Hindi remedies to treat blisters on tongue – जीभ के छाले का इलाज कैसे करें? छालों का प्राकृतिक उपचार

छाले काफी दर्दनाक होते हैं और हर व्यक्ति इनकी शिकायत अवश्य करता है। हर बीमारी की तरह यह भी एक शारीरिक समस्या होती है जो कुछ विटामिन (vitamins) की शरीर में कमी होने की वजह से पैदा होती है। छाले तब भी हो सकते हैं, जब आप गलती से दांतों से अपनी जीभ या गालों के अंदरूनी भाग को काट लेते हैं। इस स्वास्थ्य समस्या के और भी कई कारण हो सकते हैं, जैसे जीभ जल जाना, खाने से एलर्जी (allergies), मुंह के छाले या वायरल (viral) संक्रमण।

विटामिन सी (vitamin c) की कमी की वजह से भी जीभ में छाले हो जाते हैं। कई लोग इस बीमारी के शिकार उनके द्वारा ग्रहण की गयी किसी औषधि की वजह से होते हैं। जीभ के घावों के कई प्रकार होते हैं। कुछ त्वचा के रंग के होते हैं, वहीँ कुछ पीले होते है जिनमें लाल धारियां बनी होती हैं। लोग इससे काफी परेशान होते हैं क्योंकि इससे भोजन करना काफी मुश्किल हो जाता है। नीचे इस समस्या से निपटने के कुछ प्राकृतिक तरीके बताये गए हैं।

जीभ के छाले का इलाज कैसे करें (How to cure blisters on tongue / Tongue blisters home remedies in Hindi)

छाले एक बहुत दर्दनाक संक्रमण है जो किसी भी मानव को हो सकते हैं। वयस्क और बच्चों दोनो को ये छाले मुंह, होठ, मुंह के अंदरूनी भाग या आपकी जीभ पर हो सकता है। आपकी जीभ पर हुआ छाला आपको परेशान कर सकता है और आप सही ढ़ंग से खाना नहीं खा सकते है क्योंकि ये चोट करते हैं। जब आपको छाले हो जाते हैं तो आप उन उपचारों को ढ़ूढ़ने लगते है जिनसे आप जल्द से जल्द छुटकारा पा जायें। जीभ के रोग, ऐसे कई उपचार है जिनका प्रयोग आप अपने घर पर कर सकते हैं जिससे दर्द, सूजन में कमी होगी और आप इन दर्दनाक छालों से छुटकारा पायेंगे।

जीभ पर छाले का उपाय – सरल उपचार (Simple Remedies)

मुंह में छाले या नासूर घावों का इलाज करने के लिए घरेलू उपचार

  • जीभ के नीचे छाले, आपको प्रतिदिन बहुत सारा पानी पीना चाहिये जो छालों को बनने की प्रक्रिया को कम कर सकता है। आप अपने साथ पानी से भरी बोतल को रखें जिससे आप पानी पीना भूलेंगे नहीं और हर समय पानी लाने में आलस्य नहीं करेंगे। इसके अलावा, पानी पीना आपकी जीभ को नम रखेगा जो दर्द को कम करने में आपकी सहायता करेगा।
  • छाले की दवा, नमक के साथ ठंडे पानी से मुंह साफ करें जो आपकी जीभ को साफ करने में सहायता कर सकता हौ और आपके मुंह के बैक्टीरिया से छुटकारा दिलायेगा। आराम पाने के लिये एक दिन में दो से तीन बार इसे करें। नमक पानी के साथ गरारा करना आपके मुंह को ताज़ा और साफ रख सकता है।
  • छाले की दवा, जब आपकी जीभ पर छाले हो तब उन खाद्यों का उपभोग करें जो ठंडे है जैसे आइसक्रीम, जूस आदि। यह आपकी जीभ को नम रखेगा।
  • छाले की दवा, चाय कॉफी की तरह के गर्म पेय से आपको बचना चाहिये और मसालेदार भोजन नहीं करना चाहिये, जब आपको अपने मुंह में छाले हों। गर्म चाय या कॉफी पीना और मसालेदार भोजन करना आपको अधिक दर्द दे सकता है।
  • जीभ के छालों, यदि आप एक माउथ वॉश का उपयोग करते है तो इसका उपयोग बंद कर दें जिससे मुंह में कोई संक्रमण ना फैलने पाये। आप चाय की पत्ती के तेल का उपयोग कीटाणुओं और जीवाणुओं को फैलने से रोकने के लिये कर सकते हैं।
  • जीभ के नीचे छाले, अपने दैनिक आहार में, आप ज्यादा अदरक और लहसुन को शामिल कर सकते हैं जो आपके मुंह के छालों को बनने से रोकेगा। अपने बनाये जाने वाले भोजन में अदरक और लहसुन को डालें जिससे इसका उपभोग आप आसानी से कर सकें।

