Home remedies for hair fall & hair regrowth – बालों को झड़ने से रोकने के घरेलू नुस्खे और बालो को उगाने के उपाय

बालों के झड़ने से महिलाएं एवं पुरूष दोनों ही प्रभावित होते हैं। बाल झड़ने में जीन्स तो महत्वपूर्ण भूमिका निभाती ही है, पर इसके अन्य कारण भी हो सकते हैं जिसमें मुख्य है हॉर्मोन की असमानता, निष्क्रिय थाइरोइड ग्रन्थियां, पोषक तत्वों की कमी और सिर में रक्त के संचार में कमी होती है। बालों का झड़ना एक काफी बड़ी समस्या है जिसकी वजह से काफी लोग परेशानियों का शिकार होते हैं। बाल झड़ने के कई कारण होते हैं। आइए देखें कि ये कारण कौन से हैं।

बालों को उगाने के उपाय / घरेलू नुस्खे (Hindi home remedies to control hair fall)

मेथी (Fenugreek for hair loss)

बालो का झड़ना रोकने के उपाय, बालों के झड़ने की स्थिति में मेथी काफी लाभदायक होती है। मेथी के बीज में काफी शक्तिशाली हॉर्मोन के गुण होते हैं जो बाल बढ़ाने में तथा बालों की जड़ों को स्वस्थ बनाने में काफी महत्वपूर्ण भूमिका निभाते हैं। इनमें निकोटिनिक एसिड और प्रोटीन के गुण होते हैं जो बालों को शक्ति देते हैं। मेथी के बीजों को रात भर पानी में भिगोकर रखें और सुबह उसका एक महीन पेस्ट बना लें। इस पेस्ट को बालों में लगाएं और 30 मिनट तक छोड़ दें। अब बालों को धो लें और अच्छे परिणामों के लिए 1 महीने तक इस प्रक्रिया का प्रयोग करें।

एलोवेरा बालों को झड़ने से रोकने का (Aloe Vera for hair loss)

घने बालों के लिए सरल घरेलू नुस्खे

प्रदूषण की वजह से भी काफी बाल झड़ते हैं। ऐसी स्थिति में एलोवेरा बालों को झड़ने से रोकने का तथा बालों को दोबारा बढ़ाने का काफी कारगर नुस्खा है। एलोवेरा के बालों पर प्रयोग से बालों के झड़ने की तथा सिर खुजलाने की समस्या कम होती है। एलोवेरा में मौजूद एल्कलाइन गुण बालों के ph स्तर को बढ़ाते हैं जिससे बालों के बढ़ने में मदद मिलती है। एलो वेरा जेल से डैंड्रफ से निपटा जा सकता है। एलोवेरा की एक पत्ती लें तथा उससे जेल निकालें। इसे बालों पर लगाएं और कुछ घंटे ऐसे ही रखने के बाद गर्म पानी से बाल धो लें। अच्छे परिणामों के लिए इस पद्दति का प्रयोग हफ्ते में 3 से 4 बार करें।

प्याज का रस (Onion for fighting hair loss)

बाल झड़ना कैसे रोके, अगर आप काफी मात्रा में बाल झड़ने से परेशान हैं तो प्याज का रस आपकी सहायता कर सकता है। प्याज में मौजूद सल्फर बालों की जड़ों में रक्त संचार को बढ़ाता है। प्याज के रस में एंटी बैक्टीरियल गुण होते हैं जो हर तरह के कीटाणुओं का नाश करते हैं। अपने सिर में प्याज का रस लगाएं और आधे घंटे के लिए छोड़ दें। बाद में शैम्पू कर लें।

गुनगुने तेल से मालिश (Hot oil massage to reduce hair fall)

रोज़ाना कुछ मिनट के लिए अपनी खोपड़ी को गुनगुने तेल से मालिश करें। मालिश के लिए आप किसी भी तेल का प्रयोगकर सकते हैं जैसे नारियल, लैवेंडर, बादाम, सरसों या जोजोबा का तेल। अगर आपके बाल डैंड्रफ की वजह से झड़ रहे हैं तो जोजोबा का तेल इसका काफी अच्छा इलाज है। जोजोबा के तेल में मौजूद सीबम सिर को पोषण देता है। तेल से मालिश करें और 1 घंटे बाद शैम्पू कर लें।

