Hindi tips for working pregnancy women – दफ्तर में काम करने वाली गर्भवती औरतें के लिए सुरक्षा के सुझाव

गर्भावस्था के दौरान आप किसी प्रकार का तनाव अपने अन्दर न रखें, इस वक्त का आप खुल के आनंद लें। नकारात्मक विचारों को अपने से दूर रखें। पहले से ही इन 9 महीनों के वक्त का सारा इंतज़ाम कर लें जिससे की आपको तनाव का सामना न करना पड़े और आप अपने घर में नए आने वाले मेहमान का स्वागत अच्छे से कर सकें।

  • दफ्तर के लिए जाते समय खाना और पानी अपने साथ जरुर रखें और कोशिश करें की खाना घर का ही बना हो। यह आपको विभिन्न प्रकार के संक्रमण और पाचन की अन्य बीमारियों से दूर रखेगा।
  • दिन भर काम के बीच-बीच में छोटे- छोटे विश्राम लें। अपने बैठने की स्थिति को भी बदलते रहे ,काम से समय मिलते ही आस पास थोड़ी चहलकदमी करें।
  • अच्छी मुद्रा में बैठे ,इससे आपकी स्वास्थ्य की स्थिति सही रहेगी। कभी – कभी आपको लग सकता हैं की आपकी पैर की एड़ियां सूज गयी हैं तो आप उनको आस-पास किसी कुर्सी या फिर किसी ऊँचे स्थान पर आराम करने के लिए रख सकते हैं।
  • अक्सर अपने शरीर के तनावपूर्ण मुद्राओं से बचें। सीढियों का प्रयोग ना करें और लिफ्ट का ही ज्यादातर इस्तेमाल करें। अपनी उर्जा को बचा कर रखें और जल्दी थकने से बचें।
  • सिगरेट और कॉफ़ी का सेवन हानिकारक हो सकता हैं। कैफीन और निकोटीन आपके बच्चे को नुकसान पहुंचा सकते हैं।
  • उबड़- खाबड़ सड़कों पर जाने से बचें। सड़कों के गड्ढे से आपके शरीर को धक्का लग सकता हैं और आपके बच्चे के लिए नुकसान दायक हैं।

संकुचन क्या है? संकुचन से किस तरह महसूस होता है?

  • दिन भर ताज़ा रस और पानी का सेवन करें। शराब को बिलकुल भी हाथ ना लगायें। आपके शरीर में हाइड्रेशन होने से दर्दनाक ऐठन नहीं होती।

प्रसव पूर्व देखभाल व्यायाम और गतिविधियाँ (Exercises and activities)

अगर आप अपने दफ्तर में बहुत सक्रीय रहते हैं तो अपनी गतिविधियों को वैसे ही जारी रखें लेकिन उनकी गति को थोडा धीमा कर दें। जो व्यायाम आप गर्भावस्था धारण करने से पहले करते थे उनसे आपको आराम नहीं मिलेगा , आपको अपने डॉक्टर से व्यायाम के लिए परामर्श लेना चाहिए जो आप गर्भावस्थाके दौरान कर सकें। आपकी दिल की धड़कन की गति 180 पर मिनट होनी चाहिए। सुबह उठ कर या शाम को टहलना इस समय के लिए बेहतर व्यायाम हैं। अगर आपने कभी व्यायाम नहीं किया हैं तो आप अपने डॉक्टर से इस बारे में परामर्श ले और उसी के अनुसार एरोबिक्स या व्यायाम करें।

कम उम्मीदें रखें (Keep low expectations)

खुद से यह उम्मीद ना रखें कि गर्भावस्था के पहले आप जिस तरह काम करती थी, वैसे ही बाद में भी काम कर पाएंगी। अगर आपका काम आपके ऊपर काफी दबाव डाल रहा है और इससे आपको तकलीफ हो रही है तो अपने मालिक से आपका अस्थाई ट्रांसफर (transfer) करवाने को कहें, जिससे आप पर काम का बोझ कम हो जाए। अगर हो सके तो आप अपनी सुविधा के हिसाब से कुछ घंटों तक ही काम कर सकती हैं। अगर आपके दफ्तर में रसायनों को लेकर काम होता हो तो आपको काफी सावधानी बरतने की आवश्यकता है।

