Hindi tips to prevent hair loss in winter season – सर्दियों के दौरान बालों के झड़ने, बालों के गिरने से बचाने के लिये घरेलू उपचार

बालों का झडना एक सामान्य समस्या है, जिसके शिकार ज़्यादातर लोग पूरे साल में होते रहते हैं। यह समस्या ठण्ड के मौसम में काफी गंभीर रूप धारण कर लेती है। इस समय हवा में नमी होती है और सिर में रूसी/डैन्ड्रफ (dandruff), रूखापन, खुजली आदि काफी सामान्य है। बालों की देखभाल के तरीके नीचे दिए है।

सर्दियों के सुहाने मौसम में बालों के गिरने की समस्या प्राय:कई लोगों को उदास कर देती है। अगर आप बालों कि समस्या का समाधान करने की कोशिश कर रही हैं जो ठन्ड के मौसम के कारण होती है तो सबसे पहले आपको इसके कारणों को समझना होगा। सर्दियों में, आपकी त्वचा की तरह, हमारी खोपड़ी और बाल भी सूख जाते हैं।

सूखे बालों में प्राकृतिक टूट और झड़ना सामान्य रहता है। दूसरी तरफ, खोपड़ी भी ठंड से सूख जाती है। इसकी वजह से रूसियों को दिखायी पड़ना शुरू हो जाता है। इसलिये एक अस्वस्थ खोपड़ी के साथ एक अस्वस्थ बाल इस मौसम में बालों के गिरने की समस्या का कारण होते हैं।

आप इस गिरने की समस्या को सिर्फ बालों की देखभाल के आदतों में बदलाव के द्वारा नियंत्रित कर सकते हैं। बालों का झडना एक सामान्य समस्या है, जिसके शिकार ज़्यादातर लोग पूरे साल में होते रहते हैं। यह समस्या ठण्ड के मौसम में काफी गंभीर रूप धारण कर लेती है। इस समय हवा में नमी होती है और सिर में रूसी/डैन्ड्रफ (dandruff), रूखापन, खुजली आदि काफी सामान्य है।

रूखे बाल प्राकृतिक रूप से ही ज़्यादा मात्रा में टूटते हैं। दूसरी तरफ जैसे ही आपका सिर अत्याधिक ठण्ड की वजह से रूखा हो जाता है, तो डैन्ड्रफ/रूसी की समस्या सामने आती है। अतः अस्वस्थ सिर की त्वचा तथा अस्वस्थ बाल मिलकर बालों के झड़ने की शुरुआत करते हैं। आप सिर्फ अपने बालों के देखभाल के तरीके में थोड़ा बदलाव लाकर और इसमें घरेलू हेयर पैक (hair pack) को शामिल करके बालों का झडना/हेर लॉस रोक सकते हैं।

घरेलू हेयर कंडीशनर बनाने के उपाय

उच्च आर्द्रता और बालों की कमी के कारण सर्दियों में बालों का झड़ना बहुत ही सामान्य है। बालों का गिरना संक्रमण का परिणाम है। हम सम्भवत: प्रतिदिन सामान्यतया 50 से 100 तंतुओं को खो देते हैं। पुरुषों और महिलाओं में तनाव की स्थिति में अधिक एण्ड्रोजेन निकलता है यह हार्मोनों के असंतुलन को प्रोत्साहित करता है जो बालों के झड़ने को प्रोत्साहित करता है।

कुछ तनाव लगातार बालों के रंग, विरंजक के कारण होता है। ये बाल जड़ों के पास से भी टूट सकते हैं। बालों की वृद्धि के लिये संतुलित विटामिन भरपूर आहार आवश्यक है। बालों को झड़ने/हेयर लॉस से बचाने के उपाय प्रभावी और घर पर आसानी से उपयोग जो सकते हैं।

बाल गिरने का कारण – तनाव (Stress)

