Common & natural hair mistakes to avoid tips in Hindi – बालों की देखभाल में सामान्य गलतियाँ और इनसे बचाव

स्वस्थ और सुन्दर बाल इंसान के व्यक्तित्व में चार चाँद लगाते हैं। इनकी देखभाल के कई तरीके हैं लेकिन बढ़ते हुये फैशन के चलन और प्रतिस्पर्धा के कारण लोग बालों की देखभाल से सम्बंधित कई गलतियाँ कर बैठते हैं जो बालों को कई तरह से नुकसान पहुँचाती हैं। इन गलतियों के बारे में जानकर और इनसे बचकर आप भी अपने बालों की सुन्दरता को बरकरार रख सकती हैं।

स्वस्थ और खूबसूरत बाल किसी के व्यक्तित्व की जांच करने के सबसे बड़े कारण होते हैं। घने और सुन्दर बाल प्राप्त करने के कई तरीके होते हैं, पर इसके लिए अतिरिक्त देखभाल की आवश्यकता होती है। तेज़ी से विकसित होते फैशन (fashion), बालों के स्टाइलिंग (styling) की तकनीकें और बालों के कई उत्पाद लोगों को बालों की देखभाल करने में गलतियां करने के प्रति प्रोत्साहित करते हैं। इन गलतियों से आपके बालों को काफी नुकसान पहुंचता है। आप इन गलतियों को समझकर और इनसे निजात प्राप्त करके ही चमकदार, मज़बूत और स्वस्थ बाल प्राप्त कर सकते हैं। गलतियों को दोहराने से आपके बालों को काफी बड़े पैमाने पर नुकसान होता है।

आइये जानते हैं बालों की देखभाल में होने वाली सामान्य गलतियाँ क्या हैं और उनसे कैसे बचा जाए। बालों की देखभाल के नुस्खे :-

आधुनिक प्रचलन को फॉलो करना (Following the latest tendency)

प्रायः यह देखा जाता है कि अगर किसी के पसंदीदा सितारे ने अपने बालों की हेयर स्टाइल बदली है तो उस सितारे के प्रसंशक भी उसी की तरह ही बाल कटा लेते हैं भले वह उन पर जंचती हो या नहीं। किसी भी आधुनिक हेयर स्टाइल को अपनाने से पहले खुद से पूछें कि क्या वह स्टाइल आप पर सूट करेगी? अगर जवाब न में आये तो कभी भी उसे न अपनाएँ। सिर्फ दूसरों को देखकर अपने बालों के साथ प्रयोग नहीं करना चाहिये। क्योकि हर हेयर स्टाइल चेहरे और त्वचा के रंग के हिसाब से ही अच्छी लगती है अतः अपने चेहरे के हिसाब से ही बालों को कटवाएं।

बालों की स्टाइल टिप्स – हेयर स्टाइल्स टिप्स

खुद ही बाल काटना (Cutting your own hair – hair ke liye tips)

यह देखा जाता है कि कई लोग बिना सोचे समझे खुद के बालों को किसी हेयर स्टाइल के हिसाब से अपने बालों को घर पर ही ट्रिम करने लगते हैं जबकि यह तरीका आपको नुकसान पहुँचा सकता है क्योकि एक ग़लत कट आपकी हेयर स्टाइल को बर्बाद कर सकता है। अतः अगर आपको वाकई बालों को ट्रिम करने की ज़रूरत है तो या तो अपने बालों को किसी प्रोफेशनल से ही कटवाएं या घर पर करने से पहले किसी से सलाह लेने के बाद ही करें।

अधिक ब्रशिंग करना (Brushing too much)

बालों की देखभाल के तरीके, अपने बालों को अधिक रगड़ना भी इन्हें हानि पहुंचाता है। रगड़ने से बालों की चमक बढ़ती है पर अगर इन्हें आवश्यकता से अधिक रगड़ा जाए तो यह ऑयली हो सकते हैं और झड भी सकते हैं।

