Hindi remedies for early menstrual cycle – जल्दी होने वाले मासिक धर्म के घरेलू उपचार

मासिक धर्म चक्र उन परिवर्तनों को कहते हैं जो एक उम्र के बाद महिलाओं के शरीर में होते हैं। इसके अंतर्गत रक्तपात तब होता है जब गर्भावस्था को शुरू करने के लिए कोई उर्वर अंडा नहीं रह जाता। मासिक धर्म चक्र महिलाओं में 14 वर्ष के आसपास प्रारम्भ होता है एवं 50 वर्ष तक चलता है। यह एक चक्र होता है जो रक्तपात होने के प्रथम दिन से अगली बार रक्तपात होने के प्रथम दिन तक चलता है जो कि आमतौर पर 28 दिन का होता है।

मासिक धर्म एक महिला के जीवन में काफी सामान्य होते हैं पर जब ये चक्र निर्धारित समय तक शुरू नहीं होता तब ये महिलाओं के लिए चिंता का विषय बन जाता है। मासिक धर्म चक्र बदलाव, इसका कारण गर्भावस्था या प्रज्ञान प्रणाली (period regular karne ke tips) में आई अन्य कोई गड़बड़ी हो सकती है।

पीरियड टिप्स – समय से पहले मासिक धर्म आने (Early menstrual period)

ज़्यादातर महिलाओं ने जल्दी होने वाला मासिक धर्म (प्रारंभिक मासिक धर्म) अपने जीवन के किसी समय में अनुभव किया ही होगा। यह किसी भी उम्र में हो सकता है पर जब किसी महिला का रजोनिवृत्ति का समय चल रहा होता है तब इसका होना काफी सामान्य होता है। अनियमित माहवारी के कारण कुछ स्वास्थ्य सम्बन्धी समस्याएं जैसे एनीमिया जल्दी होने वाले मासिक धर्म के कारण हो सकता है। 23 दिनों के पहले इस चक्र का पूरा होना इस बात का संकेत है कि अंडा ठीक तरह से बढ़ा नहीं है और ठीक तरह से छोड़ा भी नहीं गया है। ऐसी स्थिति में और किसी भी समस्या के आने से पहले अपने डॉक्टर से सलाह करें।

कुछ साइड इफेक्ट के साथ शीर्ष गर्भनिरोधक गोलियां क्या हैं?

पीरियड की समस्या – जल्दी होने वाले मासिक धर्म के कारण (Causes for samay purv masik dharm)

जल्दी होने वाले मासिक धर्म के कारणों को 2 भागों में बांटा जा सकता है : शारीरिक और मानसिक। मानसिक कारणों के अंतर्गत तनाव, बेचैनी, थकान और कमज़ोरी मुख्य है। ये सारे कारक हॉर्मोन्स का अंदरूनी नियंत्रण खराब कर देते हैं जो कि जल्दी हुए मासिक धर्म का कारण बनता है।

मासिक धर्म की अनियमितता – शारीरिक कारण (Physical causes)

एस्ट्रोजन और प्रोजेस्टेरोन हॉर्मोन अंडाशय, पिट्यूटरी ग्रंथि तथा मस्तिष्क के हाइपोथैलेमस में निकलते हैं। ये हॉर्मोन्स ही सामान्य मासिक धर्म होने के पीछे के मुख्य कारक हैं। ज़्यादा व्यायाम, वज़न का घटना या बढ़ना आदि कारणों से ये हॉर्मोन समय से पहले भी निकल सकते हैं और मासिक धर्म के समय में फेरबदल कर देते हैं।

पीरियड्स की समस्या – जल्दी होने वाले मासिक धर्म के लिए घरेलू उपाय (Home remedies for early menstrual cycle / mahwari ka jaldi aa jana)

ज़्यादातर मामलों में जल्दी मासिक धर्म (samay se pehle periods aane) होने से कोई गंभीर समस्या सामने नहीं आती और ये कुछ चक्र पूरे करते ही सामान्य हो जाते हैं। इनका सामना करने के कई तरीके हैं। अपने जीवन में घरेलू नुस्खों का प्रयोग करने से आप चैन की सांस ले सकती हैं।

मिसकैरेज के लिए क्या कारण हैं? गर्भपात से कैसे बचा जाए?

  • मासिक धर्म रोकने के उपाय – जीवनशैली में परिवर्तन (Change in life style) – तनाव और बेचैनी को दूर करने के लिए योग एवं ध्यान का सहारा लें क्योंकि ये दोनों मासिक धर्म के समय में परिवर्तन के कारक हो सकते हैं।
  • मासिक धर्म रोकने के उपाय – खानपान में परिवर्तन (Change in diet) – अनियमित मासिक धर्म, जैविक भोजन, चावल, गेहूं, जामुन और सोयाबीन को अपने खानपान में शामिल करें क्योंकि ये एस्ट्रोजन बनाने में आपकी सहायता करते हैं। टेल हुए और डिब्बाबंद खानों से दूर रहें क्योंकि ये पचाने में मुश्किल होते हैं।
  • मासिक धर्म के घरेलू उपाय, काले कहोश नमक जडीबुटी में पौधों से लिए गए एस्ट्रोजन की मात्रा होती है। यह जल्दी हुए मासिक धर्म का एक अच्छा उपचार है।
  • समय से पहले पीरियड्स आने गूसबेरी और बरबेरी जल्दी होने वाले चक्र को सामान्य करने में सक्षम हैं।
  • विटामिन सी युक्त भोजन करने से महिलाओं में एस्ट्रोजन की मात्रा बढ़ाती है।
  • मासिक धर्म के घरेलू उपाय, गर्म पानी से नहाना या हॉट पैक जल्दी मासिक धर्म होने का कारण हो सकता है।
  • मासिक धर्म को सामान्य करने का सबसे अच्छा उपाय स्वास्थवर्धक खानपान के साथ नियमित व्यायाम और एक तनाव मुक्त मस्तिष्क है जो कि योग और ध्यान से संभव है।
  • मासिक धर्म के घरेलू उपाय, कुछ मामलों में जल्दी मासिक धर्म के शुरू होने के अन्य कारण भी होते हैं जैसे फिबरॉइड्स, किसी दवाई का असर, अंडाशय में परेशानी, हार्मोनल अनियमितता या योनि के आकार में असमानता। इन कारणों के लिए आपको अपना उपचार कराना चाहिए।

Subscribe to Blog via Email

Get Hindi tips to your inbox everyday