दही (Sour curd as a hair fall solution)

दही भी बालों के झड़ने का अच्छा उपचार है। इससे बाल रेशमी और मुलायम बनते हैं। दही ना सिर्फ बालों का झड़ना रोकता है बल्कि चमकदार बाल भी प्रदान करता है। दही को सरसों के साथ या काली मिर्च के साथ मिलाकर पेस्ट बनाएं। आप बालों को नमी देने के लिए दही और शहद का पेस्ट भी बना सकते हैं। बालों में लगाएं और 30 मिनट बाद शैम्पू कर लें। यह बालों के मास्क की तरह प्रतीत होता है।

बाल गिरने और झड़ने से कैसे रोके और बचाएँ?

आंवला (Indian gooseberry to reduce hair fall)

प्राकृतिक रूप से बाल बढ़ाने के लिए आंवले का सेवन करें। आंवला में काफी मात्रा में विटामिन सी की मात्रा होती है। अगर आपके शरीर में इसकी कमी है तो इससे भी बाल झड़ते हैं। आंवला बालों की जड़ को सही करता है और बालों को बढ़ाने में भी मदद करता है। आंवला लें और इसका गूदा बनाएं। इस गूदे को नींबू के रस के साथ मिलाएं और इससे सिर की मालिश करें। बालो को उगाने के उपाय, इसे रातभर रखें और सुबह शैम्पू करें।

मुलेठी की जड़ (Licorice roots to stop hair fall)

मुलेठी एक जड़ीबूटी है जो बालों का झड़ना तथा अन्य कोई नुकसान रोकती है। इसमें सुकून देने वाले गुण होते हैं जो रोमछिद्रों को खोलते हैं, खुजली दूर करते हैं और सिर को राहत देते हैं। डैंड्रफ से भी बाल झड़ते हैं और गंजापन आ जाता है, अतः इसे ठीक करने के लिए मुलेठी की जड़ का प्रयोग करें। मुलेठी की जड़ को दूध के साथ मिलाएं तथा सोते समय सिर के बाल रहित भागों पर अच्छे से लगाएं। बालो को उगाने के उपाय, इसे रातभर छोड़ दें और सुबह शैम्पू कर दें।

बालो को उगाने के उपाय में जपाकुसुम के पौधे या फूल (Hibiscus for hair regrowth)

जपाकुसुम के फूल तथा पौधों में प्राकृतिक गुण होते हैं बालों का झड़ना रोकते हैं तथा बाल बढ़ाते भी हैं। जपाकुसुम के फूल दोमुंहे बालों तथा डैंड्रफ को भी ठीक करता है और बालों को घना करता है। नारियल के तेल में जपाकुसुम के फूल को गर्म करें और इसे निचोड़कर तेल को निकालें। जपाकुसुम की पत्तियों को प्रयोग करने के लिए पानी में इन पत्तियों को उबालें। अब पत्तियों को पानी से निकालें तथा इनका एक महीन पेस्ट बनाएं। इस पेस्ट को अपने सिर पर लगाएं तथा ३० मिनट तक छोड़ दें। अब बालों को ठन्डे पानी से धो लें। इससे बाल रेशमी होते हैं तथा डैंड्रफ से मुक्ति मिलती है। ,

बीटरूट का रस (Beetroot juice to control hair fall)

बालों की देखभाल कैसे करें, बीटरूट में फॉस्फोरस, कैल्शियम, प्रोटीन, पोटैशियम, कार्बोहाइड्रेट, विटामिन बी और सी के गुण होते हैं। ये सारे गुण बालों के बढ़ने हेतु काफी आवश्यक हैं। रोज़ाना बीटरूट का रस पियें या फिर बालों को बढ़ाने के लिए इसे अपने खानपान में शामिल करें। आप बीटरूट की पत्तियों का भी प्रयोग कर सकते हैं। बीटरूट की पत्तियों को पानी में उबालें तथा इन्हें हेना के साथ मिलाएं। इस गाढ़े पेस्ट को सिर पर लगाएं और 20 मिनट के लिए छोड़ दें। अब बालों को ठन्डे पानी से धो लें। बालों की अच्छी बढ़त के लिए इसे हफ्ते में 2 बार प्रयोग करें।

बालों के लिए कैसे करे करी पत्तों का उपयोग?