सुखाने के लिये बालों को तौलिये से बांधना (Towel drying hair)

नहाने के बाद गीलें बालों को तौलिये से बांधना एक सही तरीका है लेकिन जब बाल सूख जाएँ और फिर बालों से तौलिये को हटाया जाए उस वक्त ध्यान देने की ज़रूरत होती है। साथ ही बालों को सूखने दे बाद भी तौलिये को बाँध कर न रखें।

घर पर बालों को रंगना (Dying your hair at dwelling)

खुद से बालों को रंगना एक समझदारी नहीं हैं। सबसे पहले तो आपको पता होना चाहिये कि आप क्या करने जा रहे हैं। अधिकांश लोग सिर्फ पैकेट पर बने बालों के रंगों को देखकर डाई करने लग जाते हैं। बालों को रंगने से पहले समझ लें कि आप कौन सा रंग लगाने वाले हैं और यह रंग आपके बालों को सूट करेगा या नहीं और साथ ही रंगने से पहले खरीदे गये रंग के केमिकल के बारे में पढ़ें और जो तरीका दिया गया हो उसके हिसाब से ही बालों को रंगें।

बालों को क्षतिग्रस्त होने तथा झड़ने से बचाने के नुस्खे

शैम्पू करना (Shampooing your own hair – baalon ke liye tips)

बालों को शैम्पू करना अच्छी बात होती है। लेकिन युवा लड़कियां अच्छा दिखने के लिए रोज बालों को शैम्पू करने लगती हैं बिना यह जाने कि रोज शैम्पू करना उनके बालों के लिए सही है या नहीं। सबके बालों के अलग अलग प्रकार होते हैं और उसी के हिसाब से शैम्पू भी किया जाना चाहिये क्योकि रोज रोज शैम्पू करने से कई बार बाल रूखे होने लगते हैं।

सामान्य हेयरकट प्राप्त ना कर पाना (Not getting normal haircuts)

वैसे तो यह कोई गलती नहीं लगती है, पर निंतर रूप से बाल ना कटवाने से आपके बालों की गुणवत्ता पर काफी प्रभाव पड़ता है। सैलून (salon) में बाल कटवाने जाने से आपके बालों के दोमुंहे सिरे अलग कर दिए जाते हैं और आपके बाल दिखने में काफी अच्छे लगते हैं। समय से सैलून ना जाने पर आपके बालों के अस्वास्थ्यकर दोमुंहे सिरे दिखते रहते हैं।

उत्पादों का बहुत अधिक इस्तेमाल (Utilizing too much products)

जैसे कि कहा गया है कि अति हमेशा बुरी होती है। अपने बालों की देखरेख और उन्हें सुन्दर बनाने के लिए उत्पादों को उपयोग अच्छा है लेकिन आवश्यकता से अधिक इनका प्रयोग बालों को ख़राब कर सकता है।

बालों की चोटी बांधना (Wearing your hair in a ponytail -balo ki care tips in hindi)

बालों को सुन्दर दिखाने के लिए चोटी बांधना अच्छा है लेकिन लगातार पीछे बांधते रहने से बाल टूटने लगते हैं।

बालों को बहुत अधिक गर्म करना (Use too much heat)

वर्तमान युग में बालों को उपकरणों के प्रयोग से बचाना मुश्किल काम है और यह अच्छा भी है क्योकि इससे आप अपने बालों के मनचाहे आकार पा सकती हैं लेकिन इन उपकरणों का बार बार प्रयोग करने से इनकी गर्मी द्वारा बाल खराब होने लगते हैं। अतः इनके अत्यधिक प्रयोग से बचें।

बालों को रंगने के लिए हिना / मेंहदी का उपयोग कैसे करें?

