Hindi remedies for dry cracked/chapped lips – सर्दियों में फटे होंठों को ठीक करने के घरेलू नुस्खे/घरेलू उपचार

गर्मियों के झुलसाने वाले मौसम के बाद ठण्ड का मौसम काफी सुहावना लगता है। यह लोगों की ज़िन्दगी में नयी ताजगी तथा कार्यशीलता ले आता है। परन्तु इस मौसम के हमारी त्वचा पर नकारात्मक प्रभाव भी होते हैं। इस मौसम में होंठ सूखते तथा फटते हैं, क्योंकि इनकी त्वचा काफी पतली होती है और इनके ऊपर बालों का कोई सुरक्षा कवच नहीं होता है। इसकी सतह के नीचे पसीने या तेल की कोई ग्रंथि मौजूद नहीं होती। अतः होंठ शरीर के अन्य भागों की तुलना में काफी जल्दी नमी खो देते हैं। नीचे इस समस्या से निपटने के कुछ नुस्खे दिए गए हैं।

बहुत से लोग सर्दियों में फटे होंठों की समस्या से परेशान रहते हैं। ख़राब दिखने के साथ ही फटे होंठ (fate honth) काफी जलन भी पैदा करते हैं। कभी कभी ज़्यादा सूख जाने से होंठों से खून भी निकल सकता है।मौसम में बदलाव की वजह से होंठों में पड़ने वाली दरारें थोड़ा सा दबाव पड़ते ही और बड़ी हो जाती हैं,अतः सावधान रहें। अगर आप इस समस्या को लेकर सच में चिंतित हैं तो यह समय है प्राकृतिक घरेलू उत्पादों को अपनाने का।

लिप्स टिप्स – फटे होंठों को ठीक करने के घरेलू नुस्खे (Home remedies to treat dry cracked and chapped lips)

फटे होठ – एलोवेरा (Aloe Vera)

यह आमतौर पर बगीचों में पाया जाता है। आप एलोवेरा के पौधे से निकलने वाला जेल प्रयोग में लाकर फाटे होंठों की समस्या से निजात पा सकते हैं। आप सीधे पौधों से भी एलोवेरा का रस निकाल सकते हैं। सिर्फ एलो वेरा के पत्ते को होंठों के फटे हिस्से में घिसने से काफी प्रभाव पड़ता है। इस प्रक्रिया को कुछ दिनों तक प्रयोग में लाने पर फटे होंठों की समस्या पूरी तरह से समाप्त हो जाएगी।

सुंदर गुलाबी होंठों के लिए सर्वश्रेष्ठ ब्यूटी टिप्स

सरसों का तेल (Mustard oil)

भारतीय और खासतौर से बंगाल की रसोइयों में सरसों का तेल काफी प्रयोग किया जाता है। जब भी मछली या मटन बनाने की बात आती है तो हमेशा सरसों के तेल का ही प्रयोग किया जाता है। रसोईघर में इसका मिलना काफी आसान है। अगर आपके होंठ फटे हैं और काफी दर्द कर रहे हैं तो सरसों के तेल में ऊँगली डुबोकर ऊँगली को होंठों पर रगड़िये। इससे कुछ समय के लिए होंठ जलेंगे पर आपकी होंठों की तकलीफ भी इससे दूर हो जाएगी।

फटे होठ – ग्लिसरीन (Glycerin)

ठण्ड का मौसम आने के साथ ही लोग अपने त्वचा का सूखापन दूर करने के लिए ग्लिसरीन का उपयोग शुरू कर देते हैं। सोने से पहले अपने फटे होंठों पर ग्लिसरीन की सिर्फ दो बूँदें लगाएं। जैसे ही आप सुबह उठेंगे, आपके होंठ आपको बिलकुल दुरुस्त मिलेंगे।

होठ लाल कैसे करे – पेट्रोलियम जेली (Petroleum jellies)

ठण्ड में त्वचा को नमी देने के लिए पेट्रोलियम जेली का भी काफी तादाद में प्रयोग किया जाता है। दूसरे प्राकृतिक घरेलू नुस्खों के मुकाबले पेट्रोलियम जेली का होंठों पर प्रयोग आपको अस्थायी तौर पर आराम देता है।

