसके लिए लहसुन को छीलकर उसे कुचल लें और इस रस को रुई की मदद से चेहरे में मुंहासों वाली जगह पर लगाकर 10 से 15 मिनट तक रखें. इससे मुंहासों के दाग जल्दी चले जायेंगे.

ऑइल ऑलिव के द्वारा मुंहासों के दाग हटाने के लिए उपाय (Olive oil for acne scar)

ऑलिव ऑइल का प्रयोग त्वचा पर किसी भी तरह के दाग धब्बों को दूर करने के लिए श्रेष्ठ माना जाता है. अगर आप नियमित रूप से त्वचा या चेहरे पर ऑलिव ऑइल लगाती हैं तो दाद धब्बे जल्दी ही हलके होकर ख़त्म हो जाते हैं. इसके लिए चेहरे की त्वचा और पिम्पल के दाग वाली जगह पर ऑलिव ऑइल कि मसाज करें. त्वचा पर सर्कुलर मोशन में हाथ घुमाते हुए मसाज करनी चाहिए. इससे पिम्पल के दाग दूर करने के उपाय में आजमाया जाता है.

दालचीनी और शहद से मुंहासो के दाग हटाने का घरेलू उपाय  (muhase ke daag hatane ka upay Honey & cinnamon mixture se)

दालचीनी और शहद दोनों ही त्वचा से पिम्पल के निशाँन मिटाने के उपाय में प्रभावकारी हैं. चेहरे में अगर पिम्पल हों और उनके दाद लम्बे समय से चेहरे की खूबसूरती को नष्ट कर रहे हों तो शहद और दालचीनी का पेस्ट बनाकर प्रभावित जगह पर लगायें. इस उपाय को करने के लिए दो चम्मच शहद में आधा चम्मच दालचीनी का पाउडर मिला लें और इसे मिक्स कर चेहरे में दाग वाली जगह पर लगा कर 10 मिनट रखें, इसके बाद ठंडे पानी से चेहरे को धो लें.

कील मुंहासे का देसी इलाज  चीनी से करें चेहरा साफ़ (Chehre par muhase ka ilaj with sugar scrub)

यह स्वस्थ त्वचा और एक उज्जवल टोन को प्राप्त करने में मदद करते हैं। पिम्पल्स को कैसे रोके, पिम्पल्स और पिम्पल्स के निशान साफ़ करने के लिए यह एक सरल और आसान तरीका है। यह एक छूटना के रूप में काम करते हैं और आप करता होगा। चीनी के तीन मेज चम्मच, दूध पाउडर का 1 बड़ा चम्मच और शहद की एक चम्मच ले लो, इन सब का एक मिश्रण बना ले। इस मिश्रण को 15 मिनट के लिए चेहरे पर लगा लें। यह एक अत्यंत प्रभावी उपाय है मुहासो से मुक्ति पाने का।

मुहासे का घरेलू इलाज अंडे की सफ़ेदी से (Egg white to lighten pimple marks/ muhase ka gharelu ilaj )

चेहरे पर दाने के उपाय, अंडे का सफेद भी मुहसो पर काम करता हैं। अंडे की जर्दी से सफेद अंडे अलग कर ले, फिर इस सफेद तरल पदार्थ को मुहासे या उसके निशान पर लगाएँ और फिर 10-15 मिनट के बाद ठंडे पानी से धो लें। यह उपाए आपके मुहासे (मुहासे का घरेलू इलाज) कम करने के साथ साथ उसके निशानो से भी मुक्ति देगा।

पिम्पल्स का इलाज बेकिंग सोडा से (Baking Soda for lightening pimple scars)

बेकिंग सोडा इस्तेमाल करने से भी आप मुहासो या उसके निशान से मुक्ति पा सकते हैं। कील मुंहासे की दवा हैं बेकिंग सोडा को थोड़े से पानी के साथ मिला ले और इस मिश्रण को प्रभावित जगह पर फला कर लगायें। यह मिश्रण मुहसो को जड़ से मिटा देगा और उसका कोई निशान भी नही रहने देगा।

