Hindi remedies for lice – जुएं हटाने के घरेलू उपाय – जुओं को भगाने के नुस्खे

सिर के जुएं बच्चों में और यहाँ तक कि कुछ उम्रदराज़ लोगों में भी एक काफी आम समस्या है। ये छोटे परजीवी होते हैं जो सिर के एवं बालों के रोमछिद्रों के रक्त से खुद को जीवित रखते हैं। जुएं एक व्यक्ति से दुसरे व्यक्ति में भी फैलती है जब आप जुएं वाली व्यक्ति के साथ सोते हैं,उसके कपडे पहनते हैं या उसका कंघा इस्तेमाल करते हैं।

सर में जुएं होने के सबसे आम लक्षण हैं सिर में खुजली और सिर में लाल चकत्तों का होना। जुएं एक बार सिर में आ जाने के बाद काफी तेज़ी से बढ़ते हैं अतः कुछ दिनों में इन्हें निकाल पाना संभव नहीं हो पाता।

कपूर से जुओं का घरेलू इलाज, जुएँ भगाने के नुस्खे (Lice treatment in Hindi)

सिर के जुओं के लिए प्राकृतिक उपाय में कपूर का प्रयोग बहुत फायदेमंद होता है. सिर में लगाने वाले नारियल के तेल में कपूर को पीस कर मिला लें. इसे अच्छी तरह मिक्स करने के बाद सिर में लगा कर रात भर के लिए ऐसे ही छोड़ दें, सुबह बारीक़ दांतों वाले कंघे की मदद से बालों में कंघी करें, आप देखेंगे कि मरे हुए जूँ बालों से आसानी से बाहर निकल कर आ रहे हैं, इस प्रयोग के बाद बालों में शैम्पू कर लें.

जुओं को भगाने का उपाय नीम (Neem for Head Lice in Hindi)

नीम का रस या नेम का तेल जुओं की दवा के रूप में खास तरीके से काम करता है. नीम की पत्तियों को पीसकर उसका रस निकाल लें, इस रस को बालों में अच्छी तरह लगा कर रखने से जुएँ मर जाती हैं. इसके अलावा नीम के तेल का प्रयोग भी बालों की जूँ का घरेलु उपाय है.

जुओं को भगाने के लहसुन (Garlic)

लहसुन की तेज़ गंध जुओं को सांस लेने से रोककर उन्हें ख़त्म कर देती है। जू मारने के उपाय, 10 से 12 लहसुन और 2 से 3 चम्मच नींबू के रस का पेस्ट बनाएं। इसे सिर पर लगाएं और 1 घंटे में गर्म पानी से धो दें। एक और तरीके के अनुसार लहसुन को खाना बनाने वाले तेल, नींबू के रस, ग्रीन टी और थोड़े शैम्पू के साथ मिलाएं। इस मिश्रण को अपने सिर पर लगाएं और तौलिये या शावर कैप द्वारा 30 मिनट तक सिर को ढककर रखें। इसके बाद शैम्पू कर लें।

जूं का इलाज – बेबी आयल (Baby oil)

बच्चों के पेट के कीड़े खत्म करने के लिए घरेलू नुस्खे

जुओं के इस उपचार के लिए आपको जिन सामग्रियों की आवश्यकता होगी वे हैं बेबी आयल, कपडे धोने वाला डिटर्जेंट और सफ़ेद सिरका। बॉबी आयल में जुओं को सांस ना लेने देने के गुण होते हैं। जू मारने के उपाय, बेबी आयल लगाकर कंघा इस तरह बालों में घुमाएं कि जुएं नीचे गिरने लगें। इसके बाद बालों को गर्म पानी और कपडे धोने के डिटर्जेंट से धोएं। रात में बालों में थोड़ा सिरका लगाएं और सिर में एक तौलिया लपेटकर रातभर बालों में रहने दें। सुबह बालों को सामान्य शैम्पू से धो दें। अच्छे परिणामों के लिए इस प्रक्रिया को 3 से 4 दिन तक प्रयोग में लाएं।

बालो में जू – जैतून का तेल (Olive oil)

