Top natural home remedies to get relief from the foot pain – इन प्राकृतिक घरेलू उपचारों का इस्तेमाल कर पैरों के दर्द से पाएं छुटकारा

पैरों के दर्द से हर उम्र के लोगों को सहना पड़ता है, पैरों में दर्द की शिकायत किसी भी उम्र के लोगों को हो सकती है। पैरों के दर्द के दौरान आपको एड़ियो , सोल (sole) , एंक्ल (ankle) या पैरों की उंगलियों में कही भी दर्द हो सकता है। पैर दर्द के कारण, पैरों में दर्द होने के पीछे कई सारे कारण हो सकते हैं, जैसे कि असहज जूते पहनना , ज्यादा चलना , पैरों पर लंबे समय के लिए खड़े रहना , फ्रेक्चर , मिनरल्स की कमी , या मधुमेह आदि।

अगर आपके पैरों में भी किसी तरह का दर्द होता है , तो ऐसे में आप आसानी से नीचे बताएं गए सामग्री का इस्तेमाल कर आसानी से अपने पैर के दर्द से छुटकारा पा सकते हैं।

पैर मानव शरीर का एक ऐसा हिस्सा है , जो कि शरीर का सारा भार अपने सिर पर लेता है, फिर चाहे आप चल रहे हो या फिर बैठे हुए हैं। पैरों में दर्द का मतलब है कि आपके पैरों के किसी भी हिस्से में अचानक से दर्द होना। इस समस्या से लगभग हर उम्र का इंसान को जूझना पड़ता है।

लेकिन आप चिंता ना करें , आज हम आपके लिए ऐसे घरेलू उपचार लेकर आए हैं, जिनका इस्तेमाल करने से आप आसानी से पैरों के इस दर्द से आसानी से राहत पा सकते हैं। जाने आखिर किन किन चीजों का इस्तेमाल कर आप आसानी से पैरों के दर्द से छुटकारा पा सकते हैं। यह सभी चीजे बड़ी आसानी से आपको घर पर ही मिल जाएंगी।

लौंग का तेल (Clove oil pair me dard ke liye)

पैरों से आने वाली दुर्गंध को दूर करने के घरेलू उपचार

लौंग का तेल सिरदर्द , जोड़ों के दर्द , एथलिट फुट , नेल फंगस (nail fungas) और पैरों के दर्द में भी आसानी से छुटकारा दिलाती है। इसका इस्तेमाल कर आप आसानी से पैरों के दर्द से आसानी से छुटकारा पा सकते हैं। इससे छुटकारा पाने के लिए आप अपने पैरों में लौंग के तेल की मालिश करना बिल्कुल ना भूलें। यह आपके ब्लड फ्लो और मांसपेशियों को आराम देता है। आप चाहे तो इस तेल से अपने पैरों और हिल्स दोनों के दर्द से छुटकारा पा सकते हैं। ऐसा करने से आपको आसानी से पैरों के दर्द से छुटकारा मिल जाता है। जिनके पैर काफी संवेदनशीनल या टूटा हुआ हो तो ऐसे में आप लौंग के तेल की 3 बूंदों में वरजिन ऑयल (virgin oil) या नारियल का तेल मिला कर अपने पैरों में इस्तेमाल कर सकते हैं। इन तेलों से पैरों की मसाज करने से भी काफी आराम मिलता है।

पैरों के दर्द हेतु उपाय विनेगर से (Vinegar)

विनेगर का इस्तेमाल कर आप आसानी से अपने पैरों के दर्द को ठीक कर सकती हैं, इसका इस्तेमाल कर आपके पैरों का दर्द आराम से ठीक हो जाएगा। आप चाहे तो विनेगर के स्ट्रिीप्स को ठंडे और गर्म पानी में इस्तेमाल कर सकते हैं। आप इन उपचार को बनाने के लिए विनेगर और पानी के बराबर मात्रा में ले लें। एक बालटी में ठंडा पानी रख लें और दूसरे में गर्म पानी रख लें। अब अपने पैरों को गर्म पानी और विनेगर के मिक्चर में मिला लें, इसके बाद मॉइश्चराइजर को अपने पैरों में लगा लें। इसके 5 मिनट के लिए छोड़ दें, इसके बाद इस उपचार को आप इसी तरह ठंडे के साथ भी इस्तेमाल करें।

Subscribe to Blog via Email

Join 45,326 other subscribers

सेंधा नमक (Epsom salt hai pair dard ka ilaj in hindi)

सेंधा नमक आपके पैरों के दर्द से छुटकारा दिलाने में काफी मददगार होती है, इसके लिए आपको अपने पैरों की सूथिंग करने की जरूरत होती हैं। अगर आपके पैर थके हुए हैं तो ऐसे में सेंधा नमक और गर्म पानी मिला लें। इसके बाद सेंधा नमक के 2 से 3 चम्मच एक पानी से भरे टब में मिला लें। अपने पैरों को 10 से 15 मिनट के लिए इस पानी में डुबाकर रखें और फिर तौलिए से पैरों को साफ कर लें। इसमें गर्मी और मैग्निशियम (magnesium) एक साथ काम करके पैरों को दर्द से छुटकारा दिलाता है। सेंधा नमक हमारे पैरों को सूखा बनाती है, इसलिए इसके बाद अपने पैरों में मॉइश्चराइजर (moisturizer) लगाना बिल्कुल ना भूलें।

