Foods and beverages to avoid during pregnancy – गर्भावस्था के दौरान परहेज करने वाले भोजन और पेय पदार्थ

मछली (Fish)

ना खाएं (Don’t Eat)

  • कच्ची, अधपकी मछलियाँ या शेलफिश (shellfish) – (जैसे ओएस्टर और क्लैम्स (oysters and clams)
  • ज्यादा मर्क्युरी (mercury) से भरपूर मछलियाँ जैसे शार्क, स्वोर्डफ़िश, किंग मैकारेल और टाइलफिश (shark, swordfish, king mackerel, and tilefish)
  • जमाकर रखी हुई, भुनी या अचार वाली मछलियाँ जो पाश्चरीकृत न हों (unpasteurized), जब तक उन्हें भाप में 165 डिग्री फारेनहाईट में गर्म ना किया गया हो।
  • डिब्बाबंद ठोस सफ़ेद या अल्बाकोर टूना (albacore tuna) का सेवन हफ्ते में 6 औंस से ज्यादा ना करें।

स्वस्थ गर्भावस्था के लिए आहार – क्या करें (Do)

  • मछली को 145 डिग्री फारेनहाईट में या फिर बीच में अपारदर्शी होने तक पकाएं।
  • कम मर्क्युरी वाली मछली का हफ्ते में 12 औंस तक सेवन करें। इसके उदाहरण हैं सालमन, श्रिम्प, पोलोक, तिलापिया या ट्राउट (salmon, shrimp, pollock, tilapia, or trout)

मांस और पोल्ट्री (Meat and poultry)

गर्भावस्था के दौरान ज़्यादा वज़न ना बढ़ने देने के 10 उपाय

ना खाएं (Don’t Eat)

  • कच्चा या अधपका मांस या पोल्ट्री
  • किसी भी तरह का जमाया हुआ मांस
  • सूखे और बिना पके हुए सॉसेजेस (sausages) जैसे सलामी और पेपेरोनी (salami and pepperoni) जिसे गर्म किया गया हो या भाप में भुना गया हो।

क्या करें (Do)

  • गर्भावस्था में भोजन, एक फ़ूड थर्मामीटर ( food thermometer) का प्रयोग करें। बीफ, वील और लेम्ब (beef, veal, and lamb) को 145 डिग्री फारेनहाईट में पकाएं। पोर्क (pork) और अन्य पिसे हुए मांस को 160 डिग्री में पकाएं। पोल्ट्री को 165 डिग्री में पकाएं।

अंडे (Eggs)

ना खाएं (Don’t Eat)

  • अधपके अंडे
  • कुकी (cookie) का कच्चा मैदा या केक का घोल जिसमें कच्चे अंडे मिश्रित हों
  • घरेलू पकवान जिसमें कच्चे अंडे मिश्रित हों।

क्या करें (Do)

  • अण्डों को तब तक पकाएं जब तक पीला भाग ठोस रहे। अण्डों से युक्त अन्य खाद्य पदार्थों को 160 डिग्री में पकाएं।
  • कच्चे अण्डों से भोजन बनाने के लिए पाश्चरीकृत अण्डों और अंडे के उत्पादों का प्रयोग करें।

चीज़ (Cheese)

गर्भावस्था के दौरान कुछ स्वास्थ्य समस्याएँ

ना खाएं (Don’t Eat)

बिना पाश्चरीकृत किया हुआ या कच्चे दूध से बनी नर्म चीज़। अमेरिका में करीबन हर प्रकार की चीज़ पाश्चरीकृत होती है। गर्भावस्था के दौरान आहार, सिर्फ इस बात का ध्यान रखें कि डिब्बे में भी, खासकर नर्म चीज़ के डिब्बे में ऐसा लिखा हुआ होना चाहिए। कच्चे और बिना पाश्चरीकृत किये हुए दूध से बने किसी भी उत्पाद का सेवन ना करें।

अन्य भोजन (Other foods)

ना खाएं (Don’t Eat)

  • डेली (deli) से बने सलाद (खासकर अगर उनमें अंडे, मांस, हैम (ham) या समुद्री भोजन डले हों)
  • एक साथ रखा हुआ भोजन जो 2 घंटों से ज़्यादा समय तक इसी तरह पड़ा हो।
  • एक चिड़िया के अंदर पकाई गई स्टफिंग (stuffing), अगर ये 165 डिग्री पर पकाई ना गई हो।
  • कच्चे अंकुरित अनाज या फिर सलाद और बंदगोभी जैसे बिना धुले हुए पत्ते।

क्या करें (Do)

  • गर्भावस्था के दौरान खान-पान, पहले पकाए गए भोजन को 165 डिग्री में गर्म करके भाप दें।
  • ठंडे भोजन को बर्फ पर रखें और गर्म भोजन को 135 डिग्री या एक कॉफी के गर्म कप के तापमान के बराबर गर्म करें।
  • सब्जियों और फलों को अच्छे से छीलकर धो लें। कटे हुए फल और सब्जियों को फ्रिज (fridge) में या जमाकर रखें।

पेय पदार्थ (Beverages)

ना पियें (Don’t Drink)

गर्भावस्था के दौरान अपनी खूबसूरती और अपनी देखभाल

  • अल्कोहल (alcohol) युक्त पेय पदार्थ
  • बिना पाश्चरीकृत कच्चा दूध
  • फलों के रस की दुकान या सामान्य किसी दुकान से खरीदा गया बिना पाश्चरीकृत ताज़ा निचोड़ा गया रस
  • रोजाना 200 ग्राम से ज़्यादा कैफीन (caffeine)

क्या करें (Do)

  • अपनी चाय, पेय पदार्थ, स्वास्थ्यवर्धक पेय पदार्थ, चॉकलेट (chocolate), कॉफ़ी और आइस क्रीम (ice cream) से दूर रहें।
  • फलों का रस निकालने से पहले इसे अच्छे से धो लें। किसी दुकान से फलों का रस खरीदने की अपेक्षा घर में रस बनाना ज़्यादा सही रहेगा, क्योंकि इससे आपको शुद्ध रस मिल पाएगा और आप मिलावटी तत्वों से बची रहेंगी।
loading...