नारियल का दूध (Coconut milk)

नारियल के दूध में वसा और प्रोटीन होता है। इससे बाल बढ़ते हैं और बालों का झड़ना रुकता है। तेज़ परिणामों के लिए नारियल के दूध को बालों में लगाएं। नारियल को किसे और इसे पानी की मदद से पीसें। इस पेस्ट से दूध निकालें और अपने सिर और बालों के अंत में इसे लगाएं। इसे 30 मिनट तक छोड़ दें और फिर बालों को धो लें। इससे वसा और प्रोटीन बालों में आसानी से समा जाएंगे।

नींबू के बीज (Lemon seeds for hairfall)

नींबू कर बीज और काली मिर्च का मिश्रण सिर के खाली भागों को ढ़कने का अच्छा तरीका है। नींबू के बीज का पाउडर बनाएं और इसे काली मिर्च के पाउडर के साथ मिलाएं। पानी की मदद से महीन पेस्ट बनाएं। इस पेस्ट को सिर पर लगाएं और मालिश करें। इसे 25 मिनट तक छोड़ दें तथा उसके बाद धो लें। इस प्रक्रिया को हफ्ते में एक बार ज़रूर दोहराएं।

बालो को उगाने के उपाय में चाय तथा नींबू (Tea decoction & lemon for hair regrowth)

बालों को झड़ने से बचाने के लिए बनी हुई चाय का प्रयोग करें। चाय लें और उसमें 1 नींबू निचोड़कर डालें। इसे अच्छे से मिलाएं तथा शैम्पू के बाद इस मिश्रण को अपने बालों में लगाएं। अब बालों को ताज़े पानी से धो लें। शैम्पू को चाय से धोने के बाद प्रयोग ना करें।

बालो को उगाने के उपाय में शाना के बीज (Shana seeds for hair growth)

बालों को बढ़ाने के लिए शाना के बीज का प्रयोग करें। यह एक बेहतरीन आयुर्वेदिक नुस्खा है जो बालों का झड़ना रोकता है। शाना के बीज का पाउडर लें तथा इसे नारियल के तेल के साथ मिलाएं जिससे कि इनका पेस्ट बन जाए। इस पेस्ट को अपने सिर पर लगाकर अपने सिर की मालिश करें। 15 मिनट के बाद शैम्पू कर लें।

पालक और सलाद के पत्ते का रस (Spinach and lettuce juice)

उत्तम घरेलू नुस्खे कुदरती काले बालों के लिए

इन दोनों उत्पादों का रस बाल बढ़ाने के लिए जाना जाता है। दिन में एक बार पियें और अपने बालों को स्वस्थ बनाएं।

अंडे का सफ़ेद भाग (Egg white)

अंडे के सफ़ेद भाग में उपचार करने के गुण होते हैं। अंडे के सफ़ेद भाग को बालों पर लगाने पर बालों में नयी जान आती है और वे चमकदार और मुलायम बनते हैं। अगर आप लम्बे और मज़बूत बाल चाहते हैं तो इस नुस्खे का प्रयोग करें। कुछ अण्डों को तोड़ें और पीले भाग को छोड़ दें। सफ़ेद भाग का प्रयोग करें और बालों का मास्क बनाएं। 15 मिनट बाद शैम्पू कर लें। आपको अपने बाल मज़बूत और स्वस्थ महसूस होंगे। बालों को तेज़ी से बढ़ाने के लिए हफ्ते में एक बार इस नुस्खे का प्रयोग करें।

सेब का सिरका (Apple cider vinegar)

सेब का सिरका बालों को स्वस्थ बनाने तथा उन्हें बढ़ाने में महत्वपूर्ण भूमिका निभाती है। सेब के सिरके को पानी में मिलाएं तथा शैम्पू के बाद बालों को अच्छे से धो लें। कुछ सिरकों की बू थोड़ी अजीब होती है पर सेब का सिरका उन सिरकों में शामिल नहीं होता। अगर आपको इसकी गंध पसंद नहीं है तो इसमें कोई आम तेल मिलाकर इसे प्रयोग करें। अच्छे परिणामों के लिए इसे शैम्पू के साथ प्रयोग करें।