कुछ और परहेज करने वाली बालों की सामान्य एवं प्राकृतिक गलतियां (Some more common and natural hair mistakes to avoid)

  • गीले बालों पर कंघी करने से उनके दोमुंहे होने और टूटने का डर रहता है। हमेशा बालों को पूरी तरह से सूखने देने के बाद ही उनपर कंघी करें।
  • ब्लो ड्रायर्स (Blow driers) आपके बालों को जल्दी सूखने में सहायता करते हैं, पर इनसे निकलने वाली आंच बालों को नुकसान पहुंचाती है और इन्हें रूखा और फ्रिज़ी (frizzy) बनाती है। दोमुंहे बाल इससे ही पैदा होते हैं और आपके बाल बेजान प्रतीत होने लगते हैं।
  • हेना बालों के लिए अच्छा होता है, पर यह डिब्बाबंद नहीं बल्कि प्राकृतिक होना चाहिए, क्योंकि इन्हें डिब्बे में सुरक्षित रखने के लिए कुछ हानिकारक रसायनों की सहायता ली जाती है। हम इन उत्पादों को खरीदते हैं और इनसे होने वाले खतरों को समझ नहीं पाते हैं।
  • सूती के तकिये के खोलों से परहेज करें क्योंकि ये बालों को नुकसान पहुंचाते हैं।
  • बार बार शैम्पू करने से (shampooing) भी बालों को नुकसान पहुंचता है। आपके लिए सबसे सुरक्षित यही होगा कि अपने बालों पर हफ्ते में दो बार शैम्पू का प्रयोग करें।
  • मशीनी औज़ार जैसे कर्लिंग आयरन्स, हेयर ड्रायर्स और स्ट्रेटनर्स (curling irons, hair dryers and straighteners) जिनका प्रयोग बालों की स्टाइलिंग में किया जाता है, बालों की जड़ों को कमज़ोर कर देते हैं। जेल्स औए हेयर स्प्रेस (gels and hairsprays) भी बालों को नुकसान पहुंचाते हैं। ये औज़ार कभी भी गीले बालों पर प्रयोग नहीं किये जाने चाहिए।
  • बालों में आई उलझन को चौड़े दांतों वाली कंघी की मदद से आसानी से सुलझाया जा सकता है। सीधे ब्रश (brush) करने से बालों को नुकसान पहुंचता है। बालों की, खासकर गीले बालों की उलझनें सुलझाने के लिए सिर्फ बालों के निचले हिस्से में कंघी का प्रयोग ना करें।
  • कई महिलाएं एक गलती यह करती हैं कि वे अपने बालों के अंतिम भाग में कंडीशनिंग (conditioning) का प्रयोग करती हैं। बालों की जड़ों और अंतिम छोर दोनों पर कंडीशनिंग करना ज़रूरी है।
  • गीले बालों के साथ सोने से भी परहेज करें क्योंकि इससे घर्षण होता है जिससे बालों के टूटने का ख़तरा रहता है।
  • रूखे बाल स्विमिंग पूल (swimming pools) से ज़्यादा क्लोरीन (chlorine) सोखते हैं। अतः यह काफी ज़रूरी है कि पूल में जाने से पहले AA शावर (AA shower) लें।
  • पहली बार बालों में रंग करने से पहले इसके बारे में किसी विशेषज्ञ से सलाह करना ना भूलें। वे आपको बालों के लिए सही रंग चुनने में मदद करेंगे।
  • इसी तरह बालों की कटाई भी खुद से ना करें। आपके लिए यही सही होगा कि बाल कटवाने के लिए किसी विशेषज्ञ हेयर ड्रेसर (hair dresser) की सेवाएं लें जो आपकी उम्र और स्टाइल के हिसाब से आपके बालों की कटाई करेगा।
  • कठोर तौलिये को बालों में रगड़कर बालों को सुखाने की प्रक्रिया से परहेज करें, क्योंकि इससे आपके गीले बालों को काफी नुकसान पहुंचता है। इस प्रक्रिया से आपके बालों के फोलिकल्स (follicles) कमज़ोर हो जाते हैं और आपके बाल बेजान एवं रूखे लगने लगते हैं। दूसरी तरफ, बालों को किसी नर्म तौलिये से धीरे धीरे पोंछें और इसके बाद लटों को उँगलियों से सुलझाएं। इस प्रक्रिया से बालों को सूखने में थोड़ा ज़्यादा समय लगेगा, पर इससे आपके बाल लम्बे समय के लिए स्वस्थ भी रहेंगे।

