Hair benefits in hindi of using henna – बालों के लिये मेंहदी के फायदे

प्राचीन समय से मेहन्दी बालों की सुन्दरता बढ़ाती रही है। हिना के पत्तों का प्राकृतिक रंग बालों को बरगंडी कत्थई बनाता है।

हिना बालों को कई तरह से फायदे पहुँचाती है यह कलर करने के साथ साथ इन्हें कोमल बनाती है, बालों की जड़ों को नरिश कर के इन्हें मज़बूत बनाती है। यह भी माना जाता है कि हिना के प्रयोग से रूसी दूर होती है।

हिना के फ़ायदे / मेहंदी की उपयोगिता (Benefits of henna for hair in detail in Hindi)

मेहंदी के फायदे, बालों के झड़ने का उपचार करे (Treats the hair fall hai balo ke liye gharelu nuskhe in hindi)

हमारे दैनिक जीवन में बालों के झड़ने के कई कारण होते हैं, जैसे रोज़ाना के खानपान में पोषण का अभाव, हॉर्मोनल परिवर्तन (hormonal changes), प्रदूषण या बालों की स्टाइलिंग (styling) के उत्पादों का अत्याधिक प्रयोग। हेना बालों को झड़ने से रोकती है और प्राकृतिक रूप से हमारे लिए प्रभावी साबित होती है। आंवला और मेथी का प्रयोग बालों के झड़ने की समस्या के लिए प्राकृतिक घरेलू उपचार के तौर पर किया जाता है। मेहंदी के चिकित्‍सीय उपयोग, मेथी प्रोटीन्स (proteins) से भरपूर होती है, जिसकी मदद से बालों के फॉलिकल्स (follicles) को पोषण मिलता है और बालों का झड़ना भी रूकता है। एक कप आंवला पाउडर, 2 चम्मच हेना, 2 चम्मच मेथी पाउडर, 1 अंडे की सफेदी तथा एक नीम्बू लें। इन सबको अच्छे से मिश्रित करें और 1 घंटे के लिए अलग रख दें। अब इसका प्रयोग अपने बालों पर करें और 45 मिनट के लिए छोड़ दें। इसे सादे पानी से धो लें। इसका प्रयोग 6 हफ़्तों तक हफ्ते में 1 बार करें और आपको अपने बालों में काफी बड़ा फर्क नज़र आने लगेगा।

बालों में मेंहदी के फायदे डैंडरफ कम करे (Reduces dandruff hai mehndi ke gun)

सर्दियों के लिये प्राकृतिक घर का बना हेयर मास्क

डैंडरफ और सिर की खुजलीदार त्वचा की समस्या काफी सामान्य है और हममें से ज़्यादातर लोगों को इसका सामना करना पड़ता है। डैंडरफ की मदद  से सिर की त्वचा काफी रूखी हो जाती है और इसमें खुजली भी होने लगती है, जिससे फंगल (fungal) संक्रमणों को बढ़ावा मिलता है। डैंडरफ से लड़ने के लिए हेना काफी बेतरीन उपाय है। नीम्बू और दही का अम्लीय (acidic) स्वभाव सिर में फंगस की बढ़त नहीं होने देता और सिर की त्वचा को नमी प्रदान करके रूखेपन को दूर करता है।

बालों के लिये मेहन्दी, 1 से 2 चम्मच मेथी के बीज लें और इन्हें रातभर पानी में भिगोकर रखें। सुबह इन्हें पीस लें और इसमें गर्म सरसों का तेल मिश्रित करें। अब इसमें हेना की कुछ पत्तियां मिलाएं। इसे कुछ देर के लिए ठंडा होने दें और और इसमें मेथी का पेस्ट डालें। तेल के इस मिश्रण को छानकर खुरदुरे तत्वों को निकाल लें। इसका प्रयोग अपने सिर और बालों पर करें और एक घंटे के लिए छोड़ दें। अब अपने बालों को शैम्पू (shampoo) से धो लें।

वैकल्पिक तौर पर एक कप मेथी के बीज, 2 कप दही, 1 कप हेना पाउडर और एक नीम्बू लें। मेथी के बीजों को रातभर दही में डुबोकर रख दें और इन्हें सुबह पीस लें। अब इसमें एक चम्मच हेना पाउडर और नीम्बू का रस मिश्रित करें। इस पेस्ट का प्रयोग अपने सिर की त्वचा पर करें और 45 मिनट के लिए छोड़ दें। अब अपने बालों को ठन्डे पानी से धो लें और इनपर शैम्पू  ना करें। शैम्पू का प्रयोग अगले दिन करें। इसका प्रयोग हफ्ते में एक बार तब तक करें, जब तक आपको अपेक्षित परिणाम नहीं प्राप्त हो जाते।

मेहंदी के गुण, बालों को रंगना (Colours grey hair)

इसकी सबसे बड़ी उपयोगिता, बालों को प्राकृतिक तरीके से रंगना है। सफ़ेद बालों में केमिकल का उपयोग इन्हें नुकसान पहुंचाता है, इसलिये हिना एक बेहतर प्राकृतिक विकल्प होता है।

मेहंदी के गुण, बालों का कंडीशनर (Hair conditioner)

हेना बालों को कंडीशन (हेयर कंडीशनर) करने में काफी महत्वपूर्ण भूमिका निभाती है और इसके द्वारा बनाई गयी सुरक्षा परत आपके बालों को किसी भी प्रकार के नुकसान से बचाती है। रोज़ाना इस्तेमाल से हेना आपके बालों को घना, मज़बूत और नमीयुक्त बना देती है। यह आयुर्वेदिक हेयर पैक बालों में प्राकृतिक रूप से चमक लाता है और इन्हें काफी मज़बूत बनाता है। यह एक प्राकृतिक हेयर कंडीशनर है जो बालों के रूखे  क्यूटिकल्स को नरम बनाती है। यह बालों को प्राकृतिक चमक प्रदान करती है। यह इन्हें उलझने से भी रोकती है और इन्हें सीधा रखती है। यह फ्रिज़ी (frizzy) बालों को भी सुलझा हुआ बनाए रखने में काफी मदद करती है।