होठों की सुंदरता – मक्खन या घी (Butter/ ghee)

अगर आपके घर में बच्चे हैं या आप नाश्ते में आमतौर पर ब्रेड और मक्खन ही खाते हैं तो इस विधि का प्रयोग करना आपके लिए आसान होगा। आपके फटे होंठों को ठीक करने में घी भी पूरी तरह सक्षम है। बस इसे थोड़ा सा अपने होंठों पर लगाएं और होंठों पर लम्बे समय तक नमी का प्रभाव बनाए रखें।

पिंक लिप्स – खीरा (Cucumber)

आप यह ज़रूर जानते होंगे कि त्वचा के लिए खीरा काफी अच्छा होता है। कई महिलाएं बेदाग और निखरी त्वचा पाने के लिए खीरे का सेवन करती हैं। एक खीरा लें और उसके कुछ टुकड़े करें। अब इन टुकड़ों को मिक्सर में डालकर इनका रस निकालें। इस रस को अपने होंठों पर लगाएं और अच्छे परिणामों के लिए 5 से 10 मिनट तक रहने दें।

होंठों की खूबसूरती – शहद (Honey)

यह एक बेहतरीन मॉइस्चराइज़र है जिसमें फटे होंठों को ठीक करने के लिए ज़रूरी एंटी बैक्टीरियल और हीलिंग गुण होते हैं। शहद और ग्लिसरीन का रात में प्रयोग सुबह नरम होंठों का कारण बनता है।

होठों की सुंदरता – चीनी (Sugar)

महिलाओं के लिए होंठों की देखभाल के नुस्खे

यह होंठों की मृत कोशिकाओं को बाहर निकालता है और उनकी प्राकृतिक नर्माहट को वापस लाता है। इसके लिए होंठों पर शहद और चीनी का लेप लगाएं।

पिंक लिप्स – गुलाब की पंखुड़ियाँ (Rose Petals)

गुलाब की पंखुड़ियों को दूध में कुछ घंटे भिगो लेने के बाद उनका एक पेस्ट बनाएं। इस पेस्ट को फटे होंठों पर दिन में 3 से 5 बार लगाएं। इससे आपके होंठों की नमी बरकरार रहेगी।

नारियल तेल (Coconut Oil)

नारियल तेल एक प्राकृतिक मॉइस्चराइज़र है जो ठण्ड या मौसम के अन्य बदलावों की वजह से फटे होंठों को ठीक करने में आपकी मदद करता है।

अरंडी का तेल (Castor Oil)

अरंडी का तेल फटे होंठों को ठीक करने का एक और बेहतरीन उपाय है। आप इसे सीधे होंठों पर लगा सकते हैं या इसमें ग्लिसरीन या नींबू के रस की कुछ बूंदों को मिलाकर भी होंठों पर लगाया जा सकता है।

दूध की मलाई (Milk Cream)

दूध की मलाई में मौजूद फैट (fat) की अधिक मात्रा होने की वजह से यह होंठों के लिए एक बेहतरीन मॉइस्चराइज़र (moisturizer) का काम करता है। होंठों पर ताज़ी मलाई लगाएं, इसे कुछ देर के लिए छोड़ दें तथा इसे गुनगुने (lukewarm) पानी में डुबोये हुए रुई के बॉल (ball) से धो दें।

फटे होंठों को ठीक करने के लिए लिए खानपान (Diet for Cracked, Chapped and Dry Lips)

शरीर के अन्य भागों की तरह ही होंठों को भी नमीयुक्त रखना काफी ज़रूरी है। नीचे फटे होंठों के लिए सही खानपान के तरीके बताये गए हैं।

