Hindi tips to gain weight – तुरंत वेट बढ़ाने के उपाय – जल्दी वजन बढ़ाने के तरीके

आज ज्यादातर लोग बढ़ते हुये वजन को कम करने कि कवायद में लगे रहते हैं लेकिन कुछ लोग ऐसे भी हैं जो कम वजन की समस्या से गुज़र रहे हैं। मोटा होने के उपाय के लिए लोगों द्वारा बाजार के महंगे उत्पाद खरीदे जाते हैं लेकिन इस तरह के उत्पाद हमारे लिए सुरक्षित हैं या नहीं ये जानना बहुत ज़रूरी होता है। कुछ प्राकृतिक तरीके हैं जिनसे बिना किसी साइड इफेक्ट के बजन बढाया जा सकता है।

कम वजन के कारण (Reasons for under weight)

  • भूख की कमी
  • बिगड़ा स्वास्थ्य
  • वंशानुगत
  • फ्युलिंग स्पोर्ट

कई लोग सालों तक डॉक्टर के पास जाकर और अच्छा खाना खाकर भी मोटे नहीं हो पाते। व्यायाम और प्रोटीन युक्त भोजन वजन बढ़ाने(vajan badhane) में काफ़ी हद तक सहायक हो सकता है।

मोटे कैसे बने, मोटा होने के उपाय (How to become fat? or Quick weight gain tips in Hindi )

आज अधिकांश लोग पतली और छरहरी काया पाने की कामना करते हैं, जिसे वजन बढ़ाने के लिएआयुर्वेदिक दवा (vajan badhane ke liye ayurvedic dava), व्यायाम और संतुलित आहार द्वारा प्राप्त किया जा सकता है। पर कई अत्यधिक पतले लोग ऐसे भी हैं जो मोटे होने के लिये बेताब रहते हैं। शरीर का आवश्यकता से अधिक पतला या मोटा होना दोनों ही स्वास्थ्य की दृष्टि से ठीक नहीं होते हैं। अच्छी काया पाने के कई तरीके हैं।

वजन बढ़ाने के दो तरीके (Wazan badhane ka tarika)

  • पहला तो ये कि आप जिम में जाकर किसी प्रोफेशनल की देख रेख में अपनी माशपेशीय सरंचना बढ़ा सकते हैं।
  • दूसरा ये कि आप अपने शरीर में वसा बढ़ा लें, जिसे अधिकांश कम वजन वाले लोग अपनाते हैं।

तुरंत वेट बढाना हो तो खाइये ये आहार (List of food items to become fat in Hindi)

वजन बढ़ाने के उपाय,आपके आहार में मुख्य रूप से प्रोटीन के साथ साथ खनिज, विटामिन, कार्बोहाइड्रेट और वसा होना चाहिए। आमतौर पर लोग दिन में 2 या 3 बार भोजन करते हैं पर वजन बढ़ाने (vajan badhane ka upay) के लिये आपको दिन में कम से कम 5 बार थोड़ा थोड़ा कर के खाना चाहिये।

वजन बढ़ाने के लिए क्या खाएं और क्या ना खाएं

वजन बढ़ाने के लिए ऐसा हो आपका डायट प्‍लान (Mota hone ka diet plans)

पुरूषों के लिए वज़न बढ़ाने वाले आहार (vajan badhane ke aahar) के लिये नाश्ते के साथ 2 कच्चे अंडे और लंच के साथ 2 उबले अंडे जरुर लेने चाहिये क्यूंकि अंडे प्रोटीन के अच्छे स्त्रोत होते हैं। महिलाओं को अपने आहार में कैलोरी युक्त भोजन ज्यादा लेना चाहिये जैसे पनीर, आलू चिप्स, पिज़्ज़ा और ऑयली फ़ूड आदि।

वजन बढ़ाने के लिए क्या खाना चाहिए (Weight gain tips in Hindi)

वजन बढ़ाने के लिए कुछ मीठा खाएं (Have some dessert)