तनाव बालों के झड़ने का काफी अहम कारण है। अत्याधिक मानसिक, शारीरिक तथा भावनात्मक तनाव आपकी त्वचा और बालों के लिए अच्छा नहीं होता है। हेयर लॉस, बालों के झड़ने का एक और कारण गर्म उपकरणों जैसे ड्रायर्स, स्ट्रेटनर तथा कर्लर (dryers, straighteners and curlers) का प्रयोग भी हो सकता है। डाई, शैम्पू तथा जेल (dyes, shampoos and gels) में मौजूद केमिकल्स (chemicals) भी बाल झड़ने का कारण होते हैं। खानपान की खराब आदतें, शराब तथा धूम्रपान करना भी बाल झड़ने की एक प्रमुख वजह हैं। बालों की सही देखभाल ना करना भी इनके झड़ने का काफी बड़ा कारण हैं। बालों की देखभाल कैसे करें।

  • तेल मालिश सर्दियों में प्रमुख भूमिका निभाते हैं। बादाम तेल और जैतून तेल स्वास्थ्यकारी तेल हैं जो विटामिनों और वसीय अम्लों के साथ त्वचा और बालों को उपलब्ध कराते हैं।
  • आपके शरीर द्वारा सीबम तेल उत्सर्जित किया जाता है जो प्राकृतिक मॉइस्चराइज़र के रूप में काम करता है। जोजोबा तेल सीबम के समान है और सीरम और खोपड़ी द्वारा आसानी से अवशोषित हो जाता है।
  • गेहूं अंकुर का तेल बहुत सारे विटामिनों से भरपूर होता है। इसमें से विटामिन ई स्वस्थ बालों के लिये आवश्यक है।
  • सर्दियों के दौरान शैम्पू का उपयोग कम करना चाहिये। उसी शैम्पू का उपयोग करें जो विशेष रूप से सर्दियों के लिये बना हो। उन शैम्पुओं से बचें जो सोडियम लाउरिल सल्फेट या सोडियम माइरेथ सल्फेट को शामिल करते हैं।

बाल झड़ने को रोकने के उपाय/उपचार (Baal jhadne se rokne ke upay)

बालों को झड़ने से बचने के घरेलु उपाय

अंडे की सफेदी और दही का लेप (Egg white and curd paste)

सामग्रियां (Ingredients)

  1. अंडा
  2. शिकाकाई पाउडर
  3. ताज़ी दही

प्रक्रिया (Procedure)

  1. तीन अंडों की सफेदी एक कटोरे मे लें। इसमें दो चम्मच ताजी दही डालें।
  2. इसे मिलायें और शिकाकाई पाउडर डालें।
  3. खोपड़ी पर समान रूप से लगायें। 30 मिनट के लिये छोड़ दें।
  4. धुल दें। सप्ताह में एक बार अवश्य करें।

दालचिनी पाउडर और जैतून तेल (Cinnamon powder and olive oil)

सामग्रियां (Ingredients)

  1. जैतून तेल
  2. शहद
  3. दालचिनी पाउडर

प्रक्रिया (Procedure)

  1. एक कटोरी में 2 चम्मच जैतून तेल और दो चम्मच शहद को मिलायें।
  2. मिश्रण को मिलायें। एक चम्मच दालचिनी पाउडर को मिलायें। इस मिश्रण अच्छे से मिलाकार चिकना लेप बना लें।
  3. खोपड़ी और चेहरे पर लगायें। 20 -30 मिनट के लिये छोड़ दें।
  4. धुल दें। अच्छे परिणाम के लिये इस उपाय को सप्ताह में एक बार अवश्य करें।

रूखे सूखे और खराब बेजान बालों के लिए खुद से बनाए हेयर मास्क और हेयर पैक

प्याज और शहद (Onion and honey)

सामग्रियां (Ingredients)

  1. प्याज
  2. शहद

प्रक्रिया (Procedure)

  1. एक प्याज लें और इसके दो टुकड़े करें। एक प्याज का टुकड़ा लेकर चिकना लेप बना लें।
  2. प्याज के लेप में दो चम्मच शहद मिलायें। खोपड़ी पर लगायें।
  3. 15 मिनट छोड़ने के बाद गुनगुने पानी से धुल दें।
  4. इस प्रक्रिया का उपयोग नियमित रूप से सप्ताह में दो बार बालों को झड़ने से रोकने के लिये करें।

