Hindi tips to treat scalp pimples & acne – sir k dano ka ilaj – सिर के मुंहासों का उपचार कैसे करें

आपके सिर की त्वचा में भी एक्ने की समस्या पैदा हो सकती है। अतः यह काफी ज़रूरी है कि आप एक्ने से खुद को बचाने के लिए ज़रूरी कदम लें। आप बालों के बढ़ने की शुरूआती रेखा के पास मुहांसों की बढ़त देख सकते हैं और ये आपके सिर की त्वचा पर भी दिखते हैं। अगर आप इन मुहांसों और एक्ने का बार बार शिकार होते रहे तो इससे सिर की त्वचा लाल हो जाती है और आपको बार बार सिर खुजलाने की ज़रुरत महसूस होने लगती है।

यह काफी ज़रूरी है कि आप एक्ने पर नियंत्रण रखें और ज़रुरत पड़े तो उन्हें छिपाने के भी उपाय करें। इसके लिए आप कई घरेलू नुस्खों का प्रयोग कर सकते हैं, जिनकी मदद से आपके सिर की त्वचा सामान्य प्रतीत होगी।

किसी के लिये भी सिर की त्वचा के रोग, सिर पर फोड़े होना एक कठिन समस्या है। सिर के मुंहासे, सिर के फोड़े होने के कई कारण है और इनमें से कुछ मुंहासो के कारण होते है। सबसे आम कारण सिर की तैलीय त्वचा, सिर से तेल का अधिक मात्रा में निकलना, बंद छिद्र और गंदगी की उपस्थिति है। अगर आपके सिर में ये सारी समस्याये है तो इनसे निपटने में आप कठिनाई अनुभव कर सकते है। इसलिये अच्छा होगा कि आप समय से पहले उपचार कर लें।

कई बार लोग अपने  सिर के फोड़े पर तेल लगाने का प्रयास करते हैं। इससे आपको कुछ क्षणों के लिए अवश्य आराम मिलता है, पर इससे ज़्यादा कुछ भी नहीं। यह आपके सिर के रोमछिद्रों (pores) को भी बंद कर देता है और अन्य कई समस्याएं खड़ी करता है। अतः इन दर्दभरे फोड़ों और मुहांसों को दूर करने के लिए कुछ घरेलू नुस्खे आपके लिए काफी कारगर साबित हो सकते हैं।

सिर के दानों/सिर में फोड़े-फुंसी का घरेलू उपाय (Home remedies to treat scalp pimple / hair boils – sir main dano ka ilaj)

जायफल पाउडर (Nutmeg powder)

सिर के मुंहासों का उपचार, जायफल को लें और पीस कर पाउडर कर दें। इस पाउडर में चार चम्मच दूध मिलायें। अब इसे अपने सिर पर पूरी तरह से लगा लें। फोड़े वाली जगह पर ज्यादा लगाये। आधे घण्टे के बाद मृदु शैम्पू से धो दें।

सिर की त्वचा के मुहाँसों

लहसुन (Garlic)

एक लह्सुन को लेकर उसे मसल लें। अब इसे मुंहासे वाले क्षेत्र में कुछ देर तक मसाज करे। यह सिर के फोड़े को खत्म करने में सहायता करेगा। इसका प्रयोग दर्द को कम करने में भी किया जा सकता है।

चाय के पेड़ का तेल (Tea tree oil)

सिर के मुंहासों का उपचार, चाय के पेड़ के तेल का जीवाणुरोधी गुण सिर पर मुंहासो को बढ़ाने वाले कारकों से लड़ता है। समान मात्रा में चाय के पेड़ के तेल को जैतून के तेल में मिलाये। इस तेल से सिर पर मसाज करके एक या दो घण्टे बाद धो दें।

नीम (Neem)

मुंहासे से ग्रस्त क्षेत्र में नीम का प्रयोग एक बेहतर घरेलू उपाय है, जो इसे जल्दी से ठीक कर सकता है। मुट्ठीभर नीम की पत्ती लें और 20-30 मिनट तक पानी में उबालें, पत्तियों को पानी से अलग करके पीस कर लेप बना लीजिये। दानों के क्षेत्र पर ज्यादा मात्रा में लगाते हुए पूरे सिर पर लगाये। 30 मिनट या उससे अधिक देर बाद साधारण पानी से धो दे। नीम के एंटीसेप्टिक और एंटीबायोटिक के कारण यह सिर की समस्यों को ठीक करता है।

गुलाब जल (Rose water)

सिर के दानों का उपाय, सिर के दानों के दर्द को कम करने के लिये गुलाब जल आपकी मदद कर सकता है। कुछ बूंदे गुलाब जल की आपको सुख पहुंचा सकती है।

लवेण्डर तेल (Lavender oil)

त्वचा फोड़ों का इलाज कैसे करे?

