Fiber rich foods – फाइबर फूड या रेशेदार आहार – जो कि स्वास्थ्य के लिए बेहतर है

रेशेदार भोजन क्या है? अगर आप फाइबर भरपूर भोजन के लाभ को जानते है तो इसे अनदेखा नही कर सकते हैं। फाइबर भरपूर आहार की मांग अधिक हो रही है। लोग आवश्यक स्वास्थ्य को पाने के लिये इसकी ओर जा रहे है। अच्छे स्वास्थ्य के लिये सभी सम्भव प्रयासों जैसे शारीरिक क्रिया, कसरत और खेल के साथ स्वास्थ्यवर्धक आहार भी एक महत्त्वपूर्ण कारक है।

उच्च फाइबर भरपूर आहार आपके सम्पूर्ण तंत्र को बेहतर ढ़ंग से बनाने में मदद करता है। इसकी कमी कब्ज, हिमोरॉयड्स और खून में कोलेस्ट्रॉल का उच्च स्तर बनाता है। दूसरी तरफ इसकी अधिकता डायरिया, निर्जलीकरण पैदा कर सकता है। इसके लिये आप अपने आहार विशेषज्ञ से मिल सकते है। फाइबर फूड के फायदे :-

फाइबर के फायदे – क्यों फाइबर महत्वपूर्ण है? (Why Fiber is Important?)

फाइबर एक ऐसा तत्व है जो आपके शरीर को ज़रूरत होती है लेकिन पचा नही सकती। मुख्यता फाइबर दो प्रकार के होते है- घुलनशील और अघुलनशील। बहुत सारे पौधे आधारित भोजनों में दोनों प्रकार के फाइबर पाये जाते है। घुलनशील फाइबर जेल में बदलकर पेट में धीरे-धीरे  पच जाता है। अघुलनशील पाचनक्रिया के दौरान पचते नहीं और मल के साथ बाहर निकल जाते हैं।

हाई फाइबर फूड – फाइबर भरपूर आहार जो पर्याप्त मात्रा में अत्यधिक लाभ पहुंचाते है

शरीर की सफाई के लिए उत्तम आहार

फाइबर के स्रोत – भूंसी (Bran hai fiber wala food)

भूंसी प्राय: उन सभी अनाजों में पाया जाता है जो विटामिन B6 और मैग्नीशियम के स्रोत है। आप अपने नाश्ते की सूची में जई और कूटू को शामिल करके अच्छी मात्रा में फाइबर पा सकते है।

फाइबर के स्रोत – सूखी जड़ी, मसाले (Dried herbs, spices and peppers)

आपके खाने में सूखे मसाले जैसे मिर्च, शिमला मिर्च की आदत बहुत सारे विटामिन और खनिजों को पाने में मदद कर सकती है। जमीनी दालचिनी बहुत अधिक फाइबर उपलब्ध कराती है।

कोको पाउडर और चॉकलेट (Cocoa powder and dark chocolate)

आज चॉकलेट बहुत अधिक प्रचलित हो रहा है और गाढ़े रंग की चॉकलेट का तो प्रचलन आ गया है। कोको पाउडर आयरन और पोटैशियम का अच्छा स्रोत है। जिसके प्रति 100 ग्राम उपभोग से 33.2 ग्राम फाइबर मिल सकता है।

फाइबर युक्त भोजन – पटुआ बीज, तिल बीज और तिल तेल (Flax seeds, sesame seeds and sesame butter)

पटुआ और तिल के बीज अच्छी मात्रा में खाद्य फाइबर रखते हैं। पटुआ बीज के प्रति 100 ग्राम सेवन से 27.3 ग्राम फाइबर होता है। सिके हुये तिल बीज के प्रति 100 ग्राम सेवन से 14 ग्राम फाइबर होता है।

सूखे भुने सोयाबीन (Dry roasted soybeans hai fiber wala food)