ये कुछ तरीके है जिनके उपयोग से आप अपनी जीभ पर के छालों (jeeb ke chaale) को कम या बचा सकते हैं। अपने मुंह को दिन में दो बार ब्रश और साफ करें। अच्छी गुणवत्ता वाले खाद्य को खायें जो विटामिनों और पोषकों से प्रचुर हों और पेय पदार्थों जैसे पेप्सी, कोक आदि से बचें जो आपके पेट में अम्लता पैदा करते है। अगर आपकी जीभ पर छाले हैं तो आप ठीक से बोल भी नहीं सकते हैं और ये आपको काफी परेशान भी करेंगे। इसलिये तुरंत इसका उपयोग घर पर करें क्योंकि ये सारी सामग्रियां आपकी उंगलियों पर आसानी से उपलब्ध हैं। आप अपने दोस्तों या परिवार के सदस्यों को भी इनके प्रयोग की सलाह दे सकते है जब उनको छालों की समस्या हो। ये उपचार आपके दर्दनाक छालों का उपचार निश्चित रूप से करेंगे और एक दिन में ही इन उपचारों का जादुई एह्सास होगा।

खूबसूरत आंखों के लिए ग्रीष्मकालीन नेत्र देखभाल टिप्स

जीभ के घावों को ठीक करने के घरेलू उपाय (Home remedies to treat blister on tongue)

मुंह के छालों के घरेलू नुस्खे, तुलसी (basil  leaves for mouth ulcer)

तुलसी कई औषधिय गुणों से युक्त एक पूज्यनीय पौधा है जो हर घर में पाया जाता है. तुलसी के पत्ते चबाने के फायदे भी अनेक हैं जिनके बारे में हम सभी पहले से ही जानते हैं, लेकिन तुलसी मुंह या जीभ के छालों के उपचार में भी सहायक होती है. छाले ठीक करने के लिए तुलसी के 5 से 6 पत्तों को पीसकर रस निकाल लें और इसे छालों पर लगा लें, इसके अलावा तुलसी के पत्तों को चबाकर भी लाभ प्राप्त किया जा सकता है. इस प्रयोग  को दिन में 3 से 4 बार करें, छाले जल्दी ठीक हो जायेंगे.

पान – छाले की दवा (Betel – Chhale ke nuskhe in Hindi)

तुलसी की तरह ही पान में भी मुंह के छाले को ठीक करने का गुण पाया जाता है. जीभ के छाले कैसे दूर करें इसके लिए भी पान का उपाय बहुत असरकारी है. एक पान की पत्ती में कत्था लगाकर ऐसे ही चबा लें, इसमें चुने का प्रयोग ना करें. इसके रस को मुंह में ही रहने दें, थूकें नहीं.

बेकिंग सोडा का उपचार (Baking soda remedy)

यह आपकी जीभ के घाव (jeeb ke chale) को ठीक करने की काफी बेहतरीन पद्दति है। यह उत्पाद आपकी रसोई में आसानी से उपलब्ध हो जाता है, अतः इसका प्रयोग आप घाव को दूर करने के लिए कर सकते हैं। एक कप गर्म पानी लें और इसमें 1 चम्म्ह्क बेकिंग सोडा मिश्रित करें। अब इसे अच्छे से मिलाएं और इसका एक घूँट मुंह में लेकर प्रभावित भागों के पास इस पानी को ले जाएं तथा कुछ देर तक रखें। 3 मिनट तक इसे इसी तरह रखकर फेंक दें। इस प्रक्रिया को बार बार दोहराएं और मुंह के छालों से दूर रहें।

एलोवेरा (Aloe Vera)

आपने एलोवेरा के पौधे के बारे में ज़रूर सुना होगा जो कि आपके घर के आसपास की झाड़ियों में ही कहीं उगता है। यह भी मुंह के छालों (muh ke chaale) का बेहतरीन इलाज साबित होता है। इसके लिए एलो वेरा के पौधे की एक पत्ती तोड़ लें और इसके जेल जैसे पदार्थ को बाहर निकाल लें। इस जेल को छालों पर लगाएं और इसे 5 मिनट तक रहने दें। इसके बाद गुनगुने पानी (lukewarm water) से मुंह धो लें।

बर्फ (Ice)

बर्फ आपकी त्वचा को सुन्न कर देता है और उस जगह को काफी आराम पहुंचाता है, जहां आपको छाले की समस्या हुई है। इसके लिए छाले पर बर्फ घिसे और दर्द से छुटकारा प्राप्त करें। अगर अत्याधिक ठन्डे तापमान की वजह से आप ज़्यादा देर तक इसे अपने मुंह में नहीं रख पा रहे हैं तो इसे एक सूती के कपड़े में लपेटें और इसके बाद इसे छालों पर लगाएं। इससे आपकी त्वचा सुन्न हो जाएगी, जिससे दर्द से छुटकारा मिलना आसान हो जाएगा।

हाथ की देखभाल – सबके लिए सबसे अच्छे हाथों की देखभाल के टिप्स

हल्दी (Turmeric)

हल्दी के एंटीसेप्टिक (antiseptic) गुण आपके होंठों और मुंह में पैदा हुए छालों को ठीक करने में काफी महत्वपूर्ण भूमिका निभाते हैं। हल्दी के पाउडर का हमेषा रसोई में उपयोग होता है क्योंकि इसमें औषधीय तत्व होते हैं और यह आपको कई तरह की बीमारियों के खिलाफ सुरक्षा प्रदान करती है। इससे तुरंत उपचार प्राप्त करने के लिए एक चम्मच शहद में हल्दी का पाउडर मिश्रित करें। अब इस पेस्ट का प्रयोग अपने मुंह में हुए छालों के ऊपर करें। इसे 3 मिनट तक इसी तरह रखें और फिर सामान्य रूप से धो कर हटा दें। इस विधि को दिन में 3 बार दोहराएं। इससे आपको अवश्य फायदा प्राप्त होगा।

loading...