Breast growth tips for teenage girls in Hindi – किशोरियों के स्तन वृद्धि को बढाने के उपाय – छाती बढाने का उपाय

किशोर उम्र की लड़कियां 25 से ज़्यादा की और मध्यम आयु वर्ग की महिलाओं से काफी ईर्ष्या करती हैं क्योंकि उनके स्तनों का आकार काफी सुन्दर तथा सुडौल होता है। किशोरावस्था में जहां कई लड़कियों के स्तन तेज़ी से विकसित होते हैं वहीँ ज़्यादातर लड़कियां इस मामले में पीछे रह जाती हैं। इस आयु में हार्मोन ज़्यादा गति से निकलते हैं जिससे शरीर में अन्य समस्याएं भी आ जाती हैं।

योवन आरम्भ के समय प्राकृतिक परिवर्तन अपना समय लेता है और आप धीरे धीरे स्तनों के आकार में परिवर्तन महसूस करते हैं। इसे कुछ समय दीजिये और शांत रहिये, स्तनों को बढ़ने (breast size increase) में लगने वाले समय के लिए चिंता मत कीजिये। लेकिन यदि आप स्तनों को जल्दी बढ़ाना (increase breast size quickly) चाहती हैं, तो आप कुछ चिकित्सा पद्धति का अनुसरण कर सकती हैं, तो आइये जानें कैसे बढ़ाएं ब्रेस्ट साइज।

स्त्री छाती या बड़े ब्रेस्ट बनाने के तरीके (Hindi tips to increase female chest size)

मुख्या उपायों में से एक उपाय हैं वजन बढ़ाना। जब आपका वजन बढ़ता हैं तो धीरे धीरे आपके स्तनों का आकर(Foods to increase breast size) भी बढ़ता हैं। आप अपने चिकित्सक को हौर्मोंस का स्तर जांचने के लिए भी बोल सकते हैं यदि आपको ऐसा लगता हैं की आपके स्तन बहुत ही धीमी गति से बढ़ रहे हैं। कुछ व्यायाम करें जो आपके स्तनों की वृद्धि (enhance breast size) में मददगार हो। वजन बढ़ने के लिए आप मूंगफली, चीज़, मक्खन, दही, नाशपाती और दुसरे स्वास्थ्यकर भोज्य पदार्थ खा सकते हैं। आप जिम जाकर देख सकते हैं और वहां कुछ अच्छा समय बिता सकते हैं। आपका प्रशिक्षक आपकी मदद सही कसरत करने में कर सकता है जो उसे आवश्यक लगे। 13-14 पुश- अप्स करें, भारोत्तोलन और दूसरी छाती की कसरत करें जो छाती की मांसपेशियों को खींच सके।

किशोरावस्था में खूबसूरत लगने के उपाय

पुश-अप्स आपके अग्र भाग को ज़मीन से सटाकर और हाथों को ज़मीन पर समतल रखकर किया जा सकता है। अपने पैरो को फर्श पर सीधा रखे और हथेली की सहायता से स्वयं को ऊपर उठाइए और धीरे धीरे निचे लाइए। यह प्रकिया कम से कम 13 से 14 बार दोहराए और आप अपने हाथों और छाती को मज़बूत और स्वस्थ  महसूस करेंगे। कुँए से पानी खींचना भी छाती की मांसपेशियों के खिंचाव में मदद कर सकता है, जिससे आपके स्तन तेज़ी से बढ़ेंगे।

चेस्ट प्रेसेस डम्बल्स या वज़न को दोनों तरफ रखकर और ऊपर उठाकर किया जा सकता है। चटाई पर सीधे खड़े हो जाइये और दोनों घुटनों को मोड़िये और दोनों हाथों में वज़न लीजिये। धीरे से उन्हें आपके कन्धों के स्तर तक उठाइए और फिर वापस पुरानी स्थिति में लाइए। यह दिन में 10-15 बार दोहराइए और आप आसानी से परिवर्तन देख सकते हैं। एक और व्यायाम है छाती संकुचन है : अपने पैरो को कुल्हो के बराबर दुरी पर रख कर सीधे खड़े हो जाइये। स्नान तोलिये के दोनों छोर पकडिये और अपने हाथो को सीधा फैलाईये तोलिये के छोरो को विपरीत दिशाओ में दोनों हाथो में खिचिये। ठीक उसी तरह जेसे आप रस्साकसी खेलते है। आप 30 सेकंड से 1 मिनट तक रुक सकते है और यह व्यायाम 3 बार करे।

