How to cure skin boils tips in Hindi – त्वचा फोड़ों का इलाज कैसे करे?

त्वचा पर होने वाला संक्रमण बाद में फोड़े का रूप ले लेता है। परिपक्व अवस्था में मवाद के साथ बड़े और कड़े मुंहासे बन सकते है। आप इन गांठों के पास खुजलाहट मह्सूस करते हैं। छूने पर ये दर्द का अनुभव भी देते हैं। फोड़े का उपचार, ये फोड़े कई प्रकार के जैसे सिस्टिक , पिलोंडियल सिस्ट , मुंहासे आदि तथा कई स्थानों जैसे चेहरे , मुंह के अंदर , पीठ , नितम्ब आदि पर हो सकता है। इन फोड़ो का प्राकृतिक उपायों से बेहतर इलाज होता है।

इन फोड़ों का प्राकृतिक इलाज समय के साथ धैर्य चाहता है। फिर भी यह सलाह है कि डॉक्टरों के बजाय घरेलू विधि से इलाज बेहतर होगा। त्वचा के फोड़े जहरीले पदार्थों को बाहर निकालने के लिये होते हैं। फोड़े स्टाफ संक्रमण के सामान्य बैक्टीरिया से होता जो अपवाद स्वरूप हस्तांतरणीय होता है। अच्छा होगा कि व्यक्तिगत स्वास्थ्य के प्रति आप स्वयं सतर्क रहें। इन फोड़ो को न दबायें अन्यथा ये और फैल सकते हैं। विटामिन , खनिज और शाकाहार फोड़ों का इलाज करने में सहायक होंगे। विटामिन सी में जलनविरोधी , विटामिन ई में एंटीऑक्सीडेंट , ज़िंक में अम्ल से उपचार का गुण पाया जाता है।

घरेलू उपाय (Home remedies for skin boils)

  • छुएं ना दबाएं (Do not poke or touch twacha ke fode) : इन फोड़ों को ना छुयें और उपचार के पहले और बाद हाथों को अवश्य साफ करें। इन फोड़ों को छूकर और दबाकर संक्रमित होने से अच्छा यह होगा कि थोड़ा सा दर्द सहकर इनका इलाज कर लिया जाए।
  • सतह को साफ रखें : फोड़े के पास के क्षेत्रों को गर्म पानी और मृदु शैम्पू से साफ रखें।
  • साफ कपड़ा : साफ तौलिये का प्रयोग करें और किसी के साथ साझा न करें।
  • चाय का तेल : यह प्राकृतिक एंटीसेप्टिक है। प्रतिदिन लगाने से बेहतर परिणाम प्राप्त होगा।

त्वचा के फोड़े ठीक करने और रोकने के घरेलू उपाय

  • सेब रस का सिरका : इसे फोड़ों पर सीधे लगायें। इसे आप थोड़ा हल्का कर लें जिससे इसे लगाने पर होने वाले जलन और दर्द में कमी हो जाये। यह सुनने में थोड़ा सा अजीब लगता है, पर फोड़ों पर सीधे सेब का सिरका लगा लेने से आपके संक्रमण को गहराई से साफ़ होने में मदद मिलती है।
  • प्याज और लहसुन : इसे फ़ोड़े वाले क्षेत्रों पर लगाकर 30 मिनट बाद धो दें। प्याज प्राकृतिक एंटीबैक्टीरियल और लहसुन एंटीसेप्टिक है। प्याज और लहसुन के कुछ टुकड़ों को लेकर फोड़ों से प्रभावित भाग पर रखें और कुछ देर के लिए छोड़ दें।
  • आलू : आलू के कुछ टुकड़े लगा ले यह जलन पैदा करेगा और मवाद को बाहर निकाल देगा।
  • आहार बदलाव : आहार में हरे पत्तेदार और ऑर्गेनिक सब्जियों को शामिल करें।

त्वचा के फोड़े ठीक करने के तरीके (Ways to cure skin boils)

इन उपायों से लाभ न मिलाने की स्थिति में डॉक्टर की सलाह लें। फोड़े के क्षेत्र में सूजन और जलन गम्भीर स्थित को प्रदर्शित करता है। नीचे कुछ सुरक्षित तरीके फोड़ों को हटाने के लिये है :-

हल्दी (Turmeric se fode ka ilaj)

फोड़े का इलाज, यह प्राकृतिक खून शुद्धक है। साथ ही इसमें एंटीसेप्टिक और जलनविरोधी गुण पाया जाता है। फोड़ो के प्राकृतिक उपाय के लिये एक ग्लास गुनगुने पानी में एक चम्मच हल्दी को अच्छे से मिलाकर दिन में तीन बार पियें। दूसरा तरीक हल्दी में अदरख की जड़ के साथ मिलाकर फोड़ों पर लगायें।

दूध (Milk se fungsi ka desi ilaj)

प्राचीन काल से ही दूध का प्रयोग फोड़ों का उपचार करने के लिये किया जाता रहा है। दूध को उबालकर तीन चम्मच नमक मिलायें और ब्रेड के टुकड़े से गाढ़ा करें। अब त्वचा के फोड़े वाले क्षेत्र पर लगा लें। जल्दी लाभ के लिये दिन में कई बार प्रयोग करें।

अंडा (Egg se fode funsi ka upchar)

फोड़े फुंसी का इलाज, आप एक अण्डे को उबालकर उसकी ज़र्दी अलग कर लीजिये। अण्डे के सफेद वाले भाग को इस प्रकार काटे की वह फोड़े को ढ़क ले। अण्डे के भीगे वाले भाग को प्रभावित क्षेत्र पर लगाये। कुछ देर तक कपड़े से ढ़के रखे। इस प्राकृतिक उपाय से फोड़ा चला जायेगा।

वयस्क मुँहासों का घरेलू उपचार

मक्का (Corn meal se fode funsi ka ilaj in hindi)

फोड़े फुन्सी के लिए आधा कप मक्के के अनाज को कुछ पानी में उबालकर इसे पीसकर लेप बना लें। अब इसे फोड़े पर लगाकर ढ़क लें। आपको इसे कई बार तब तक लगायें जबतक की पूरा मवाद बाहर न निकल जाये।

अजवायन पत्तियां (Parsley leaves)

फुंसी का घरेलू इलाज, अजवायन की पत्तियां आसानी से घर में उपलब्ध होती है। अगर नहीं है तो बाज़ार से खरीदें। लाने के बाद इसकी कुछ मात्रा उबालकर साफ कपड़े में लपेट लें। अजवायन की पत्तियों को फोड़े पर लगाकर कपड़े से ढ़क लें। यह फोड़े को बिना किसी संक्रमण के फूटने में सहायता कर सकता है।

नीम (Indian lilac se fode funsi ka gharelu upchar)

फोड़े की दवा, नीम में एंटीबैक्टीरियल गुण के साथ एंटीमाइक्रोबियल गुण होता है। यह फोड़े को आपकी त्वचा से पूरी तरह बिना किसी दुष्प्रभाव के हटायेगा। मुट्ठी भर नीम की पत्तियों को लेकर उसको पीसकर लेप बना लें। इसे प्रभावित क्षेत्र के ऊपर लगा लें। आप कुछ नीम की पत्तियों को इस प्रकार उबालें की केवल एक तिहाई पानी बचे। तुरंत लाभ के लिये फोड़े को कई बार धोयें।

Subscribe to Blog via Email

Get Hindi tips to your inbox everyday