2 कप हेना पाउडर, 1 कप आंवला पाउडर, 2 चम्मच जपाकुसुम के फूल का पाउडर, 2 चम्मच मेथी पाउडर और 1 चम्मच संतरे के छिलके के पाउडर को लें। अब इसमें दही का मिश्रण करके एक गाढ़ा सा पेस्ट तैयार करें। इसे 1 से 2 घंटों के लिए छोड़ दें और फिर बालों पर इसका प्रयोग करें। अब सिर में शावर कैप (shower cap) लगाकर 1 घंटे के लिए छोड़ दें। इसे पहले पानी से धोएं और फिर शैम्पू से।

घर बैठे हिना हेयर पैक कैसे बनाएं?

मेहंदी के फायदे, जड़ों को मज़बूत बनाये (Makes hair roots strong)

बालों में मेंहदी के फायदे, हिना को बालों की जड़ों में लगाने से ये मज़बूत बनते हैं । बेहतर परिणाम के लिए हिना में थोड़ा सा दही और नीबू मिला लें।

बालों का रंग (Hair color hai mehandi ke fayde)

हेना आपके बालों को रंगने के लिए बाज़ार मं मौजूद सबसे अच्छा उत्पाद है। यह आपके बालों को नुकसान पहुंचाए बिना काफी अच्छी रंगत प्रदान करता है। बाज़ार में मिलने वाले ज़्यादातर बालों को रंगने वाले उत्पादों में रसायन मिला हुआ होता है। हेना बालों के लिए सबसे श्रेष्ठ प्रकृतिक उपचार है, क्योंकि इसमें कोई एमिनो एसिड (amino acid) या अन्य रसायन नहीं होते जिससे आपके बाल स्वस्थ बने रहते हैं।

2 चम्मच सूखे आंवले को पानी में मिलाकर उबालें। इसमें एक चम्मच काली चाय तथा 2 लौंग डालें। अब इस पानी को छान लें तथा इसमें हेना का मिश्रण करें। एक गाढ़ा पेस्ट बनाएं तथा इसे रातभर या कम से कम 2 घंटों के लिए छोड़ दें। इस पेस्ट का प्रयोग अपने बालों और सिर की त्वचा पर करें। हेना के प्रयोग के आधार पर इसे 2 से 3 घंटों के लिए छोड़ दें। अब इसे गर्म पानी से धो लें और एक सौम्य शैम्पू का प्रयोग कर लें।

हिना के गुण, बालों की बढ़त (Hair growth hai mehandi ke baalon ke liye labh)

हेना बालों की बढ़त के लिए काफी महत्वपूर्ण उपचार है। यह आपके बालों को चमक और घनत्व प्रदान करती है। इससे आप खुद का तेल बना सकते हैं जो बालों के झड़ने, सफ़ेद बाल और प्रदूषण से आपको बचाती है। यह प्राकृतिक रूप से आपके बालों को बढ़ने में मदद करती है।

5 कप हेना पाउडर और आधा किलो जिन्जिली तेल (gingili oil) लें। इस तेल को गर्म होने तक उबालें और इसमें हेना पाउडर मिश्रित करें। इसे 5 से 6 मिनट तक उबलने दें और फिर इस मिश्रण के ठन्डे हो जाने की प्रतीक्षा करें। इस मिश्रण को एक बोतल में जमा करें और बाद में प्रयोग के लिए इस्तेमाल करें। 2 महीनों तक हफ्ते में 2 से 3 बार इस तेल का प्रयोग करें।

हेना का बालों पर प्रयोग करने से पहले आपको इसे बनाने की विधि आनी चाहिए। हेना पाउडर को उबली चाय की चाशनी में डुबोया जाता है और दही के साथ मिश्रित करके बालों की कंडीशनिंग और रंगत के लिए प्रयोग में लाया जाता है। इसमें थोड़ा कॉफ़ी पाउडर (coffee powder) भी मिलाया जाता है। अगर आप डैन्ड्रफ का उपचार करना चाहते हैं तो इसमें नींबू का रस मिश्रित करें। अगर आप बालों को नमी प्रदान करना चाहते हैं तो जैतून का तेल (olive oil) इसके लिए अच्छा रहेगा।

रूखापन दूर करे (Reduces dryness)

मेहंदी के चिकित्‍सीय उपयोग, यह बालों का रूखापन दूर करती है हिना के द्वारा बालों को रेशमी बनाया जा सकता है।

बालों में मेंहदी के फायदे, बालों को सीधा बनाये (Straighten the hairs)

कई लोगों का मानना है कि हिना का प्रयोग बालों का घुंघरालापन दूर करता है।

बालों के लिए हिना के घरेलू पैक्स

स्कैल्प को साफ़ करे (Scalp cleanliness se balo ke liye mehndi in hindi)

बालों में होने वाली रूसी और अन्य तरह के इन्फेक्शन हिना के प्रयोग से ठीक होते हैं और स्कैल्प की प्राकृतिक तरीके से सफाई भी हो जाती है।

हिना को प्रयोग करने से पहले चाय के पानी में भिगोयें और इसमें थोड़ा सा दही और कॉफ़ी का पाउडर मिला लें। रूसी से सुरक्षा के लिए इसमें नीबू का रस और ओलिव ऑइल भी मिलाया जा सकता है।

loading...

Subscribe to Blog via Email

Get Hindi tips to your inbox everyday