Homemade seaweed cellulite buster – जाँघों और कूल्हों से सेल्युलाईट हटाने के लिए समुद्री शैवाल से बने घरेलू नुस्खे

अस्वस्थ आहार लेने से आपके शरीर पर अतिरिक्त चरबी जमा होती है। यह चरबी ज्यादातर कूल्हों और जाँघों पर दिखती है। इस चरबी के कारण लोगों को चलना मुश्किल हो जाता है। इन जगहों को कपडे पहेनकर ढका जा सकता है और इसी कारण लोग इन जगहों से चरबी हटाने पर ध्यान नहीं देते। लेकिन यह चरबी बढ़कर अन्य रोगों को जन्म दे सकती है। समुद्री शैवाल को घरेलु नुस्खे के रूप में इस चरबी को हटाने के लिए इस्तेमाल किया जा सकता है।

अतिरिक्त चरबी हटाने के लिए घरेलू उपायों की सूची (List of homemade cellulite busters)

सेल्युलाईट कैसे कम करें – मिटटी और समुद्री शैवाल का पैक (Clay pack with seaweed)

सेल्युलाईट का इलाज, यह एक अद्भुत नुस्खा है जिसमे समुद्री शैवाल और अन्य घरेलू सामग्री इस्तेमाल की जा सकते हैं। दौनी का तेल, नींबू का रस, सुखाये हुए समुद्री शैवाल की पाउडर, लैवेंडर तेल की कुछ बूंदें, थोड़े चम्मच शहद, बादाम का तेल और थोड़ी मिटटी मिलाकर यह पैक बनायें।

छाती से सेल्युलाईट प्राकृतिक रूप से हटाने के उपाय

नींबू का रस, मिटटी और शैवाल की पाउडर का सही मिश्रण बनाएं। अगर मिश्रण ज्यादा गाढ़ा हो जाए तो उसमे थोडा पानी मिलाकर उसे तरल बनाएं। इस मिश्रण में बादाम और लैवेंडर का तेल मिलाएं। इस पेस्ट को जाँघों पर लगाएं। वह पेस्ट न गिरे इसलिए उसपर प्लास्टिक की थैली से जांघों को ढंक लें। थोड़े गर्म कमरे में 24 मिनट के लिए लेट जाएँ। फिर जांघों को धो डालें और अद्भुत परिणाम पायें।

सेल्युलाईट उपचार – कॉफ़ी और शैवाल से बना शावर स्क्रब (Coffee and seaweed shower scrub -cellulite ke upchar)

घरों पर कॉफ़ी आसानी से पायी जाती है। बर्तन में कॉफ़ी के दाने, बादाम का तेल, जैतून का तेल और अंकुर बीज का तेल मिलाएं। अच्छी तरह से सब मिलाकर उन्हें थोड़ी देर छोड़ दें। तेलों को कॉफ़ी में घुलने दें। यह मिश्रण अतिरिक्त चरबी की जगह पर लगाएं। थोड़ी देर रखकर फिर पानी से धो डाले।

घरेलू उपचार सेल्युलाईट हटाने के लिए मालिश के तेल (Appropriate massage oil at home – cellulite ke upay)

बाजार में कई किस्म के तेल उपलब्ध हैं जो त्वचा को पोषण प्रदान करते हैं। नारियल का तेल, जोजोबा का तेल, जैतून का तेल और बादाम का तेल 10-12 बूंदें लेकर एक बड़े बर्तन में मिलाएं। उसमे थोडा सुगंधी तेल जैसे लैवेंडर का तेल मिलाएं। इस मिश्रण में थोडा समुद्री शैवाल मिलाएं। इस तेल से दिन में 20 मिनट तक शरीर पर मालिश करें और अतिरिक्त चरबी हटायें।

सेल्युलाईट ठीक करने के खाद्य पदार्थ (Food to cure cellulite)

जिस तरह वज़न घटाने के लिए व्यायाम के साथ खानपान पर भी ध्यान देने की काफी ज़रुरत होती है, उसी तरह सेल्युलाईट कम करने के लिए खानपान सही रखने की काफी आवश्यकता होती है। सेल्युलाईट से अच्छे से लड़ने के लिए नीचे बताये गए खाद्य पदार्थ अपने खानपान में अवश्य शामिल करें। स्वस्थ खानपान बनाए रखें और कार्बोहायड्रेट्स (carbohydrates) से युक्त खाद्य पदार्थों का सेवन कम से कम करें।

कीलोइड के उपचार के सबसे प्रभावी और घरेलू उपाय

ग्रीन टी (Green tea)

ग्रीन टी का प्रयोग हमेशा से वज़न घटाने तथा हाज़मे की प्रक्रिया को सुचारू रूप से चलाने में मददगार रही है। जो लोग स्वास्थ्यकर पेय पदार्थों का सेवन करना चाहते हैं, वे ज़्यादातर मामलों में ग्रीन टी को ही चुनते हैं। अगर आप अपने शरीर को स्वस्थ रखना तथा सेल्युलाईट से मुक्त रखना चाहते हैं तो अपने रोज़ाना के पेय पदार्थ को ग्रीन टी से बदलें।

साबुत अनाज (Whole grains)

ब्राउन पास्ता, ब्राउन ब्रेड और ब्राउन चावल (Brown pasta, brown bread and brown rice) साबुत अनाजों से भरपूर होते हैं, जिनसे आपका वज़न घट जाता है। इससे आपका पेट भी भरता है और आपको जल्दी भूख भी नहीं लगती। यह खुद में मौजूद एंटीऑक्सीडेंट्स (antioxidants) के लिए भी जाना जाता है जो सेल्युलाईट पैदा करने वाली अशुद्धियों से लड़ते हैं।

