Moisturizing lotion recipes for winter dry skin – सर्दियों की शुष्क त्वचा के लिए आप खुद बना सके ऐसे मॉइस्चराइजर लोशन

जब भी आपकी त्वचा शुष्क हो जाए तब आपको मॉइस्चराइजर की जरुरत पड़ती है। अगर बाजार में उपलब्ध क्रीम इस्तेमाल करें तो मुहाँसे होने का खतरा बढ़ता है। आपकी त्वचा मुरझाई और काली दिखने लगेगी। कुछ घरेलु सामग्री इस्तेमाल करके आप कुछ अच्छे मॉइस्चराइजर बना सकती हैं।

ठण्ड के समय त्वचा रूखी हो जाती है। इस समय सिर्फ नहाने से पहले शरीर पर बॉडी ऑइल (body oil) लगाना काफी नहीं है। आपकी त्वचा को ठण्ड से लड़ने के और भी ज़्यादा सुरक्षा की आवश्यकता है। आपकी त्वचा की रक्षा करने के लिए कई प्रकार के क्रीम तथा मॉइस्चराइज़र (creams and moisturizers) उपलब्ध हैं। हवा में नमी का अभाव होने से त्वचा में रूखापन आ जाता है। अतः अपनी त्वचा को विभिन्न प्रकार से नमी देना काफी आवश्यक है।

रसायनों से दूर रहें (Stay away from chemicals)

बाज़ार में कई तरह के मॉइस्चराइज़र उपलब्ध हैं, पर इनके साइड इफेक्ट्स (side effects) के बारे में जानना भी काफी ज़रूरी है। अगर आप रसायनों के प्रभावों से बचकर रहना चाहते हैं तो घरेलू नुस्खे आपके लिए सही रहेंगे। मौसम के परिवर्तनों के अलावा रूखी त्वचा का एक और कारण उम्र का बढ़ना भी हो सकता है। कुछ लोगों की त्वचा आनुवांशिक रूप से रूखी होती है और इसीलिए उनकी त्वचा पर बुरा प्रभाव पड़ता है।

ठण्ड का मौसम आने के साथ ही लोग रूखी त्वचा की समस्या के शिकार होने लगते हैं। रूखी त्वचा से बचने के वैसे तो कई नुस्खे उपलब्ध हैं, पर लोगों को यह नहीं पता होता कि वे कितने प्रभावी हैं और ये रसायन एक व्यक्ति को किस तरह प्रभावित करेंगे। इस समय सबसे अच्छा तरीका है घरेलू नुस्खे अपनाना। आप अब आसानी से अपनी त्वचा के ऊपर से रूखी त्वचा की परत को हटा सकते हैं। चाहे मौसम रूखा हो या गीला, आपकी त्वचा को नमी की आवश्यकता होती है। नहाने के या त्वचा को क्लींजर (cleanser) या फेस वाश (face wash) से धोने के बाद आपका चेहरा रूखा हो जाता है। अपनी त्वचा पर तुरंत मॉइस्चराइज़र का प्रयोग करना काफी आवश्यक है। मॉइस्चराइज़र के बिना आपकी त्वचा काफी रूखी हो जाएगी तथा चेहरे पर खिंचाव भी बढ़ जाएगा।

त्वचा की देखभाल के लिए सबसे अच्छे घरेलू मॉइस्चराइजर

सर्दियों में त्वचा की देखभाल – घर पर मॉइस्चराइजर बनाने की विधि (Steps to make moisturizer at home)

सामग्री (Ingredients required)

  • 1 बड़ा चम्मच कोको बटर
  • 1 कप एलोवेरा का जेल
  • 2 कप अंगूर के बीज का या बादाम का तेल
  • 1 बड़ा चम्मच विटामिन इ का तेल
  • एसेंशियल ऑइल की कुछ बूंदें

बनाने की विधि (How to prepare?)

