Hindi beauty tips with rosewater – घरेलू गुलाब जल त्वचा और चेहरे का टोनर

गुलाबजल में कई बेहतरीन गुण होते हैं, जिनकी मदद से यह त्वचा की देखभाल का बेहतरीन उत्पाद बनता है। इसका प्रयोग कई सौन्दर्य उत्पादों में किया जाता है। गुलाबजल घर पर भी बनाया जा सकता है और बाज़ार से भी खरीदा जा सकता है। घर पर बनाने के लिए ताज़े गुलाब की पंखुड़ियों को शुद्ध पानी के एक पात्र में डालें और दो से तीन हफ़्तों तक धूप में रखें। एक और तेज़ तरीका है जिसके अंतर्गत गुलाब की पंखुड़ियों को शुद्ध पानी में डालकर गर्म किया जाता है और तब तक आंच पर रखा जाता है, जब तक पानी आधा ना हो जाए। अब इन पंखुड़ियों को ठंडा होने दें और छान लें।

गुलाब पाणी या गुलाब जल (Rose water)

आइये हम अपना गुलाब टोनर साधारण गुलाब पंखुड़ियों के साथ बनायें जो सामान्य और विशेष दोनों दिनों में उपयोग किया जा सकता है। गुलाब का हल्का कसैला गुण त्वचा की सफाई और कोमलता में सहायता करता है और यह त्वचा की बनावट को भी बढ़ाता है। गुलाब जल टोनर को बनाने में निम्न चरणों को अपनायें।

गुलाबजल के त्वचा पर उपयोग (Uses of rose water for the skin)

  • इसका प्रयोग तैलीय त्वचा पर टोनर (toner) के रूप में अकेले ही, या इसमें एलोवेरा (aloe vera) या शहद मिलाकर किया जा सकता है। इससे त्वचा को नमी मिलती है और एक्ने (acne) भी दूर होता है।
  • यह रूखी त्वचा के लिए मोइस्चराइज़र (moisturizer) का भी कार्य करता है। इसमें ग्लिसरीन (glycerine) या जैतून का तेल मिश्रित करके त्वचा की खोयी चमक को प्राप्त किया जा सकता है।
  • गुलाबजल से निर्मित फेस पैक त्वचा को नमी प्रदान करता है और इसे स्वस्थ बनाता है।
  • गुलाबजल की मदद से मेकअप (makeup) भी आसानी से हटाया जा सकता है।

चमकदार त्वचा के लिए सर्वश्रेष्ठ घरेलू स्किन टोनर

टोनर के रूप में गुलाबजल के फायदे (Benefits of rose water used as a toner se gulab jal ke labh)

  • संवेदनशील त्वचा (Sensitive skin) गुलाबजल त्वचा में आए लालपन, जलन और संवेदनशीलता को दूर करने का कार्य करता है। संवेदनशील त्वचा पर हर तरह का सौन्दर्य उत्पाद प्रयोग नहीं किया जा सकता, परन्तु गुलाबजल का प्रयोग आसानी से टोनर, क्लीन्ज़र (cleanser) और मोइस्चराइज़र के रूप में किया जा सकता है। गुलाबजल के प्रयोग से त्वचा पर साइड इफेक्ट्स (side effects) होने की काफी कम संभावना रहती है।
  • सनबर्न (Sunburn) गुलाबाल सनबर्न की वजह से त्वचा में आए लालपन और जलन को ठीक करता है क्योंकि इसमें जलनरोधी गुण होते हैं।
  • उम्र बढ़ना (Ageing) गुलाबजल सूरज की किरणों, प्रदूषण और सौन्दर्य उत्पादों में मौजूद हानिकारक रसायनों से क्षतिग्रस्त हुई त्वचा की मरम्मत बखूबी करता है।
  • रूखापन (Dryness) गुलाबजल का प्रयोग रूखी त्वचा को नमी देने के लिए किया जाता है।
  • मुहांसे (Pimples) गुलाबजल बैक्टीरिया (bacteria) की रोकथाम करके चेहरे पर मुहांसों को आने से रोकता है। यह त्वचा से अतिरिक्त तेल हटाता है और त्वचा के बंद रोमछिद्रों (pores) को खोलता है।
  • गुलाबजल की खुशबू रक्तचाप कम करती है और तनाव एवं बेचैनी को भी दूर करने में सहायक होती है।

गुलाब जल का चेहरे पर उपयोग – गुलाब जल टोनर: तैयारी के लिए आवश्यक सामग्री (Rosewater toner : Ingredients needed for the preparation are)

  • गुलाब जल का चेहरे पर उपयोग, एक कप गुलाब की पंखुड़ियों  के लिये 2 गुलाब लें।
  • दो कप उबलता पानी लें।
  • एक छन्नी।
  • एक कसे ढक्कन वाला बड़ा साफ किया ग्लास का बर्तन लें।