सिर के खुजलाहट और दूसरी समस्यों को ठीक करने का यह एक अन्य घरेलू उपाय है। एक चम्मच लवेण्डर तेल, एक चम्मच जैतून तेल और तीन चार चम्मच चाय के पेड़ का तेल अच्छे से मिलायें। इसे शैम्पू की भांति सिर पर लगाकर अपने सिर के संक्रमण पर असर देखें।

नींबू रस (Lemon juice)

सिर के दानों का उपाय, आधा नींबू निचोड़ कर अपने सिर के दानों पर लगायें। यह आपके सिर को साफ करेगा, मुंहासे के दाग को कम करेगा और मुंहासे के दानों को बढ़ाने वाले कारकों से लड़ेगा।

टमाटर (Tomato)

सिर के मुंहासों का उपचार, पके हुए टमाटर से कुछ मिनटों तक अपने सिर पर मसाज करें। लगभग आधे घण्टे छोड़ने के बाद ठण्डे पानी से धोयें। यह सरल घरेलू उपाय आपके सिर के दानों पर उत्कृष्ट कार्य करेगा।

चिकनाई भरे बालों के उत्पादों से दूर रहें (It is best avoiding greasy hair products)

सिर के दानों का उपाय, अगर आप सिर के एक्ने और मुहांसों से बचना चाहते हैं तो गाढ़े और चिकनाई भरे बालों के उत्पादों से परहेज करें। बालों के विभिन्न उत्पादों के प्रयोग से सिर के रोमछिद्र बंद हो जाते हैं और इससे एक्ने और फोड़े होने की संभावना जन्म लेती है। आजकल लोग बालों पर तरह तरह के उत्पादों का प्रयोग करते हैं, जिनके फलस्वरूप आपके सिर पर काफी नकारात्मक प्रभाव पड़ता है। जेल, वैक्स, हेयर स्प्रे और मूस (gel, wax, hair spray and mousse) का प्रयोग सिर के लिए अच्छा नहीं होता। अगर आप कोई ऐसा उत्पाद इस्तेमाल में ला रहे हैं, जिसे आपके सिर को सोखने में कठिनाई हो रही हो तो इससे आपके सिर की त्वचा पर काफी नकारात्मक प्रभाव पड़ता है। इससे सिर पर एक अजीब सी परत बनती है और इसकी मोटाई से मुहांसे और एक्ने का जन्म होता है।

स्केल्प की खुजली का उपचार करने के लिए प्राकृतिक घरेलू उपचार

बालों को अच्छे से धोना (Rinse your hair)

जब आप व्यायाम करते हैं तो आपके सिर की त्वचा पसीने से भर जाती है। इससे वह भाग काफी गीला और चिपचिपा हो जाता है। यह जीवाणुओं और एक्ने के लिए खुले निमंत्रण के समान होता है। इस पैदा हुए पसीने में सोडियम, पोटैशियम और मैग्नीशियम (sodium, potassium and magnesium) की मात्रा समाहित होती है। इन तीनों के मिश्रण से इलेक्ट्रोलाइट्स (electrolytes) का निर्माण होता है जो फिसलन भरे और कठोर होते हैं। ये इलेक्ट्रोलाइट्स आपके सिर की त्वचा को नुकसान पहुंचाने की क्षमता रखते हैं। इसके अलावा सीबम (sebum) और पसीने से भी आपके सिर की त्वचा को काफी हानि पहुँचती है। इसी वजह से अपने सिर की त्वचा को हमेशा पसीने से मुक्त रखने की चेष्टा करें। अतः अच्छे खासे व्यायाम के बाद अपने सिर को धोना भी याद रखें। हेयर ड्रायर (hair dryer) भी पास में रखें, पास इसका अर्थ यह नहीं है कि इसका प्रयोग ज़रुरत से ज़्यादा किया जाए। आप पंखे के नीचे बैठकर प्राकृतिक तरीके से भी अपने बालों को सुखा सकते हैं।

सिरके (vinegar)

हमेशा बालों को धोते समय सिरके का प्रयोग करें। बालों में एक बार शैम्पू (shampoo) कर लेने पर एक बाल्टी पानी में एक चम्मच सिरका मिश्रित करके बालो को धोने से काफी फायदा होता है। अगर त्वचा का pH स्तर असंतुलित हो तो यह अनाकर्षक दिखने लगती है और बैक्टीरिया (bacteria) का जन्मस्थान बन जाती है। सिरका बालों में केराटिन (keratin) की मात्रा को भी बढाने में मदद करता है। यह एक सम्पूर्ण प्राकृतिक उत्पाद है और आपके सिर की त्वचा पर भी काफी प्रभावी साबित होता है। अतः अपने बालों को सिरके की सहायता से निरंतर धोएं।

हेना (Henna)

सूखे बालों के लिए रूसी का घरेलू उपचार

सिर के मुंहासों का उपचार, अगर आप अपने सिर को एक्ने से मुक्त रखना चाहते हैं  तो इसके लिए हेना का प्रयोग करें। यह आपके सिर की त्वचा को नमी प्रदान करने का काम करता है। हेना में एंटीसेप्टिक (antiseptic) गुण भी होते हैं। अपने सिर को एक्ने से मुक्त रखने के लिए यह काफी प्रभावी तरीका है। आप इसके लिए हेना का मास्क भी बना सकते हैं। इसेक लिए प्राकृतिक हेना के पाउडर और पानी का पेस्ट तैयार करें। इसे सिर में लगाने के बाद शावर कैप (shower cap) पहन लें और इसे आधे घंटे तक सूखने दें। समय समाप्त होने पर इसे धो लें और बालों में नरमाहट का अहसास करें।

सल्फर युक्त उत्पादों का प्रयोग करें (Use sulphur based products)

सिर के दानों का उपाय, अपने सिर को एक्ने से मुक्त रखने के लिए सल्फर युक्त उत्पादों का प्रयोग काफी हितकारी साबित होता है। यह उत्पाद आमतौर पर लोशन (lotion) या साबुन के रूप में उपलब्ध होता है। इस मिश्रण के प्रयोग से पहले और बाद में अपने हाथों को अच्छे से धो लें। बालों को धोने से पहले इस लोशन का प्रयोग करें। इससे आपके सिर की त्वचा तरोताजा और गन्दगी से मुक्त रहेगी। इसके प्रयोग के बाद आपके सिर पर एक्ने की समस्या सामने नहीं आएगी।