एक डबल बोयलर लेकर उसमे थोडा मोम पिघलाने के लिए धीमी आंच पर रखें। एक कोटरा लेकर उसमे एसेंशियल ऑइल, एलो वेरा जेल और विटामिन इ का तेल मिलाएं। तेल पिघलने पर ठंडा होने के लिए छोड़ दें। फिर उसमे एलोवेरा का जेल अच्छी तरह से मिलाएं। ब्लेंडर इस्तेमाल करके लोशन बनने तक मिलाएं। इस लोशन को एक बर्तन में संग्रहित करें। इसे फ्रिज में लंबे समय तक रख सकती हैं।

अगर आपकी त्वचा संवेदनशील या शुष्क हो तब बाजार में उपलब्ध सही उत्पाद का चुनाव जरुरी होता है। अगर आप यह खतरा नहीं मोल लेना चाहती हो तो घर पर बनाये क्रीम इस्तेमाल करें। यह क्रीम एंटीऑक्सीडेंट का उत्तम स्त्रोत है जो आपकी त्वचा से मुक्त कण हटा देगा। चेहरे पर लगाने का क्रीम बनाने के लिए जैतून का तेल, नारियल का तेल और कोको बटर इस्तेमाल कर सकते हैं।

यह क्रीम बनाने की विधि बहुत सरल है। सर्दियों में यह क्रीम बनानी हो तो पहले नारियल का तेल अगर जमा हुआ हो तो पिघला लें। डबल बोयलर लेकर सभी सामग्री मिला लें। तब तक मिलाएं जब तक कोको बटर पिघल न जाए। फिर यह मिश्रण ठंडा होने के लिए छोड़ दें। सर्दियों में यह क्रीम जम जाने की संभावना होती है। इस्तेमाल करते समय थोडा क्रीम लेकर अपनी हथिलियों पर रगड़कर फिर चेहरे पर लगाएं। त्वचा की देखभाल कैसे करें :-

रूखी त्वचा का इलाज और त्वचा के लिए मॉइस्चराइजर (Moisturizer for skin se sardiyo me beauty tips)

शुष्क त्वचा के लिए घरेलु फेस पैक/फेशियल

जैतून का तेल (Olive oil)

यह तेल शुष्क त्वचा के लिए बहुत गुणकारी है। इस तेल में एंटीऑक्सीडेंट हैं जो त्वचा को शांत करके बिगड़ी त्वचा की मरम्मत करते हैं। यह मुहासे और झुर्रियों को मिटाता है।

शहद (Honey se rukhi twacha ke upay)

शहद अच्छा मॉइस्चराइजर है जो शुष्क त्वचा पर इस्तेमाल किया जा सकता है। त्वचा पर मालिश करके 10 मिनट छोड़ दें। गुनगुने पानी से धो डालें। सर्दियों में हर दिन यह उपचार करें जिससे आपकी त्वचा को प्राकृतिक निखार देकर मुलायम बनाता है।

एलोवेरा (Aloe Vera se sardiyo me beauty tips)

एलोवेरा के पत्तों में जेल होता है। पत्ते काटकर उसमे से जेल निकालकर फ्रिज में संग्रहित करें। यह त्वचा से किसी भी प्रकार के संक्रमण से बचाता है और नमी पहुंचाता है।

नारियल का तेल (Coconut oil)

यह तेल आसानी से उपलब्ध है। यह त्वचा को नमी पहुंचाता है और शरीर पर कहीं भी लगाया जा सकता है। आपकी कोहनियाँ, घुटने और हाथों पर यह तेल लगाया जा सकता है।

होठों और हाथों पर मॉइस्चराइजर की जरुरत होती है। शरीर के अन्य भागों को नमी पहुंचाने के तरीके देख लेते हैं।

चीनी का स्क्रब (Sugar scrub)

1 भाग जैतून तेल लेकर उसमे 2 भाग चीनी मिलाएं। अच्छी खुशबु के लिए थोडा लैवेंडर या नींबू का तेल इस्तेमाल मिलाएं। यह स्क्रब संग्रहित करके जरुरत पड़ने पर इस्तेमाल करें।