गुलाब जल के प्रयोग विधि (Method)

गुलाब जल के शीर्ष सौंदर्य लाभ

गुलाब की पंखुड़ियों को हल्के से साफ करें और फूल से पंखुड़ियों को तोड़े और एक कटोरे में रख लें और पंखुड़ियों पर 2 कप उबलता पानी डालें और कुछ देर तक के लिये छोड़ दे जब तक कि कमरे के तापमान पर न पहुंच जाय। इस पानी को बर्तन में निथार लें। गुलाब टोनर के लिये सभी चरण पूरे हो गये है जिसे आप प्रतिदिन रूई के टुकड़े से साफ करने के लिये और त्वचा के धूल से छुटकारा पाने में उपयोग कर सकते हैं। इस टोनर को प्रतिदिन की देखभाल के लिये छोटी बोतल में भर करके स्नानघर में रखें।

गुलाब जल के फायदे, कैसे लगायें (How to apply)

गुलाब का एस्ट्रिंजेंट टोनर गुण आपको बेहतर परिणाम देगा अगर आप इसका उपयोग प्रतिदिन कर सकते हैं। गुलाब जल के फायदे, यह अच्छा होगा अगर आप इसका उपयोग अन्य अंग की त्वचा जैसे बांह के अंदरूनी हिस्से पर यह जांचने के लिये करे कि यह आपकी त्वचा पर अच्छा कार्य करता है कि नहीं। लगाने के बाद यदि आपकी त्वचा को कोमलता मिलती है तो इसे अपने चेहरे पर रूई की सहायता से मिश्रण में डुबा कर लगा लें। ठीक इसके बाद अपनी त्वचा पर मॉइस्चर लगायें जिससे की त्वचा सूखने न पाये।

गुलाब पाणी गुलाब जल, सामान्य से सूखी त्वचा के लिए (Rose water, Good for normal to dry skin)

3 आउंस गुलाब जल, 1 बूंद कैमोमाइल तेल और 1 बूंद जेरेनियम तेल को अच्छी तरह मिलाकर हिलायें और लगायें।

गुलाबजल की विधि (Rose water recipe)

गुलाबजल बनाने की कई विधियां हैं, पर सबसे आसान तरीके के अंतर्गत एक कप गुलाब की पंखुड़ियों में दो कप उबलता पानी मिश्रित करें। इसे ढककर रखें और इसी तरह छोड़ दें। एक बार जब यह मिश्रण ठंडा हो जाए तो इसे छानकर फ्रिज (fridge) में रख लें। इसका प्रयोग ऊपर दिए गए घरेलू टोनर की विधि के साथ करें।

अगर आप ध्यान से सोचें तो प्रकृति एक ही चीज़ में कई तोहफों का मिश्रण कर देती है। गुलाब खूबसूरत होता है, इसकी महक लाजवाब होती है, आप इसे चाय के कप में भी पी सकते हैं और इसका त्वचा पर भी प्रभावी रूप से प्रयोग कर सकते हैं। अन्य कई फूलों की तरह ये कई इन्द्रियों को सुकून देती हैं और इनके कई फायदे भी हैं।

गुलाब जल के गुण, गुलाब एस्ट्रिंजेंट (Rose astringent se gulab jal ke gun)

गुलाब एस्ट्रिंजेंट सामान्य से लेकर तैलीय त्वचा पर बेहतर कार्य करती है। गुलाब जल के गुण, बनाने के लिये 6 आउंस गुलाब जल, 2 आउंस अखरोट और 2 आउंस साइप्रस आवश्यक तेल और 4 बूंद चंदन लकड़ी की, इन सभी सामग्रियों को एक बर्तन में रखकर अच्छे से मिलाकर फिर लगा लें।

निम्न तरीकों के साथ कुछ अन्य आसान घरेलू टोनर को अपनायें (Try out some other easy made home toners with the following methods)

गुलाब जल : हेयर,स्किन,आई और ब्यूटी केयर

गुलाब जल के प्रयोग बेकिंग सोडा टोनर के साथ (Baking soda toner)

बेकिंग सोडा घर पर आसानी से उपलब्ध होता है जिससे हम टोनर को बना सकते हैं जो कील मुंहासों की समस्या के लिये अच्छी देखभाल करता है। बनाने के लिये एक चम्मच बेकिंग सोडा लें और एक कप पानी में इसे मिला दें, हो गया, आप आसानी से बनाया हुआ टोनर पा सकते हैं। लगाने से पहले इसे हिला लें।

गुलाब पानी का लाभ तरबूज टोनर के साथ (Watermelon toner)

एक टोनर जो आपकी त्वचा को उच्च विटामिन दे सकता है तरबूज टोनर है। गुलाब जल का लाभ, तरबूज टोनर बनाने के लिये 1 चम्मच तरबूज रस लें, 1 चम्मच आसुत पानी और ½ चम्मच वोदका को एक जार में डालकर हिलायें और लगाने से पहले अच्छे से हिला लें।

