Hindi remedies for Bunions/bone bumps at home – स्वाभाविक रूप से घर पर गोखरू इलाज कैसे करें

गोखरू एक दर्दभरी हड्डियों की सूजन को कहते हैं, जो आपके बड़े अंगूठे की जड़ में होती है। इसके होने का मुख्य कारण आपका लगातार कसे हुए जूतों का प्रयोग करना है। छोटे गोखरू पैर की अन्य उँगलियों के पास भी पैदा हो सकते हैं। गोखरू की समस्या को आरामदायक जूते पहनकर दूर किया जा सकता है। कसे और ऊँची एड़ी के जूतों की बजाय सैंडल्स (sandals) पहनने से भी गोखरू की समस्या से निजात प्राप्त की जा सकती है।

जब एक व्यक्ति का पैर घायल हो जाता है, या जब पैर के अंगूठे में विरासत से हड्डियों के ढांचे दूसरे पैर के अंगूठे की ओर बढ़ जाता है पैर के अँगुठें पर सूजन, तो इसे गोखरू, छोटा गोखरू कहते हैं। यह फिर से पैर के अंगूठे में गर्द का कारण बन सकता है जो चलने, व्यायाम आदि में समस्या का कारण बन सकता है। यहाँ पर हम कुछ उपचार के तरीके बता रहे जो आपको लाभ पहुंचा सकते हैं:

  1. गोखरू का उपचार, नंगे पांव चलने का अभ्यास (Practice walking barefoot)

अगर आपके माता-पिता में से किसी एक को गोखरू की समस्या है, तो आपको विरासत में गोखरू प्राप्त करने की संभावना अधिक है। इसलिये, जितना हो सके नंगे पांव चले बजाय इसके कि आप कसे हुए जूते पहनते हैं। नंगे पांव चलना आपके पैर के अंगूठे को ताकत देगा और यह अधिक प्रभावी तब होगा जब आप रेत पर चलते हैं।

  1. गोखरू रोग के लिए उचित जूते का प्रयोग (Use proper shoes)

यदि आप गोखरू उठे जूते का प्रयोग करते हैं बजाय सामान्य जूते के, तो यह बेहतर परिणाम देगा।

नंगे पाँव जूते अब उपलब्ध हैं जो आपके पैर के अंगूठे को स्वतंत्रता के साथ मुड़ने में सहायता करते हैं। जूतों का चुनाव करने से पहले आप उचित देख अवश्य करें जिससे कि वे आपके लिये सही आकार के अवश्य हों।

पैर दर्द और पैर में ऐंठन का प्राकृतिक घरेलू उपाय

  1. हम गोखरू के मौके से बच सकते हैं (We can avoid chances for bunion)

संकोचक जूते को बैले नृत्य में उपयोग किया जाता है जो गोखरू को जन्म दे सकती है।

  1. गोखरू रोग के लिए पैर के व्यायाम करें (Do foot exercises)

कुछ पैरों के व्यायाम करने की कोशिश करें जिससे आपके गोखरू को धीमा या रोक सकता है। कुछ व्यायाम हैं:

  • अपने पैर के अंगूठे को अपनी उंगलियों से खींचे जिससे की आपका अंगूठा उचित संरेखण में आ जाय।
  • खिंचाव को इसी प्रकार अन्य उंगलियों के साथ 10 सेकेण्ड के लिये दोहराएँ और अब 10 सेकेण्ड के लिये अंदर की तरफ मोड़ें।
  • दोहराएँ फर्श या वे वापस तुले हैं जब तक एक दीवार के खिलाफ यह दबाकर अपने पैर की उंगलियों ठोके। 10 सेकंड के लिए उन्हें पकड़ है, तो जारी।
  • अपने पैर की उंगलियों से ज़मीन पर पड़े तौलिये या किसी कपड़े को पकड़ने की अभ्यास के द्वारा पैर की पकड़ को मजबूत करें, एक बार गिराये और फिर पकड़ें।
  1. गोखरू का इलाज के लिए गोखरू पैड पहनने (Wear a bunion pad)

गोखरू पैड आपके दर्द को कम करने और पैर के अंगूठे को उचित दिशा में करने में सहायता करेगा।

  1. गोखरू रोग के लिए अपने पैर पर टेप बांधें (Tape your foot)

अपने पैर की उंगलियों सामान्य स्थिति के लिये टेप बांधे जिससे कि आपके पैर की अंगुलियां एक या दो सप्ताह के बाद सामान्य स्थिति के लिए अनुकूलित हो सकें। यदि आवश्यक हो तो चिकित्सा सहायता लें।

  1. गोखरू का उपचार से दर्द से छुटकारा (Relieve the pain)
  • बीस मिनट के लिए गर्म पानी में अपने पैर को भिगोयें। आप अस्थायी रूप से दर्द से राहत पायेंगें।
  • पैर की अंगुली पर बर्फ के टुकड़े को लगायें और यह प्रभावी रूप से दर्द को कम करेगा।

पैरों के छालों का घरेलू उपचार

  • गंभीर परिस्थितियों में, चिकित्सा पेशेवर के निर्देश के अनुसार दवाइयां ले।
  1. गोखरू का इलाज गोखरू सहायता से (Bunion-Aid)

एक लचीला गोखरू पट्टी जैसे “गोखरू-लाभ” ने हल्के से मध्यम गोखरू में वैज्ञानिक रूप से सिद्ध हो चुका है।