हालांकि आपको अधिक चीनीयुक्त भोजन का सेवन नहीं करना चाहिए, परन्तु बीच बीच में कुछ मीठा खाने से कोई समस्या नहीं है। बीच बीच में केक या आइसक्रीम (cake or ice cream) के मज़े लेने से खुद को न रोकें। यदि आपको हर रात कुछ मीठा खाने का मन करता हो, तो कम मात्रा एवं स्वास्थ्यकर विकल्प चुनें। डार्क चॉकलेट (dark chocolate), फलों एवं ग्रेनोला (granola) के साथ होल फैट योगर्ट (whole fat yogurt), ट्रेल मिक्स, ग्रेनोला बार्स या साबुत अनाज की पेस्ट्रीस (trail mix, granola bars, or whole grain pastries) आपके लिए काफी अच्छे विकल्प हैं।

चावल (Rice)

एक कप चावल में करीब 200 कैलोरीज़ (calories) होती हैं, एवं यह कार्बोहाइड्रेट्स (carbohydrates) का भी काफी अच्छा स्त्रोत होता है, जो वज़न बढ़ाने(vajan badhane) में आपकी सहायता करता है। कई लोगों को चावल खाने में अधिक आसानी होती है क्योंकि इसे प्रोटीन्स (proteins) एवं सब्ज़ियों से युक्त भोजन के साथ बिना किसी परेशानी के शामिल किया जा सकता है।

वजन बढ़ाने के लिए प्रोटीन के पूरक पदार्थ (Protein supplements)

जो एथलीट (athlete) अपना वज़न बढ़ाना चाहते हैं(vajan badhane chahta hai), वे आमतौर पर मांसपेशियों का घनत्व बढ़ाने एवं इनमें मज़बूती लाने के लिए प्रतिरोधी प्रशिक्षण के अतिरिक्त प्रोटीन के पूरक पदार्थों का काफी प्रयोग करते हैं। प्रोटीन के ये पूरक पदार्थ ऑनलाइन (online) उपलब्ध हैं। ये कैलोरीज़ में वृद्धि करने एवं वज़न बढ़ाने का एक किफायती तरीका साबित हो सकते हैं।

सीरियल बार्स (Cereal bars)

सीरियल बार्स एक अनाज में मौजूद विटामिन (vitamin) एवं खनिज पदार्थ की मात्रा एक आसान तरीके से प्रदान करते हैं। यदि आप अपना वज़न बढ़ाना चाहते हैं(vajan badhane chahta hai) तो ऐसे बार्स का सेवन करें जो साबुत अनाजों, नट्स (nuts) एवं फलों से भरपूर हों। ऐसे बार्स से परहेज करें जिनमें अत्याधिक चीनी की मात्रा होती है।

Subscribe to Blog via Email

Join 44,900 other subscribers

वजन बढ़ाने के लिए योगर्ट (Yogurt)

पूर्ण वसा युक्त योगर्ट आपको  प्रोटीन एवं एवं अन्य पोषक तत्व भी प्रदान कर सकते हैं। फ्लेवर्ड (flavored) एवं कम वसा वाले योगर्ट्स का सेवन ना करें क्योंकि इनमें अतिरिक्त मात्रा में चीनी होती है। आप यदि चाहें तो फलों एवं नट्स की मदद से अपने योगर्ट में फ्लेवर डाल सकते हैं।

थोड़ा थोड़ा खाएं (Eating often se vajan badhaye)

एक समय में एक साथ ज्यादा खाने की बजाय थोड़े थोड़े अंतराल में खायें।

कैलोरी की खपत बढायें (Enhance calorie consumption)

एक महीने के अंदर महिलाओं का वजन बढाने के 100 तरीके

उच्च कैलोरी युक्त भोजन जैसे अंडा, मछली, मांस और डेरी उत्पादों को अपनी डाइट में शामिल करें साथ ही आप चॉकलेट और मिठाइयाँ भी ले सकते हैं।

मिनी मील्स (Mini meals se wazan badhane ke upay)

ब्रेकफास्ट, लंच, डिनर के अलावा भी बीच बीच में हल्का फुल्का भोजन लेते रहें, जैसे लंच और डिनर के बीच स्नेक्स लिए जा सकते हैं।

स्वस्थ आहार लें (Healthy food se vajan badhane ke upay)

सोडा या कोल्डड्रिंक जैसे पेय पदार्थों की बजाय दूध पियें साथ ही खाने में ताज़ी हरी सब्जियां ही लें।

