Get baby soft skin during winter tips in Hindi – बच्चे सी कोमल त्वचा पाने के लिए और सर्दियों के दौरान अपनी त्वचा को मुलायम रखने के लिए, सबसे अच्छा सुझाव

सर्दियों (winter / विंटर) के मौसम में अपने शरीर के लिए अतिरिक्त सावधान रहने की जरूरत है, क्योंकि चेहरे की, हाथों की और पैरों की त्वचा आम तौर पर ठंडी हवा के संपर्क में सूखापन महसूस करती है और कुछ लोगों को पपड़ी और दरारों का भी अनुभव हो सकता है।

सरल सूत्र स्किन की देखभाल के लिए : अधिक मॉइस्चराइज़ (The simple formula : Moisturize more for rukhi twacha ke upay)

हाइड्रेशन एक तरीका है, जो आपकी त्वचा और शरीर को जवान और चमकदार रखता है। क्योंकि सर्दियों (winter / विंटर) का मौसम ठंडा और कम नमी वाला होता है इसलिए त्वचा सुस्त, शुष्क और चमक के अभाव वाली हो जाती है। नमी बनाए रखने के लिए बहुत पानी पीयें और आंतरिक नमी के लिए तेल की खुराक लें और उन उत्पादों का उपयोग करना चाहिए जो आपकी त्वचा को हाइड्रेट और मॉइस्चराइज़ करें।

मॉइस्चराइजर एक उत्कृष्ट समाधान है जिसे अच्छे परिणाम के लिये साल भर लगाना चाहिए, लेकिन सर्दियों (winter / विंटर) में इसकी अधिक जरूरत है। मॉइस्चराइजर जो तेल पर आधारित हो, पानी आधारित मॉइस्चराइजर की तुलना में अद्भुत काम करते हैं, क्योंकि वे त्वचा पर एक सुरक्षात्मक परत बनाकर नमी को पूरे दिन सहेज़ कर रखते हैं।

यदि आपको सुबह में मॉइस्चराइजर प्रयोग ठीक नहीं लगता, तो आप रात में मॉइस्चराइजर का उपयोग करें। मॉइस्चराइजर की कुछ बूँदें लें और इसे अपनी हथेलियों पर रगड़कर सामग्री को गर्म करें और फिर उसे अपने चेहरे, हाथ या पैर में लगाइये इससे मॉइस्चराइजर त्वचा में गहराई तक घुसने में मदद करता है।

  1. अपने साबुन की जाँच करें – जीवाणुरोधी साबुन, अल्कोहल – आधारित मॉइस्चराइजर या टोनर से बचें।
  2. गर्म पानी से स्नान करने से बचें क्योंकि वह आपकी त्वचा से तेल निकाल देता है जिससे आपकी त्वचा अधिक शुष्क हो जाती है।
  3. सुनिश्चित करें कि आप स्नान करने के लिए गुनगुने पानी का उपयोग करें।
  4. स्नान छोटा होना चाहिए।

स्किन टिप्स, सर्दियों के कपड़े (Winter clothing)

शुष्क त्वचा के लिये बाजार में मिलने वाले सर्वोत्तम फेस वाश

कपड़ों की परत बहुत मायने रखती है और सर्दियों (winter / विंटर) के दौरान आपकी त्वचा के स्वास्थ्य को प्रभावित करती है – अपनी आलमारी की जाँच करें, सही कपड़ों (विशेष रूप से सूती, ऊनी और जो आपके शरीर के अंगों को ढके) का चयन करें। आपनी त्वचा को सांस लेने दें।

  1. ठंड को हराने के लिये कई लोग गर्म और तेज़ धूप में बैठते है जिस कारण से उनकी त्वचा सूखने लगती है।
  2. अत्यंत ठंडे और तूफानी मौसम में बाहर निकलने से बचें, पर अगर जाना ही हो तो स्वेटर या जैकेट पहनें।

शीतकालीन भोजन (Winter food for dry skin ke liye tips in hindi)

भोजन जो आप सेवन करते हैं, उससे  भी बहुत फ़रक पड़ता है, ख़ासतौर पर अगर आप सर्दियों (winter / विंटर) के दौरान चिकनी और नरम त्वचा के इच्छुक हैं।