होठों के लिए अवोकेडो बाम (Avocado balm for lips)

सूखी त्वचा के लिए सर्वश्रेष्ठ मॉइस्चराइज़र

अवोकेडो से होठों की सुरक्षा होती है और उन्हें पर्याप्त नमी मिलती है। अवोकेडो के फल मसलकर उसमे नारियल तेल मिलाएं। थोडा आम का मक्खन या शिया वृक्ष का मक्खन और मोम मिलाकर पेस्ट बनाएं। यह पेस्ट संग्रहित करें और जरुरत पड़ने पर होठों पर लगाएं।

हाथों के लिए मॉइस्चराइजर (Moisturizer for hands)

शिया वृक्ष का मक्खन, विटामिन इ और नारियाल तेल मिलाकर मॉइस्चराइजर बनाएं। नारियल तेल के बजाय जैतून का या अवोकेडो का तेल इस्तेमाल कर सकते हैं।

फूट स्क्रब (Foot scrub)

कद्दू पकाकर उसमे ब्राउन शुगर और जैतून का तेल मिलाएं। 1 चम्मच कॉफ़ी के दानो की पाउडर और नींबू के रस की कुछ बूंदें उसमे मिलाएं। यह मिश्रण पाँव पर लगाएं। यह आपके पाँव को मुलायम रखता है और किसी भी प्रकार के संक्रमण से बचाता है।

सर्दियाँ आपके शरीर से नमी चुरा लेती है। आप ऊपर दिए हुए मॉइस्चराइजर और स्क्रब इस्तेमाल करके शरीर को पर्याप्त नमी प्रदान कर सकती हैं।

स्किन टिप्स, रूखी त्वचा के लिए मोइस्चराइसर (Moisturizer for dry skin)

जैतून का तेल (olive oil), नींबू तथा अंडे त्वचा के लिए प्राकृतिक मोइस्चराइसर का कार्य करते हैं। इसे अपने चेहरे तथा हाथों पर लगाएं और 15 मिनट के लिए छोड़ दें। इसके बाद त्वचा को गुनगुने पानी (lukewarm water) से धो लें।

ठण्ड में रूखी त्वचा के लिए लाभदायक एक और मोइस्चराइसर कोको मक्खन (cocoa butter), किसे हुए बीजवैक्स (beeswax) डिस्टिल्ड water (distilled water), तिल के तेल, नारियल के तेल तथा जैतून के तेल से बनाया जाता है। बीज़वैक्स और पानी को मिश्रित करें तथा धीमी आंच पर गर्म करें। इस मिश्रण में कोको मक्खन मिलाएं तथा इसे ब्लेंड (blend) करें। इसके बाद धीरे धीरे अन्य तेल मिलाएं और एक गाढा पेस्ट (thick paste) बनाएं। इसके ठंडा होने के बाद इसे एक कांच के पात्र में रखें। इसका प्रयोग अपने शरीर पर रोजाना करें।

शुष्क त्वचा के लिए सर्वोत्तम फेस पैक

स्किन टिप्स में घरेलू मोइस्चराइसिंग लोशन बनाने की सामग्री (DIY moisturizing lotion recipes)

दूध (Milk se dry skin ke liye tips in hindi)

एक प्राकृतिक क्लीन्ज़र (cleanser) होने के साथ ही दूध त्वचा को रूखेपन से बचाता है और खुजली को दूर भगाता है। दूध में लैक्टिक एसिड (lactic acid) की भी मात्रा होती है, जो आपकी मृत त्वचा तथा चेहरे पर मौजूद मृत कोशिकाओं को एक्सफोलिएट (exfoliate) करने में सहायता करता है। सिर्फ यही नहीं, दूध आपकी त्वचा की रंगत को गोरा बनाने के लिए भी जाना जाता है। आप दूध में रुई या कोई नर्म कपड़ा डुबोएं तथा चेहरे पर धीरे धीरे रगडें। यह त्वचा को प्राकृतिक रूप से साफ करता है और आपकी रूखी त्वचा को दमकती हुई बनाता है।