नीम पत्तियों का रस (Neem leaves juice)

सामग्रियां (Ingredients)

  1. नीम पत्तियां
  2. पानी

प्रक्रिया (Procedure)

  1. नीम की ताज़ी पत्तियों को पानी में तब तक उबालें, जब तक कि आधी मात्रा में न बच जाये।
  2. इस पानी के मिश्रण से अपने बालों और खोपड़ी को धुल दें।
  3. इस प्रक्रिया को नियमित रूप से सप्ताह में एक या दो बार बालों को झड़ने से रोकने के लिये करें।

घृतकुमारी/एलोवेरा रस और नीम लेप (Aloe Vera juice and neem paste)

सामग्रियां (Ingredients)

बालों की देखभाल के लिये करेले का जूस

  1. घृतकुमारी
  2. नीम पत्ती पाउडर
  3. आंवला तेल

प्रक्रिया (Procedure)

  1. घृतकुमारी से रस को निकालें। इस रस में नीम पत्ती पाउडर को मिलायें।
  2. इसे अच्छे से मिलायें। इस मिश्रण में कुछ बूंदें आंवला तेल की मिलायें।
  3. बालों और खोपड़ी पर लगायें। 30 मिनट के लिये छोड़ दें।
  4. इसके बाद धुले। आकर्षक बालों के लिये सप्ताह में दो बार दोहरायें।

बाल झड़ने का इलाज – घरेलू नुस्खे/उपचार (Hair fall rokne ke upay in hindi)

अदरक का रस (Ginger juice)

ठण्ड में डैन्ड्रफ/रूसी बालों के झड़ने का एक प्रमुख कारण बनते हैं एवं अदरक इसे दूर करने का सबसे प्रभावी उपाय है। थोड़े से अदरक को लेकर इसे किसें तथा इसका रस निकाल लें। इस रस को अपने सिर पर अच्छे से लगाएं। इसे एक घंटे के लिए छोड़ दें और फिर सादे पानी से धो लें। इस उपचार का प्रयोग हफ्ते में दो बार करें और आपके बालों का झड़ना निश्चित रूप से कम होगा।

गर्म तेल का उपचार (Hot oil treatment)

आप रोजाना गर्म तेल के उपचार की मदद से ठण्ड में बालों के झड़ने की समस्या से मुक्ति पा सकते हैं। यह उपचार आपके बालों और सिर की त्वचा को पोषण देकर इसे नमी प्रदान करता है। यह आपके बालों के शाफ्ट्स (shafts) को मजबूती देता है और रूखेपन की वजह से हुए डैन्ड्रफ को दूर करता है। एक चम्मच जैतून का तेल (olive oil), 1 चम्मच बादाम का तेल और 1 चम्मच नारियल के तेल को एक स्टील के पात्र (steel container) में लें। इसे हल्का सा गर्म करें तथा इससे अपने सिर तथा बालों पर अच्छे से मसाज (massage) करें। इसे रातभर के लिए छोड़ दें और सुबह एक SLS मुक्त क्लीन्ज़र (SLS free cleanser) से इसे धो दें।

बालों की देखभाल हेतु नारियल तेल के गुण

एसेंशियल तेल से उपचार (Essential oil treatment)

ठण्ड में एसेंशियल तेल के उपचार से भी आप बालों का झड़ने में कमी ला सकते हैं। रोजमेरी (rosemary) के एसेंशियल तेल के साथ इवनिंग प्राइम रोज कैरियर ऑइल (evening prime rose carrier oil) की 30 बूँदें मिलाएं। इस मिश्रण से अपने सिर की त्वचा तथा बालों पर अच्छे से मसाज करें। इसे रात भर के लिए छोड़ दें तथा सुबह एक सौम्य क्लीन्ज़र से धो दें। इस विधि के निरंतर इस्तेमाल से आपका डैंड्रफ बिलकुल दूर हो जाएगा त्तथा आपके बालों का बेहतरीन स्वास्थ्य सुनिश्चित होगा।

शहद के साथ केले का मिश्रण (Banana with honey)

