Benefits of consuming alcohol in limits – शराब को हद में रहकर पीने के लाभ

शराब से क्षति पहुंचती है यह सब को पता है। इसके कारण फेफड़ों सम्बंधित समस्या भी उत्पन्न हो जाती है। इसके अलावा ये मेमोरी को भी क्षति पहुँचाती है और साथ ही इस कारण समाज में शर्मिंदगी भी महसूस करनी पड़ जाती है। इसके हानि पहुंचाने की लिस्ट ख़तम होने का नाम ही नहीं लेती लेकिन फिर भी हम इसका सेवन करने से अपने आप को रोक नहीं पाते है।

हम सब कभी ना कभी ऐसी परिस्तिथि में पड़ जाते है जहाँ हमको ड्रिंक करना उपयोगी लगता है। कभी हम ड्रिंक को इसलिए पीते है क्योंकि हमारा मन कर रहा होता है और कभी इसलिए पीते है क्योंकि हम एसे वातावरण में होते है जहाँ ड्रिंक पीना आवश्यक हो जाता है। इस आर्टिकल में हम आपको कम शराब पीने के उदहारण और लाभ के बारे में जानकारी प्रदान करेंगे।

जीवन में सब चीज़ों को एक सही मात्रा में रहकर ही करना चाहिए ना की अपनी हदों को पार करना चाहिए। इस से आप अपने शरीर को संतुलित बनाए रख सकते है और साथ ही एक संतुलन जीवन को सुखदायक रूप से जी सकते है। इस आर्टिकल में शराब के वे लाभ को दर्शाया गया है जिनको आप शराब को हद में रहकर पीने से प्राप्त कर सकते है, लेकिन ध्यान रखें की हद से अधीक सेवन हानिकारक है।

शराब पीने का सही तरीका, आपको अपनी हद के बारे में पता होना चाहिये (You know your limits)

शराब पीने की आदत को कम पीने से शुरू कर बनाए और यह ध्यान रखें की आप इनका सेवन ज्यादा ना करें। उदहारण के लिए अपने ऑफिस में ठंडे पानी के कूलर की बजाय बियर केग (beer keg) रखें और इसे कम मात्रा में पीते रहें। दिन में महिलाओं के लिए एक ग्लास बियर और पुरुष के लिए 2 ग्लास बियर से कोई हानि नहीं पहुँचती है। शराब को स्ट्रेस दूर करने के लिए उपयोग किया जाता है और इस से आप हल्का भी महसूस कर सकते है। ये हार्ट के लिए भी उपयोगी है लेकिन ज्यादा मात्रा में इसका सेवन करने से यह हानिकारक भी है।

पुरुषों की स्वस्थ सेहत के लिए उत्तम आहार

शराब पीने के फायदे हार्ट की सहायता करता है (Aids heart hai daru pine ke fayde)

लोग जो सही आकार में हो वे अगर हद में रहकर ड्रिंक करते है तो वे 25 से 40% कम स्ट्रोक और हार्ट अटैक का शिकार बनते है। इस से उनकी आर्टरीज (arteries) भी दृढ़ नहीं बनती है। कम मात्र में पीने से HDL या अच्छे कोलेस्ट्रोल की मात्रा बढ़ने लगती है। और दुसरे हाथ अगर ज्यादा ड्रिंक करते है तो हार्ट से सम्बंधित बीमारियाँ बढ़ने लगती है। इसलिए सही सेहत के लिए संतुलन बनाए रखें।

आपको सक्रिय रखता है (Keeps you active hai sharab ke labh)

जो लोग हद में रह कर ड्रिंक करते है वो अक्सर बाकी लोगो से ज्यादा सक्रिय रहते है। इस से उन्हें एक दम से एनर्जी प्राप्त होती है, जिस से वे तुरंत काम पर लग जाते है। अगर आप ज्यादा व्यायाम / एक्स्सरसाईस करते है तो आप रोजाना थोडा बहुत ड्रिंक करना शुरू कर देते है। इस से साइंटिस्ट भी व्याकुल हो गए है की शराब के कारण यह सब कैसे होता है।