गर्भवती महिला के लिए भोजन और स्वस्थ्य (Food and health are related)

गर्भावस्था के दौरान भोजन (pregnancy mai suraksha) का ख्याल रखें। भोजन का सामन खरीदते वक्त उनके खराब होने की तारीख जरुर देखें  और ताज़े फल और सब्जियों का ही सेवन करें।

अपने हाथ और खाना बनाने के बर्तन हमेशा साफ़ रखें। जब भी आप कुछ खाएं या खाना बनाएं हमेशा अपने हाथों को साफ़ रखें। चाहें आप दफ्तर में हो या घर पर हमेशा इस बात का याद रखें। अपने आपको किसी भी प्रकार की चोट लगाने से बचाएँ यह आपके स्वस्थ्य के लिए बहुत हानिकारक हैं।

मतली (Nausea se pregnancy mai suraksha)

मतली गर्भवती महिलाओं में पायी जाने वाली एक सामान्य समस्या है। किसी मीटिंग (meeting) के वक़्त दरवाज़े के पास बैठें, जिससे कि आप आसानी से बाथरूम (bathroom) जा सकें। अपने साथ हमेशा एक अतिरिक्त कपड़ों की जोड़ी, पेपर टॉवेल्स और माउथवाश (paper towels and mouthwash) रखें। खाने पीने के स्थान पर कम से कम समय बिताने का प्रयास करें। इस स्थिति में खानपान की महक से भी आपको काफी परेशानी हो सकती है। पानी के साथ अदरक का काढ़ा या अदरक की चाय पिएं।

गर्भावस्था में खुद की देखभाल करने के नुस्खे

गर्भावस्था में देखभाल आरामदायक कपड़ों का चयन करें (Clothes must be comfortable)

बाज़ार में गर्भवती औरतों के लिए विभिन्न प्रकार के कपडे उपलब्ध हैं। उनका इस्तेमाल करें , इस समय आप जो भी कपडा पहनें वो मुलायम और प्राकृतिक धागे से बना होना चाहिए। आप अपने इस समय में ढीले कपड़ों का भी चयन कर सकते हैं जो की आज कल फैशन में भी हो और आपके लिए आरामदायक भी सिद्ध हों। हील्स वाली चप्पल बिलकुल न पहनें इनसे आपको हमेशा गिरने का डर बना रहेगा।

हमेशा अपने साथ कुछ नाश्ता रखें (Always keep snacks along with you)

खाने की चीज़ें साथ में रखने से मस्तिष्क और शरीर दोनों ही तन्दुरुस्त रहते हैं। गर्भावस्था में हमेशा आपको कुछ चीज़ें साथ में रखनी चाहिए। सही और पौष्टिक भोजन करना काफी अनिवार्य है। पोषक भोजन करें और अपने साथ नट्स (nuts), फल, दही आदि रखें। अपने भोजन में ताज़ी सब्ज़ियों और फलों के रस का समावेश करें। हर दो घंटे में कुछ ना कुछ खाते रहें जिससे आपकी ऊर्जा बनी रहे और आपका स्वाभाव भी अच्छा रहे।

आराम करें और काम करें (Rest and work are good for you)

ज़्यादा थकान आपके लिए अच्छा नहीं होता। अगर आपको कोई ख़ास समस्या है तो अपने डॉक्टर से सलाह करें कि क्या आप इस अवस्था में काम कर सकती हैं, या आपको छुट्टी की आवश्यकता है। शरीर को ज़्यादा ना थकाएं। इस समय आपका शरीर कमज़ोर रहता है, अतः पूरी तरह आराम करके इसे स्वस्थ रखें।

गर्भवती महिला की देखभाल, हमेशा याद रखें गर्भावस्था के समय इतना काम न करें की आपको थकावट महसूस हो। अगर आपको किसी भी प्रकार की दिक्कत महसूस होती हूँ तो अपने डॉक्टर से जरुर परामर्श लें की आपको इस समय नौकरी करनी चाहिए या नहीं। इस समय आपका शरीर कमजोर हो जाता हैं तो आपको ऐसे समय में बहुत आराम और स्वास्थ्यवर्धक चीज़ों का सेवन ही करना चाहिए।

