How to make body firming cream at home with beeswax – शरीर की कसावट के लिए बीज़वैक्स से बनी क्रीम कैसे बनाएं?

ठण्ड के इस समय में त्वचा को अच्छे से नमी प्रदान करने में सफल होना ना सिर्फ रूखी त्वचा वालों के लिए, बल्कि तैलीय त्वचा वालों के लिए भी काफी कठिन होता है। इस समय तापमान के कम होने तथा हवा में रूखापन आने की वजह से त्वचा अपना प्राकृतिक तेल खो देती है और इसे अन्दर से नमी की ज़रुरत पड़ती है। त्वचा की कसावट को बनाए रखने के लिए आपको इसे अच्छे से नमी देनी पड़ती है, जिससे कि त्वचा की प्राकृतिक इलास्टिन और कोलेजन सिंथेसिस प्रक्रिया (natural elastin and collagen synthesis process) और भी अच्छी हो जाए। इस लेख में जिस क्रीम (cream) के बारे में बात की जाएगी, वह आपकी त्वचा की प्राकृतिक नमी को बनाए रखने में काफी सहायक सिद्ध होगी। इसका प्रयोग आप ठण्ड के मौसम में भी आराम से कर सकते हैं। इस क्रीम का निर्माण करने हेतु मुख्य उत्पाद नीचे दिए गए हैं :-

सामग्री (Ingredients)

  • मोम (beeswax) – 2 चम्मच
  • शे मक्खन (shea butter) – 1 चम्मच
  • मीठे बादाम का तेल – 1 चम्मच
  • स्वीट ऑरेंज एसेंशियल ऑइल (sweet orange essential oil) – 10 से 15 बूँदें
  • एक साफ़ कांच का बर्तन (bowl)
  • सामान्य आकार का एक चम्मच
  • मिश्रित करने के लिए एक छोटा चम्मच
  • मिश्रण को रखने के लिए एक एयरटाइट (airtight) पात्र

बनाने की प्रक्रिया (Process)

स्वस्थ त्वचा रंगत के लिये स्वयं बनाये जाने वाले बॉडी बटर को घर पर बनायें

ऊपर दिए गए उत्पादों की मदद से मोम की शरीर को कसने वाली क्रीम बनाना काफी आसान है तथा इसमें 5 मिनट से अधिक समय नहीं लगेगा।

ढीली त्वचा में कैसे लाएं कसाव, एक साफ़ कांच के बर्तन में 2 चम्मच तरल मोम लें। अब इसमें एक चम्मच शे मक्खन मिश्रित करें। अब इसमें 1 चम्मच मीठे बादाम का तेल मिलाएं। अंत में इसमें 10 से 15 बूँदें स्वीट ऑरेंज एसेंशियल ऑइल मिलाएं, जिसे आप इस पात्र में सीधे बोतल से भी डाल सकते हैं। एक बार सारी चीज़ों को एक साथ डाल देने के बाद इन्हें अच्छे से मिश्रित कर लें।

एक बार इस क्रीम के तैयार हो जाने पर आप या तो इसे गोलाकार मुद्रा में मसाज (massage) करके सीधे अपने शरीर पर लगा सकते हैं, या फिर इसे एक एयरटाइट पात्र में बंद करके दो से तीन दिनों तक प्रयोग में ला सकते हैं । इस क्रीम को बनाने की प्रक्रिया इतनी आसान है कि आप इसे हर दिन प्रयोग करने के पूर्व भी बना सकते हैं।

मोम (Beeswax se twacha me kasawat)

यह एक प्राकृतिक उत्पाद है, जो मधुमक्खियों के द्वारा निर्मित किया जाता है। यह अपने मोम जैसे टेक्सचर (texture) की वजह से त्वचा की परतों की सुरक्षा का काम करता है, जिससे कि ढीली त्वचा, त्वचा की नमी को सहेजकर रखने में सहायता मिलती है। मधुमक्खियों से मिलने वाले अन्य उत्पादों की तरह ही इस उत्पाद में ही जलन से बचाने वाले तथा एंटी बैक्टीरियल (anti bacterial) गुण होते हैं। यह दोनों गुण मिलकर आपको नर्म मुलायम तथा दाग धब्बों से मुक्त त्वचा से नवाजते हैं।

ढीली त्वचा में कसाव लाने के लिए – शे मक्खन (Shea butter se skin tight tips in hindi)

शे मक्खन अफ्रीकन शे के पेड़ (african shea tree) के नट्स (nuts) से निकाला जाता है। शुद्ध शे मक्खन मलाई के जैसा एक गाढ़ा पदार्थ होता है, जिसमें त्वचा को अन्दर से मोइस्चराइस (moisturize) करने की तथा इसे सुकून देने वाले गुण होते हैं। शे मक्खन में मौजूद कुछ नमी देने वाले पदार्थ वही होते हैं, जो हमारी त्वचा की सेबाशियस ग्रंथियों (sebaceous glands) में भी पाए जाते हैं। अतः यह हमारी त्वचा को प्राकृतिक रूप से मोइस्चराइस करने का बढ़िया कार्य करते हैं।

ऑयली त्वचा/ऑयली स्किन और चेहरे के लिए घरेलु उपचार

इसके अलावा शे मक्खन में कई पोषक तत्व होते हैं। इसमें विटामिन ए (vitamin a) की उच्च मात्रा के अलावा कई एंटी ओक्सिड़ेंट्स (antioxidants) जैसे विटामिन इ (vitamin e) होते हैं। विटामिन ए में त्वचा में कसावट लाने तथा त्वचा को स्वस्थ बनाकर झुरियां दूर करने की काबिलियत होती है। इसमें फाइटो न्यूट्रीएंट्स (phytonutrients) तथा पोलीफेनोल्स (polyphenols) होते हैं, जो अपने जलनरोधी गुणोंसे त्वचा को आराम देते हैं।

मीठे बादाम का तेल (Sweet almond oil se skin tightening tips at home)

चेहरे पर कसाव, यह तेल विटामिन इ का काफी अच्छा प्राकृतिक स्त्रोत है। इसमें पोटैशियम और जिंक (potassium and zinc) की भरपूर मात्रा होती है, जो ना सिर्फ त्वचा, बल्कि शरीर के लिए भी अच्छी होती है। इसमें प्राकृतिक रूप से त्वचा में कसावट लाने के गुण हैं तथा यह इसे अन्दर से पोषण देता है।

स्वीट ऑरेंज एसेंशियल ऑइल (Sweet orange essential oil se skin ko tight karne ke upay)

यह तेल संतरे के छिलकों से निकाला जाता है तथा यह आपकी त्वचा को नमी देने के साथ ही इसमें काफी चमक भी ले आता है। यह तेल एंटीसेप्टिक (antiseptic) तथा जलनरोधी होता है। इसमें मौजूद अन्य गुण भी इसको त्वचा के लिए काफी अच्छा बनाते हैं।

Subscribe to Blog via Email

Get Hindi tips to your inbox everyday