Discover the Health benefits of Neem – जानें, कैसे नीम है सेहत के लिए गुणों से भरपूर

नीम (Neem) एक औषधिय पौधा है जो अनेक तरह के रोगों को दूर करने में उपयोगी होता है। इस पौधे या पेड़ के बारे में हर कोई जानता है की किस तरह इस पेड़ का प्रत्येक हिस्सा किसी न किसी रूप में गुणकारी होता है। हम सभी शुरू से ही इस चमत्कारी पेड़ के गुणों के बारे में जानकर बड़े हुये हैं और सेहत से जुड़े नीम के लाभ के बारे में भी अच्छी तरह वाकिफ हैं। यही वजह से कि कई तरह की दवाओं में पिछले लगभग पाँच हज़ार सालों से नीम का प्रयोग किया जाता है।  नीम एक ऐसा पेड़ है जो आसानी से हर घर में या आस पास पाया जा सकता है। यह साधारण सा दिखने वाला पेड़ बड़ी से बड़ी बिमारियों को दूर करने में सहायक होता है। इससे आप कई तरह के रोग से मुक्त हो सकते हैं। नीम का हर हिस्सा जैसे, नीम की डाल, पत्तियाँ, फल, बीज और यहाँ तक की इसकी जड़ भी दवाओं के रूप में इस्तेमाल की जाती है। नीम के फल के भीतर जो बीज पाया जाता है उसके तेल से नीम का तेल (Neem oil) बनता है। यहाँ तक की नीम की छाल तक गुणकारी होती है.

नीम का नाम हम सभी के लिए बहुत सामान्य है नीम के पेड़ के महत्व सर्वविदित हैं. जो बहुगुणीय होने के साथ साथ हमारे आस पास बड़ी ही आसानी से पाया जाने वाला औषधिय पेड़ (Neem tree) है। तो आइये जानें नीम के गुण, जो कई तरह से हमारे लिए लाभकारी हैं,

जिवाणुरोधी घटक (Neem uses – Antibacterial compounds)

नीम में मौजूद जिवाणुरोधी घटक दांतों से जुड़े रोगों को दूर रखने में मदद करते हैं। आजकल आपने देखा ही होगा कि, लोग अपने दांतों के लिए नीमयुक्त टूथपेस्ट (Neem toothpaste) का प्रयोग अधिक कर रहे हैं। इससे दांतों और मसूड़ों की सुरक्षा होती है और कई तरह के किटाणु और कैविटी आदि दांतों से दूर रहते हैं।

फंगीरोधी गुणों से भरपूर है नीम  (Antifungal property and neem medicinal uses)

कै शोधों में यह पाया गया है कि नीम में फंगलरोधी होने का गुण पाया जाता है। इससे फंगस की वजह से होने वाले संक्रमणजनित रोग दूर रहते हैं। रिंगवर्म (Ringworm) को पनपने से रोकने के लिए भी नीम लाभदायक है। एथलीट्स के पैरों में होने वाले इन्फेक्शन को हटाने के लिए भी नीम का सहारा लिया जा सकता है। पर एक बात का ध्यान रखें कि ऐसे रोगों में नीम का लेप या नीम के प्राकृतिक उपचार का प्रयोग बेहतर होता है जबकि आर्टिफ़िशियल या कृत्रिम दवाएं इस तरह के रोगों में हमेशा लाभप्रद नहीं होती।

एंटीऑक्सीडेंट्स से भरपूर है नीम (Rich in Antioxidants)

नीम एक प्राकृतिक एंटी ऑक्सीडेंट है जो कई तरह की महंगी दवाओं के स्थान पर काम में लाया जा सकता है। नीम शरीर में जाकर फ्री रेडिकल्स से लड़ता हुआ शरीर को कई तरह के रोगों से बचाए रखता है।

नीम में एंटीवायरस (Antiviral compounds)

क्या आप जानते हैं कि नीम डेंगू के वायरस को शरीर में विकसित होने से रोकने में मदद करता है। इबोला नाम के वायरस से लड़कर डेंगू में होने वाले बुखार को कम करता है। इस तरह के अनया वायरस जनित रोगों या बुखार आदि में भी नीम का महत्व अत्यधिक पाया गया है।

Subscribe to Blog via Email

Join 45,328 other subscribers

कैंसर में नीम के फायदे (Neem ke upyog Cancer me)

कैंसर जैसे भयावह रोग में सुधार के लिए नीम का योगदान अविश्वसनीय हैं। कैंसर रोग में शरीर की कोशिकाओं को होने वाली क्षति में नीम सुधार के लिए जिम्मेदार होता है। यह क्षतिग्रस्त कोशिकाओं की मरम्मत में सहायता करता हुआ रोग से उबारने में भी मददगार है।

डायबिटीज़ में नीम के फायदे (Neem benefits in Hindi – Cure Diabetes with Neem)

यह बात तो लगभग हर कोई जानता ही है कि नीम शुगर के स्तर को कम करता हुआ डायबिटीज़ के रोगियों को बेहतर महसूस करवाने के लिए एक उपयुक्त प्राकृतिक माध्यम है। कई लोग जो डायबिटीज़ का शिकार होते हैं वे नीम के अलग अलग तरह से उपयोग द्वारा इस रोग में कमी महसूस करते हैं, डायबिटीज़ के लिए यह नीम एक बहुत कारगर और सुरक्षित प्राकृतिक उपचार है।

लीवर की सुरक्षा के लिए नीम (Liver protection with neem – Neem ke ras ke upyog)

लीवर में होने वाली किसी भी तरह कि क्षति या डैमेज को नीम द्वारा सुधारा जा सकता है। नीम रक्तशोधक है अर्थात रक्त में मौजूद किसी तरह की अशुद्धि को नीम के सेवन के द्वारा दूर किया जा सकता है। इसके लिए आप नीम का रस पी सकते हैं या नीम को किसी अन्य तरीके से भी इस्तेमाल कर सकते हैं।

loading...