जैतून का तेल भी जुओं को सांस लेने नहीं देता और उन्हें मार देता है। सिर की जूँ, रात को सिर में जैतून का तेल लगाएं और सिर को तौलिये या शावर कैप से ढक लें। कंघी करके छोटे जुओं को निकाल दें और ट्री आयल युक्त हर्बल शैम्पू से बाल धो लें। एक और तरीके के अनुसार 1 कप जैतून के तेल और 1 कप तरल साबुन को मिला लें। इसे सर में लगाएं और 1 घंटे में कंडीशनर द्वारा धो दें। निर्जीव जुओं को कंघी से निकाल दें।

जूं का इलाज – नमक (Salt)

यह निर्जलीकरण प्रक्रिया द्वारा सर से जुओं को हटाता है। सिर की जूँ, नमक और सिरके का पेस्ट बनाएं और सिर पर लगाएं। अब सिर को शावर कैप से ढक दें और 2 घंटे तक ऐसे ही छोड़ दें। इसके बाद बालों में शैम्पू एवं कंडीशनर का प्रयोग करें।

बालो में जू – पेट्रोलियम जेली (Petroleum jelly)

यह जुओं पर काफी अच्छा असर करता है। जू का इलाज, बालों में रात को पेट्रोलियम जेली की एक मोटी परत लगाएं और सिर को तौलिये से ढक दें। सुबह बेबी आयल युक्त पेट्रोलियम जेली को बालों से निकाल दें। इस पद्दति को कुछ समय तक रोज़ाना इस्तेमाल करें।

Subscribe to Blog via Email

Join 44,913 other subscribers

बालों में जुएं – टी ट्री आयल (Tree tea oil)

यह एक प्राकृतिक कीटनाशक है जो कि जुओं को हटाने में काफी असरकारी है। टी ट्री आयल,प्राकृतिक शैम्पू और नारियल या जैतून के तेल का पेस्ट बनाएं। इसे सिर पर लगाएं और 30 मिनट बाद गर्म पानी से धो लें। भीगे बालों को कंघी करके मृत जुओं को निकालें।

जुएं हटाने के नारियल तेल (Coconut oil)

यह तेल सिर में जुओं की हलचल को रोकता है जिससे कि उन्हें बढ़ने में परेशानी होती है। जुएं का इलाज, सेब का सिरका सिर में लगाएं और इसे सूखने दें। अब बाल में तेल लगाएं, सिर में तौलिया डालें और रातभर छोड़ दें। शैम्पू करके सुबह मृत जुओं को निकाल लें। इस प्रक्रिया का रोज़ाना इस्तेमाल करने से जुओं को पूरी तरह ख़त्म किया जा सकता है।

जलने के छोटे घाव ठीक करने के लिए घरेलू उपाय

जूँ का इलाज – सफ़ेद सिरका (White vinegar)

इसमें एसिटिक एसिड की मात्रा होती है जो कि जुओं को ख़त्म करने में सक्षम होते हैं। लीख का इलाज, सिरके और पानी का मिश्रण बालों में लगाएं। अब सिर में तौलिया बाँध घंटे के लिए छोड़ दें। अब कंघे को सिरके में डुबोएं और बालों को कंघी करें।

बालों में जुएं – तिल का तेल (Sesame seed oil)

इसमें एंटी बैक्टीरियल, एंटी फंगल और प्राकृतिक रूप से कीटनाशक गुण होते हैं। जूँ का इलाज ( ju ka ilaj), एक चौथाई कप तिल का तेल, 1 चम्मच टी ट्री आयल, आधा चम्मच यूकेलिप्टस और रोजमेरी का तेल और करीब 10 बूँदें लैवेंडर का तेल लें और इन्हें अच्छे से मिलाएं। सबसे पहले बालों को सेब के सिरके से अच्छे से धोएं। बालों को सुखाकर उपरोक्त मिश्रण लगाएं और रातभर सिर को तौलिये में लपेटकर छोड़ दें। कंघी से मृत जुएं निकालें और फिर शैम्पू कर लें।

loading...