How exercise can improve your sex life – Types of sex exercises – व्यायाम से सेक्स लाइफ को बेहतर करने के तरीके

अच्छी जीवनशैली के लिए व्यायाम काफी आवश्यक है। कई लोग इस बात को जानकार आश्चर्य में पड़ सकते हैं कि रोज़ाना व्यायाम करने से उनकी सेक्स लाइफ में कमाल का परिवर्तन हो सकता है। लोगों के लिए यह काफी गर्व की बात होती है कि बिना किसी मेहनत के वे सेक्स की क्रिया अच्छे से करने में सफल हो जाते हैं।

वैज्ञानिक रूप से यह प्रमाणित हो चुका है कि सेक्स से शुरुआत में आनंद अवश्य प्राप्त होता है, पर अगर इसकी ओर ठीक से ध्यान ना दिया गया तो इससे लोगों का मन ऊब जाता है। इसी वजह से व्यायाम आवश्यक है जिससे आपके सेक्स करने की इच्छा और इस क्रिया को पूरी करने के लिए ज़रूरी शक्ति में तालमेल बैठ सके।

ऐसा माना जाता है कि शारीरिक रूप से स्वस्थ रहने से एक व्यक्ति की सेक्स लाइफ में काफी सुधार आता है। व्यायाम शारीरिक स्वास्थ्य का मुख्य ज़रिया है तथा इससे सेक्स हॉर्मोन्स (sex hormones) के उत्पादन तथा गुप्तांगों में रक्त का सही प्रकार से संचार करने में मदद मिलती है। व्यायाम से आपके तनाव का स्तर भी घटता है और शरीर में जमे वसा की मात्रा में भी कमी आती है। इससे आपके अन्दर भरपूर जोश और ऊर्जा का संचार होता है।

इसा भी देखा गया है कि व्यायाम करने के बाद पुरुष और महिलाएं दोनों ही खुद को काफी आकर्षक महसूस करने लगते हैं, भले ही उनके वज़न में किसी भी तरह की कमी नहीं पायी जाती। व्यायाम से कूल्हों की मांसपेशियां कसती और मज़बूत होती हैं, जिससे सेक्स की प्रक्रिया में और भी ज़्यादा आनंद आता है।

व्यायाम ऐसी शारीरिक गतिविधि को कहा जाता है जो अकेले या कई लोगों के साथ शारीरिक स्वास्थ्य को बरकरार रखने तथा इसमें वृद्धि करने के उद्देश्य से की जाती है। सेक्स एक लम्बे समय तक चलने वाली प्रक्रिया है, और इसमें अपने साथी को लम्बे समय तक सुख देने के लिए आपको किसी प्रकार की शारीरिक गतिविधि की ज़रुरत पड़ेगी। रोजाना व्यायाम से एक व्यक्ति की सेक्स लाइफ में काफी सुधार आता है। इससे कामोत्तेजना बढती है और सेक्स ज्यादा मज़ेदार हो जाता है।

पुरुषों के लिंग का सामान्य आकार

व्यायाम के फायदे (Benefits of exercise)

  • व्यायाम से रक्त संचार बढ़ता है और यह रक्त आपके लिंग में भी जाता है जिससे इरेक्टाइल डिस्फंक्शन की समस्या दूर हो जाती है।
  • व्यायाम से आपका मूड अच्छा होता है तथा आत्मविश्वास बढ़ता है जिससे कि आपकी सेक्स लाइफ और भी ज़्यादा बेहतर होती है।
  • व्यायाम से आपकी सेक्स की इच्छा भी बढ़ती है क्योंकि इससे आपकी ऊर्जा में वृद्धि होती है, तनाव कम होता है और आत्मविश्वास काफी बढ़ जाता है।
  • व्यायाम से शरीर में शक्ति आती है और सेक्स की क्रिया लम्बे समय तक करने की इच्छा होती है।
  • ज़्यादातर व्यायाम हॉर्मोन्स को जगाते हैं, आपको स्वस्थ बनाते हैं और कुछ नया करने के लिए प्रेरित करते हैं।
  • व्यायाम से शरीर में लोच बढ़ती है जिससे दोनों को आनंद और आराम मिलता है।

विभिन्न प्रकार के सेक्स आधारित व्यायाम (Types of better sex exercises)

सेक्स पावर बढ़ाने के लिए वेट लिफ्टिंग (Weight Lifting)

यह मर्दों के लिए बेहतरीन व्यायामों में से एक है क्योंकि इससे शरीर को टेस्टोस्टेरोन का उत्पादन करने में मदद मिलती है जो कि सेक्स की इच्छा बढ़ाने का एक प्रमुख कारक है। मांसपेशियों को पुष्ट करने वाले व्यायाम जैसे पुश अप, सीट अप तथा क्रंचेस आपकी सेक्स लाइफ को बेहतर करने में बड़ी भूमिका निभाते हैं क्योंकि ये कंधे, पेट और छाती की मांसपेशियों को मज़बूत बनाते हैं।