गर्भावस्था के दौरान अपनी खूबसूरती और अपनी देखभा

कार चलाते वक़्त की सावधानियां (Car safety driving tips se pregnancy me dekhbhal)

आप सुरक्षा उपायों के साथ गर्भावस्था के वक़्त भी गाड़ी चला सकती हैं। दोनों पैरों और कन्धों के बचाव के साधनों का प्रयोग करके गाड़ी चलाएं। अपनी गोद में लगाई जानी वाली बेल्ट (belt) गर्भ में पल रहे बच्चे के नीचे लगाएं। अपने पेट के नीचे सीट बेल्ट (seat belt) अच्छे से कस लें। कार से उतरने के बाद शरीर की थोड़ी हरकत करें और चलना शुरू कर दें।

सुनिश्चित करें कि आप सुरक्षित वातावरण में हैं (Ensure that you are in a safe environment at work)

अगर आप ऐसा काम करती हैं जहां रसायनों को लेकर काम होता हो, तो इस बात का ध्यान रखें कि इनके संपर्क में ना आ पाएं। इससे आपकी गर्भावस्था पर नकारात्मक प्रभाव पड़ेगा।

अपने अधिकार जानें (Know your rights)

शारीरिक श्रम वाले कार्यों में गर्भावस्था के दौरान कार्य करना काफी मुश्किल हो जाता है और इस स्थिति को आसान बनाने के लिए गर्भवती महिलाओं के लिए कुछ नियम हैं। अगर आप इस तरह के कार्य करती हैं तो गर्भावस्था के दौरान आप काम में बदलाव की मांग कर सकती हैं। आप चाहें तो छुट्टी भी ले सकती हैं, पर ऐसा करना आपके लिए सही नहीं होगा। अतः अपने अधिकार जानें और अपने मालिक को इस समय आपके लायक कोई काम देने को कहें।

ज़्यादा तनाव ना लें (Do not overstrain)

कामकाजी महिलाओं के लिए यह समझना काफी ज़रूरी है कि गर्भावस्था के वक़्त उनका शरीर काफी कमजोर हो जाता है और धीरे धीरे सामान्य काम करने में भी उन्हें कठिनाई होने लगती है। अतः इस स्थिति में ज़्यादा काम करने की कोशिश ना करें। अगर आप सोच रही हैं कि आप गर्भावस्था के पहले जो काम कर रही थी, बाद में भी वैसे ही करेंगी तो ऐसा नहीं होगा। अतः अपनी कमज़ोरियों को पहचानें और अपनी शारीरिक समस्याओं को समझें।

काफी पानी पिएं (Drink plenty of water)

गर्भावस्था के दौरान महिलाओं के लिए सर्वोताम सुझाव

गर्भावस्था के दौरान पर्याप्त मात्रा में पानी पीना आपके शरीर के स्वस्थ और ऊर्जावान बने रहने के लिए काफी ज़रूरी है। अतः भले ही आप किसी लम्बी मीटिंग में हों, पानी बार बार पीती रहें। इस बीच अगर आपको बाथरूम (bathroom) जाना पड़े तो शर्माएं नहीं। पर्याप्त मात्रा में पानी का सेवन करने से चिंताएं भी कम होती हैं।

काम को मज़े से करें (Enjoy your work)

गर्भवती महिलाओं को यह समझना चाहिए कि इस स्थिति में घर बैठना सही नहीं है, अतः काम पर जाना आपके लिए गर्भावस्था और स्वास्थ्य के दृष्टिकोण से भी काफी ज़रूरी है। डॉक्टरों का कहना है कि जब तक आपको कोई गम्भीर समस्या ना हो, आपको बच्चे को गर्भ में धारण करने से पहले वाला ही जीवन जीने का प्रयास करना चाहिए। अतः काम पर जाएँ, बात करें, हंसें और थकने पर विश्राम करें।

loading...