वैकल्पिक तौर पर आप दूध, गुलाबजल की कुछ बूंदों तथा नींबू के रस की कुछ बूंदों को मिलाकर एक पैक भी बना सकते हैं। इस मिश्रण को अपने चेहरे तथा शरीर पर इस तरह लगाएं कि ये बिलकुल अन्दर तक समा जाए। आपको जल्दी ही इस बात का अहसास होगा कि आपकी त्वचा सही प्रकार से नमी प्राप्त कर रही है।

स्किन की देखभाल के लिए दही (Yogurt)

दही आपकी त्वचा को हाइड्रेट (hydrate) करके इसे नमी प्रदान करती है और आपके चेहरे से रूखापन दूर करती है। गर्मी के दिनों में पसीना निकलने की वजह से जब शरीर में पानी की कमी हो जाती है, तो दही इस कमी को पूरा करने में बड़ी भूमिका निभाती है। आप दही की मदद से ठण्ड में त्वचा के रूखेपन से पैदा हुई खुजली से भी निजात पा सकते हैं। रूखापन और खुजली आपकी त्वचा पर जीवाणुओं तथा बैक्टीरिया (bacteria) के हमले की वजह से भी होता है। अतः हमेशा अपनी त्वचा को नमीयुक्त बनाकर रखें। बाज़ार से ताज़ी दही खरीदें और इसे अपनी त्वचा के हर हिस्से में लगाएं। इसे लगाने के बाद 10 मिनट तक छोड़ दें और फिर आसानी से गर्म पानी से अपनी त्वचा धो लें। यह एक सौम्य एक्सफोलिएट का भी काम करता है और आप इसकी मदद से काफी तरोताजा त्वचा भी प्राप्त कर सकते हैं।

पपीता (Papaya)

सर्दियों में शरीर के लिए एवोकैडो से बना हुआ घरेलू स्क्रब

आप पपीते की मदद से एक बेहतरीन पैक बना सकते हैं, जो आपकी त्वचा का रूखापन दूर करता है तथा इसे सुन्दर और नमीयुक्त बनाए रखता है। इस पैक को बनाने के लिए चौकोर आकार (cube shape) में कटा हुआ पपीता, 1 चम्मच शहद और 1 चम्मच नींबू का रस लें। इन सारे पदार्थों को एक ग्राइंडर (grinder) में डालें, इन्हें अच्छे से मिलाएं और अपनी त्वचा पर लगाएं। इसे इसी तरह 10 मिनट तक रखें और नमीयुक्त तथा खूबसूरत त्वचा पाने के लिए अच्छे से धो दें।

स्किन की देखभाल के लिए बादाम (Almond)

बादाम आपकी त्वचा को नमी प्रदान करता है। यह एक बेहतरीन एक्सफोलिएट का कार्य करता है जो त्वचा की मृत और कठोर परतें आसानी से निकाल देता है। सबसे पहले बादाम को आधे टूटे टुकड़ों के रूप में पीस लें। अब इसमें एक चम्मच दूध और एक चम्मच शहद मिलाएं। इन सबको अच्छे से मिलाकर अपनी त्वचा पर लगाएं। इसे त्वचा पर अच्छे से रगड़कर 10 मिनट के लिए छोड़ दें। इसके बाद इसे गर्म पानी से धो दें और फर्क देखें। यह आपकी त्वचा पर मोइस्चराइसर का भी काम करता है।

बादाम का तेल (Almond oil)

प्राकृतिक रूप से प्राप्त किये गए बादाम से निकाला गया तेल काफी प्रभावी सिद्ध होता है, क्योंकि यह विटामिन इ का बेहतरीन स्त्रोत होता है और रूखी त्वचा का काफी असरदार उपचार माना जाता है। एक पात्र में पर्याप्त मात्रा में बादाम का तेल लें, इसे आंच पर डालकर हल्का गर्म करें और अपने शरीर के उन हिस्सों में इसका प्रयोग करें जहां पर आपको रूखापन नज़र आ रहा है। इस तेल का प्रयोग नहाने जाने से आधे घंटे पहले करें, अन्यथा यह शरीर से अच्छे से नहीं निकलेगा। एक बार जब आपका स्नान हो जाए तो आपको बादाम के तेल के प्रभाव के रूप में अपने शरीर पर एक गीलापन महसूस होगा। इसपर हलके मॉइस्चराइज़र (moisturizer) का भी प्रयोग करें, जिससे त्वचा की नमी बरकरार रहे।