अनहेल्दी फ़ूड को न कहें (No to unhealthy food se vajan badhane ke tarike)

जंक फ़ूड से दूर रहें एवं हमेशा ताज़ा भोजन ही करें।

संतुलित भोजन करें (Having balanced diet for weight gain)

आपकी थाली में भोजन करते वक्त सारे तत्व मौजूद होने चाहिये।

पेय पदार्थ लेते रहें (Significance of water in gaining weight)

शुद्ध पानी, दूध , ताजा फलों का जूस पीते रहें। सोडा या बाजार में मिलने वाले अन्य पेय पदार्थो से दूर रहें।

महिलाओं के लिए खानपान (Women food consumption)

महिलाओं का शारीरिक आकार पुरूषों से काफी अलग होता है, अतः उनका खानपान भी अलग होगा। महिलाओं को कैलोरी युक्त भोजन जैसे पनीर, आलू के चिप्स, पिज़्ज़ा, तेल युक्त भोजन आदि करना चाहिए जिससे वे मोटी हो सकें।

कैसे बढ़ाएं अपना वजन (Hindi tips to gain weight)

वजन बढ़ाने का सबसे अच्छा तरीका हर दिन सही खानपान है। कुछ भी खाने से बेहतर है सही खानपान। अच्छे वसा युक्त भोजन का सेवन करें। सिर्फ पेट भरने के लिए ना खाएं।

बार बार भोजन करें (Eat often)

बार बार थोड़ा थोड़ा खाने से भी वजन बढ़ता है। अगर आप एक बार में नाश्ता कर रहे हैं, तो इस पद्दति को बदलकर नाश्ते को दो भागों में विभक्त करें। इसी तरह हर भोजन को छोटे भागों में बांटें। इस तरह दिन में ६ बार खाने की आदत डालें।

कैलोरी की मात्रा बढ़ाएं (Enhance calorie consumption)

उच्च कैलोरी युक्त भोजन करें (Wazan badhane ka gharelu tarika)

वजन घटाने के लिए शहद और अदरक का घरेलू उपाय, वेट लॉस के लिए टिप्स

डेरी उत्पाद जैसे दूध, पनीर तथा मछली एवं अंडे में कैलोरी की काफी ज़्यादा मात्रा होती है। आलू जैसे स्टार्च युक्त व्यंजन खाएं जो कि वजन बढ़ाने (weight gain) में सहायक होते हैं। बीन्स और पालक जैसी सब्ज़ियाँ खाएं। ध्यान रखें कि अतिरिक्त कैलोरी ग्रहण न करें, क्योंकि इससे मोटापे का ख़तरा बढ़ जाता है। चॉकलेट और मिठाइयों को खानपान में शामिल करें।

फल खाना आमतौर पर बड़े सब्र का काम होता है और इसमें विटामिन, मिनरल एवं अन्य पोषक तत्व पाए जाते हैं। सिर्फ फल खाना छोड़कर ब्रेड, अनाज और अन्य मोटा करने वाली वस्तुएं ग्रहण करें।

चीज़ आधारित सॉस मिला हुआ एक प्लेट पास्ता खाने से भी अतिरिक्त वसा मिलता है। जो लोग काफी व्यायाम करते हैं, वे अतिरिक्त वसा कम करने के लिए प्रचुर मात्रा में प्रोटीन लेते हैं। वजन बढ़ाने (become fat) के लिए प्रोटीन एवं कार्बोहाइड्रेट्स की मात्रा ग्रहण करें। व्यायाम के पहले आपको प्रोटीन शेक भी लेना पड़ेगा। आप प्रोटीन बार का भी सेवन कर सकते हैं।

छोटे आहार (Mini meals se mota hone ke upay)

एक बार में ज़्यादा भोजन ना करें, बल्कि एक निर्धारित समय के पश्चात ही भोजन करें। आहार को भागों में बांटने से आप ज़्यादा भोजन कर पाते हैं। हर भोजन के बीच 3 घंटों का अंतराल लें। इससे खाना जल्दी हज़म होगा। अगर आप अपने शरीर में अतिरिक्त चर्बी बढ़ाना चाहते हैं तो सोने के कुछ देर पहले ही भोजन करें। इससे शरीर को वसा जलाने का समय नहीं मिलेगा और आपका मोटापा बढ़ेगा।

