Hindi tips for applying hair dye – अपने बालों पर बालों के डाई रंग को कैसे लगायें?

आप कई अच्छे कारणों से अपने बालों को रंग सकते हैं। बिना किसी वजह से बालों को रंगना इनके लिए अच्छा नहीं होता। हालांकि कई बार ऐसा होता है कि आपको अपने बालों को रंगना होता है तथा इसके लिए यह ज़रूरी होता है कि आप अपने बालों को अच्छी स्थिति में रखने के लिए कुछ सुरक्षा उपाय अपनाएं। सैलून (salon) में प्रयोग की जाने वाली प्रक्रिया काफी अलग होती है और इसका प्रयोग आप घर पर नहीं कर सकते।

अगर आपने घर पर ही बालों को रंगने की बात मन में ठान ली है तो सारी चीज़ें तैयार रखें। इसके अलावा आपको बालों में रंग करने का सही तरीका भी पता होना चाहिए। इससे आपको अपना मनचाहा रंग लगाने में आसानी होगी एवं आपके बाल आकर्षक और चमकदार हो जाएंगे।

बालों का डाई आपके अपने भूरे बालों को ढ़ककर काला बनाता है जिससे आप युवा दिखायी पड़ते है। बालों को काला करने के दो विकल्प होते जिनसे आप अपनी इच्छा के अनुसार बाल पा सकते हैं: कृत्रिम और प्राकृतिक। बालों को क्षति पहुंचाने वाले रसायन आधारित कृत्रिम बाल डाई / हेयर कलर समय की बचत करने वालों के लिये अच्छे है जबकि प्राकृतिक तरीके से रंगने के साथ कोई क्षति नहीं होती है।

प्राकृतिक तरीके से अपने बाल डाई / हेयर डाई करें (Dye your hair naturally)

काले बालों के लिए हेयर डाई (Dye for dark hair)

प्राकृतिक तरीके से बालों को रंगने/हेयर कलर के लिये कॉफी या काली चाय अच्छा है यह चमकदार भूरे और काले बाल पाने का एक साधारण तरीका हो सकता है। इनमें से किसी एक को उबालकर काढ़ा बनायें और कमरे के तापमान पर ठंडा करें और बालों पर 20 से 30 मिनट तक लगाकर बालों को धुल लें। सप्ताह में इस प्रक्रिया को दोहरायें।

इस विधि का प्रयोग हफ्ते में 2 बार या तब तक करते रहें, जब तक आपके बालों में मनचाहा रंग उत्पन्न ना हो जाए। इसके बाद रंग को पक्का करने के लिए इसका प्रयोग 1 या 2 हफ़्तों तक और करें।

मेहँदी डाई (Henna dye)

बालों के लिए दुनिया की जानी-मानी हर्बल डाई मेंहदी है। यह बिना किसी दुष्प्रभाव के बालों को रंगता है। इसमें बालों को रंगने के साथ कंडिशनिंग और सिर को साफ करने का गुण भी पाया जाता है। चार चम्मच हिना पाउडर को आवश्यक मात्रा के चाय पानी में मिलाकर लेप बना लें। अपने बालों पर इस लेप को लगाकर आधा घंटे के लिये छोड़ दें। अतिरिक्त लाभ के लिये आप अंडा, आवश्यक तेल और सिरके का भी प्रयोग कर सकते हैं।

बालों की देखभाल में सामान्य गलतियाँ और इनसे बचाव

बालों को चमकाने के लिये (Lightening your hair)

क्या आपको बालों को चमकाने के लिए किसी घरेलू नुस्खे की तलाश है ! अगर हाँ तो यहां पर आपके बालों को प्राकृतिक रूप से चमकाने की प्राकृतिक विधि बतायी गयी है। चमकाने के लिये एक कटोरी में एक कप ताज़ा नींबू रस निकाल ले और तीन कप कैमोमॉइल तेल मिलाकर अपने बालों को इस मिश्रण से भिगा दें और 20 से 30 मिनट तक धूप में सुखायें। इसके बाद मृदु शैम्पू से बाल धुलें। सप्ताह में 2 से 3 बार इस प्रक्रिया को दोहरायें।

वैसे तो इस प्रक्रिया की मदद से बालों को चमकाने में काफी समय लगेगा, पर यह एक प्राकृतिक प्रक्रिया है तथा बिना किसी डर के इसका प्रयोग किया जा सकता है।

भूरे बालों का रंगना (Color the gray hair)