आलू का पानी (Potato water)

विटामिन की कमी की वजह से बाल सूखे और नाज़ुक हो जाते हैं। आलू से आपको घने और लम्बे बाल मिल सकते हैं।आलू के पानी से बाल धोएं। आलू को पानी में उबालने के बाद पानी को ठंडा होने दें तथा उस पानी से शैम्पू के बाद बाल धो लें।

अंगूर के बीज का तेल (Grapeseed oil solution for hair fall)

अन्य तेलों के मुकाबले अंगूर के बीज का तेल काफी सस्ता होता है। यह बालों का अच्छे से उपचार करता है। यह बालों का प्राकृतिक कंडीशनर और मॉइस्चराइज़र है। इस तेल से बालों का झड़ना, डैंड्रफ और बालों के कमज़ोर होने जैसी समस्याएं दूर होती हैं। आप रोज़ाना इस उत्पाद का इस्तेमाल कर सकते हैं। इसके प्रयोग से बाल स्वस्थ, आकर्षक और मज़बूत बनते हैं।

लंबे घने बाल पाने के बेहतरीन नुस्खे

कुसुम के तेल (Safflower oil for hair)

बालों को झड़ने और गंजेपन से बचाने के लिए कुसुम के तेल का प्रयोग किया जाता है। इस तेल में काफी मात्रा में फैटी एसिड होते हैं जो स्वस्थ बालों के लिए काफी आवश्यक होते हैं। बाज़ार में दो प्रकार के कुसुम के तेल मिलते हैं। कुसुम का तेल घुंघराले और सूखे बालों के लिये काफी फायदेमंद है। सिर की मालिश के लिए कुसुम के तेल से मालिश करें। इसे 1 घंटे के लिए छोड़ दें तथा बालों को धो लें। बालो को उगाने के उपाय,स्वस्थ बालों के लिए इसे हर हफ्ते प्रयोग करें।

बालों को झड़ने से रोकने के घरेलू नुस्खे – बाल झड़ने के कारण (Natural home remedies to stop hair fall in Hindi)

मांस खाना कम करें (Eat less meat)

बालों के कम होने का मुख्य कारण हॉर्मोन की असमानता होती है। जापान के वैज्ञानिकों के मुताबिक़ 4 – अल्फा रेडक्टेस बढ़ाने के लिए सिर में तेल की अतिरिक्त मात्रा उत्पन्न होती है। इस शोध में पाया गया वसा के सेवन से सीबम की मात्रा बढ़ती है।

पल्मेट्टो नामक जड़ीबूटी का प्रयोग करें (Palmetto)

हाल में हुए एक शोध में यह पाया गया है कि पल्मेट्टो नामक एक दवा के सेवन से लोगों में बालो का बढ़ना ज़्यादा होता है। जिन लोगों ने 400 मिलीग्राम पल्मेट्टो तथा 100 मिलीग्राम बीटा साइटोस्टेरॉल रोज़ाना लिया उनके बालों में वृद्धि हुई। प्राचीन काल से पल्मेट्टो का प्रयोग बाल उगाने के लिए किया जाता है।

निष्क्रिय थाइरोइड ग्रन्थियां (Under-active thyroid gland / hypothyroidism which can cause hair thinning)

घर बैठे बाल सीधे कैसे करें?

केल्प, नोरी तथा वॉकमे जैसी सब्ज़ियाँ अपने खानपान में शामिल करें जिनमें आयोडीन की काफी मात्रा होती है और ये सब्ज़ियाँ बालों के लिए काफी फायदेमंद होती हैं। नल का पानी पीने से परहेज करें क्योंकि इनमें फ्लोरिन और क्लोरीन की मात्रा होती है, हालांकि इस पानी में आयोडीन की काफी मात्रा होती है। आप रोज़ाना १०० मिलीग्राम ब्लैडररैक नामक जडीबुटी का सेवन कर सकते हैं।

फैटी एसिड ग्रहण करें (Fatty acids)

अखरोट, अलसी के बीज, मछली और नाशपाती में मौजूद फैटी एसिड से बाल स्वस्थ बनते होते हैं।

