Hindi home remedies to treat minor burns on the skin – जलने के छोटे घाव ठीक करने के लिए घरेलू उपाय

जलने के छोटे घाव जिन्हें पहले दर्जे के घाव कहा जाता है वह त्वचा की उपरी परत को नुकसान देते है और त्वचा लाल होकर दर्द करती है। यह घाव बिजली से, गर्म पानी से, भांप से या आग से हो सकते हैं। इन्हें सावधानी से ठीक न किया जाए तो आगे दर्द भरे फोड़े निकलते हैं। कुछ घरेलु सामग्री से यह घाव ठीक करके दर्द कम किया जा सकता है।

त्वचा पर जलने के घाव कम करने के लिए घरेलू उपाय (Home remedies to treat burns on the skin)

जलने पर क्या करें ठंडा पानी से (Cold water)

जलने के तुरंत बाद उस जगह पर ठंडा पानी डालते रहें। जलने पर क्या करें, फिर ठंडे पानी में भिगोया हुआ कपडा उस जगह पर रख दें। बर्फ का इस्तेमाल न करें जिससे खून जम जाने की आशंका होती है।

आलू (Raw potato jale ke liye)

आलू को 2 भागों में काटकर 1 भाग जलने की जगह पर रखें। आलू से जलन कम होती है और त्वचा शांत हो जाती है। जलने के तुरंत बाद ही यह उपाय करें।

जले के निशान के लिए घृतकुमारी (Aloe vera)

बच्चों के पेट के कीड़े खत्म करने के लिए घरेलू नुस्खे

घृतकुमारी के कसैले और दर्द निवारक गुण पहले दर्जे के जलने के घावों पर अद्भुत काम करते हैं। घृतकुमारी का एक पत्ता काटकर जली हुई जगह पर लगाएं। ठंडे पानी या ठंडे दूध या सिरका के साथ घाव को धोने के बाद ही घृतकुमारी लगाएं। अपने आसपास के क्षेत्र में घृतकुमारी नहीं मिले तो घृतकुमारी युक्त क्रीम लगाएं।

नारियल का तेल और नींबू का निचोड़ (Coconut oil and lime extract)

जलने के छोटे घावों पर नारियल का तेल और नींबू का निचोड़ अच्छी तरह से काम करता है। जलने का घरेलू उपचार, नारियल के तेल में लोरिक आम्ल, कप्रिक आम्ल और माय्रिस्टिक आम्ल होते हैं जो किसी भी तरह के संक्रमण को मिटाते हैं। नींबू के निचोड़ में आम्लाता और कसैले गुण होते हैं जो घाव के निशान कम करते हैं।

गर्म पानी या भांप से हुए घावों पर नारियल का तेल और नींबू का निचोड़ मिलाकर घाव पर लगाएं। घाव ठीक होने की प्रक्रिया जल्द होती है।

जलने पर क्या लगाये, शहद (Honey hai jalne ki dawa)

घाव को कीटाणुरहित करने के लिए शहद काम आता है। शहद घाव से गंदगी निकालता है। थोडा शहद पट्टी पर लेकर पट्टी को घाव पर रख दें। पट्टी दिन में 2 से 3 बार बदलें।

जलने पर घरेलू उपचार काली चाय की बैग (Black tea bags)

काली चाय के 2 बैग ठंडे पानी में कुछ देर रखें। फिर पानी से निकालकर घाव पर लगाएं। जलने का घरेलू उपचार, चाय में टैनिक आम्ल होता है जो घाव से गर्मी निकालकर उसे ठीक करने में मदद करता है।

दूध (Milk se jalne ke gharelu upay)

दूध वसा और प्रोटीन (protein) से युक्त होता है और जले हुए भाग को ठीक करके प्रभावित जगह की मरम्मत करता है। अगर आप जलन से तुरंत राहत चाहते हैं तो 15 मिनट के लिए जले हुए भाग को दूध में डुबोकर रखें। दूध में वसा की मात्रा काफी ज़्यादा होती है। साबुत दूध की दही आपकी रूखी त्वचा को ठंडक प्रदान करके नमी से नवाजती है।

