Beauty treatments for dry skin in Hindi – Tips on how to treat dehydrated skin – रूखी त्वचा के इलाज के नुस्खे परिचय

परिचय (Introduction)

रूखी त्वचा सामान्य मात्रा में तेल का उत्पादन करती है एवं आपकी त्वचा को कसा, रूखा या पपड़ीदार बनाती है। यदि त्वचा अंदर से सूखी एवं ऊपर से तैलीय है तो यह त्वचा में पानी की कमी होने का संकेत है। अतः त्वचा की समस्या पर्यावरण या मौसम के बदलावों पर निर्भर करती है। रूखी त्वचा वह होती है जिसमें बिंदुमात्र भी तेल की मात्रा नहीं होती है। त्वचा का रूखा होना, जो वातावरण में बदलाव पर निर्भर है, ज़्यादा खतरनाक है। यह कम या ना के बराबर तेल का उत्पादन करने वाली त्वचा से भी गंभीर है। अतः विभिन्न प्रकार की त्वचा में फर्क समझना आवश्यक है, वहीँ रूखी त्वचा निश्चित रूप से चिंता का विषय है।

रूखी त्वचा का इलाज करने के घरेलू नुस्खे (Home remedies to get rid of dry and dehydrated skin)

जैतून का तेल (Olive oil to treat dry skin)

रूखी त्वचा के लिए फेस क्रीम

जैतून का तेल एंटीऑक्सीडेंट एवं फैटी एसिड्स (anti-oxidant and fatty acids) से भरपूर होता है। यह मुलायम त्वचा प्राप्त करने में आपकी मदद करता है।

थोड़ा सा जैतून का तेल लें एवं इसकी एक पतली परत त्वचा पर लगाएं। सामान्य मॉइस्चराइज़र (moisturizer) का प्रयोग करके एक्स्ट्रा वर्जिन ओलिव ऑइल (extra virgin olive oil) लगाएं। इसे करीब 30 मिनट के लिए छोड़ दें। धीरे धीरे जैतून के तेल की मालिश अपने हाथों, पीरों एवं अन्य रूखे भागों पर करें। हलके हाथों से मालिश करके स्नान कर लें। इसे एक सूखे कपड़े से पोंछ लें एवं मॉइस्चराइज़र का प्रयोग करें।

वैकल्पिक रूप से दो चम्मच जैतून का तेल, 4 चम्मच ब्राउन शुगर (brown sugar) एवं 1 चम्मच शहद लें। इन सबको अच्छे से मिश्रित करें एवं कुछ मिनटों तक गोलाकार मुद्रा में एक स्क्रब (scrub) की सहायता से अपनी रूखी त्वचा पर इनका प्रयोग करें। स्नान करके त्वचा को सुखा लें। त्वचा पर एक हल्के मॉइस्चराइज़र का प्रयोग करें।

ग्लिसरीन (Glycerin to treat dehydrated skin)

ग्लिसरीन त्वचा को नमी प्रदान करता है एवं आपके चेहरे को नमी सोखने एवं बनाये रखने में मदद करता है। यह औषधि की दुकानों से आपको दूर रखने में भी सहायता करता है। यह रूखी त्वचा का इलाज करने का एक प्रभावी घरेलू नुस्खा है। ग्लिसरीन, नींबू के रस एवं गुलाबजल को बराबर मात्रा में लें। इन्हें अच्छे से मिश्रित करके अपनी त्वचा पर लगाएं। इसे रातभर के लिए छोड़ दें एवं सुबह पानी से इसे धो लें। इस मिश्रण को ज़्यादा मात्रा में इकठ्ठा करें एवं एक कांच की बोतल में जमा कर लें। इसे फ्रिज में रख दें तथा बेहतर परिणामों के लिए हर दिन प्रयोग में लाएं।

दूध (Milk natural best home remedy for dry and dehydrated skin)

दूध जलनरोधी तत्वों से भरपूर होता है। यह चिड़चिड़ी त्वचा को आराम प्रदान करके इसका इलाज करता है। दूध में लैक्टिक एसिड (lactic acid) होता जो त्वचा की मृत कोशिकाओं को बाहर निकालता है। इससे त्वचा की नमी सोखने एवं बनाये रखने की क्षमता में काफी वृद्धि होती है, जिसके फलस्वरूप त्वचा की रंगत में निखार आता है। थोड़ा सा ठंडा दूध लें एवं इसमें एक साफ़ कपड़ा डुबोएं। इसे बाहर निकालें एवं करीब 5-7 मिनट के लिए अपनी रूखी त्वचा पर रखें। धीरे धीरे गुनगुने पानी में भिगोये हुए एक दूसरे कपड़े से इस दूध को धो लें। यह त्वचा में समाकर इसे प्राकृतिक रूप से नमी प्रदान करता है। हर दूसरे दिन इसका प्रयोग करें। वैकल्पिक तौर पर, 4 चम्मच दूध में गुलाबजल की कुछ बूँदें मिश्रित करें एवं इस मिश्रण का प्रयोग अपने शरीर पर करें। इसे करीब 10 मिनट के लिए छोड़ दें। अपने शरीर को ठन्डे पानी से धो लें और इस विधि का प्रयोग दिन में दो बार करें।

केले और योगर्ट का फेस मास्क (Banana and yogurt face mask)

बाजार में उपलब्ध सूखी त्वचा के लिए सबसे अच्छा गोरेपन की क्रीम

केला रूखी त्वचा का इलाज करने में काफी लाभदायक होता है। एक केले को मसलकर अपने चेहरे पर लगाएं। इसे करीब 20 मिनट के लिए छोड़ दें और इसके बाद पानी से धो लें। वैकल्पिक रूप से, मसले हुए केले एवं सादे योगर्ट का एक मिश्रण बनाएं तथा इसे अपनी रूखी त्वचा पर लगाएं। रूखी त्वचा के लिए केले एवं योगर्ट का प्राकृतिक फेस मास्क तैयार करें, जो रूखी त्वचा को नमी प्रदान करने में सहायक होता है। यह त्वचा की मृत कोशिकाओं को दूर करता है। एक गाढ़ा पेस्ट बनाएं एवं इसे त्वचा के प्रभावित भाग अथवा रूखे भागों पर लगाएं। इसे करीब आधे घंटे के लिए छोड़ दें एवं बेहतर परिणामों के लिए पानी से धो लें।

loading...