Hindi tips for pimples on oily skin – तैलीय त्वचा से मुहांसों को दूर करने के तरीके

मुहांसे त्वचा की एक सामान्य समस्या माने जाते हैं। इसके अंतर्गत त्वचा के उस भाग पर सूजन हो जाती है, जहां तैलीय ग्रंथियां बैक्टीरिया (bacteria) से प्रभावित हो जाती हैं। ये फूल जाती हैं तथा इनमें पस जम जाता है। तैलीय त्वचा को मुहांसे सबसे ज़्यादा परेशान करते हैं। मुहांसे के कारण, ये आमतौर पर चेहरे, गले, पीठ तथा कंधे पर दिखते हैं। तैलीय त्वचा से मुक्ति, तैलीय त्वचा की तैलीय ग्रंथियां अतिरिक्त रूप से क्रियाशील होती हैं और इनसे हमेशा तेल निकलता रहता है। अगर त्वचा को ठीक से साफ़ ना किया गया तो मुहांसे और काले धब्बे होने की संभावनाएं बढ़ जाती हैं। नीचे मुहांसों से छुटकारा पाने के कुछ तरीके बताये गए हैं।

मुहांसे दूर करने के तरीके (Ways to get rid of pimples)

मुहांसों का उपचार बर्फ से (Ice)

बर्फ मुहांसों के फलस्वरूप हुए लालपन, सूजन और जलन को दूर करने में सक्षम होता है। इसकी सहायता से प्रभावित भाग में रक्त का संचार भी काफी प्रभावी रूप से होता है। यह रोमछिद्रों को कसता है तथा चेहरे की परत पर जमी गन्दगी और तेल को साफ़ करने में सहायता करता है। थोड़ी सी बर्फ को एक कपड़े के टुकड़े में लपेटें और इसे प्रभावित भाग पर लगाकर रखें। इसे हटाएं और इस प्रक्रिया को तीन से चार बार दोहराएं।

मुहांसों का उपचार नींबू से (Lemon se muhase ka ilaj hindi me)

चेहरे पर फलों का रस मुहांसों 

नींबू के रस में विटामिन सी (vitamin C) मौजूद होता है, जो मुहांसों को सुखाने में सहायता करता है। कपड़े का एक टुकड़ा लें और इसे नींबू के रस में डुबोएं। सोने से पहले अपने मुहांसों पर अच्छे से लगा लें। वैकल्पिक तौर पर नींबू के रस और दालचीनी के पाउडर को बराबर मात्रा में लेकर एक मिश्रण बनाएं। इसे रात भर अपने मुहांसों पर लगाकर छोड़ दें। सुबह उठकर इसे गुनगुने पानी से धो लें।

चेहरे पर दाने के उपाय टी ट्री ऑइल से (Tea tree oil)

यह मुहांसों को ठीक करने का एक बेहतरीन तत्व साबित होता है। इसमें एंटी बैक्टीरियल गुण (antibacterial properties) होते हैं, जिनसे उस बैक्टीरिया से लड़ने में मदद मिलती है जो मुहांसों का मुख्य कारक बनते हैं। यह मुहांसों का लालपन तथा जलन दूर करने में भी काफी कारगर सिद्ध होता है। सिर्फ टी ट्री ऑइल में रुई का एक गोला डुबोएं तथा इसका प्रयोग प्रभावित भागों पर करें। 20 मिनट के बाद चेहरे को अच्छे से धो लें।

चेहरे पर दाने के उपाय टूथपेस्ट से (Toothpaste)

आप टूथपेस्ट का प्रयोग मुहांसों को दूर करने के लिए कर सकते हैं। इसका प्रभाव तब और भी ज्यादा होता है, जब आप पहले अपने मुहांसों पर बर्फ का प्रयोग करें। आपके लिए सफ़ेद टूथपेस्ट का प्रयोग करना तथा जेल (gel) टूथपेस्ट से परहेज करना ही सही रहेगा। इस टूथपेस्ट का प्रयोग सोने जाने से पहले करें और सुबह उठकर आधे घंटे के बाद इसे अच्छे से धो लें।

कील मुंहासे का इलाज भाप से (Steam)

त्वचा पर भाप का प्रयोग करना हमेशा ही अच्छा होता है, खासकर जब आपके चेहरे पर मुहांसे हुए हों। भाप से रोमछिद्र खुलेंगे और तेल, गन्दगी और बैक्टीरिया, जिनसे संक्रमण की संभावना बनती है, दूर होने में मदद मिलेगी। एक बड़े पात्र में गर्म पानी भरकर चेहरे पर भाप लें तथा भाप लेते समय तौलिए से अपना सिर ढक लें।

कील मुंहासे का इलाज लहसुन से (Garlic se kil muhase ka gharelu ilaj)

त्वचा के मुहांसों को हटाने के प्राकृतिक घरेलू नुस्खे

लहसुन एक एंटीवायरल, एंटीफंगल, एंटीसेप्टिक और एंटी ऑक्सीडेंट (antiviral, antifungal, antiseptic and antioxidant) कारक है। यह मुहांसों को ठीक करने का सबसे तेज़ उपचार है। ताज़े कटे लहसुन के टुकड़े लें और इसे कुछ मिनट तक अपने मुहांसों पर रगडें। इसके बाद चेहरे को गर्म पानी से धो लें। इस उपचार का प्रयोग दिन में 3 से 4 बार करें।

बेसन और दही का फेस पैक (Besan and curd face pack)

यह पैक तैलीय त्वचा के मुहांसों को ठीक करने का एक प्रभावी उपाय है। बेसन त्वचा की चिकनाई को दूर करने में आपकी सहायता करता है तथा दही आपके चेहरे को नर्म और मुलायम बनाकर रखने में सहायता करता है। शहद और हल्दी अपने एंटी सेप्टिक गुणों के लिए जाने जाते हैं। बेसन और दही को मिलाकर एक गाढ़ा पेस्ट तैयार करें। इसमें शहद की कुछ बूँदें तथा एक चुटकी हल्दी पाउडर मिश्रित करें। इन तत्वों को अच्छे से मिलाएं और अपने गले तथा चेहरे पर बराबर मात्रा में लगाएं। इसे 20 मिनट तक सूखने के लिए छोड़ दें। इस पैक को गर्म पानी से ढीला करें तथा इसके बाद इस भाग को रगड़कर चेहरे को साफ़ करने के लिए पानी से धोएं। मुहांसों का यह उपचार कुछ हफ़्तों के लिए हफ्ते में दो बार जारी रखें।

loading...

Subscribe to Blog via Email

Get Hindi tips to your inbox everyday