Subscribe to Blog via Email

Join 45,326 other subscribers

किडनी में स्टोन उत्पन्न होने से रोकता है (Prevents stone build up in kidneys)

जो हद में रह कर शराब का सेवन करते है उनमे कम किडनी स्टोन (kidney stone) उत्पन्न होने का जोखिम होता है। अगर आप बियर पीते है तो आप 41% चांस से इस जोखिम से बचते है और अगर आप वाइन पीते है तो आप 33% चांस से इस जोखिम से गुज़रते है। शराब में भी कॉफ़ी और टी/ चाय की तरह कैफीन (caffeine) होता है लेकिन इनके प्रभाव अलग होते है। शराब के पीने के बाद आपको मूत्र करना होता है और इनका ज्यादा सेवन करने से आपको चक्कर भी आने लगते है लेकिन चाय और कॉफ़ी से ये सब नहीं होता है। लेकिन शराब से किडनी में जमे छोटे पार्टिकल्स दूर हो जाते है और इस तरह किडनी फ्री रहती है। लेकिन ज्यादा शराब पीने से शरीर में डीहाइड्रेशन हो जाता है और किडनी का स्टोन बनने का जोखिम ज्यादा बढ़ जाता है।

शराब पीने के लाभ आपको सामाजिक बनाता है (Makes you social)

चॉकलेट के स्वास्थ्य और सौंदर्य लाभ – मार्किट में मिलने वाली ऐसी ही कुछ चॉकलेट

जब आप ड्रिंक करते है तब आप दुसरे व्यक्ति से ज्यादा संपर्क बनाने की कोशिश करते है। जब आप पार्टी या कोई इवेंट को अटेंड करते है तब उसमे आपको शराब ज़रूर मिलती है। इस से आप ज्यादा सामाजिक बनते है और सबके साथ खुल कर पेश आते है। इन पार्टी के अलावा शराब के कारण दोस्तों के साथ भी संबंध गहरा जुड़ जाता है। इस से आप ज्यादा बातें करना, जानकारी प्राप्त करना और हसना पसंद करते है।

यौन – क्रिया को बढाता है (Boost sex life se sharab pine ke fayde)

आत्मीयता से स्ट्रेस कम हो सकता है और कम ड्रिंक का सेवन करने से आप अपने यौन- क्रिया को बढाते है। इस से आप बिना पिए भी खुश रहने लगते है। रिसर्च के अनुसार जो महिलाए रोजाना रेड वाइन (red wine) पीती है उनमे यौन- क्रिया के लिए ज्यादा प्रेरणा होती है और जो महिलाए ड्रिंक नहीं करती है उनमे यौन- क्रिया कम उत्पन्न होती है। ड्रिंक को पीने से पुरुष के टेस्टोस्टेरोन (testosterone) की मात्रा बढ़ जाती है। लेकिन ज्यादा पीने से भी यौन- क्रिया कम होने लगती है।

ब्रेन के काम काज को सुधारता है (Improves brain functioning)

हफ्ते में कम मात्रा में ड्रिंक लेने से आप अल्झाइमर (alzheimer) के रोग से दूर रहते है। एक माइंड डाइट भी है जिसका पालन कर आप ब्रेन सम्बंधित रोग से दूर रह सकते है। इस डाइट में वाइन भी होती है, वाइन को सबसे ज्यादा उपयोग करने को कहा जाता है क्योंकि वाइन स्ट्रोक और हृदय के दर्द के जोखिम को कम करती है। स्ट्रोक और हृदय में दर्द अल्झाइमर के कारण उत्पन्न होते है।

ब्लड शुगर लेवल को संतुलित करता है (Balance blood sugar level)

जब आप खुश होते है तब खाने के साथ वाइन या शराब का उपयोग करना पसंद करते है, इस से आप टाइप 2 डायबिटीज का कम शिकार बनते है। टाइप 2 डायबिटीज बाकी डायबिटीज से ज्यादा सामान्य है। साइंटिस्ट अभी भी पता नहीं लगा सकें है की ये कैसे काम करता है लेकिन थोड़ी मात्रा में ड्रिंक लेने से आपके ब्लड शुगर की मात्रा संतुलित होती है और इस तरह आप स्वस्थ रहते है।

loading...