प्राकृतिक हरे भोजन और नट्स ग्रहण करें (Natural green foods & nuts for hair regrowth)

बायोटिन बालों को बढ़ाता है तथा सिर को स्वस्थ रखता है। जिन फलों में बायोटिन होता है वे हैं नट्स, हरी पत्तेदार सब्ज़ियाँ, चावल और दलिया।

msm से केराटिन उत्पन्न करें (Raise keratin producing with MSM)

मिथाइल सल्फोनिल मीथेन से केराटिन उत्पन्न होता है जो बालों के अंदर का प्रोटीन होता है जिससे बाल मज़बूत होते हैं। एक शोध के मुताबिक़ जिन लोगों ने msm का सेवन किया उन सबके बालों में 6 महीनों में ही वृद्धि हो गयी। सिट्रस फल, सब्ज़ियाँ, मटन तथा दुग्ध उत्पादों में केराटिन होता है जिससे बाल जल्दी बढ़ते हैं।

बी काम्प्लेक्स पोषक विटामिन्स (Rejuvenate hair follicles with B-complex nutritional vitamins)

बी काम्प्लेक्स के 100 मिलीग्राम रोज़ाना लेने पर बालों में वृद्धि होती है। इसमें बायोटिन और विटामिन बी 6 होते हैं जो सिर में रक्त संचार दुरूस्त करके तथा जान डालकर बालों का पतला होना रोकते हैं।

बालो को उगाने के उपाय – कोलेजन की मात्रा बढ़ाएं (Increase the amount of collogne)

आसान घरेलू शैम्पू

कोलेजन घुंघराले बालों में पाया जाता है पर उम्र के साथ साथ ये टूटता जाता है जिससे बालों के टूटने की समस्या बढ़ती है। कोलेजन को बढ़ाने का सबसे अच्छा तरीका विटामिन सी का काफी मात्रा में सेवन करना है। जिन भोजनों में विटामिन सी होता है वे हैं सिट्रस फल, स्ट्रॉबेरी तथा लाल मिर्च। एपीआई रोज़मर्रा की जीवनशैली में इसका 250 मिलीग्राम प्रयोग में लाने पर कोलेजन की मात्रा बढ़ती है जिससे कि झुर्रियों को भी कम किया जा सकता है।

विटामिन इ एंटी ऑक्सीडेंट (With vitamin e antioxidant)

विटामिन इ कमज़ोर बालों को पोषण देता है तथा बालों को टूटने से भी रोकता है। यह शरीर को केराटिन की अधिक मात्रा उत्पन्न करने के लिए प्रेरित करता है जिससे कि बाल टूटने से बचते हैं। अपने खानपान में 400 मिलीग्राम विटामिन इ की मात्रा शामिल कर लेने पर बाल लम्बे और रेशमी बनते हैं।

आयरन युक्त भोजन (Iron rich foods for strong hair)

आयरन बालों को उगाने में काफी फायदेमंद है और यह काले गुड, पत्तेदार सब्ज़ियों, हरे प्याज, काजू, सूखे मेवों, अंजीर एवं बेर में पाया जाता है। इन भोजनों से आपके शरीर को आयरन मिलता है जिससे आपके बाल भी स्वस्थ होते हैं। सिलिका और जिंक भी बालों के बढ़ने में काफी कारगर हैं। दिन में दो बार 500 मिलीग्राम सिलिका तथा 30 मिलीग्राम ज़िंक का सेवन करें।

रोजमेरी का तेल (Rosemary oil)

रोज़मेरी तेल का प्रयोग दशकों से सिर में रक्त का संचार बढ़ाने के लिए किया जाता रहा है। नारियल के वसा में रोजमेरी के तेल की कुछ बूँदें डालें और बालो को उगाने के उपाय,इस मिश्रण से अपने सिर की रोज़ाना मालिश करें।

बाल झड़ने के कारण (Hindi causes for hair fall)

तनाव (Stress)

बालों के घरेलू कंडीशनर

तनाव बाल झड़ने का प्रमुख कारण होता है। तनाव की वजह से तीन तरीके से बाल झड़ते हैं जैसे ट्रिकोटिलोमेनिया,एलोपेसिया एरियाटा तथा टेलोजेन एफ्लुवियम। वैसे तनाव की वजह से अस्थायी रूप से बाल झड़ते हैं और आप योग शारीरिक व्यायामों द्वारा इस परेशानी से छुटकारा पा सकते हैं।