यह हेयर पैक (hair pack) तब काफी कारगर सिद्ध होता है, जब आपके बाल ठण्ड में अत्याधिक रूखेपन से पीड़ित होते हैं तथा झड़ने भी लगते हैं। महीन पेस्ट (paste) बनाने के लिए एक पके केले को मैश (mash) करें तथा इसमें दो चम्मच शहद मिलाएं। इस पेस्ट को अपने बालों पर लगाएं, इसे एक घंटे के लिए छोड़ दें तथा इसके बाद एक सौम्य क्लीन्ज़र से धो लें। इससे बालों का रूखापन चला जाएगा तथा वे स्वस्थ और सुन्दर हो जाएंगे।

मेथी के बीजों के साथ करी पत्ते और तुलसी (Fenugreek seeds with curry leaves and basil)

आधे कप मेथी के बीजों को रात में साफ़ और ताज़े पानी में भिगोकर रखें। सुबह इन बीजों को 10 करी पत्तों और 10 तुलसी के पत्तों के साथ मिक्सर (mixer) में पीस लें। अब इस पेस्ट को अपने बालों तथा सिर की त्वचा में अच्छे से लगाएं। इसे एक घंटे के लिए छोड़ दें तथा इसके बाद इसे पानी से धो लें। इस विधि से आप सिर में उत्पन्न किसी भी प्रकार का संक्रमण और खुजली दूर कर सकते हैं, तथा इससे आपके बालों की जड़ें भी मज़बूत होती हैं।

शहद के साथ जोजोबा (Honey with jojoba)

20 जोजोबा के फूल या पत्तियाओं को इकट्ठा करें एक मिक्सर में मसल लें। इसमें 2 से 3 चम्मच शहद को मिलाकर इस मिश्रण को अपनी खोपड़ी और बालों पर लगा लें। यह खोपड़ी की हर प्रकार की समस्या का समाधान करेगा साथ ही आपके बालों का पोषण भी करेगा। सर्दियों के दौरान आपको इस उपचार को सप्ताह में दो बार करना चाहिये।

रूखे दोमुहें बालों/स्प्लिट एंड्स के लिए सर्वोत्तम हेयर पैक

आंवला और शिकाकाई (Amla and shikakkai)

2 आंवला और 4 से 5 शिकाकाई को लेकर इसमें से बीज को निकाले दें और इसके गूदे को धुल लें। इन दोनों को पीसकर लेप बना लें अगर आवश्यक हो तो कुछ पानी मिलायें। इस लेप को अपने सिर और बालों पर लगा लें। एक घंटे तक छोड़ने के बाद सादे पानी के साथ धुल दें। आंवला और शिकाकाई बालों के लिये बहुत पोषण देने वाले हैं। ये दोनों आपके बालों को जड़ों से मजबूत करते हैं साथ ही बालों को नमी इसके अंदर से पहुंचाते हैं। बेहतर परिणाम के लिये आप इस पैक का उपयोग सप्ताह में दो बार कर सकते हैं। आप इनमें से किसी भी घरेलू उपचार को दो महीने तक धार्मिक क्रिया की तरह करें तो यह आपको लम्बे समय तक चलने वाले परिणाम देगा।

सर्दियों में बालों के गिरने को कैसे नियंत्रित करें (How to control hair fall in winter)

सर्दियों में सूखेपन के कारण रूसी एक बहुत सामान्य समस्या है। एंटीडैंड्रफ क्लींज़र का उपयोग रूसी से बचने के लिये कैसे करें। सर्दियों में बालों को गिरने से बचाने के लिये बालों की चोटी बनाने से बचनेकी कोशिश करें। बाल सर्दियों में बहुत नाजुक हो जाते है इसलिये बालों के गिरने से बचने के लइये आराम से कंघी करें। खनिज, विटामिन, और अन्य पोषकों से भरपूर स्वस्थ आहार को अपनायें जो सर्दियों में बालों के गिरने को नियंत्रित करेगा। आपको दैनिक आहार में फल, वनस्पतियां, अनाज और नट्स को शामिल करने की सलाह दी जाती है।