पिम्पल्स का इलाज टमाटर से (Tomatoes to remove muhase & scars)

विटामिन ए मृत त्वचा को पोषण देने में मदद करता है और जो टमाटर में समृद्ध है। यह विटामिन ए त्वरित त्वचा के विकास के साथ इस प्रक्रिया के उपचार के वक़्त मुहासो और उसके निशान को हटा देगा। टमाटर का प्रयोग करने के लिए बड़ी प्रक्रिया की कोई जरूरत नहीं है। बस टमाटर स्लाइस ले और थोड़ा पानी मिला लें, यह एक लुगदी रूपी मिश्रण बन जाएगा। यह लुगदी चेहरे पर लगा कर 20 मिनिट लिए छोड़ दें और फिर गर्म पानी से धो लें।

आप इस मिश्रण मे आवोकआडोज़ या खीरे भी मिला सकते है और इसे फेस मास्क की तरह से ईस्तमाल कर सकते हैं। यह मास्क लगा कर 30 मिनट के बाद ठंडे पानी से धो ले। चेहरे के काले दाग धब्बे, बहतेर परिणामो के लिए इस उपाए का प्रायोग साप्ताह मे एक बार ज़रूर करे।

घृतकुमारी और हल्दी पैक (Aloe Vera and turmeric pack to clear muhase)

कील और मुंहासों के निशान

घृतकुमारी पोषक तत्वों , एंजाइम और पोलिसॅक्रिड्स का एक बड़ा स्रोत है। यह विरोधी बैक्टीरियल और विरोधी कवक एजेंट काम करते हैं और त्वचा से मौजूद विषाक्त पदार्थों को दूर करेगा, त्वचा की नमी के रूप में भी काम करता है और नमी के स्तर को संतुलित करता है। हल्दी एक उत्कृष्ट एकषफ़ोलियटिंग के एजेंट है और साथ साथ इस्मे जीवाणु विरोधी भड़काऊ गुण है।

पिम्पल्स को कैसे रोके, हल्दी और घृतकुमारी के मिश्रण के इस्तेमाल से आप मुहासो से छुटकारा पा सकते हैं। चेहरे के गड्ढे, इसके नियमित प्रयोग से आप के त्वचा पर एक अलग निखार आएगा और आप मुहासो से भी दूर रहेंगें।

मुहासे के दाग धब्बे हटाने के नुस्खे(muhase ke daag hatane ka upay)

टी ट्री आयल डार्क स्पॉट्स के लिए (Tea tree oil to get rid of pimple scars)

टी ट्री आयल एक काफी बेहतरीन विकल्प है अगर आप दाग धब्बों की समस्या से परेशान हैं। प्रभावित भागों में टी ट्री आयल लगाएं तथा कुछ घंटों तक छोड़ दें। यह एक्ने के दाग को ठीक करता है तथा दोबारा एक्ने होने से रोकता है।

नींबू का फेस पैक से चेहरे पर मुहासों का इलाज  (Lemon to treat pimple spots)

नींबू के एस्ट्रिंजेंट वाले गुण एक्ने वाली त्वचा पर काफी चमत्कारी होते हैं। इसमें विटामिन सी की भरपूर मात्रा होती है जो त्वचा की सुंदरता को बढ़ाता है।

सामग्री (Ingredient)

  • नींबू का रस
  • ग्लिसरीन

विधि (Process)

आधा नींबू निचोड़ें तथा इसे दोगुनी मात्रा के ग्लिसरीन के साथ मिलाएं। इसे चेहरे पर लगाएं तथा कुछ ही दिनों में आपको असर नज़र आएगा।

नीम का फेस पैक (Neem face pack se acne ke upay)