  1. गोखरू के उपचार के लिए चिकित्सक से परामर्श करें (Consult a physician for gokhru ka upchar)

बद्तर मामलों में हमेशा चिकित्सकीय सहायता को अपनायें।

  1. गोखरू का इलाज, दर्द के लिए निर्धारित दवायें (Prescribed medication for pain se gokhru ka desi ilaj)

हमेशा डॉक्टर के परामर्श और निर्देशों का पालन दर्द से राहत पाने के लिये करें। कई अवसरों पर निर्धारित चिकित्सा कार्य करती है।

  1. गोखरू रोग के लिए एटलस सर्जरी (Atlas surgery)

यदि कुछ भी काम नहीं करता है, तो गोखरू की सर्जरी करवाना अच्छा रहेगा।

इन तरीकों को अपनाने की कोशिश करें और सर्जरी तभी करवायें जब आपको व्यायाम और दवायें लाभ नहीं देती  हैं।

गोखरू ठीक करने के प्राकृतिक उपाय (Natural cures for bunions)

ज़्यादातर गोखरू आरामदायक जूते पहनना शुरू करने पर खुद ब खुद ही ठीक हो जाते हैं और इन्हें किसी डॉक्टरी उपचार की आवश्यकता नहीं होती है। घरेलू नुस्खों का प्रयोग करके भी इस समस्या से निजात प्राप्त की जा सकती है।

महिलाओं के पैर एवं नाखून सुंदर रखने के नुस्खे

कैमोमाइल (Chamomile)

गोखरू की समस्या से निजात दिलाने की यह काफी प्रभावी विधि है। कैमोमाइल में जलनरोधी गुण होते हैं, जो गोखरू के आकार को काफी कम कर देते हैं और इससे होने वाले दर्द से भी छुटकारा दिलाते हैं। रोजाना कैमोमाइल की चाय पीने या कैमोमाइल के टी बैग्स (tea bags) का गोखरू पर प्रयोग करने से भी काफी राहत प्राप्त होती है।

कैलेंडुला (Calendula)

इसमें भी जलनरोधी गुण पाए जाते हैं, जो गोखरू के उपचार में आपकी काफी सहायता करते हैं। कैलेंडुला कंपाउंड्स (compounds) और दवाइयों के रूप में उपलब्ध होता है। इनका प्रयोग गोखरू पर 3 हफ्तों तक दिन में 3 बार करें।

हल्दी (Turmeric)

हल्दी में कैपसाईसिन (capsaicin) होता है, जो गोखरू की सूजन और दर्द को कम करने में काफी सहायता करता है। आप जलन कम करने के लिए एक चम्मच हल्दी को पानी में डालकर भी इसका सेवन कर सकते हैं।

एप्सम नमक (Epsom salt)

यह गोखरू के गंभीर दर्द और सूजन से निजात दिलाने में काफी महत्वपूर्ण भूमिका निभाता है। एप्सम नमक त्वचा में नरमाहट लाने और अंगूठे के जोड़ों की किसी भी समस्या को दूर करने में भी आपकी सहायता करता है। आधे घंटे तक एक बाल्टी गर्म पानी में एप्सम नमक मिलाकर इसमें पैर डुबोकर रखें।

गर्म सेंक (Warm compresses)

इस प्रक्रिया की मदद से भी आपको पैर की समस्या से काफी आराम मिलता है। इसके लिए हीट पैड्स (heat pads) का प्रयोग करें। यह पैरों के नीचे रक्त का संचार बढ़ाने में भी काफी अहम भूमिका निभाता है, जिससे सूजन कम होती है।

बर्फ के पैक्स (Ice packs)

हाथों और पैरों के कालेपन को दूर करने के घरेलू उपाय

गर्म सेंक की तरह ही ठंडी सेंक भी गोखरू के लक्षणों को ठीक करने में काफी महत्वपूर्ण भूमिका निभाती है। 10 मिनट तक गोखरू पर बर्फ का पैक लगाएं।

कैस्टर ऑइल (Castor oil)

यह गोखरू की समस्या दूर करने का काफी बेहतरीन उपाय है। सूजन और दर्द को कम करने के लिए गर्म कैस्टर ऑइल का प्रयोग गोखरू पर करें।

एस्पिरिन (Aspirin)

गोखरू के उपचार के लिए एस्पिरिन काफी लाभदायक होता है। सिर्फ एस्पिरिन की 3 टेबलेट्स (tablets) पीस लें और इसे एक बाल्टी गर्म पानी में डाल लें। पैरों को गर्म पानी में 20 मिनट तक डुबोकर रखें। इस विधि से दर्द और सूजन दूर होती है।

पैरों की मालिश (Foot massage)

पैरों की मालिश करने से भी गोखरू की समस्या से निजात प्राप्त होती है तथा दर्द और सूजन भी काफी कम होते हैं। टो स्पेसर्स (toe spacers) पैर के अंगूठे पर दबाव कम करने में आपकी मदद करता है।

तेज पत्ते का उपचार (Bay leaf treatment)

यह भी गोखरू का इलाज करने का प्रभावी उपचार है। पिसे हुए तेज पत्ते और एक कप अल्कोहल (alcohol) का मिश्रण तैयार कर लें और इसे एक हफ्ते के लिए छोड़ दें। इस मिश्रण का प्रयोग करने से पहले बेकिंग सोडा (baking soda) मिले गर्म पानी में अपने पैर डुबोकर रखें। तौलिये से पैरों को धो लें और इस मिश्रण का प्रयोग करके मोज़े पहन लें।