हर दिन ३ बार आहार ग्रहण करें तथा वजन बढ़ाएं। इससे ना सिर्फ खाना धीरे पचेगा बल्कि इससे आपको अतिरिक्त भोजन करने की इच्छा महसूस होगी, क्योंकि साधारण भोजन के बीच का अंतराल बड़ा होगा। छोटे आहार एक बार में ज़्यादा भोजन ना करें, बल्कि एक निर्धारित समय के पश्चात ही भोजन करें। आहार को भागों में बांटने से आप ज़्यादा भोजन कर पाते हैं। हर भोजन के बीच ३ घंटों का अंतराल लें। इससे खाना जल्दी हज़म होगा।

दोपहर और रात के भोजन के बीच कुछ खाएं (Snacks between lunch and dinner for healthy weight)

जिन्हें वजन बढ़ाना (Hindi weight gain) है, वे किसी समय के भोजन को कम नहीं कर सकते। हर बार अंतराल में कुछ न कुछ खाते रहे। इससे शरीर में किसी भी पोषक पदार्थ की कमी नहीं होगी तथा आपको मोटे होने में भी मदद मिलेगी। ३ मुख्य भोजनों के बीच में ३ छोटे आहार लें। सूखे मेवे, कॉफ़ी या लडडू का सेवन किया जा सकता है।

वजन बढ़ाने के उपाय में सोयाबीन का इस्तेमाल (Soy products for weight gain naturally)

अगर आप प्राकृतिक रूप से वजन बढ़ाना चाहते हैं(vajan badhane chahte hai) तो सोयाबीन और इससे बने उत्पाद भोजन के साथ लें, इसमें प्रोटीन अधिक होता है जो मांसपेशियों को बढ़ाने में मदद करता है बॉडी बिल्डिंग करने वाले भी इसका सेवन अधिक करते हैं. सोया बरी, सोया milk, टोफू आदि का प्रयोग वजन बढ़ाने के घरेलु उपाय में शामिल हैं.

दूध और केले से वजन बढ़ाएं (mota hone ke liye – Milk and banana)

अगर आपको कम समय में प्राकृतिक तरीके से वजन बढ़ाना हो या मोटा होना हो तो इस प्रयोग को अवश्य करें. रोज नाश्ते में अच्छी तरह पके हुए दो केले को गाय के दूध में मसल लें और इसमें गुड़ मिलाकर खाएं. यह सेहत के लिए पोषक तत्वों से भरपूर एक बढ़िया नाश्ता है साथ ही मोटा होने में भी मदद करता है.

अधिक वसा वाला भोजन करें (Focus on heavy meal)

पारम्परिक तरीकों से वजन बढ़ाने के उपाय(vajan badhane ke upay)। आप जो भोजन कर सकते हैं वे हैं

पेय पदार्थ – डाइट सोडा से परहेज करें तथा दूध, प्रोटीन शेक तथा फलों का रस पियें।

सब्ज़ियाँ – स्टार्च युक्त सब्ज़ियों जैसे बीट, गाजर, आलू, हरे बीन्स, खीरा तथा गोभी आदि का सेवन करें।

अतिरिक्त तेल – जब आप खाना बना रहे हों तो तेल पर ध्यान दें। एक्स्ट्रा वर्जिन तेल जैसे जैतून और केनोला आदि सबसे स्वास्थ्यकारी तेल होते हैं। आप ओमेगा ६ फैटी एसिड युक्त तेल का भी प्रयोग कर सकते हैं। ओमेगा ३ भी एक विकल्प है।

संतुलित आहार से मोटापा बढ़ने का तरीका (Balanced diet)

संतुलित आहार लेने की चेष्टा करें जिसमें प्रोटीन, स्टार्च, विटामिन तथा मिनरल की सही मात्रा हो। इसके बाद आपको अधिक वसा वाली चीज़ों से भी परहेज़ करना होगा जैसे वनस्पति, मार्जरीन आदि। वजन बढ़ाने के लिए संतुलित आहार को चुनें। वजन बढ़ाने के लिए आयुर्वेदिक दवा(vajan badhane ke ayurvedic dawa) या अतिरिक्त कैलोरी के पीछे ना जाएं क्योंकि ये शरीर में जाकर चर्बी बन जाती है।