काली चाय की पत्तियों और चेरी को एक साथ उबालकर ठंडा करें और इस लेप से एक से दो मिनट तक मसाज करें। इससे मसाज करने के बाद बालों को धुलें नहीं। दिन में इस प्रक्रिया को कम से कम एक बार दोहरायें।

शेड चयन करें (Making the Shade Selection)

हेयर कलर कैसे करे, सबसे पहले दुकान पर जाकर अपने लिये उचित शेड का चयन करें। आपके बालों का रंग आपकी त्वचा की रंगत के लिये उचित होना चाहिये। आपको अच्छे ब्राण्डों का चयन करना चाहिये।

ये रंग इतने अजीब भी नहीं होने चाहिए कि आप इसमें काफी बदसूरत एवं बेढंगे लगें। एक बार दुकान पर जाने पर आप इन रंगों की विविधता देखकर चकित रह जाएंगे। अच्छे ब्रांड्स (brands) का चयन करने से आपके बालों को रंग करने के बाद भी ये अच्छी स्थिति में रहेंगे।

अर्ध स्थायी रंग के साथ शुरू करना श्रेष्ठ है (Semi Permanent Colour is the Best to Start with)

यदि आप पहली बार उपयोग करने जा रहे हैं तो स्थायी रंगों का चयन करने से बचने का प्रयास करें। अर्ध स्थायी रंगों का प्रभाव 6 से 12 बार शैम्पू करने पर चला जाता है जबकि स्थायी शेड एक बार में 6 से 8 हफ्तों तक चलता है इसलिये अच्छा होगा कि आप शुरुआत में अर्धस्थायी शेड का उपयोग करें।

हेयर कलरिंग के लिए पूरी किट (Hair color karne ka tarika – the Complete Kit for Colouring)

हेयर कलरिंग के लिए कुछ चीज़ें ऐसी हैं जिन्हें आपके पास होना बहुत आवश्यक  है जिससे आपका काम आसान हो जायेगा। इसके लिये आपकी किट में प्लास्टिक दस्ताने, पुराना शर्ट, वैसलीन, हेयर क्लिप, डैप रैग, पुराना तौलिया, कंघी, सेफ्टी पिन आदि होना चाहिये।

घने बाल पाने के टिप्स

पहलें जांचे फिर आगे बढ़ें (It is Safe to Test and then Proceed)

हेयर कलर कैसे करे, कुछ जांच को करने के बाद रंगने की प्रक्रिया शुरू करें। सबसे पहले अपने हाथों पर रंग को लगाकर जांचे कि वे आपके शरीर पर किसी दुष्प्रभाव को तो नहीं दे रहे हैं। यदि ऐसा है तो अपनी त्वचा को सूट करने वाले ब्रांड को चुनने के लिये जायें।

रंगने की सरल प्रक्रिया (The Simple Process of Colouring – hair colour kaise karte hai)

अपने बालों को रंगने से पहले शैम्पू न करें। यह आपके बालों से तेल को हटा देगा और इसके कारण बाल रंग को अवशोषित भी नहीं कर सकेगा। रंगने की शुरुआत करने से पहले शरीर के हर अंग पर वैसलीन को लगा लें। यह डाई के दुष्प्रभावों से बचाता है। डाई को लगाने के लिये दिये गये निर्देशों को अपनायें और लगाने के बाद 25 से 45 मिनट तक के लिये छोड़ दें। इसके बाद बालों को ठंडे पानी से धुल दें।

डिब्बे में बतायी गयी विधि के अनुसार बालों को रंगने की प्रक्रिया शुरू करें। सबसे पहले बालों की जड़ों से शुरुआत करें और फिर इसका प्रयोग बाहर की ओर करें। अगर आप रंगे हुए बालों को सामान्य बालों से अलग रखना चाहते हैं, तो इसके लिए आपको हेयर क्लिप्स और हेयर पिंस (hair clips and hair pins) का प्रयोग करना पड़ेगा।

बाल धोने के संबंध में निर्देश (Instructions Regarding hair Washing)

रंगों को लगाने के बाद सीधे पानी से न धुलें। एक बार रंग पूरा हो जाने के बाद बालों के ऊपर कंडिशनर को अवश्य लगायें। यह बालों को मुलायम रखने में सहायता करेगा और साथ ही रंगों के एजेंट से होने वाले दुष्प्रभाव से भी सुरक्षा करेगा। बेहतर होगा कि अपने बालों को अंतिम रुप से धुलने के पहले 48 घंटे का इंतज़ार करना चाहिये।