ओटमील (Oatmeal se sardiyo me beauty tips)

ओटमील हर तरह की त्वचा के लिए गुणकारी माना जाता है, खासकर तब जब आपकी त्वचा रूखी और पपड़ीदार हो। क्योंकि ओटमील में काफी मात्रा में प्रोटीन (protein) होता है इसके प्रयोग से त्वचा पर एक सुरक्षा परत स्थापित हो जाएगी। अगर आप ओटमील से आरामदायक स्नान चाहते हैं तो नहाने के पानी में एक कप ओटमील और लैवेंडर का तेल (lavender oil) डालें। इससे आपको एक आरामदायक स्नान और कम रूखेपन वाला प्रभाव प्राप्त होगा।

शुष्क त्वचा/ड्राई स्‍किन के लिए अपनाएं घरेलू टिप्स/उपाय

वैकल्पिक तौर पर आप पिसे हुए ओटमील, मसले हुए पके केले तथा आधा कप दूध लेकर एक मिश्रण तैयार कर सकते हैं। इन सबको अच्छे से मिश्रित करें और अपने चेहरे पर इसका प्रयोग करें। एक बार जब आप धीरे धीरे इसे चेहरे पर रगड़ते हैं तो यह त्वचा की मृत कोशिकाएं निकालने का बेहतरीन कारक बन जाता है। इसे रगड़ने के बाद 15 मिनट तक अपने चेहरे पर रखें। इसे धो लें और नमीयुक्त और दमकती त्वचा प्राप्त करें।

वैकल्पिक तौर पर एक गिलास गर्म पानी में एक चम्मच बादाम का तेल डालें और इसका सेवन रोज़ सोने से पहले करें। सुबह उठने के बाद चेहरे पर आपको एक प्राकृतिक निखार नज़र आएगा। यह एक काफी प्रभावी विधि है, खासकर तब  अत्याधिक रूखी त्वचा से ग्रस्त हों। परन्तु लम्बे समय तक नमीयुक्त और खूबसूरत त्वचा बनाए रखने के लिए इस विधि का प्रयोग रोज़ाना करें।

मॉइस्चराइजिंग क्रीम और लोशन ठण्ड के मौसम में काफी ज़रूरी होते हैं। बाज़ार में मौजूद त्वचा के उत्पादों में हानिकारक तत्व मिले हुए होते हैं। अतः आपके लिए अच्छा यही होगा कि घरेलू सौंदर्य उत्पादों का प्रयोग करें, क्योंकि ना सिर्फ ये किफायती होते हैं बल्कि आपकी त्वचा को कोई नुकसान भी नहीं पहुंचाते।

सूखे पुदीने के पत्तों का लोशन (Lotion of dried peppermint leaves)

आप सूखे पुदीने के पत्तों का प्रयोग करके एक प्रभावी मॉइस्चराइजिंग लोशन बना सकते हैं। इसे गुलाबजल या शुद्ध पानी में डुबोकर रखें तथा बीज़वैक्स (beeswax) के साथ मिश्रित करें। इस लोशन का प्रयोग हर प्रकार की त्वचा पर आसानी से किया जा सकता है। यह इतना सुरक्षित है कि इसका प्रयोग बच्चों की त्वचा पर भी किया जा सकता है।