  1. ऐसे खाद्य पदार्थ लें जो विटामिन ए, सी और ई और खनिज जैसे सेलेनियम और जिंक से भरपूर हो। इस तरह का भोजन आपकी त्वचा की मरम्मत में मदद करता है और इसकी गुणवत्ता बढ़ाता है।
  2. रूखी त्वचा का इलाज, सर्दियों (winter / विंटर) में त्वचा में नमी बनाए रखने के लिए आवश्यक फैटी एसिड भोजन में लेना चाहिए। सर्दियों (winter / विंटर) में त्वचा चिकित्सा को बढ़ावा देने के लिए, आप सुनिश्चित करें की इन आवश्यक फैटी खाद्य पदार्थों में से एक को आप भोजन में शामिल करें जैसे अलसी के बीज, अखरोट, सामन, सार्डिन, लौंग, सोयाबीन, टोफू, स्क्वैश और साग।

गुनगुने पानी से चेहरा धो लें (Wash in lukewarm water)

हल्का गर्म पानी ठण्ड के दिनों में ना सिर्फ चेहरे पर अच्छा लगता है, बल्कि आपको यह भी पता होना चाहिए कि यह आपकी त्वचा में नयी जान डालने के लिए भी जाना जाता है। हल्का गर्म पानी त्वचा के रोमछिद्रों (pores) में से अतिरिक्त तेल निकालकर चेहरे से विषैलापन निकलता है।

सुरक्षा (Protect hai sardiyo me beauty tips)

ठण्ड के दौरान हमारी त्वचा सबसे ज़्यादा मौसम की मार से प्रभावित होती है। अतः अपनी त्वचा को बचाने के लिए दस्ताने और स्कार्व (scarve) पहनें। हमारी त्वचा को कई बाहरी परिवर्तन जैसे ठंडी कठोर हवाएं, बारिश और बर्फ़बारी आदि प्रभावित करते हैं। ठण्ड के मौसम का सूरज भी गर्मियों की तरह ही काफी नुकसान पहुंचाता है, अतः सनस्क्रीन (sunscreen) का प्रयोग करना ना भूलें।

ऑयली त्वचा के लिए श्रेष्ठ SPF क्रीम – ऑयली स्किन के लिए श्रेष्ठ सनस्क्रीन लोशन

उमस (Humidity)

उमस की मदद से भी ठण्ड के दौरान रूखी पड़ गयी त्वचा का उपचार किया जा सकता है। ठण्ड के समय आपकी त्वचा उमस की कमी की वजह से रूखी और बेजान हो जाती है। इस समस्या से लड़ने के लिए आप अपने घर में ह्यूमिडिफायर (humidifier) लगवा लें। इससे आपका हवा में मौजूद नमी की मात्रा पर नियंत्रण रहेगा।

पेय पदार्थ (Drink hai sardiyo me beauty tips)

कई बार अगर हम पर्याप्त मात्रा में पानी का सेवन नहीं करते तो इससे हमारे शरीर में पानी की कमी हो जाती है। इससे ठण्ड के मौसम में हमारी त्वचा को काफी नुकसान पहुंचता है। अतः हमें यह ध्यान में रखना चाहिए कि ठण्ड के दौरान पर्याप्त मात्रा में पानी पियें, जिससे कि हम अंदर से स्वस्थ और नमीयुक्त रह सकें।

त्वचा की देखभाल कैसे करें एक्सफोलिएट से (Exfoliate)

कई बार हम अपनी त्वचा को एक्सफोलिएट करना भूल जाते हैं। ठण्ड में त्वचा की मृत कोशिकाओं को हटाना काफी महत्वपूर्ण हो जाता है। त्वचा की मृत कोशिकाएं त्वचा को काफी नुकसान पहुंचाती हैं। अतः त्वचा को एक्सफोलिएट करना मृत त्वचा के लिए काफी ज़रूरी होता है। आप बाज़ार में उपलब्ध त्वचा को एक्सफोलिएट करने वाले कई उत्पादों के बीच में चुनाव कर सकते हैं जैसे एक्स्फोलियेटिंग मास्क्स, क्रीम्स, फेस वाश (exfoliating masks, creams, face wash) आदि। इसके लिए अपने हाथों, चेहरे और होंठों पर इस उत्पाद का प्यार से प्रयोग करें। इससे आपकी त्वचा को नमी प्राप्त होगी और त्वचा रूखी होने से बचेगी।

