Causes, symptoms and home remedies for acne during pregnancy – गर्भावस्था के दौरान हुए एक्ने के कारण, लक्षण एवं घरेलू नुस्खे

गर्भावस्था के दौरान हुए एक्ने के कारण (Causes of pregnancy acne)

गर्भावस्थाकालीन एक्ने का प्रमुख कारण शरीर में आई हार्मोनल (hormonal) असमानता है।  गर्भावस्था की पहली तिमाही में आपका शरीर हार्मोनल स्तर में काफी गंभीर बदलावों से गुज़रता है।  इस समय कई हॉर्मोन्स अपनी चरम सीमा पर होते हैं, वहीँ कई अन्य हॉर्मोन्स बिल्कुल निचली सीमा पर।  शरीर में अधिक एण्ड्रोजन (androgens) की उत्पत्ति से त्वचा की ग्रंथियां अधिक तेल उत्पादित करती हैं, जिसके फलस्वरूप बंद रोमछिद्रों (pores) एवं एक्ने की संभावनाएं बढ़ जाती हैं।

गर्भावस्थाकालीन एक्ने की तरह प्रसवोत्तर एक्ने काफी सामान्य है, पर अच्छी बात यह है कि ये दोनों एक्ने अस्थायी होते हैं।  अतः आपको केवल इस दौरान अपनी त्वचा की अच्छे से देखभाल करनी है एवं एक बार आपके हार्मोनल स्तर के संतुलित हो जाने पर यह समस्या खुद ब खुद चली जाएगी।

गर्भावस्थाकालीन एक्ने का इलाज करने के लिए सबसे अच्छा विकल्प प्राकृतिक तरीका अपनाना होता है।  त्वचा की देखभाल का अच्छा रूटीन (routine) एवं कुछ घरेलू नुस्खों के साथ एक्ने को गर्भावस्था के दौरान संतुलन में रखा जा सकता है। हालांकि इनमें से कोई भी इलाज हॉर्मोन स्तर के संतुलित होने तक इस समस्या का पूर्ण रूप से उपचार नहीं कर सकता।

गर्भावस्थाकालीन एक्ने के लक्षण (Symptoms of pregnancy acne)

मुँहासे की रोकथाम के लिए बाजार मे उपलब्ध क्रीम

गर्भावस्थाकालीन एक्ने के कोई विशेष लक्षण नहीं होते। इसे देखकर एवं महसूस करके आप सामान्य एक्ने से इसका अंतर नहीं बता पाएँगे।  हालांकि गर्भावस्थाकालीन एक्ने आमतौर पर एक या दो मुहांसों तक ही सीमित नहीं रहता एवं ये स्वभाव से कहीं अधिक गंभीर होता है।

यदि आप एक्ने की समस्या से अधिक ग्रस्त नहीं हुई हैं, परन्तु गर्भावस्था की पहली या दूसरी तिमाही के समय आपको इस समस्या का काफी सामना करना पड़ रहा है तो हो ना हो, यह गर्भावस्थाकालीन एक्ने ही है। इस प्रकार का एक्ने ठीक होने में अधिक समय लेता है एवं अंदरूनी हार्मोनल असमानता के ठीक होने तक आप इसे इलाज के द्वारा भी दूर नहीं कर सकते।

गर्भावस्थाकालीन एक्ने दूर करने के उपाय (Remedies for acne during pregnancy)

त्वचा की सफाई आवश्यक (Cleansing your face properly is important)

गर्भावस्थाकालीन एक्ने को नियंत्रित रखने के लिए अपना चेहरा साफ़ रखना काफी मददगार साबित होता है।  हालांकि अपने चेहरे को ना धोएं क्योंकि इस समय आपकी त्वचा काफी अधिक संवेदनशील हो जाती है। रासायनिक फेस वाश की बजाय प्राकृतिक घरेलू सौम्य फेस क्लीन्ज़र (cleanser) का प्रयोग करें जो आपके त्वचा के तेल की मात्रा नियंत्रित रखने में सहायता करेगा। अपनी त्वचा दिन में दो बार साफ़ करें परन्तु इसे जोर से ना रगडें या क्लीन्ज़र को त्वचा पर अधिक समय के लिए ना रखें। आपको लेख के अगले हिस्से में त्वचा के घरेलू प्राकृतिक क्लीन्ज़र्स के बारे में जानकारी दी जाएगी।

Subscribe to Blog via Email

Join 45,194 other subscribers

नीम एवं तुलसी का टोनर (Neem and Basil toner for treating pregnancy acne)

30 ताज़ी नीम की पत्तियां एवं 20 ताज़ा तुलसी की पत्तियां लें।  इन्हें साफ़ करें एवं 3 कप पानी में तब तक उबालें, जब तक पानी आधा ना हो जाए।  अब पतीले को आंच से हटाएं एवं इसे ठंडा होने दें।  पत्तियों से पानी निकाल लें एवं इस मिश्रण को एक साफ़ कांच के बर्तन में रख लें।  इस बर्तन को फ्रिज में रखना अच्छा होगा जिससे कि इसमें कोई गन्दगी ना लगे और आप इसका कम से कम एक हफ्ते तक प्रयोग कर सकें। इस मिश्रण से केवल अपना चेहरा दिन में दो बार धोएं।

दलिया एवं मनुका शहद एक्स्फोलियेटर (Treat pregnancy acne with Oats and Manuka honey exfoliator)

पिंपल्स और मुंहासों से राहत पाने के लिए बेकिंग सोडा का करें उपयोग

3 चम्मच दलिए को 5 मिनट तक पर्याप्त पानी में भिगोकर रखें एवं इसमें 2 चम्मच मनुका शहद मिश्रित करें।  इन्हें अच्छे से मिलाएं एवं इस मिश्रण को अपने चेहरे पर लगाएं।  अपने चेहरे को इस पैक से हल्के से घिसें एवं 10 मिनट के लिए छोड़ दें।  काफी मात्रा में पानी का प्रयोग करके इसे धो लें।

मुल्तानी मिट्टी एवं एलो वेरा (Fuller’s earth and Aloe Vera, skin cleansing treatment for pregnancy acne)

4 चम्मच मुल्तानी मिट्टी पर्याप्त पानी में सोख लें।  एलो वेरा की एक ताज़ा पत्ती लेकर इसका गूदा निकाल लें।  इस गूदे को जेल (gel) में परिवर्तित करें  एवं मुल्तानी मिट्टी के नर्म होने पर इसके साथ एलो वेरा के इस गूदे के 2 चम्मच मिश्रित करें। इन दोनों को अच्छे से मिलाकर अपने चेहरे पर लगाएं।  दिन में दो बार अपना चेहरा धोने के लिए इसका फेशिअल क्लीन्ज़र (facial cleanser) की तरह प्रयोग करें या इसका पैक के रूप में प्रयोग करें।  इसे 15 मिनट के लिए छोड़ दें एवं इसके बाद काफी मात्रा में पानी के साथ धो लें।

loading...