गुलाब जल के लाभ लैवेंडर टोनर के साथ (Lavender toner)

लैवेंडर टोनर तैलीय त्वचा के लिये अच्छा कार्य करता है यह त्वचा पर से तेल को हटाता है।

गुलाब जल के लाभ, 4 आउंस पानी, 9-10 बूंदें लैवेंडर आवश्यक तेल, 5-6 बूंदें चंदन लकड़ी का आवश्यक तेल, 4-5 बूंदें चाय के पेड़ का आवश्यक तेल ले लें।

इन सभी सामग्रियों को अच्छे से मिला लें और आपको अपना लैवेंडर टोनर मिल जायेगा।

गुलाबजल के टोनर (Toners with rose water)

  • गुलाबजल टोनर (Rose water toner) इसे बनाने के लिए वोदका, रेज्ड एसेंशियल ऑइल, जेरेनियम एसेंशियल ऑइल, गुलाबजल और विच हेज़ल (vodka, raised essential oil, geranium essential oil, rose water and witch hazel) का प्रयोग किया जाता है। इन सारे उत्पादों को एक बोतल में भरकर इस लोशन (lotion) को तैयार करें। इस टोनर को हर बार प्रयोग में लाने के पहले बोतल को हिला लें।
  • गुलाबजल का मास्क (A rose water mask) आँखों की थकान दूर करने के लिए इस मास्क का प्रयोग किया जाता है। यह आँखों के नीचे के काले धब्बे दूर करने में मदद करता है। गुलाबजल में कुछ देर तक गुलाब की पंखुड़ियां डुबोकर रखें। इन पंखुड़ियों को आँखों पर 20 मिनट तक सेंक देते रहें। इस सेंक से शरीर को सुकून मिलेगा और थकान दूर होगी।
  • गुलाबजल टोनर (Rose water toner) सेब के सिरके और गुलाबजल की मदद से बना यह मिश्रण आसानी से हर तरह की त्वचा पर प्रयोग में लाया जा सकता है। इस टोनर को बनाने के लिए सूखी गाब की पंखुड़ियों, सेब के सिरके, गुलाबजल और गुलाब के एसेंशियल तेल को कांच की एक बोतल में रखें। इस बोतल को अंधेरी तथा ठंडी जगह पर 2 से 3 हफ़्तों के लिए रखें। अब इस द्रव्य को छान लें और एक बोतल में इसे डालकर टोनर के रूप में प्रयोग करें।

चेहरे के अन्य टोनर (Other facial toners)

उजले चेहरे के लिए घरेलु प्राकृतिक फेशियल टोनर

  • सेब और पुदीने का टोनर (Apple mint toner) इसे बनाने के लिए सेब के सिरके और पुदीने को एक कसे हुए पात्र में एक हफ्ते तक रखें। जब पुदीना अच्छे से सिरके में समा जाएगा तो यह मिश्रण भी तैयार हो जाएगा। इस मिश्रण को छानकर इसमें थोड़ा सा पानी मिश्रित कर लें। इसे एक साफ़ पात्र में डालें और एक ठंडी जगह में जमा करके रखें। इसका प्रयोग रोजाना क्लीन्ज़र बनाने में या चेहरे पर छिड़ककर इसे तरोताज़ा करने के लिए किया जा सकता है।
  • गुलाबजल और कोम्बुचा का टोनर (Rosewater-kombucha toner) थोड़ी सी मात्रा में कोम्बुचा को लेकर एक बोतल गुलाबजल में मिश्रित करें और इसे एक ठंडी जगह पर रखें।
  • कोम्बुचा और एलो का टोनर (Kombucha aloe toner) यह ख़ास तैलीय त्वचा के लिए बना टोनर है। कोम्बुचा को ताज़े एलो वेरा के रस, एसेंशियल तेल की कुछ बूंदों और थोड़े से विटामिन इ (vitamin E) के तेल के साथ मिश्रित करके एक बोतल में डाल दें। इसे आप लम्बे समय तक एक बोतल में जमा करके रख सकते हैं।
  • खीरे और ग्रीन टी का टोनर (Cucumber green tea toner) इसे किसी गर्म दिन में त्वचा पर  छिड़ककर काफी आराम प्राप्त किया जा सकता है। इसे बनाने के लिए खीरे का रस निकालें और ग्रीन टी बनाएं, जो लैवेंडर, गनपाउडर (gunpowder) ग्रीन टी या अन्य किसी फ्लेवर (flavor) में हो। चाय को छानकर ठंडा होने के लिए छोड़ दें। चाय और खीरे के रस को आपस में मिश्रित करें और इसमें थोड़ा सा वोदका मिलाएं। इसे फ्रिज के अन्दर एक पात्र में जमा करके रखें।
loading...

Subscribe to Blog via Email

Get Hindi tips to your inbox everyday