सेक्स टिप – केगेल्स व्यायाम (Kegels se sex ke liye tips)

यह एक आसान व्यायाम है जिसके अंतर्गत आपको अपने लिंग की PC मांसपेशियों को पकड़ना और छोड़ना पड़ता है। महिलाएं भी अपने गुप्तांग की मांसपेशियों को इस व्यायाम की मदद से टोन कर सकती हैं। इससे लिंग की मांसपेशियां मज़बूत होती हैं और समय से पहले वीर्य का स्त्राव (ejaculation) होने से रुकता है।

सेक्स टिप्स – योग (Yoga)

योग से शरीर में लोच आती है जिससे शरीर ऐसी कई मुद्राओं में परिवर्तित हो सकता है जिससे सेक्स के समय (sex life ke liye) काफी आनंद की प्राप्ति होती है। इससे स्टैमिना भी बढ़ता है और कूल्हों की मांसपेशियां भी काफी मज़बूत होती हैं।

पुरुषों के लिये बेली फैट कम करने के टिप्स

तेज़ चलना (Fast Walking)

तेज़ चलने से रक्त संचार अच्छा होता है, जिससे शरीर के विभिन्न हिस्सों में रक्त सही प्रकार जाता है और इरेक्टाइल डिस्फंक्शन की संभावना काफी कम हो जाती है। तेज़ चलने, दौड़ने तथा एरोबिक व्यायाम करने से रक्त की धमनियां(blood vessels)साफ़ रहती हैं जिससे लम्बे समय तक और अच्छे से इरेक्शन होता है।

तैराकी (Swimming)

तैराकी से सेक्स की क्षमता काफी बढ़ती है और इससे अतिरिक्त फैट भी कम होता है, जिससे कि आप अपने साथी की नज़रों में और भी ज़्यादा आकर्षक दिखते हैं।

स्क्वैट्स और लेग रेज़ेस (Squats and leg raises)

यह शरीर को गर्म करने के लिए तथा महिलाओं के गुप्तांगों के आसपास की मांसपेशियों के व्यायाम के लिए काफी अच्छी विधि है। ये कूल्हों के आसपास की जगह को कसने में काफी कारगर सिद्ध होता है।

सेक्स (Sex)

शोध में पाया गया है कि सेक्स खुद में ऐसा व्यायाम है जिससे एक मनुष्य की कैलोरी कम होती है और उसका स्टैमिना, प्रतिरोधक क्षमता और आत्मविश्वास बढ़ता है। इस व्यायाम से खासकर मर्दों में दिल के दौरे के पड़ने की संभावना काफी कम हो जाती हैं। सेक्स एक बेहतरीन क्रिया है जो खुशगवार हॉर्मोन्स की बढ़त में सहायक होती है जिससे आपका मूड भी अच्छा होता है और तनाव से भी मुक्ति मिलती है।

कूल्हों का व्यायाम (Pelvic exercises se sambhog karne ke tips)

इस व्यायाम से कूल्हों के भाग में रक्त संचार बढ़ता है और सेक्स की क्रिया में ज़्यादा आनंद आता है।

सेक्स टिप – बेली डांसिंग (Belly dancing)

यह एक बेहतरीन व्यायाम है जिससे कि आपके पृष्ठ भाग(hip)और कूल्हे की मांसपेशियों का अच्छा व्यायाम होता है। यह व्यायाम आपके शरीर को आकर्षक बनाता है और आपमें आत्मविश्वास जगाता है।

साथी के साथ चलना (Walking with the spouse)

यौन क्षमता को बढ़ाने के लिए पुरुषों के लिए टिप्स

इस तरह चलने से एक प्रकार का भावनात्मक सम्बन्ध बनता है। एरोबिक व्यायाम से सेक्स आधारित अंगों में रक्त का संचार अच्छे से होता है जिससे इरेक्टाइल डिसफंक्शन की संभावना काफी कम हो जाती है।

वाइड लेग्ड स्ट्रैडल पोज़ (Wide-legged straddle pose)

यह आपके पृष्ठ भाग की समस्याओं को दूर करने की बेहतरीन विधि है और इससे आपका मस्तिष्क भी बिलकुल नियंत्रण में रहता है। इस व्यायाम को करने के लिए फर्श पर बैठकर दोनों टांगों को खोल लें जिससे कि आपके अंगूठे छत की ओर हों। ज़मीन पर टांगों को दबाएं और शरीर को पैरों के बीच झुकाने की कोशिश करें। इस मुद्रा में कुछ देर तक बने रहें तथा धीरे धीरे अपनी पहले की मुद्रा में वापस चले जाएं।

सेक्स टिप्स – ब्रिज पोज़ (Bridge pose)

इस व्यायाम से सेक्स की क्षमता बढ़ती है क्योंकि यह कूल्हों के भाग और कोर मांसपेशियों को मज़बूत करता है, जो कि सेक्स के समय काफी बड़ी भूमिका निभाते हैं। इस व्यायाम को अंजाम देने के लिए फर्श पर लेटकर पैरों को खोल लें और हाथों को कमर पर रख लें। अब सांस लें और पेट को अंदर खींचें तथा साथ ही साथ कूल्हों को फर्श से ऊपर उठाने की कोशिश करें। यह पोज़ ब्रिज जैसा दिखता है। इस अवस्था में कुछ सेकण्ड्स तक रहे और फिर धीरे धीरे अपनी पहले की मुद्रा में वापस आ जाएं।

व्यायाम से सेक्स लाइफ में सुधार आने के कारण (How does exercise boost sex life?)