महिलाओं में गंजेपन को दूर करने के नुस्खे

  • जो महिलाएं अपने बाल बढ़ाना चाहती हैं, वे हेयर ड्रेसर के पास जाने से कतराती हैं। यह एक गलत आदत है। बीच बीच में बालों की ट्रिमिंग (Trimming) करवाने से बालों की बढ़त में सहायता मिलती है और दोमुंहे बालों की समस्या से ही निजात मिलती है।
  • बालों की स्टाइल में बदलाव करने से पहले अच्छे से शोध कर लें, जिससे कि आपके बालों की स्टाइल आपके चेहरे के आकार के अनुकूल हो। इसके लिए किसी पेशेवर हेयर ड्रेसर की सहायता लें।
  • बालों की जड़ों में अलग अलग रंगों का प्रयोग करने से बचें। बालों की जड़ों में रंगों की असमानता आपके सिर के ऊपरी भाग को एक बदसूरत स्वरुप प्रदान करती है। काले रंग के बालों के बीच से सफ़ेद जड़ें काफी अजीब लगती हैं। इस गलती को दूर करने के लिए घर पर या पार्लर (parlor) में नियमित टच अप (touch up) करवाएं।
  • काले बालों वाली महिलाएं अधिकाँश ही अपने बालों की देखभाल करने में गलतियां करती हैं। काले रंग के बाल अन्य सभी प्रकार के बालों से अलग होते हैं। ये काफी नाज़ुक होते हैं और थोड़ी सी चूक से भी क्षतिग्रस्त हो सकते हैं। ये बाल ज्यादा तेल पैदा नहीं करते और र्शुश्क ही रहते हैं। उन्हें बीच बीच में नमी की आवश्यकता महसूस होती रहती है। अल्कोहल (alcohol) से युक्त बालों के उत्पादों के प्रयोग से परहेज करें, क्योंकि ये काले बालों को और भी रूखा बनाते हैं। बार बार काले बालों को धोने से भी ये रूखे हो जाते हैं और इससे बाल टूटने का ख़तरा बना रहता है। ज़्यादातर महिलाओं को यह लगता है कि काले बाल काफी जल्दी गंदे हो जाते हैं। इन्हें बार बार शैम्पू से धोने की आवश्यकता नहीं है और बार बार शैम्पू का प्रयोग करने की अपेक्षा गर्म पानी से बालों को धो लें।

बालों की परहेज करने वाली सामान्य और प्राकृतिक गलतियां (Common and natural hair mistakes to avoid)

गीले बालों पर कंघी (Combing wet hair)

कई लोग अपने गीले बालों पर उसका परिणाम जाने बिना ही कंघी करते हैं। बालों के विशेषज्ञों द्वारा यह सबित किया जा चुका है कि गीले बालों पर कंघी करने से इनके टूटने का ख़तरा रहता है और इससे दोमुंहे बालों की समस्या भी पैदा होती है। इसके अलावा जब आपके बाल गीले रहते हैं तो इसकी जड़ें काफी नर्म और कमज़ोर हो जाती हैं। बालों पर थोड़ा सा भी खिंचाव पड़ने से बाल जड़ से निकल सकते हैं। अतः गीले बालों पर कंघी करने से परहेज करें। इसकी बजाय पंखे या सूरज की प्राकृतिक रोशनी के नीचे बालों को सुखा लें और फिर इनपर कंघी करें।

डिब्बाबंद हेना का प्रयोग (Using henna in packed form)

