Bad habits in children and how to avoid them – बच्चों को यह बुरी आदतों को ऐसे करें दूर

बच्चों को अगर किसी चीज के लिए मना ना किया जाए तो वह उस आदत को हमेशा के लिए याद रखते हैं, इसलिए बेहतर यह होगा कि अगर आपका बच्चा कोई गलत काम कर भी रहा हो तो आप उन्हें तुरंत रोके। बच्चों को गलत आदत के लिए तभी जागरूक कर देना चाहिए। अगर आपके बच्चे भी ऐसी हरकतें करते हैं, तो आप चिंता ना करें। बच्चों में नाक को उठाना, अंगूठे को चूसना, बालों को खींचना, चीज़ों को चबाना या चूसना आदि।

बुरी आदतों के कारण (Causes of bad habits)

  • बुरी आदतों के बढ़ने के पीछे कई सारे कारण हो सकते हैं।
  • यह आदतें अंगूठा चूसने की तरह बच्चे के लिए आरामदायक हो सकता है।
  • कुछ आदते केवल मनोरंजन करने के लिए होता है तो कुछ हरकतें वह तब जब वह नर्वस होते हैं।
  • कुछ व्यावहारिक कारणों से तो कुछ ठंड से पीड़ित होने पर भी करने लगते हैं, जैसे नाक को उठाकर चलना।
  • बच्चे कुछ आदतों को अपने बड़ों से सिखते हैं, जैसे नाखूनों को काटना आदि, यह आदतें बच्चे अपने पिता से भी कॉपी (copy) कर सकते हैं।

सात आम बुरी आदतें (Seven common bad habits)

माता पिता बच्चों को बुरी आदतों के लिए खामखा रोका टोका करते हैं। यह डांटना और रोकना बच्चे को जिद्दी बना देता है और इसके अलावा यह उसे दुखी और निराश महसूस भी कराता है। बचपन की आदतें ज्यादातर हानि रहित रहती हैं।

1. नाक को पकड़ना (Nose picking) : नाक उठाकर चलने की आदत सामान्य होती है, यह आदत 4 से 5 साल के बच्चों में काफी देखी जाती हैं। इस आदत को बच्चे आसानी से नहीं छोड़ते हैं। यह व्यवहार स्वीकार्य नहीं किया जाता है। इसलिए हमें अपने बच्चों को इन आदतों से छुटकारा दिलाने में मदद करनी चाहिए। इससे नाक में इंफेक्शन, घाव और खून बहने का खतरा भी बन सकता है। नाक के बाद यह इंफेक्शन आँखों पर भी फर्क पड़ने लगता है। कभी कभी आपके छोटे बच्चे या स्कूल जाने वाले बच्चे इस हरकत को तब करने लगते हैं, जब उन्हें अपने माता पिता का ध्यान अपनी तरफ आकर्षित करना होता है।

2. बालों को खींचना (Hair pulling) : 5 साल से कम साल के बच्चों में बालों को खींचने या फिर मोड़ने की आदत अपने आप पैदा हो जाती हैं। इसी के साथ उनके अंदर अंगूठे को चूसने की आदत भी पैदा होने लगती है। कभी कभी बच्चे अंगूठा चूसना छोड़ देते हैं, लेकिन बालों को खींचना कभी बंद नहीं करते हैं। इस उम्र में गंजापन जैसी कई परेशानियां सामने आ जाती हैं। इस आदत को रोकने का सबसे अच्छा तरीका है कि आप बच्चे के बालों को काटकर छोटा करवा दें। ऐसा करने से बच्चा डिप्रेशन में भी जा सकता है।

3. हस्तमैथून (Masturbation) : माता पिता को ऐसा लगता है कि बच्चे अपने जननांगों को छू रहे है, लेकिन ऐसा करने से बच्चे में कई सारी बुरी आदतें आ जाती हैं, ऐसा कभी नहीं करना चाहिए। भले ही यह बच्चों के स्वास्थ्य के लिए खतरा नहीं होता है, लेकिन माता पिता को उन्हें यह बताना चाहिए कि ऐसा एकांत में ही करें, किसी और के सामने खुले में ऐसी क्रियाएं करने की कोशिश ना करें।