  • सेक्स पावर को बढ़ाने में मददगार व्यायाम करने से आपके शरीर की शक्ति बढती है जिससे कि आपके सेक्स करने के समय में भी काफी इजाफा होता है। व्यायाम करने के बाद आप सेक्स की कई तरह की मुद्राओं का प्रयोग आसानी से करने में सफलता प्राप्त कर लेते हैं। यह आपके शरीर की लोच में वृद्धि करता है, शारीरिक शक्ति को बढाता है तथा आपके गुप्तांगों में ज़्यादा रक्त के संचार में सहायता करता है।
  • व्यायाम करने के बाद शरीर काफी सुडौल हो जाता है जिससे सेक्स की इच्छा काफी बढती है। कोई भी महिला किसी आकर्षक पुरुष के साथ ही समय बिताना पसंद करती है और इससे सेक्स आरामदायक भी हो जाता है।
  • रोजाना व्यायाम करने से पुरुषों और महिलाओं दोनों के शरीर में टेस्टोस्टेरोन, एंडोर्फिन्स तथा एड्रेनालिन (Testosterone, Endorphins and Adrenaline) के उत्पादन का स्तर काफी बढ़ जाता है। इससे इरेक्शन (erection) की मात्रा में वृद्धि होती है, सेक्स की इच्छा होने में इजाफा होती है और मांसपेशियों को ज़्यादा मजबूती मिलती है।
  • उच्च स्तर में महिलाएं लगातार सेक्स की इच्छा महसूस करती रहती हैं।

पुरुषों के लिए गुणों की खान बहुत लाभदायक है गाजर

अत्याधिक व्यायाम करने से सेक्स की इच्छा, सेक्स क्षमता पर उलटा ही प्रभाव पड़ता है। अतिरिक्त कार्डियो व्यायाम (cardio workouts) शरीर में सेक्स के हॉर्मोन्स की कमी कर देते हैं और तनाव के हॉर्मोन की संख्या बढ़ा देते हैं। सही प्रकार से आराम और नींद सेक्स लाइफ में काफी अहम भूमिका निभाती है। रोजाना सामान्य व्यायाम करने से सेक्स की इच्छा बरक़रार रहती है।

सेक्स आधारित व्यायाम पुरुष और महिलाओं दोनों के लिए हितकारी (Sex exercises are beneficial, for both, men and women)

सिर्फ मर्दों को ही नहीं बल्कि महिलाओं को बिस्तर पर सेक्स के लिए ज़रूरी ऊर्जा जुटाने की आवश्यकता पड़ती है। संभोग लाइफ, रोजाना के सामान्य व्यायाम की मदद से पुरुष और महिलाएं दोनों ही अपने सेक्स जीवन, सेक्स क्षमता को सुखमय बना सकते हैं। व्यायाम से शरीर को काफी शक्ति मिलती है, जो कि संतुष्टिजनक सेक्स के लिए काफी ज़रूरी है। महिलाओं को अपने साथी की ऊर्जा का मुकाबला करने के लिए रोजाना व्यायाम करना चाहिए, अन्यथा उनके साथी की रुचि इस क्रिया से घटती जाएगी तथा उन्हें ऐसा लगेगा की उनकी साथी सेक्स करने के प्रति इच्छुक नहीं हैं। ऐसा इसलिए क्योंकि ऊर्जा की कमी अक्सर अरूचि का प्रतीक होती है। इससे उनके ना सिर्फ शारीरिक बल्कि भावनात्मक सम्बन्ध में भी काफी तनाव उत्पन्न हो सकता है।

मर्द अक्सर इस बात को मानने से हिचकिचाते हैं कि उनमें संभोग लाइफ, सेक्स के लिए ज़रूरी चुस्ती और ऊर्जा की कमी है। ऐसा वे इसलिए सोचते हैं क्योंकि उन्हें यह काफी शर्मिंदगी भरी बात लगती है और उनके अनुसार इसका उनके साथी पर खराब प्रभाव पड़ता है। ऐसा सोचना किसी भी तरह से सही नहीं है। ऐसी स्थितियों के बारे में अपने साथी के साथ चर्चा करें और किसी विशेषज्ञ ट्रेनर (trainer) को ऊर्जा बढाने के लिए रखें। इससे ना सिर्फ आपके सेक्स संबंधों में मजबूती आएगी, बल्कि इससे आप भावनात्मक तौर पर भी जुड़ेंगे और एक दुसरे की काबिलियतों को अच्छे से समझेंगे।