निम्न और मध्यम प्रकार का सोयाबीन कोलेस्ट्रॉल का स्तर कम कर सकता है। यह किसी भी समय लिया जाने वाला स्वास्थ्यवर्धक आहार जिसे आप भूलना नहीं चाहेंगे।

धूप में सूखाया टमाटर (Sun-dried Tomatoes se reshedar khana ke fayde)

धूप में सुखाया टमाटर आयरन और पोटैशियम का अच्छा स्रोत है। ये सॉस, पिज़्ज़ा और सलाद में गहरे लाल रंग के साथ शोभा बढ़ाते है।

फाइबर युक्त भोजन – नट्स (Nuts,almonds, pistachios, pecans)

लो कोलेस्ट्रोल आहार

नट्स के लाभ किसी से छुपा नही है। बादाम इन सभी का राजा है। ये सभी सलाद में या नाश्ते में उपभोग किये जा सकते है। बादाम में प्रति 100 ग्राम लगभग 12.2 ग्राम फाइबर पाया जाता है।

फाइबर फूड के लाभ – सूर्यमुखी बीज (Sunflower seeds)

इसके बीज बहुत सारे सलाद की सामग्री के साथ नाश्ते में उपभोग किया जा सकता है। सूर्यमुखी बीज विटामिन E, B1, B6, आयरन, मैग्नीशियम, पोटैशियम, सेलेनियम और ताम्बे का अच्छा स्रोत है।

रेशेदार सब्जियां – बींस (Beans hai reshedar khana)

बींस बहुपोषक होते है। जब इन्हें उबाला जाता है तो यह बहुत अच्छी मात्रा में फाइबर देते हैं। नेवी बींस प्रति 100 ग्राम में 10.5 ग्राम फाइबर देती है।

फाइबर फूड के लाभ – पैशन फल (Passion fruit)

ये उष्णकटिबंधीय फल है जो प्रचलन में आ रहे हैं। इसके प्रति 100 ग्राम में 10.4 ग्राम फाइबर पाया जाता है।

बज्रांगी(आर्टीचोक्स) (Artichokes)

फाइबर से भरपूर इस फल के मध्यम आकार में 10.3 ग्राम फाइबर पाया जाता है। आप अपने घर पर अदरख, लह्सुन, नमक और पीपर से आसानी से बनाया जाता है।

रेशेदार आहार – ब्रोकल्ली (Broccoli se fiber wala bhojan)

ब्रोकल्ली में प्रचुर मात्रा में प्रोटीन और फाइबर पाया जाता है। उबली ब्रोकल्ली के प्रति एक कप में 5.1 कप फाइबर पाया जाता है।

लीवर को स्वस्थ रखने के लिए सर्वोत्तम आहार

रेशेदार आहार – ब्लैक्बेरी (Blackberries)

ब्लैक्बेरी एक मौसमी फल है जिसमें प्रचुर मात्रा में फाइबर के साथ उच्च मात्रा अन्य तत्वों की भी पायी जाती है। एक कप कच्चे ब्लैक्बेरी में 7.6 कप फाइबर पाया जाता है। आप इसे अन्य फलों के साथ मिलाकर सलाद बनाकर खा सकते हैं।

रेशेदार सब्जियां – मटर (Peas hai fiber wala khana)

मटर को बहुत ही आसानी से प्राप्त किया जा सकता है। इसमें कई लाभदायक तत्व पाये जाते है। इसमें प्रचुर मात्रा में फाइबर भी पाया जाता है। एक कप उबली हुई मटर में 8 ग्राम फाइबर पाया जाता है।

लौकी (Bottle gourd)

लौकी हमारे यहाँ सब्जी के रूप में खाई जाती है. सब्जी पकाने के अलवा इससे अन्य कई व्यंजन भी बनाये जाते हैं और सेहत के लिए लौकी का जूस भी आजकल बहुत चर्चा में है. लौकी में कई तरह के पोषक तत्वों के साथ फाइबर की मात्रा भी होती है जो शरीर में फाइबर की आपूर्ति में मदद करती है.

loading...