चेस्ट फ्ल्य्स व्यायाम आपके घर बिना अधिक प्रयास के किया जा सकता है। कुर्सी के बीचो बिच बैठ जाइये और अपनों भुजाओ से समान वजन उठाइए। अपने हाथो वजन सहित सीधा कंधे के स्तर तक उठाइए और धीरे से निचे लाइए, ध्यान  रखिये के आपके हाथ आपस में पास होने चाहिए। और आपके निचले शरीर के तरफ हाथो का मुख होना चाहिए। यह व्यायाम एक दिन में 12 बार और 3 सेट में करे। आप रात में ब्रा का उपयोग टाल सकती है।

स्तनों से सम्बंधित पुस्तके व लेख पढे। व्यायाम और पोषण स्तनों के आकर वृद्धि (breast shape enhancement) के महत्वपूर्ण घटक है। शोधो से पता चलता है की प्रतिदिन पपीते का रस और दुध पीना स्तनों की वृद्धि का पर्क्रतिक तरीका (Natural breast increasing) है। इन दोनों में उपस्थित प्रोटीन, विटामिन और पोषक तत्व स्तन वर्धि को बढाएंगे. ताज़ा पपीता खाना एक दूसरा अच तरीका है।

प्राकृतिक महिला स्वास्थ्य पूरक पदार्थ और जडीबुटी लेना स्तन वर्धि का सर्वोतम तरीका है। कम समय में आप परिणाम देख सकते है। स्वास्थयप्रद भोजन कीजिये जिसमे प्रोटीन भरपूर मात्रा में हो जेसे अंडे, मूंगफली का मक्ख्हन, मछली, सुपारी, दूध और मुर्गी का मांस। प्रोटीन से भरपूर भोज्य पदार्थ ढूंढिए और उन्हें प्रतिदिन खाने की कोशिश कीजिये। शक्कर, संश्लेषित भोज्य पदार्थ, सोडा, फ़ास्ट फ़ूड इत्यादि कम से कम खाइए. इसके स्थान पर बहुत सा पानी पीजिये।

अपने स्तनों की प्रतिदिन या हर रात मालिश कीजिये, यह वास्तव में स्तनों के ऊतकों की मदद करेगा। 1 टेबल स्पून जवस के बीज  स्तनों की वृद्धि में बहुत मददगार होता है।

स्तनों की शीघ्र वृद्धि के आहार उपचार जिनका आपको अनुसरण करना चाहिए (Foods to increase bust size quickly)

बड़े स्तनों को छोटा दिखाने के तरीके

ऐसे भोज्य पदार्थ जिसमे अस्ट्रोजन अधिक हो, स्तन वृद्धि (increasing breast size) के लिए बहुत लाभकारी होता है. हौर्मोंस की विषमता भी स्तन वृद्धि के पीछे बहुत बड़ा कारण है। ब्रेस्ट बढ़ाने की दवा के नाम पर बिना पूरी जानकारी के कोई भी दवा आदि लेना ना शुरू करें बल्कि प्राकृतिक उपायों की मदद लें. अस्ट्रोजन की अधिकता वाले भोज्य पदार्थ देखें।