कान में दर्द और कान में संक्रमण के लिए घरेलू उपचार

जलने का इलाज सफ़ेद सिरका से (White vinegar)

सफ़ेद सिरका एसिटिक एसिड (acetic acid) से युक्त होता है। इसमें एस्पिरिन (aspirin) के तत्व होते हैं जो आपको दर्द, जलन, जलने के घाव और खुजली जैसी समस्याओं से निजात दिलाते हैं। इसमें एंटीसेप्टिक और एस्ट्रिंजेंट (antiseptic and astringent) के गुण होते हैं। यह प्राकृतिक रूप से जले हुए भाग को ठीक करने और दर्द को कम करने का काम करता है। पानी मिश्रित सिरके में पेपर टॉवल (paper towel) डुबोकर रखें। यह एक आरामदायक सेंक का काम करता है। आप इसे रुई के कपड़े की मदद से जले हुए भाग पर भी प्रयोग में ला सकते हैं।

ओट्स (Oats jalne ke daag ke liye)

ओट्स में नमी देने वाले गुण होते हैं जो जलन को कम करने में सहायता करते हैं। ओट्स तब ज़्यादा प्रभावी साबित होते हैं जब आपके जले का निशान ठीक हो रहा होता है और आप उस भाग को काफी तीव्रता से खुजलाना चाहते हैं। आप एक कप ओट्स को नहाने के पानी में भी मिश्रित कर सकते हैं। अगर आपके शरीर का कोई हिस्सा ज़्यादा जल गया है तो इसे 20 मिनट तक डुबोकर रखें। थोड़े से ओट्स लेकर थोड़े से पानी में भिगोएं और प्रभावित भाग को इसमें डुबोकर रखें। इसे हवा की मदद से सूखने दें जिससे ओट्स की एक पतली परत आपकी त्वचा पर रहे और खुजली में कमी आए। अगर आपको और भी ज़्यादा राहत चाहिए तो नहाने के पानी में बेकिंग सोडा (baking soda) मिश्रित कर दें। बेकिंग सोडा त्वचा की जलन को कम करने में आपकी काफी सहायता करता है।

जलने के दाग के लिए प्याज (Onions)

प्याज के रस में काफी मात्रा में सल्फर के कंपाउंड्स (sulfur compounds) होते हैं, जो दर्द को कम करने में काफी मददगार साबित होते हैं। इसमें क्वेरसेटिन (quercetin) पाया जाता है, जो जले हुए भाग को ठीक करके फोड़े फुंसियों की सम्भावना को पूरी तरह दूर करता है। एक प्याज लेकर इसे आधे हिस्से में काटें। इन टुकड़ों से रस निकालें और इसका जले हुए भाग पर प्रयोग करें। अगर आप ताज़ा प्याज का प्रयोग इस उपचार के लिए करें तो ज़्यादा अच्छा होगा, क्योंकि कुछ मिनट के बाद प्याज अपना औषधीय गुण खो देते हैं। इस प्रक्रिया का पालन दिन में कई बार करें।

जन्म निशान हटाने के लिये घरेलू उपचार

बर्फ के टुकड़े (Ice cubes se jalne ka ilaj in hindi)

जीभ के जले हुए भाग को बर्फ के टुकड़ों की मदद से ठीक किया जा सकता है। बर्फ के टुकड़े जीभ को ठीक करने में अन्य घरेलू नुस्खों से ज़्यादा प्रभावी भूमिका निभाते हैं। कई बार बच्चे अपने सूप या हॉट चॉकलेट (soup or hot chocolate) को ठंडा होने से पहले ही पीने का प्रयास करते हैं और इस चक्कर में उनकी जीभ जल जाती है। जली हुई जीभ पर अन्य नुस्खों को प्रभाव छोड़ने में काफी दिक्कतें पेश आती हैं, अतः ऐसी स्थिति में बर्फ के टुकड़ों को चूसने का प्रयास करें। बर्फ को पानी से धो लें, जिससे कि यह आपकी जीभ या होंठों पर चिपक ना जाए।

loading...

Subscribe to Blog via Email

Get Hindi tips to your inbox everyday