नीम अपने एंटी फंगल एवं एंटी बैक्टीरियल गुणों के लिए जाना जाता है। इसे प्राकृतिक एस्ट्रिंजेंट की तरह इस्तेमाल किया जा सकता है और ये रक्त में मौजूद बैक्टीरिया को निकाल देता है।

सामग्री (Ingredient)

  • नीम के पत्ते
  • हल्दी का पाउडर
  • कच्चा दूध
  • मुल्तानी मिटटी

विधि (Process)

नीम की पत्तियों को पीसकर उसका पेस्ट बनाएं तथा इसमें एक चम्मच मुल्तानी मिटटी, आधा चम्मच हल्दी तथा कच्चा दूध मिलाएं। इन सबको अच्छे से मिलाकर त्वचा पर लगाएं। हल्दी के जलन से रक्षा करने वाले गुण तथा दूध और मुल्तानी मिटटी की अच्छाई चेहरे के गड्ढे, मुहांसे के दाग को हटाती है।

चन्दन का फेस पैक (Sandal wood face pack for scar free skin)

त्वचा के मुहांसों को हटाने

मुहासे की दवा है चन्दन के पाउडर तथा गुलाबजल का मिश्रण अपने चेहरे पर लगाएं। इससे मुहांसों के तथा एक्ने के दाग दूर होते हैं।

सामग्री (Ingredient)

  • चन्दन का पाउडर
  • गुलाबजल

विधि (Process)

3 चम्मच चन्दन का पाउडर लें तथा इसे गुलाबजल के साथ मिलाकर एक फैलने वाला पेस्ट बनाएं। इसे अपनी उँगलियों से त्वचा पर लगाएं और 15 मिनट तक छोड़ दें। इस पैक का निरंतर उपयोग करने से आपको दाग धब्बों से मुक्त त्वचा मिलती है।

मुहासे का उपचार शहद और दूध का पैक से (Honey, turmeric and milk face pack se acne ka ilaaj)

सामग्री (Ingredient)

  • शहद
  • हल्दी का पाउडर
  • दूध
  • गुलाबजल

विधि (Process)

एक पात्र में 2 चम्मच शहद, आधा चम्मच हल्दी का पाउडर, 2 चम्मच दूध तथा गुलाबजल की कुछ बूँदें मिलाएं। इन सबको अच्छे से मिलाकर अपने चेहरे पर लगाएं। 15 मिनट प्रतीक्षा करें तथा सादे पानी से चेहरा धो लें।

कील मुहांसे के लिए मुलतानी मिट्टी

सिट्रस का फेस पैक (Citrus face pack to get rid of pimple marks)

सिट्रस युक्त फल जो बाज़ार में उपलब्ध होते हैं, वे हैं नींबू और संतरा। सारे सिट्रस फलों में एस्ट्रिंजेंट के गुण होते हैं जो बैक्टीरिया को निकालने तथा त्वचा की रंगत निखारने के काम आते हैं।

सामग्री (Ingredient)

  • सिट्रस फल के अंश
  • मुल्तानी मिटटी
  • पानी

विधि (Process)

2 चम्मच मुल्तानी मिटटी को 1 चम्मच सिट्रस फल के अंश तथा थोड़े पानी के साथ मिलाएं। इसे चेहरे पर लगाएं तथा 20 मिनट बाद धो दें।

साफ़ त्वचा के लिए जायफल (Nutmeg for clear skin or muhase se chutkara)

अगर आप अपने चेहरे पर मुहांसों के दाग को लेकर चिंतित हैं तो तुरंत परिणाम प्राप्त करने के लिए इस पैक को ज़रूर आज़माएं। एक चम्मच कच्चे दूध में रात भर केसर के कुछ अंशों को भिगोकर रखें। सुबह इस मिश्रण में एक चम्मच जायफल का पाउडर भी डालें, जिससे कि यह पेस्ट (paste) थोड़ा गीला बन जाए। इस पैक का प्रयोग अपने मुहांसों पर करें। आप बेदाग त्वचा पाने के लिए इस पैक का प्रयोग अपनी पूरी त्वचा पर भी कर सकते हैं। इसे अपने चेहरे 20 मिनट तक यूँ ही छोड़ दें तथा इसके बाद पानी से धो लें। इसका प्रयोग रोज़ाना करें।