  • रोजाना पर्याप्त मात्रा में पानी तथा अन्य द्रव्यों का सेवन करें।
  • एक स्वास्थ्यकर खानपान विटामिन्स (vitamins) तथा मिनरल्स (minerals) से भरपूर होता है। इससे शरीर स्वस्थ रहता है। एंटी ऑक्सीडेंटस (antioxidants) से भरपूर फल और सब्जियों को अपने खानपान में शामिल करें। इससे आपका शरीर फ्री रेडिकल्स (free radicals) के दुष्प्रभावों से बचा रहता है।
  • त्वचा के अच्छे स्वास्थ्य को सुनिश्चित करने के लिए विटामिन ए (Vitamin A) काफी महत्वपूर्ण होता है, क्योंकि यह आपकी कोशिकाओं की मरम्मत तथा देखभाल का काम करता है। दूध, खुबानी (Apricot), गाजर और दूध से बने अन्य उत्पाद विटामिन ए का काफी अच्छा स्त्रोत होते हैं।
  • साइट्रस फलों (citrus fruits) और कई सब्जियों में पाए जाने वाला विटामिन ए शरीर को सूरज की रोशनी से होने वाले नुकसान से बचाता है और कोशिकाओं की मरम्मत का काम भी करता है। विटामिन सी (Vitamin C) कोलेजन (collagen) के उत्पादन में मदद करता है, जिनसे आपके होंठ भरे पूरे और सुन्दर बनते हैं।
  • फटे होंठों की तरह ही रूखे और पपडीदार होंठ भी काफी बड़ी समस्या माने जाते हैं। इनके मुख्य लक्षण रूखापन, लालपन, फटना तथा पपड़ी उतरना होते हैं। इसका मुख्य कारण विटामिन (vitamin) की कमी, किसी चीज़ से एलर्जी (allergic reaction), शरीर में पानी की कमी, धूम्रपान, सूरज की तेज़ किरणों के संपर्क में आना तथा ठंडी हवाएं भी हो सकते हैं।

फटे होंठों को ठीक करने के प्राकृतिक नुस्खे/प्राकृतिक उपचार(Natural remedies to treat chapped lips)

स्त्रियों के होंठों की देखभाल

होठों का फटना – जोजोबा का तेल (Jojoba Oil)

यह त्वचा को पोषण देने वाले बेहतरीन तेलों में से एक माना जाता है। यह ठण्ड में होंठों को नर्म करने के लिए जाना जाता है। यह फटे होंठों का इलाज करने के साथ साथ नयी कोशिकाएं भी तैयार करने में सहायक है। सिर्फ अपने होंठों पर जोजोबा के तेल की कुछ बूँदें लगाएं। इसे अपने होंठों से हटाने से पहले 15 मिनट तक रहने दें।

होंठों की खूबसूरती (honton ki khubsurti) – शे मक्खन (Shea Butter)

यह होंठों को प्राकृतिक रूप से ठीक करने में सहायक है। शे मक्खन प्राकृतिक रूप से आपको सूरज की किरणों से बचाने का भी कार्य करता है तथा इससे आप एक बेहतरीन लिप बाम (lip balm) भी बना सकते हैं, जिसका प्रयोग सर्दियों में फटे होंठों के उपचार के लिए किया जा सकता है।

होठों का फटना – बीज़वैक्स (Beeswax)

यह लिप बाम बनाने की बढ़िया औषधि है, जिसकी मदद से आप ठण्ड के मौसम में फटे होंठों का इलाज कर सकते हैं। इसमें मौजूद जलनरोधी तथा एंटी बैक्टीरियल (anti-bacterial) गुणों की वजह से यह प्राकृतिक रूप से त्वचा को नर्म करता है।

नींबू का रस (Lemon Juice)

होंठों की देखभाल के लिए नींबू का रस भी एक महत्वपूर्ण विकल्प है। आप नीबू के रस में मलाई या दूध मिलाकर भी अपने होंठों पर लगा सकते हैं। इन दोनों पदार्थों को अच्छे से मिलाएं तथा इसे फ्रिज (refrigerator) में रख दें। इसे रोजाना सोने से पहले अपने होंठों पर लगाएं। आपको अपने होंठों में तीन दिनों में ही फर्क दिखने लगेगा।

ग्रीन टी बैग्स (Green Tea Bags)

आप ग्रीन टी बैग्स का प्रयोग भी फटे होंठों के प्राकृतिक उपचार के रूप में कर सकते हैं। यह फटे होंठों को ठीक करने की काफी प्राचीन विधियों में से एक है। अच्छे परिणामों के लिए प्रयोग में लाये गए गर्म टी बैग्स को 4 से 5 मिनट तक अपने होंठों पर लगाकर रखें।

Subscribe to Blog via Email

Get Hindi tips to your inbox everyday