किसी प्रकार का संक्रमण(Infections or fungal diseases)

शरीर में किसी प्रकार के संक्रमण से भी बाल झड़ सकते हैं। दाद जैसा संक्रमण बाल झड़ने का मुख्य कारण हो सकता है क्योंकि ये दाद मुहांसों की तरह शुरू होते हैं और धीरे धीरे फैलकर गंजापन बढ़ाते हैं। प्राकृतिक रूप से कुछ संक्रमण ठीक हो जाते हैं पर आपको ध्यान रखना पड़ेगा कि कहीं ये संक्रमण ही तो आपके बाल झड़ने का कारण नहीं है।

वंशानुगतता (Heredity)

अगर आपके परिवार में कोई भी एलोपेसिया का शिकार हुआ है तो आपके बाल झड़ने की संभावना इससे बढ़ जाती है महिलाओं में हम एंड्रोजेनेटिक एलोपेसिया नहीं देख पाते जिससे कि पूर्ण गंजापन होता है, परन्तु आप उनके बाल पतले होते महसूस कर सकते हैं।

पोषक तत्वों की कमी (Insufficient of nutrients)

केराटिन प्रोटीन बालों को मज़बूत बनाता है, अतः शरीर में आयरन, प्रोटीन तथा विटामिन का सही संतुलन होना चाहिए। सही खानपान से आपके बाल अवश्य स्वस्थ होंगे।

उम्र बढ़ना (Aging)

उम्र के साथ बाल पतले होने लगते हैं। इसकी वजह शरीर की कार्यक्षमता का घटना है। इस समय शरीर पोषक पदार्थों को सोखना कम कर देता है। बालों को अच्छे से बढ़ने के लिए 22 एमिनो एसिड की आवश्यकता होती है और खराब खानपान से एमिनो एसिड उत्पन्न नहीं होते जिससे बाल झड़ते हैं।

ऑयली स्कैल्प को कैसे दूर भगाएँ?

विटामिन बी की कमी (Vitamin B deficiency)

यह बाल झड़ने का काफी आम कारण है। मछली, हरी पत्तेदार सब्ज़ियाँ, नट्स और मटन खाएं।

पॉलीसिस्टिक ओवरियन सिंड्रोम (PCOS – Polycystic Ovarian Syndrome)

यह हॉर्मोन्स में असमानता की वजह से होता है। यह आपके मासिक धर्म को प्रभावित करता है। हॉर्मोन में असमानता भी बाल झड़ने का काफी बड़ा कारण है।

गर्भावस्था (Pregnancy)

बाल झड़ने के कारण, काफी महिलाओं को बच्चा पैदा होंने के बाद बाल झड़ने की समस्या होती है। यह हॉर्मोन में परिवर्तन की वजह से भी होता है।

साज श्रृंगार के सामानों का अधिक प्रयोग (Using of styling tools)

कई महिलाएं बालों को स्ट्रेट करने और उन्हें सुन्दर बनाने के लिए कई साज श्रृंगार के उत्पादों का प्रयोग करती हैं। इससे बालों की गुणवत्ता खराब होती है तथा दोमुहे बाल पनपते हैं। कसकर बालों में चोटी करने से भी बाल झड़ते हैं।

  • ज़्यादा दवाइयों का सेवन करने से भी बाल झड़ते हैं। कई अलग अलग प्रकार की बीमारियों से लड़ने के लिए है परन्तु इनका बालों पर भी काफी खराब असर पड़ता है। ज़्यादातर थाइरोइड की समस्याओं, सिर के संक्रमण, एलोपेसिया एरियाटा और अन्य त्वचा सम्बन्धी परेशानियों में दवा लेने से बाल झड़ते हैं।
  • कई शोधों से साबित हुआ है कि मद्यपान, धूम्रपान तथा सूर्य की किरणों से ज़्यादा संपर्क में आने की वजह से भी बाल झड़ते हैं। महिलाओं में बाल झड़ने का यह काफी प्रमुख कारण है।
loading...