अस्वास्थ्यकर भोजनों से परहेज (No to unhealthy food)

वजन बढ़ाने के लिए कोई भी ऐसी चीज़ ना खाएं जो कि स्वास्थ्य के लिए हानिकारक हो। इन भोजनों में कैलोरी के अलावा खराब फैटी एसिड तथा काफी कम पोषक पदार्थ होते हैं।

खूब पानी पियें (Stay hydrated for mota hone ke upay)

शरीर में पानी की कमी ना होने दें। काफी अधिक मात्रा में पानी, दूध, फलों का रस आदि पियें। रोज़ कम से कम 8 से 10 गिलास पानी पियें। भोजन के पहले या भोजन के दौरान पानी क्योंकि इससे कैलोरी की मात्रा कम होती है। वजन घटाने की अपेक्षा बढ़ाना सरल है। वजन बढ़ाना मतलब ज़्यादा कैलोरी लेना और वजन बढ़ाने के लिए आयुर्वेदिक दवा,अतिरिक्त वसा को शरीर से दूर रखना।

सबसे अच्छा सुझाव वजन जल्दी हासिल करने के लिए (Best tips to gain weight quickly)

वजन घटाने और स्वस्थ रखने के बेहतरीन तरीके, वजन घटाने के पेय

एक लक्ष्य निर्धारित करें (Set a goal for mote hone ka upay)

किसी भी कार्य को करने से पहले एक लक्ष्य निर्धारित करना काफी आवश्यक होता है। वजन तेज़ी से बढाने के लिए भी एक व्यक्ति को अपने लक्ष्य निर्धारित करने चाहिए। लक्ष्य बनाते समय इस बात को भी ध्यान में रखें कि आप कितना वजन बढ़ाना चाहते हैं। एक बार जब लक्ष्य निर्धारित हो जाए, तो आप आसानी से इसे पूरा करने के तरीके निकाल सकते हैं। इससे आपको अपने आप वजन बढाने में सहायता मिल जाएगी।

क्योंकि आपकी इच्छा अपना वजन बढाने की है, अतः यहाँ मुख्य कदम यह है कि आपके शरीर में जितना खाना पच जाए, उससे ज़्यादा आहार ग्रहण करें। इसका अर्थ यह है कि कैलोरी (calorie) को जलने से रोकें, जिसके लिए आपको खाना ज्यादा और काम करना पड़ेगा।

धीरे धीरे वजन बढ़ाएं (How to gain weight quickly in Hindi or Slowly gaining weight)

कुछ लोगों को अपना वजन बढाने की इतनी ज़्यादा जल्दी होती है कि इससे उनके शरीर में कई तरह के साइड इफेक्ट्स (side effects) दिखने लगते हैं। ऐसे समय लोगों की अपनी क्षमता से काफी अधिक भोजन करने की आदत पड़ जाती है। परन्तु यह काफी गंभीर समस्या बन सकती है, क्योंकि इससे आपको हाजमे की समस्या , रक्तचाप के स्तर (blood pressure level) में वृद्धि, कोलेस्ट्रोल (cholestrol) की मात्रा का बढ़ना आदि परेशानियाँ हो सकती हैं। अतः धीरे धीरे वजन बढ़ाना शुरू करें। सबसे पहले इतनी मात्रा में कैलोरी लें, जो आपके सामान्य सेवन से 200 ग्राम ज्यादा हो। एक बार जब आपके शरीर को इतनी कैलोरी की आदत पड़ जाए तो धीरे धीरे कैलोरी के सेवन में और वृद्धि करें। इससे आपकावजन बिना किसी साइड इफ़ेक्ट के बढ़ सकेगा।

मोटापा बढ़ने के लिए सही खानपान से वजन बढ़ने का तरीका (Mota banane ka tarika with proper meal plan )

वजन बढाने के लिए आपको अपने खानपान के समय और सेवन की मात्रा आदि की सूची बनानी चाहिए। आमतौर पर एक मनुष्य एक दिन में तीन बार भोजन का सेवन करता है। पर जो लोग अपना वजन बढ़ाना चाहते हैं, उन्हें दिन में सिर्फ 3 बार भोजन करने से कोई लाभ नहीं होगा। आपको 3 स्थाई भोजनों के आगे जाना चाहिए। इसके लिए इन भोजनों के बीच बीच में कुछ स्वास्थ्यकर नाश्ता करते रहें।