गर्म और ठंडा पानी (Hot and cold water)

पैरों की नसों की सूजन रोकने के लिए सर्वोत्तम प्राकृतिक सुझाव

पैरों के दर्द के लिए आप आसानी से ठंडे या गर्म पानी का इस्तेमाल कर सकते हैं। गर्म पानी से पैरों का इलाज करने से ब्लड फ्लो (blood flow) को बढ़ावा मिलता हैं, वहीं ठंडे पानी से इलाज करके पैरों की सूजन कम होती है। अगर आप पैरों के दर्द से ग्रस्त हैं तो ऐसे में आप हीट पैड (heat pad) और बर्फ का इस्तेमाल कर सकते हैं। ऐसा करने से आपके पैर का दर्द ठीक हो जाएगा। इस के अलावा आप चाहे तो एक बालटी में ठंडा पानी भर लें और दूसरे में गर्म पानी भर लें। अब आराम से एक कुर्सी पर बैठ जाएं , अपने पैरों को पहले 2 मिनट के लिए गर्म पानी में डुबाकर रखें , इसके बाद अपने पैरों को ठंडे पानी में 10 मिनट के लिए डुबाकर रख लें। इस प्रक्रिया को दिन में 2 से 3 बार जरूर इस्तेमाल करें।

सरसों के बीज (Mustard seeds pairo ka dard ke liye)

सरसों के बीज का इस्तेमाल कर आप पैरों के दर्द से छुटकारा पा सकते हैं। यह शरीर में से टोक्सिक (toxic) पानी को बाहर निकालता है , ब्लड सर्कुलेशन और सूजन को दूर करके पैरों के दर्द से राहत देता है। इसके लिए सरसों की बीज को लें और उसे ग्राइंड कर लें , इसके बाद इसे एक बालटी गर्म पानी में डाल दे।। इसके बाद अपने पैरों को इस पानी में डुबा लें, इसके बाद 10 से 15 मिनट तक अपने पैरों को इस बालटी में ही रहने दें। इसके बाद अपने पैरों को पौंछ लें। इस उपचार से पैरों का दर्द के साथ ही सूजन भी आसानी से दूर हो जाएगी।

पैरों में दर्द का कारण (Causes for foot pain)

पैरों में दर्द होने के पीछे सबसे अहम कारण यह है कि हम अक्सर गलत साइज का जूता पहन लेते हैं , जो कि हमारे पैरों का साइज (size) का ही नहीं होता है। इसके साथ ही हाई हिल शूज (shoes) को पहनकर भी आपके पैरों में दर्द होने लगता है, इससे हमारे पैरों के साथ ही पैर की उंगलियों में भी दर्द होने लगता है। इसके साथ ही कई और भी ऐसे कारण है जिसकी वजह से पैरों के दर्द हो जाता है जैसे बुढ़ापा , असहज जूते , अत्यधिक घूमना , फ्रेक्चर , मिनरल्स (minerals) की कमी, मधुमेह और अन्य स्वास्थ्य स्थिति आदि।

फुट पैन के लिए घरेलू उपचारों से कुछ यूं पाएं छुटकारा (Home remedies to get relief from the foot pain)

घरेलू नुस्खे : स्थायी रूप से कैसे दूर करे पैरों के बाल

पैर में दर्द होना के लिए आइस थेरीपी (Pairon mein dard ke liye ice therapy)

आपको अगर पैरों में दर्द हो और आप पैरों के इस दर्द से छुटकारा पाने के लिए अगर बर्फ का इस्तेमाल कर रहे हैं तो ऐसे में आपको जल्द ही इस परेशानी से छुटकारा मिल जाएगा। इसके लिए आप कुछ बर्फ को क्रश करके एक छोटी सी प्लास्टिक बैग में रख दें। इसके बाद इससे पैरों की मसाज करें , आप सर्कुलेशन मोशन (circulation motion) से पैरों की मसाज कर सकते हैं। इसके लिए आप चाहे तो एक फ्रोजन सब्जी को एक पतले से तौलिए में लपेट कर इस्तेमाल कर सकते हैं। यह सूजन को भी दूर करती है और पैरों के दर्द को भी कम करने में मदद करती है। आइस पैक (ice pack) को आप एक समय में केवल 10 मिनट के लिए इस्तेमाल कर सकते हैं।

बर्फ का यह ठंड़ा तापमान आपको काफी राहत देता है और आपको दर्द से तुरंत छुटकारा भी मिल जाता है। इससे सूजन भी कम हो जाती है। इस पैक को आप 10 मिनट से ज्यादा इस्तेमाल ना करें। ऐसा इसलिए क्योंकि यह आपके पैरों की त्वचा और नर्वस को भी डैमेज कर सकता है।

लौंग का तेल (Clove oils se pair dard ke upay in hindi)