सर्दियों के मौसम में बालों के गिरने के लिये घरेलू उपचार (Home remedies for hair fall in winter season – balo ka jhadna in hindi)

गर्म तेल उपचार (Hot oil Treatment)

सर्दियों में बालों का गर्म तेल उपचार बालों को झड़ने और पोषण को देने में अच्छा काम करेगा। कुछ गर्म जैतून तेल, बादाम तेल या नारियल तेल को खोपड़ी और बालों पर लगायें। एक घंटे तक छोड़ने के बाद बालों को शैम्पू से धुल लें। एवोकैडो मास्क (avocado mask) एवोकैडो विटामिन और खनिज से भरपूर है जो बालों को गहराई से पोषण करता है और बालों को गिरने और सूखेपन से बचाता है। मसले हुये एवोकैडो से मास्क बनाकर बालों पर लगाना चाहिये। 45 मिनट तक छोड़ने के बाद धुल दें। इस उपचार को हर सप्ताह दुहरायें।

बाल झड़ने से रोकने वाले सर्वश्रेष्ठ शैम्पू

नारियल (Coconut)

नारियल विभिन्न प्रकार के पोषकों से भरा होता है जो प्राकृतिक तरीके से कंडीशन और बालों की वृद्धि को करता है। इसमें प्रोटीन, आवश्यक वस्स और पोटैशियम था। नारियल का दूध को कद्दूकस करके उसमें से दूध को निचोड़ लें। इस दूध को अपनी खोपड़ी और बालों पर लगा लें। इसे रात भर बालों पर लगाकर छोड़ने के बाद सुबह धुल दें।

हिना (Henna)

हिना को भारत में प्राचीन समय से प्राकृतिक बालों के रंग और कंडिशनर के रूप में उपयोग किया जाता रहा है। यह बालों को मजबूत करने में आवश्यक भूमिका अदा करता है। इसकी प्रभाविकता इसमें सरसों के तेल को मिलाकर बढ़ायी जा सकती है। इसे कपड़े से छानकर जार में रख लें। इस तेल से नियमित बालों में मालिश करें। इसकी जगह हिना और दही को मिलाकर पैक को बना सकते हैं। बालों पर लगायें और सूखने के लिये छोड़ दें। बालों को मृदु शैम्पू से धुल दें।

कढी पत्ता (Curry flowers)

इसको बालों के तेल में उबालकर बालों के टॉनिक के रूप में उपयोग कर सकते हैं। बालों कि वृद्धि को बढ़ाने के लिये इस टॉनिक से 15 मिनट तक सिर पर मालिश करें।

बाल झड़ने के घरेलू उपाय गुड़हल से (Hibiscus)

गुड़हल को नारियल तेल के साथ मिलाकर बनाने से मोटे और स्वस्थ बाल बनेंगे। ऐसा गुड़हल में मिलने वाले गुण के कारण होता है जो बालों का पोषण करता है और समय से पहले सफेद होने से भी बचाता है। गुड़हल के फूल और नारियल तेल को मिलाकर चिकना लेप बना लें। इसे अपने सिर पर लगा लें और कुछ घंटों तक छोड़ने के बाद पानी से धुल दें।

बाल झड़ने के घरेलू उपाय धनिया से (Coriander)

धनिया बालों के लिये लाभकारी होता है यह बालों की वृद्धि को तेजी देता है। ताजी धनिया पत्ती और पानी को मिलाकर लेप बना लें। इसे सिर पर लगाकर लगभग डेढ घंटे बाद बालों को धुल दें।

10 सबसे अच्छे एलोवेरा शैम्पू

सेब रस सिरका (Apple Cider Vinegar)

यह खोपड़ी को साफ करता और बालों के पीएच स्तर को बनाये रखता है। इसका उपयोग करने से पहले इसे छने हुये गुनगुने पानी के साथ पतला करें। इसका उपयोग उचित शैम्पू करने के बाद अंतिम बार धुलने के लिये कर सकते हैं। यह बालों को चमक देता है, बालों को गिरने से बचाता है और बालों की वृद्धि को प्रोत्साहित करता है।

Subscribe to Blog via Email

Get Hindi tips to your inbox everyday