परन्तु खाना खाने का यह मतलब नहीं है कि आप कुछ भी खा लें, बल्कि आपको इसके संतुलन पर गौर फरमाना चाहिए। हमेशा संतुलित आहार करने पर जोर दें। जो भोजन आप कर रहे हों, उसमें पर्याप्त मात्रा में कार्बोहाइड्रेट्स, प्रोटीन्स, विटामिन्स एवं खनिज (proteins, vitamins and minerals) होना चाहिए। ये तीनों पोषक पदार्थ आपका वजन प्रभावी रूप से बढाने में काफी सहायक सिद्ध होते हैं।

शक्ति बढाने के व्यायाम (Strength training se vajan badhane ke upay)

एक बार जब आपका खानपान तय हो जाए तो अपनी ऊर्जा को इस तरह नियंत्रित करें, जिससे आपके शरीर को शक्ति प्राप्त हो। आपको कुछ ऐसे असरदार व्यायाम करने शुरू करने होंगे जिनसे मांसपेशियां बनती हैं। इन व्यायामों से आपके द्वारा सेवन किया गया भोजन आपका वजन बढ़ाने के काम में आता है और इससे आपकी मांसपेशियां आकर्षक और गठीली बनती हैं। एक बार जब आपकी मांसपेशियां बन जाएं तो इससे यह बात साबित होगी कि आपका अतिरिक्त वजन वसा में परिणत नहीं हुआ, बल्कि ऊर्जा में बदल गया।

वजन बढ़ाने के लिए व्यायाम करें (wajan badhane ke liye vyayam)

अगर आप प्राकृतिक तरीके से वजन बढ़ाने का उपाय ढूंढ रहे हैं तो वजन बढ़ाने के लिए व्यायाम का रुख कर सकते हैं। व्यायाम द्वारा बढ़ा हुआ वजन थोड़ी लंबी चलने वाली प्रक्रिया है लेकिन यह पूरी तरह से प्राकृतिक होता है इसीलिए इसके किसी भी तरह के हानिकारक प्रभाव शरीर पर नहीं पड़ते।

वज़न बढाने के लिए सही भोजन (Home remedies for gaining weight quickly with proper food )

वजन बढ़ने के कुछ अजीब कारण

वजन बढाने की प्रक्रिया के दौरान आपको सही भोजनों का चुनाव भी करना आना चाहिए। नीचे इसके कुछ नुस्खे दिए गए हैं।

कार्बोहायड्रेट युक्त साबुत अनाज (Quick weight gain tips with Whole grain rich in carbohydrates)

वजन बढाने के लिए आपको अपने भोजन में कार्बोहायड्रेट की पर्याप्त मात्रा शामिल करनी पड़ेगी। कार्बोहायड्रेट एक काफी ख़ास पोषक तत्व है, जो आपके भोजन को जलाकर उसे ऊर्जा के रूप में परिणत करने में काफी अहम भूमिका निभाता है। यह बात सही है कि भोजन को जलाए बिना भी आप अपने वज़न में वृद्धि कर सकते हैं, पर उस स्थिति में आपका शरीर चर्बी से भर जाता है, जो अस्वास्थ्यकर होता है। अतः कार्बोहाइड्रेट्स तथा विटामिन्स प्राप्त करने के लिए साबुत अनाज का सेवन करें। सफेद आटे की जगह साबुत गेंहू का प्रयोग करें।

वजन बढ़ने का तरीका, मांस का  इस्तेमाल (Wise inclusion of meat)

जब आप अपने भोजन में मांस को शामिल करें तो इस मामले में चतुर रहें। मांस वजन बढ़ाने में काफी कारगर होता है, पर अत्याधिक मांस, खासकर लाल मांस, शरीर के लिए अच्छा नहीं होता, क्योंकि इससे कोलेस्ट्रोल और दिल की बीमारियों का ख़तरा बढ़ जाता है। लाल मांस की जगह चिकन का प्रयोग करें. हफ्ते में इसका 3 से 4 बार ही सेवन करें।