4. नाखून चबाना (Nail biting) : यह आदत ज्यादातर 10 साल के बच्चों में होती हैं, यह आदत लड़कियों से अधिक लड़कों को होती है। नाखून अक्सर वह बच्चे चबाते हैं जो कि काफी नर्वस रहते हैं और तनाव में रहते हैं। ऐसा करने से नाखून के पास की त्वचा खराब हो जाती है। इससे क्यूटिकल्स (cuticles) में इंफेक्शन (infection) होने का खतरा भी बना रहता है।

Subscribe to Blog via Email

Join 45,327 other subscribers

5. अंगूठे को चूसना (Thumb sucking) : यह आदत 4 साल से कम उम्र के बच्चे को किसी तरह की क्षति तो नहीं पहुँचाती है, बल्कि वह ऐसा करने से सुरक्षित महसूस करते हैं। लेकिन अगर यही आदत 5 साल या उससे अधिक उम्र वाले बच्चों को होने लग जाए तो ऐसे में यह उनके लिए खतरा हो सकता है।

6. दांतों को किटना (Teeth grinding) : कुछ बच्चों को दांतों को किटने की आदत होती है। इस आदत का अर्थ होता है कि बच्चा घबरा रहा है और नर्वस हैं। जिस कारण वह अपने दांतों को पीसना शुरू कर देता है।

7. काटने और मारना (Biting and hitting) : कुछ बच्चों के अंदर गुस्से और हताशा की भावना आ जाती हैं, जिस कारण वह किसी को मारने और काटने लग जाते हैं। वह ऐसा अक्सर दूसरों के ध्यान को आकर्षित करने के लिए करते हैं। इस बारे में माता पिता को धैर्य से काम लेना चाहिए।

बुरी आदतों को भूलाने के लिए टिप्स (Tips for breaking bad habits)

  • नजर अंदाज अगर आप बच्चों की बुरी आदतों को नजर अंदाज करेंगे तो ऐसे में वह इस आदतों को और ज्यादा विकसित करते जाएंगे।
  • बच्चों की प्रशंसा करें – बच्चे अगर बुरी आदतों को भूल रहे हैं तो ऐसे में आप उन्हें इसके लिए कुछ गिफ्ट या प्रशंसा कर सकते हैं।
  • बच्चे को बताए कि बुरी आदतों को गले लगाने से उनके साथ कितना बुरा हो सकता है। उन्हें समझाए कि हमेशा सच का साथ दें और बुरी बातों से दूर रहें।
  • एक से ज्यादा – जब कभी बच्चा एक साथ एक से ज्यादा बुरी आदतों को विकसित करता है, तो ऐसे में एक आदत को भुलाने में काफी समय लग जाता है। लेकिन आप आसानी से इसे हैंडल (handle) कर सकते हैं।
  • सबसे बुरी आदतों की जड़ – हर तरह की बुरी आदत के पीछे तनाव और डिपरेशन (depression) खास कारण होते हैं। बच्चे को इस स्थिति को संभालने के लिए प्यार और स्नेह की काफी जरूरत होती हैं।
  • नियमों को बनाएं – बच्चे के लिए कुछ ऐसे नियम बना लें, जिनका पालन उन्हें करना हो। आपको अपने बच्चे की बुरी आदतों को संभालने के लिए उनकी बुरी आदतों को समय समय पर जांचना भी चाहिए।
  • बच्चों का मनोबल बढ़ाएं – बच्चों को अगर प्यार और धैर्य रखना आता हो, तो आप भावनात्मक स्थिरता विकसित हो जाती है, आप बस अपने बच्चे पर विश्वास करें और उन्हें निर्णय देने का अवसर दें।

बच्चों की बुरी आदतों को कैसे दूर किया जाएं (How to avoid bad habits in children)

नाखून चबाना (Chewing nails)

अगर आपको याद तो हम आपको बता दें कि आपको भी बचपन में नाखून चबाने की आदत होगी ही। अगर आपको कई बार नाखून चबाने के लिए रोका जाएं तो भी आप बाज नहीं आते थे, नाखून चबाने का एक कारण है इनसिक्योरिटी (insecurity)। ऐसा करने से लोगों को यह लगता है कि आप नर्वस (nervous) हैं। कई बच्चे जब तनाव में होते हैं, तो नाखूनों को चबाना शुरू कर देते हैं।