ब्रोकली (Broccoli)

जब आप पोषक तत्वों की बात करें तो ब्रोकली सब्ज़ियों का राजा माना जाता है। इसमें भरपूर मात्रा में विटामिन्स और खनिज पदार्थ (vitamins and minerals) पाये जाते हैं। इनमें कैलोरीज (calories) की मात्रा भी कम होती है। अल्फा लिपोइक (Alpha lipoic) एक ख़ास उत्पाद होता है जिसकी मात्रा अन्य पोषक खाद्य पदार्थों में नहीं होती, और यह शरीर में कोलेजन (collagen) को कड़ा होने से रोकता है। अगर आप 3 से 4 भाप वाली ब्रोकली को अपने खानपान में शामिल करें तो इससे आपके शरीर को काफी फायदा होगा।

पानी (Water)

अगर आपके जीन्स (genes) में सेल्युलाईट की समस्या नहीं है तो इसका मुख्य कारण आपके द्वारा ग्रहण किये विषैले पदार्थ हो सकते हैं। ये त्वचा की लोच को कम करते हैं और रक्त संचार को काफी धीमा कर देते हैं। अगर आप अपने शरीर से प्राकृतिक रूप से विषैले पदार्थों को बाहर निकालना चाहते हैं तो काफी मात्रा में पानी पिएं। हमें रोज़ाना 8 गिलास पानी तो पीना ही चाहिए। इसके अलावा सॉफ्ट ड्रिंक्स (soft drinks) या शराब का सेवन बिल्कुल बंद करने का प्रयास करें। ये शरीर में पानी की कमी पैदा कर देते हैं और चर्बी की मात्रा को घटाते भी हैं।

नहाने के बाद होने वाली सूखी खुजली के कारण और घरेलू उपाय

संतरे (Oranges)

ये मीठे फल विटामिन सी (vitamin C) से भरपूर होते हैं और इनमें मेथोज़ाइलेटेड बायोफ्लैवोनॉइड्स (methoxylated bioflavonoids) भी मौजूद होते हैं। यह रक्त के संचार में भी वृद्धि करने में सहायक होता है और कोशिकाओं की उस असमानता को रोकता है, जिसकी मदद से सेल्युलाईट्स पैदा होते हैं।

ऐस्पैरागस (Asparagus)

इस उत्पाद में जलनरोधी गुण होते हैं तथा यह सूजन होने से भी रोकता है। इसमें कैलोरी की मात्रा भी काफी कम होती है और यह सेल्युलाईट पैदा करने वाले हानिकारक विषैले  पदार्थों को भी शरीर से दूर करता है। यह रक्त के संचार में वृद्धि करता है और आपके शरीर को स्वस्थ बनाता है।

बेर (Berries)

बेर का सेवन शुरू करने से आपके शरीर में एंटीऑक्सीडेंट्स की मात्रा में वृद्धि होगी। आप रास्पबेरीज़ (raspberries), नीले या काले बेरों में से अपने पसंदीदा बेरों का सेवन कर सकते हैं और इससे आपके शरीर से विषैले पदार्थ बाहर निकल जाते हैं। आप इन्हें अपने नाश्ते के साथ खा सकते हैं या फिर इससे कम वसा वाली स्मूदी (smoothie) भी बना सकते हैं।

कायेन पेपर (Cayenne pepper)

यह पदार्थ आपके शरीर की कैलोरीज़ को जलाता है तथा रक्त के संचार में भी वृद्धि करता है। ये तीखा मसाला आपके शरीर को अंदर से गर्म करता है और रक्त का संचार बढ़ा देता है। इसे अपनी सब्ज़ियों में डालें और सेल्युलाईट कम करें।

हल्दी (Turmeric)

हल्दी भारतीय रसोइयों में सबसे ज़्यादा प्रयुक्त होने वाला व्यंजन है और इसके कई स्वास्थ्य गुण होते हैं। यह शरीर में रक्त का संचार बढ़ाता है, सूजन कम करता है तथा विषैले पदार्थों से भी लड़ता है। इसमें काफी मात्रा में एंटीऑक्सीडेंट्स होते हैं जो वसा घटाने के अलावा भी आपकी काफी मदद करते हैं। अपनी सब्ज़ियों में मसाला कम रखें और हल्दी की मात्रा ज़्यादा रखें।

कैसे रोके सेल्यूलाइट डिम्पल को प्राकृतिक तरीके से

लहसुन (Garlic)

यह उत्पाद रक्त में कोलेस्ट्रॉल (cholesterol) की मात्रा कम करने और प्रतिरोधक क्षमता को बढ़ाने के लिए जाना जाता है। यह एक प्राकृतिक एंटीबायोटिक (antibiotic) की तरह काम करके आपके शरीर को स्वस्थ रखता है। चाहे बात सामान्य स्वास्थ्य की हो, शरीर से विषैले पदार्थ कम करने की या सेल्युलाईट से लड़ने की, लहसुन के आपकी रसोई पर अनगिनत उपकार हैं। आप इसे सब्ज़ियों के ऊपर से भी छिडककर उन्हें और भी आकर्षक बना सकते हैं।

तरबूज़ (Watermelon)

तरबूज़ आपके शरीर में पानी की कमी पूरी करने के लिए काफी फायदेमंद होता है और इसमें लाइकोपीन (lycopene) की मात्रा भी होती है। यह रक्त के संचार को दुरुस्त करने और समय के साथ सेल्युलाईट को घटाने के लिए जाना जाता है। यह आपको दिल की किसी भी प्रकार की समस्या से बचाकर रखने में भी सहायक होता है।