अनसैचुरेटेड वसा युक्त भोजन (Food rich in unsaturated fats)

सैचुरेटेड वसा आपके शरीर के लिए हानिकारक होता है और इसलिए आप अनसैचुरेटेड वसा का सेवन कर सकते हैं। अनसैचुरेटेड वसा आसानी से आपका वजन बढाने में सहायक सिद्ध होता है और वह भी दिल की बीमारी के खतरे के बिना। बुरे की जगह अच्छे वसा पर ध्यान केन्द्रित करें क्योंकि सैचुरेटेड वसा कई तरह की स्वास्थ्य समस्याओं को जन्म देता है, जिसे आपका शरीर एक समय के बाद सहन नहीं कर पाता। जिन खाद्य सामग्रियों का आपको सेवन करना चाहिए उनमें मुख्य है सालमन, अवोकाडोस, पीनट मक्खन और नट्स। (salmon, avocados, peanut butter and nuts)

पूर्ण वसा युक्त दुग्ध उत्पाद (Dairy products with full fat se weight badhane ke tarike)

मानव शरीर के लिए विटामिन और कैल्शियम (vitamins and calcium) काफी आवश्यक होते हैं। आप ये दोनों तत्व दूध और अन्य दुग्ध उत्पादों से प्राप्त कर सकते हैं। कैलोरी (calorie) की मात्रा बढाने के लिए डेरी उत्पादों का भरपूर सेवन करें। जो लोग चर्बी की परत कम करना चाहते हैं, वे डबल टोंड (double toned) डेरी उत्पादों का सेवन करते हैं। जब आप पनीर पका रहे हों तो तेल के बदले मक्खन का इस्तेमाल करें, क्योंकि इससे शरीर में चर्बी की परत बढ़ती है।

कैलोरी युक्त उत्पाद (Ingredients rich in calories)

जब आप अपने लिए या किसी ऐसे व्यक्ति के लिए होजान बना रहे हों जिसे वजन बढ़ाना हो तो कैलोरी युक्त भोजन का प्रयोग करें। अगर आप सलाद का सेवन कर रहे हैं तो इसमें अच्छे से उबले हुए अंडे मिश्रित करें। अपने पिज़्ज़ा (pizza) में भी काफी मात्रा में चीज़ और मयोनैस (cheese and mayonnaise) डालें। अगर आप कुछ रसेदार बना रहे हों तो इसमें मांस का मिश्रण करें। क्योंकि यह प्रोटीन (protein) से भरपूर होता है, अतः इसकी मदद से निश्चित रूप से आपका वजन बढ़ता है।

वजन कम होने के कारण और बेहतर निदान

वजन बढ़ाने की तकनीकें (mota hone ke upay)

ऐसी कई तकनीकें हैं जिनकी मदद से आप आसानी से अपने वजन में इजाफा कर सकते हैं। पर इसके साथ ही साथ आपको अपनी सेहत का भी ख्याल रखना पड़ेगा।

देर से रात का भोजन (Late dinner se weight badhane ke tips hindi me)

जब आप रात का भोजन कर रहे हों तो खाने के तुरंत बाद सोने का प्रयास करें। जिन्हें वजन घटाना है, वे इसका उल्टा करें। क्योंकि मानव शरीर को सोते समय काफी कम कैलोरी की आवश्यकता होती है, अतः अगर आप अपने शरीर की जरूरत से ज्यादा की खपत करेंगे तो यह अतिरिक्त खपत आपके शरीर में वसा की परत बनकर दिखाई देगी। इस तरह से आप अपना वजन बढ़ा सकते हैं।

वजन बढ़ाने के लिए प्रोटीन शेक्स (vajan badhane ke liye protein)

प्रोटीन शेक प्रोटीन पावडर और दूध से मिलकर बने होते हैं और आपके शरीर को काफी मात्रा में ऊर्जा प्रदान करते हैं। आप बाज़ार में भी कई तरह के प्रोटीन पाउडर प्राप्त कर सकते हैं जो आपकी मांसपेशियों को सुडौल बनाते हैं। प्रोटीन शेक्स में फलों का मिश्रण करने से भी आपको अतिरिक्त शक्ति मिलती है। आप सारे दिन में कभी भी इनका सेवन करके वजन और मांसपेशियों में वृद्धि कर सकते हैं।