समाधान (Solution) : उनसे बात करें और उन्हें बताएं कि नाखून चबाना अच्छी आदत नहीं हैं। अगर आपके बच्चे छोटे हैं तो आप खुद उनके नाखूनों को काट सकती हैं। लेकिन ध्यान रहे कि उनके नाखूनों में किसी भी तरह की ग्रीप ना बन जाए, इससे उन्हें खरोच भी लग सकती हैं।

निजी अंग छुना (Touching private part)

बच्चे अपने चारों तरफ होने वाले हरकतों पर ध्यान रखते हैं, और उन्हें अपनाने की कोशिश करते हैं। निजी अंगों को छूना भी एक तरह से बच्चों के लिए कुछ नया ही होता है। कई बच्चों को अपने गुप्तांगों को छूना काफी अच्छा लगता है। उन्हें यह नहीं लगता कि वह कुछ गलत कर रहे हैं। इसी कारण वह ऐसा सार्वजनिक तौर पर करने लग जाते हैं।

समाधान (Solution) : अपने बच्चे को ऐसा महसूस ना दिलाएं कि वह कुछ गलत कर रहे हैं, ताकि वह अजीब सा महसूस ना करें। आप ऐसे में बस उनका मन बहला सकते हैं।

अक्सर झूठ बोलना (Uttering lie often)

यह आदत बच्चों में काफी आम होती हैं, इसे वह जल्दी से जल्दी अपनाते हैं। वह ऐसा इसलिए कहते हैं ताकि वह बड़ों की डांट से बच सकें। यही कारण है कि बच्चे सामान्य रूप से झूठ बोलते हैं। बच्चों का झूट बोलना काफी आम बात है, आप इस आदत को छुड़वाने के लिए इस तरह कोशिश कर सकते हैं।

समाधान (Solution) : जब आपके बच्चे झूठ बोल रहे होते हैं, तो आप उन्हें डांट नहीं सकते हैं। बल्कि आप उनसे विनम्रता से बात कर सकते हैं और शांत तरीके से उनसे बात कर सकते हैं। जब बच्चे इन आदतों को भूलने की कोशिश कर रहे हैं, और आपसे सारी बाते सच कह रहे हो तो आप उन्हें इनाम भी दे सकती हैं, ऐसा करने से उन्हें भी सकारात्मक प्रभाव मिलेगा।

गाली गलौच करना (Uttering lie often)

कई माता पिता अपने बच्चों के मुँह से गाली गलौच सुनते हैं। अगर आप अपने बच्चे की यह आदत दूर करवाना चाहती हैं, तो आप ऐसे में ज्यादा परेशान ना हो। आप यही सोचते होंगे कि वह यह सारी बाते कहा से सीखकर लाते हैं, तो हम आपको बता दें कि हो सकता है कि आपका बच्चा आपसे यह गालियां सीख रहा हो, या फिर वह अपने दोस्तों से यह गालियां सीखता हो। लेकिन आप ऐसे में परेशान बिल्कुल ना हो। हम आपको उनकी यह आदत सुधारने में मदद कर सकते हैं।

उपाय (Solution) : आपको अगर अपने बच्चे की इस बुरी आदत को छुटवानी हैं तो इसके लिए आपको यह जानना चाहिए कि वह यह सब सीखकर कहाँ से ला रहे हैं। आपको यह देखना होगा कि आपके घर में कौन है जो ऐसी भाषा का इस्तेमाल करता है। हो सकता है इस भाषा का इस्तेमाल आप खुद या फिर आपका पार्टनर करता हो। हम आपको बता दें कि बच्चे गलत चीजों को जल्दी पकड़ते हैं। आप ऐसे में सिर्फ इतना कर सकते हैं कि आप उनके सामने इन गलत शब्दों का इस्तेमाल करना बिल्कुल बंद कर दें। आप भी इस बात को समझे कि गाली गलौच कभी भी बच्चों के सामने ना कहे।

loading...