संतरे के छिलके का मास्क (Orange peel pack to get rid of pimple marks)

संतरे के छिलके मुहांसों के फलस्वरूप चेहरे पर आए दाग धब्बे को हल्का करने में काफी प्रभावी साबित होते हैं। संतरे के कुछ ताज़े छिलकों को लेकर इन्हें कच्चे दूध में रातभर भिगोकर रखें। सुबह इन छिलकों के साथ दूध का मिश्रण तैयार करें और इस पैक को अपने चेहरे के मुहांसों के दाग पर लगाएं। अगर ये दाग आपकी त्वचा पर हैं, तो आप इस पेस्ट का प्रयोग अपनी पूरी त्वचा पर भी कर सकते हैं। इसे आधे घंटे के लिए छोड़ दें तथा इसके बाद इसे सादे पानी से धो लें। अच्छे परिणामों के लिए इसका प्रयोग रोजाना करें।

आलू का रस (Potato juice for pimple ka ilaj)

आलू का रस त्वचा की रंगत को फीका पड़ने से बचाने में काफी कारगर साबित होता है। अतः अगर आप मुहांसों के दाग की समस्या से जूझ रहे हैं, तो आलू का रस इसका एक बेहतरीन उपचार साबित होता है। एक आलू को मसलें तथा इसका रस निचोड़कर निकालें। अब इस रस को अपने चेहरे के मुहांसों के दागों पर लगाएं। वैकल्पिक तौर पर, आलू का एक महीन पेस्ट बनाएं तथा इसका प्रयोग मुहांसों के दाग पर करें। इस पैक या रस को दाग पर तब तक छोड़ें, जब तक कि ये काला ना पड़ जाए। त्वचा को गीले हाथों से रगड़कर इस पैक को हटाएं तथा इसके बाद पानी से धो लें।

कोको मक्खन (Cocoa butter for healing the pimple marks quickly)

इस विधि का पालन करना सिर्फ उन लोगों के लिए उचित है, जिनकी त्वचा का प्रकार सामान्य से रूखी तरह का है। कोको मक्खन में त्वचा को नमी देने वाले बेहतरीन गुण होते हैं और त्वचा की प्राकृतिक मरम्मत की क्षमता को बढ़ाने में सहायक होता है। सोने से पहले एक टोनर (toner) की मदद से मुहांसों के पास की जगह को साफ़ करें और यहां कोको मक्खन लगाएं। इसका प्रयोग हर रात करें और आपको 15 दिनों के अंदर अच्छे परिणाम प्राप्त होंगे।

मेथी के बीज और दूध (Fenugreek seed with milk for removing pimple scars)

मेथी के बीजों में ऐसे एंजाइम्स (enzymes) पाए जाते हैं, जो त्वचा में जान डालने की प्रक्रिया में काफी तेज़ी लाते हैं। दूध में एक चम्मच मेथी के बीज मिश्रित करके रातभर छोड़ दें। सुबह इनकी मदद से एक महीन पेस्ट बनाएं और इसे मुहांसों के दागों पर या पूरे चेहरे तथा गले पर लगाएं। इस पैक को 20 से 30 मिनट के लिए इसी तरह छोड़ दें तथा इसके बाद अपने चेहरे को हाथों से स्क्रब (scrub) करते हुए पानी से धो दें।

दही और खीरे का पैक (Yogurt and cucumber pack for kil muhase ka gharelu ilaj)