इसे बनाने के लिए 3 चम्मच बीज़वैक्स को तीन चौथाई तेल के साथ माइक्रोवेव (microwave) में डालकर पिघला लें। बीज़वैक्स को अच्छे से मिश्रित कर लें जिससे कि इसके टुकड़े तैरते ना रहें। इस मिश्रण को ठंडा होने के लिए छोड़ दें। एक कप पानी में पुदीने की पत्तियों को भिगोकर रखें और इन्हें एसेंशियल ऑइल (essential oil) के साथ मिश्रित करके ब्लेंडर (blender) में डाल दें। इस पिघले हुए वैक्स को ब्लेंडर में डालें और इसे तब तक ब्लेंड करें, जब तक यह लोशन गाढ़ा ना हो जाए। इसे एक साफ़ बोतल में रखें और तीन महीने तक रोज़ाना इसका प्रयोग करें।

ओटमील लोशन (Oatmeal lotion)

यह एक और चिकनाई रहित लोशन है जो त्वचा की मृत कोशिकाएं निकालने में आपकी काफी सहायता करता है। आप इसका प्रयोग सर्दियों के दिनों में मेकअप (makeup) लगाने से पहले प्राइमर बेस (primer base) लगाने में कर सकते हैं। इसका प्रयोग रात को मेकअप उतारने के लिए भी किया जा सकता है। इस लोशन को बनाने के लिए पिसे हुए ओटमील और पानी का भी इस्तेमाल करें।

प्राकृतिक घरेलु फेस पैक्स रूखी और शुष्क त्वचा/ड्राइ स्किन के लिए

घरेलू अल्ट्रा मॉइस्चराइजिंग लोशन (Homemade ultra-moisturizing lotion)

इस लोशन को बनाने के लिए शे बटर और कम मात्रा में पोषक तेल जैसे जोजोबा, बादाम या खुबानी के तेल, लैवेंडर (lavender) के तेल, रोजमेरी (rosemary) के तेल, गाजर के बीज के तेल और टी ट्री ऑइल (tea tree oil) का प्रयोग किया जाता है। शे मक्खन और तेलों को कम आंच में गर्म करें। इसे ठंडा होने दें और 15 मिनट तक फ्रिज (fridge) में रख दें, जिससे ये कड़ी हो सके। इसमें ज़रूरी तेल और गाजर का तेल मिलाएं और दो मिनट तक इसे हिलाएं। इस लोशन को कमरे के तापमान पर एक कांच के पात्र में रख दें। इस लोशन में तेल की मात्रा कम या ज़्यादा की जा सकती है।

अवोकेडो और शहद का मॉइस्चराइज़र (Avocado-honey moisturizer)

ठण्ड का मौसम उम्रदराज त्वचा को काफी नुकसान पहुंचाता है। अतः इस समय त्वचा पर मॉइस्चराइज़र का प्रयोग इसे झुर्रियों से दूर रखने और मुलायम बनाने के लिए ज़रूरी है।  इस घरेलू मॉइस्चराइज़र को बनाने के लिए आपको चाहिए ताज़ी मलाई, अवोकेडो और शहद। अवोकेडो को पीसकर इसका रस निकालें और ताज़ी मलाई और शहद के साथ मिश्रित करें। इसे चेहरे पर लगाएं और एक घंटे के बाद गर्म पानी से धो लें।

सामान्य घरेलू मॉइस्चराइज़र (Simple homemade moisturizer)

आप नारियल के तेल, तरल विटामिन इ, लैवेंडर के तेल और टी ट्री के तेल से इसे बना सकते हैं। इन सारे उत्पादों को एक पात्र में मिश्रित करके एक मलाईदार पेस्ट बनाएं और इसे एक कांच के पात्र में रखें और दिन में इसका प्रयोग 2 बार करें।

ग्लिसरीन और शहद (Glycerine and honey)

यह ठण्ड के मौसम के लिए काफी प्रभावी मॉइस्चराइज़र का काम करता है। ग्लिसरीन त्वचा की नमी को बनाए रखता है और इसके रूखेपन में कमी लाता है। ग्लिसरीन और शहद को मिश्रित करें और इसे चेहरे और शरीर पर अच्छे से लगाकर इन्हें नमीयुक्त बनाएं।