भोजन से पहले कोई द्रव्य ना लें (No fluids before meals)

पानी युक्त द्रव्य आपके पेट को भर देते हैं और इस वजह से जब आप खाने बैठते हैं तो आपके पेट में बिलकुल जगह नहीं होती। अतः भोजन करने से आधे घंटे पहले कोई भी पेय पदार्थ लेने का प्रयास ना करें। इससे आपके पेट में जगह बनेगी और आप ज़्यादा से ज़्यादा ब्भोजन कर सकेंगे।

रिफाइंड चीनी से परहेज (No refined sugar)

हर दिन हम कई बार चीनी का सेवन करते हैं। पर रिफाइंड चीनी आपके स्वास्थ्य के लिए बिलकुल भी अच्छी नहीं होती। अगर आप उच्च कैलोरी पर भी ध्यान दें तो भी रिफाइंड चीनी का सेवन नहीं करना चाहिए। इससे आपको प्रोसेस्ड (processed) चीनी से ज़्यादा पौष्टिक तत्व भी नहीं मिलेंगे और हार्मोनल असंतुलन (hormonal disorder), मधुमेह, दिल की बीमारी आदि का ख़तरा बना रहता है। बिना चमकाई गयी चीनी का सेवन करें, क्योंकि यह प्रोसेस्ड चीनी से ज्यादा स्वास्थ्यवर्धक होती है।

हम सबके लिए स्वास्थ्यकर रूप से वजन बढ़ाना ही सही होता है। अतः ऐसे उपायों और भोजन से परहेज करें जो आपके शरीर के लिए हानिकारक हों। ज़्यादा तैलीय और मसालेदार भोजन से परहेज करें। चीनी युक्त भोजन से भी परहेज करने की चेष्टा करें।

अपने BMI की जांच करें (Check your BMI)

वज़न बढ़ाने के लिए नट्स और ड्राई फ्रूट्स

तेज़ी से वजन बढ़ाने का प्रयास करने से पहले अपने शरीर का BMI जांच लें। यह बॉडी मास इंडेक्स (Body mass index) की जांच होती है, जिसके अंतर्गत आपको जांचना होता है कि आपके शरीर का वजन आपकी लम्बाई के अनुपात में सही है या नहीं। अगर इसके परिणाम नकारात्मक आए तो इलाज प्रारम्भ करना काफी आवश्यक होता है। अगर आपका वजन सामान्य से कम है तो इस बात का पता लगाएं कि आपका वज़न सामान्य से कितना कम है।

वजन कम होने के असल कारण का पता लगाएं (Find out actual cause of underweight)

अगर आपका वजन सामान्य से कम है तो इसके कारणों का पता लगाएँ। अगर यह वंशानुगत है तो इससे आनुवांशिक समस्या को बढ़ावा मिल सकता है। अगर किसी चिकित्सकीय समस्या के फलस्वरूप आपका वजन कम है तो उस समस्या का सबसे पहले निदान करें। अगर आपकी जीवनशैली में परिवर्तन हुआ है और यह स्वास्थ्य समस्या जीवनशैली में परिवर्तन की वजह से पैदा हुई है तो यह समय अपनी जीवनशैली में परिवर्तन लाने का है।

प्रोटीन का सेवन (Protein intake se vajan badhane ka tarika)

अगर आप स्वस्थ हैं और आपको किसी किस्म की कोई भी शारीरिक समस्या नहीं है तो आपके कम वजन का काफी आसानी से इलाज हो सकता है। अपने भोजन में काफी मात्रा में प्रोटीन शामिल करें, जिससे आपको अतिरिक्त ऊर्जा और शक्ति प्राप्त हो। इससे आपका वजन आपकी लम्बाई के हिसाब से बढ़ेगा। प्रोटीन युक्त भोजन के कुछ उदाहरणों में लीन मीट (lean meat), अंडे, नट्स आदि मुख्य हैं। आप किसी खाद्य विशेषज्ञ से परामर्श लेकर खाद्य तालिका बनवा सकते हैं। इस खाद्य तालिका का पालन करें और अच्छे स्वास्थ्य के साथ वजन बढ़ाएं।

loading...