दही में त्वचा को नमी देने वाले गुण होते हैं और इसमें मौजूद एंजाइम्स चेहरे के किसी भी दाग धब्बे को हल्का करने का कार्य करते हैं। दूसरी तरफ खीरा चेहरे को आराम देता है और त्वचा में नयी जान डालने में सहायता करता है। थोड़े से खीरे को पीसें और इसे एक चम्मच दही के साथ मिश्रित करें। इस पैक का प्रयोग सीधे अपने मुहांसों के दाग पर या पूरी प्रभावित त्वचा पर करें। इसे 20 मिनट के लिए छोड़ दें तथा इसके बाद पानी से धो लें। इसका प्रयोग हफ्ते में तीन बार करें और 15 दिनों में चेहरे पर आया फर्क देखें।

नारियल तेल (Coconut oil se acne treatment in hindi)

नारियल के तेल में नमी प्रदान करने के गुण होते हैं, और इसके निरंतर इस्तेमाल से चेहरे के दाग चले जाते हैं। एक चम्मच शुद्ध नारियल तेल लें तथा इसे दागों पर लगाएं। इसे रातभर छोड़ दें तथा सुबह काफी मात्रा में पानी से धो लें।

मुहासे / ब्लॅक स्पॉट्स का उपचार हल्दी का फेस पैक से (Turmeric face pack for clear skin)

सामग्री (Ingredient)

  • हल्दी
  • नींबू का रस
  • बेसन
  • दूध

विधि (Process)

एक पात्र में 2 चम्मच दूध लें तथा इसमें 2 चम्मच नींबू का रस, आधी चम्मच हल्दी और दो चम्मच बेसन मिलाएं। इन सारे पदार्थों को अच्छे से मिलाकर अपने चेहरे पर लगाएं तथा 15 मिनट तक सूखने के लिए छोड़ दें। अब साफ़ पानी से चेहरा धो लें तथा किसी सूते के कपडे से पोंछ लें।

बादाम के तेल का फेस पैक (Almond oil face pack for black spots)

त्वचा गोरी करने के लिए अपनी त्वचा पर मीठे बादाम के तेल से मालिश करें। मालिश करने से पहले तेल को हल्का गर्म कर लें। इससे रक्त संचार बढ़ता है जिससे त्वचा गोरी होती है। आप रात भर बादाम को पानी में भिगोकर भी रख सकते हैं और सुबह इसे पीसकर इसका पेस्ट बना सकते हैं। इस पेस्ट को थोड़ी सी छाछ के साथ मिलाएं और 15 मिनट के लिए छोड़ दें। त्वचा को गोलाकार मुद्रा में रगड़ते हुए इसे ठन्डे पानी से धो लें। इससे मृत कोशिकाएं निकलती हैं और त्वचा गोरी होती है।

सिर के मुंहासों का उपचार

मुहांसों के निशान की देखभाल करने के टिप्स (Tips to take care of pimple scars)

  • नई पिंपल्स पैदा हो रहे हो तब सक्रब्स का प्रयोग न करें। यह गंभीर दाना स्पॉट का कारण बन सकता है।
  • उस जगह में नई कोशिकाओं और त्वचा रूपों निशान के लक्षण दूर करने के लिए स्वाभाविक रूप से मृत त्वचा को हटाने का प्रयास करें ।
  • त्वचा को सुंदर और स्वस्थ रखने के लिए पानी का खूब सेवन करें और ताजे फल खाए खाने पसंद करते हैं। तो यह है कि त्वचा स्वस्थ हो जाएगा ।
  • मुहासे के निशान, जब मुहासा एक दम पका हुआ हो उससे ना तो स्पर्श करें और ना ही दबाए, यह त्वचा को नुकसान पहुँचा सकता है और साथ मे निशान भी छोड़ सकता है ।

उपरोक्त दिए गये उपायो का यदि नियमित रूप से प्रयोग किया जाए तो ना केवल आप सुंदर और स्वस्थ त्वचा पाएँगे बल्कि आप मुहासो और उसके बाद रहने वेल निशानो से भी मुक्ति पा सकते है I जितना हो सके आप घरेलू उपाए अपनाएे और रासायनिक पदार्थो से अपनी त्वचा की रक्षा करें ।

loading...