लौंग का तेल एथिलिट फुट (athlete’s foot) का उपचार करने में काफी फायदेमंद होता है , यह नेल फंगस और पैरों के दर्द से भी राहत दिलाता है। इससे ब्लड सर्कुलेशन (blood circulation) भी होता है। बेहतरीन परिणाम के लिए आप इस तेल का इस्तेमाल कर अपने पैरों की बेहतरीन मसाज भी कर सकते हैं।

पैरों के दर्द का इलाज लाल मिर्च से (Cayenne pepper)

लाल मिर्च का इस्तेमाल कर आप भी पैरों के दर्द और सूजन से राहत पा सकते हैं। जब आपके पैरों में दर्द हो तो ऐसे में आप लाल मिर्च अपने पैरों में डाल दें , ऐसा करने से आपके पैर गर्म हो जाएंगे। ऐसा इसलिए क्योंकि ऐसा करने से आपके पैर गर्म हो जाएंगे। वैकल्पिक रूप से आप एक चम्मच लाल मिर्च पाउडर (powder) को आधे बालटी पानी में डाल सकते हैं। इसके बाद अपने पैरों को इस बालटी में डुबा लें। आपको आराम मिलेगा।

सूखे और फटे पांव/पैर के लिये बेहतरीन पैरों की देखभाल की सलाह

ऑलिव ऑयल (Olive oil)

आप अपने पैरों में ऑलिव ऑयल से मसाज करके भी पैरों के दर्द से छुटकारा पा सकते हैं।

पैर दर्द के उपाय के लिए सेज (Sage se pairon mein dard ka ilaj)

सेज की पत्तियों को एप्पल साइडर विनेगर (apple cider vinegar) और सिमर (simmer) के साथ 5 मिनट के लिए उबाल लें। इसके बाद इसे उबालने के बाद , एक कपड़े में भिगो दें और फिर इसे पैर में लगाएं , जहां पर आपको दर्द हो रहा हो। इसका इस्तेमाल कर आपको आराम से सूजन और दर्द से छुटकारा मिल जाएगा।

गोभी के पत्ते (Cabbage leaves)

गोभी के पत्तों को 30 मिनट के लिए पानी में भिगोकर रख दें। इसके बाद पानी को अलग निकाल कर उसमें अपना पैर डुबा लें और फिर एक कपडे से इसे पकड़ कर रखें। इसे पूरी रात पैरों में ही लगा रहने दें और फिर इस पेस्ट को 2 से 3 रातों तक इस्तेमाल करते रहें। यह आपके पैर को सूजन और दर्द से छुटकारा दिलाने में काफी मदद करता है।

ब्रोकली पेस्ट (Broccoli paste)

इस पेस्ट को बनाने के लिए सबसे पहले ताजे ब्रोकली को ग्राइंड (grind) कर एक पेस्ट तैयार कर लें और फिर इस पेस्ट (paste) को अपने पैरों में लगा लें। इसे सूती कपड़े से बांधे और फिर इसे अपने पैरों में लगा लें। इस पेस्ट को 20 मिनट तक अपने पैरों में लगा रहने दें और फिर गुनगुने पानी से धो लें।

पैर के दर्द का इलाज आलू पेस्ट से (Potato paste se pairon mein dard ka ilaj in hindi)

बरसात के मौसम में पैरों की देखभाल कर उन्हें इंफेक्शन से बचाने के टिप्स जाने

सबसे पहले आलू को उबाल लें , मैश (mash) कर लें और एक स्मूथ पेस्ट बना लें। ऐसा करने के बाद आप इस पेस्ट को आसानी से अपने पैरों में लगा सकते हैं। इसके 30 मिनट के लिए पैरों में लगा रहने दें। 30 मिनट होने के बाद आप इसे साफ कर लें। इस प्रक्रिया को तीन दिनों के लिए इस्तेमाल करें , इसका इस्तेमाल एक दिन में दो बार करें , ऐसा करने से आप आसानी से दर्द और सूजन से छुटकारा पा सकते हैं।

इन बातों का रखें ख्याल (Things to remember)

  • आप अपने पैरों के दर्द का इलाज आराम से कर सकते हैं और आप इसका इलाज कर चल फिर भी सकते हैं।
  • हमेशा अपने पैरों के नाप के जूते पहने, ऐसा करने से आपके पैरों को आराम मिलेगा।
  • पैरों का दर्द या चलने में किसी भी तरह की परेशानी होने से आप आसानी से इसका इलाज पहले ही करवा लें।
  • फुट पैन (foot pain) होने के पीछे थकान, लंबे समय तक एक जगह खड़े रहना , चलना और गलत जूते पहनना कारण हो सकता है। इसके लिए आप इस बात का ख्याल रखें कि आपके पैर का दर्द ज्यादा समय तक ना टिका रहे , अगर ऐसा है भी तो आप इसका इलाज तुरंत शुरू कर दें।
  • अगर आपके पैर में ज्यादा समय के लिए दर्द रहे तो ऐसे में आप डॉक्टर (doctor) से जरूर संपर्क करें।
loading...