त्वचा और बाल सम्बंधित ख़राब देखभाल की गलतियों को दूर करें

आपने अवश्य देखा होगा कि दिब्बेबंद हेन के प्रचार में किस तरह इसमें प्राकृतिक तत्वों के होने की बात की जाती है। पर इनमें से ज़्यादातर झूठ होता है जो कि ग्राहकों को आकर्षित करने के लिए बोला जाता है। ऐसे भी कई मौके आते हैं जब डिब्बाबंद हेना का प्रयोग करने वालों के बाल बेजान और फिजी हो जाते हैं। अगर इसमें प्राकृतिक तत्व मिश्रित रहते तो ऐसा कभी नहीं होता। अतः डिब्बाबंद हेना का प्रयोग बंद करें और इसकी जगह प्राकृतिक हेना की पत्तियों का प्रयोग करें।

सूती के तकिये के खोल (Using cotton pillow covers)

देश के करीब 75 प्रतिशत लोग सूती के खोलों का प्रयोग करते हैं। अपर इनमें से काफी कम को इसके हानिकारक प्रभावों के बारे में पता है। बालों के विशेषज्ञों का कहना है कि सूती के खोल का प्रयोग करने से बालों को काफी नुकसान होता है। गर्मियों के दिनों में उमस और पसीने की वजह से आपके बाल तकिये के खोल में चिपके रहते हैं, जिससे उन्हें काफी नुकसान पहुंचता है। आपके लिए यही अच्छा होगा कि आप सूती के बदले रेशम या साटिन (silk or satin) के खोलों का प्रयोग करें।

बालों का सूरज की रोशनी के संपर्क में आना (Hair exposure in sunlight)

जब भी जलती गर्मी के मौसम में लोगों को बाहर जाना होता है, तो वे पूरी बाजू के कपड़े पहनते हैं। पर काफी कम लोग ऐसे होंगे जो इस समय अपने बालों का ख्याल करते होंगे। अगर आपके बाल लम्बे समय तक सूरज की रोशनी के संपर्क में आते हैं तो भी आप अपने बालों के क्षतिग्रस्त होने के बारे में नहीं सोचते, जो कि कई लोगों द्वारा की जा रही सामान्य गलती है। इस गलती को ठीक करने के लिए हमेशा धूप में निकलते समय अपने बालों को ढककर रखें। आप सूरज की रोशनी से बचने के लिए छाते या टोपी का भी प्रयोग कर सकते हैं।

बालों को बांधना (Knotting hair)

हर 10 में से ८ लोग अपने बालों को खुला नहीं छोड़ सकते, अतः वे इन्हें बाँध लेते हैं। इस प्रक्रिया से बालों के क्षतिग्रस्त होने और झड़ने की समस्या जन्म लेती है। काफी गम्भीर परिस्थितियों में इसके फलस्वरूप आपके सिर में गंजेपन के निशान भी दिखाई देने लगते हैं। आप इसके उपचार के तौर पर रात को सोने के समय अपने बालों को खुला छोड़ दें, और दिन के समय इसे काफी ढीले रूप से बांधें। इससे बालों का टूटना कम होगा और आप इस समस्या से बचे रहेंगे।

रात में बालों में तेल लगाना (Oiling hair overnight)

पुराने ज़माने की विचारधारा के अनुसार कई लोग आज भी अपने बालों में तेल लगाकर रातभर के लिए छोड़ देते हैं। यह एक गलत आदत है क्योंकि इससे खुजली होने की संभावनाओं में इजाफा होता है। इस प्रक्रिया से आपके बालों में डैन्ड्रफ (dandruff) भी हो सकता है। अगर आप अपने बालों में तेल लगाना ही चाहते हैं तो इसे तेल लगाने के बाद सिर्फ 2 घंटों के लिए ही रखें। एक बार 2 घंटे पूरे हो जाने पर इसे शैम्पू की मदद से धो लें। अगर आपको बालों में पोषण चाहिए तो 2 घंटे बालों में तेल लगाकर रखने पर भी आपको ये प्राप्त हो जाएगा। इस गलत जानकारी के सम्बन्ध में जानें और इससे सही समय पर छुटकारा पाएं, जिससे कि आपको बालों के क्षतिग्रस्त होने की समस्या से फिर गुजरना ना पड़े।

गर्मियों के मौसम में बालों की सुरक्षा कैसे की जाए?