विषैले तत्वों, जैसे अलर्जेंस और इर्रिटेन्ट्स से बचकर रहें (Avoid toxins, specifically allergens and irritants)

ठण्ड में हमारी त्वचा की हालत काफी बदतर हो जाती है। हमें खतरनाक त्वचा की बीमारियों जैसे एक्जिमा, डर्मेटाइटिस या सोराइसिस (eczema, dermatitis, or psoriasis) का सामना करना पड़ सकता है। इस समस्या से निपटने के लिए हमेशा नर्म कपड़े पहनें, रसायन युक्त सौम्य डिटर्जेंट (detergent) से कपड़ों को साफ करें और सबसे ज़रूरी बात ये कि सौम्य क्लीन्ज़र और मोइस्चराइज़र (cleanser and moisturizer) का संवेदनशील त्वचा पर प्रयोग करें।

अपना क्लीन्ज़र बदलें (Change your cleanser, how to get glowing skin in hindi)

अपनी त्वचा को एक अच्छे क्लींजर से साफ़ करना काफी ज़रूरी है, पर ज़्यादा क्लींजिंग करने से त्वचा के रोमछिद्रों से प्राकृतिक तेल सूख जाते हैं और आपकी त्वचा सूख जाती है। अतः हर बार क्लींजिंग करने के बाद एक अच्छे मोइस्चराइज़र का प्रयोग करना काफी ज़रूरी होता है क्योंकि इससे आपकी त्वचा में पानी की कमी नहीं होगी। नमी को चेहरे में बरकरार रखने के लिए मोइस्चराइजिंग टोनर और लोशन (moisturizing toner and lotion) का प्रयोग करना ना भूलें।

बांह पर से टैन को कैसे दूर करे

खुद के बने मास्क्स का प्रयोग (Use DIY masks)

रूखी त्वचा की समस्या, जो आमतौर पर सर्दियों के दौरान ही सामने आती है, का उपचार करने के लिए कुछ बेहतरीन घरेलू विधियां उपलब्ध हैं। घरेलू विधियों में घरेलू नमी प्रदान करने वाले मास्क्स चेहरे को नमी देने का काम बेहतरीन रूप से करते हैं। इसके लिए आपको सिर्फ शहद, अवोकेडो (avocado), दही, जैतून और जोजोबा के तेल (olive and jojoba oils) की मदद से एक नमी वाला मास्क बनाना होगा। एलोवेरा (aloe vera) भी काफी प्रभावी साबित होता है।

प्यारी और नर्म त्वचा प्राप्त करने के कुछ और घरेलू नुस्खे (Some home tips to get baby soft skin)

  • सर्दियों में त्वचा की देखभाल, शरीर में पानी की कमी ना होने देने के लिए रोजाना कम से कम 10 गिलास पानी अवश्य पियें। इससे आपकी त्वचा काफी स्वस्थ रहेगी।
  • मल्टीविटामिन (multivitamin) का सेवन करना काफी ज़रूरी है जिससे रेडिकल (radical) की मदद से शरीर को होने वाले नुकसान तथा झुर्रियों से लड़ने में सहायता मिल सके।
  • बॉडी लोशन और क्रीम्स का प्रयोग ज़रूर करें।
  • जैतून के तेल और चीनी के मिश्रण से त्वचा की मालिश करके मुलायम त्वचा प्राप्त करें।
  • एक्स्फोलियेशन भी काफी महत्वपूर्ण है। आप 2 चम्मच शहद, 2 चम्मच ब्राउन शुगर (brown sugar) और आधे नींबू को एक पात्र में मिश्रित करके त्वचा पर लगाएं तथा 10 मिनट तक प्रतीक्षा करके हल्के गर्म पानी से धो लें। इसके बाद एक नर्म तौलिये से त्वचा को पोंछ लें।
  • शहद और दूध की मलाई के साथ नींबू के रस का प्रयोग करें। इस मिश्रण को त्वचा पर लगाकर 10 मिनट तक छोड़ें एवं त्वचा को नर्म बनाएं।
  • दूध से भरे टब (tub) में शहद की कुछ बूँदें मिश्रित करके इसमें खुद को डुबोकर शांतिपूर्ण स्नान ग्रहण करें। इससे आपकी त्वचा मुलायम तथा स्वस्थ बनी रहेगी।
loading...