बाल धोने के पहले ब्रश का प्रयोग निषेध (No hair brushing before washing)

हममें से कई लोगों को यह नहीं पता होता कि बालों को धोने या उनपर शैम्पू का प्रयोग करने से पहले उनपर ब्रश का प्रयोग करना काफी महत्वपूर्ण होता है। वे नहाने के बाद बालों में कंघी करते हैं जब बाल गीले होते हैं। इससे बालों के टूटने की समस्या पैदा होती है। अगर आप नहाने से पहले बालों में कंघी कर लेंगे तो स्नान करते समय बालों की वजह से हो रही देरी काफी कम हो जाएगी। इस आदत को बदलने का यही समय है। बालों को धोने से पहले अच्छे से ब्रश का प्रयोग करें। अज ही इस विधि को अपनाएं और फर्क देखें।

कंडीशनिंग करने का गलत तरीका (Wrong way of conditioning)

बारिश के मौसम में बालों की कंडीशनिंग काफी ज़रूरी होती है। क्योंकि इस मौसम में बालों का क्षतिग्रस्त होना और टूटना काफी सामान्य होता है, अतः इस समय कंडीशनर (conditioner) का प्रयोग करने की सही विधि जानना काफी ज़रूरी है। कई लोग काफी जल्दबाजी में बालों में कंडीशनर लगाते हैं। वे इन्हें बालों पर किसी भी तरह से लगा लेते है और फिर इसे छोड़ देते हैं। पर सही तरीके से कंडीशनर लगाने के लिए जड़ से शुरुआत करें और धीरे धीरे ऊपर तक पहुंचें।

स्टाइलिंग के पहले हेयर स्प्रेस (Hair sprays before styling)

हममें से ज्यादातर लोग स्टाइलिंग करवाना चाहते हैं, पर इसके साथ सुरक्षा होनी भी ज़रूरी है। पर स्टाइलिंग के चक्कर में हममें से कई लोग अपने बालों में हेयर स्प्रे का प्रयोग करके इन्हें खराब कर देते हैं। जी हाँ, बालों की स्टाइलिंग के पहले प्रयोग में लाया जाने वाला हेयर स्प्रे आपके बालों के लिए काफी हानिकारक होता है। लोग अपने बालों को सीधा या घुंघराला बनाने की आशा में अपने बालों पर हेयर स्प्रे का प्रयोग करते हैं। पर हेयर स्प्रेस में मौजूद अल्कोहल आपके बालों को जला देता है और अन्य कई तरीकों से इन्हें नुकसान पहुंचाता है।

बालों की टीजिंग (Teasing hair)

बालों को आकर्षक बनाने की धुन में हम एक और खराब आदत को अपना बैठते हैं, और वह है बालों की टीजिंग। आमतौर पर बालों के ऊपर उभार की सृष्टि करने के लिए टीजिंग का प्रयोग किया जाता है। यह आजकल स्टाइलिंग के क्षेत्र में चल रहे काफी बड़े चलन में से एक है। टीजिंग से असल में बाल टूटते हैं और काफी क्षतिग्रस्त भी होते हैं। बालों में उभार पैदा करने के लिए टीजिंग की जगह किसी और तरीके का प्रयोग करें। आप नर्म बमपिट्स (bumpits) का प्रयोग कर सकते हैं जो आपके बालों को कोई नुकसान नहीं पहुंचाता।

Subscribe to Blog via Email

Get Hindi tips to your inbox everyday