  • स्त्री की छाती – फल और सब्जियां – इनमें अस्ट्रोजन अधिक पाया जाता है। खजूर, चेरी, सेब और आलूबुखारा प्रतिदिन खाने के साथ खाना चाहिए।
  • मेथी– यह स्तन वृद्धि के लिए सिद्ध तथा उत्तम जड़ी है। इसलिए ऐसा भोजन करने की कोशिश कीजिये जिसमे मेथी का घटक हो। मेथी की पत्तियां दूध में भी वृद्धि करती हैं।
  • स्त्री की छाती – सोयाबीन– सोया उत्पाद जैसे सोया दूध, सोया मक्खन, सोया कॉफ़ी, सोया ब्रेड आदि में अस्ट्रोजन का स्तर उच्च होता है. स्तन वृद्धि में ये सोया उत्पाद अच्छा परिणाम देंगे।
  • जवस बीज– ये स्तन वृद्धि में (in increasing breast size) बहुत प्रभावकारी पाए गए हैं। आप बहुत सारे दुसरे बीज भी स्तन वृद्धि में उपयोग कर सकते हैं जैसे पपीते के बीज, सौंफ के बीज, सूरजमुखी के बीज इत्यादि।
  • मटर और फलियाँ– आप मटर और फलियों से प्राकृतिक अस्ट्रोजन प्राप्त कर सकते हैं। राजमा, लाल राजमा, लिमा बीन्स, छोले और अम्जोद, प्रोटीन भोज्य पदार्थों के साथ खाया जाना चाहिए जो स्तन वृद्धि में मददगार होता है।
  • बाबा पत्तियां– बाबा पत्तियां सुन्दर जड़ी है जो स्तन वृद्धि के उपचार में उपयोग होती हैं। यह अस्ट्रोजन से भरपूर है अतः स्तन वृद्धि में प्रभावी रूप से भाग लेती है।
  • जैतून– जैतून और जैतून का तेल स्तन वृद्धि का सर्वोत्तम उपचार हैं। वर्जिन जैतून का तेल और कला जैतून स्तन वृद्धि के लिए सर्वोत्तम हैं। आप स्तन वृद्धि के लिए दूसरे तेल भी उपयोग कर सकते हैं जैसे कच्चे अखरोट का तेल, अलसी का तेल, अवोकेडो तेल और तिल का तेल।

हमेशा धीरज रखिये, स्तनों का आकार धीरे-धीरे बढ़ेगा और यह आपको जल्दी ही पता चल जाएगा। ख़ास तौर पर तब जब आप यौवन आरम्भ से गुज़र रहे हों, स्तनों के आकार वृद्धि में कुछ समय लगेगा।

बड़े ब्रेस्ट या बड़े स्तनों के लिए अमल में लाये जा सकने वाले सुझाव (More tips for increasing breast size)

  • स्त्री की छाती, बार बार स्तनों की मालिश कीजिये, इससे स्तनों का आकार बढ़ता है और स्तन आकर्षक बनते हैं।
  • सॉफ्ट ड्रिंक, चाय, कॉफ़ी, शराब आदि का उपभोग टालिए, इससे स्तन वृद्धि पर नकारात्मक प्रभाव पड़ता है।
  • जंक फ़ूड मत खाइए। यह स्तन वृद्धि (enhancing breast size) पर असर डालता है।
  • बहुत सारा पानी पीजिये और नियमित रूप से कसरत कीजिये।

उम्र बढ़ने के साथ किशोर लड़कियों को दर्द होता है जो कि काफी सामान्य है। पर इतना दर्द झेलने के बाद भी कई लड़कियों के स्तान पूरी तरह विकसित नहीं हो पाते। इससे उनके अभिभावक, खासकर माएं काफी चिंता में रहती हैं और ऐसी तकनीकों की खोज में लीन रहती हैं जिनसे उनकी बेटियों के स्तन कोप सुडौल और विकसित किया जा सके। ऐसे कुछ घरेलू नुस्खे हैं, जिनकी मदद से बिना किसी साइड इफ़ेक्ट के किशोर आयु की लड़कियों के स्तन बढ़ जाते हैं। अगर आप सर्जरी करवाना चाहती हैं तो इससे आपको काफी जल्दी बड़े स्तनों की प्राप्ति तो हो जाएगी, पर यह आपके लिए काफी हानिकारक भी हो सकता है और भविष्य में आपके शरीर को काफी नुकसान पहुँच सकता है।

स्तनों को सुडौल बनाने के लिए और गोलाकार दिखाने के नुस्खे

ब्रेस्ट का आकार (Breast ka aakar) को बढाने के लिए उपाय (Remedies for growing bigger breasts faster)

स्त्री की छाती तथा स्तनों का व्यायाम (Breast exercise)

आप घर बैठे ही स्तनों के लिए कुछ प्रभावी व्यायाम कर सकती हैं, जिनकी मदद से आपको बड़े स्तनों की प्राप्ति होगी और वो भी काफी तेज़ी से तथा बिना किसी साइड इफेक्ट्स के। यह बात जाननी काफी आवश्यक है कि स्तनों का निर्माण मोटे टिश्यू से होता है, अतः व्यायाम पर निर्भर रहने से उनके आकार पर ज़्यादा फर्क नहीं पड़ेगा। पर ऐसे काफी प्रभावी व्यायाम हैं जिनसे आपके स्तन की मांसपेशियां मज़बूत होंगी और आपके वक्ष बड़े दिखेंगे। इन व्यायामों को करने से भी आपको ऐसे स्तनों की प्राप्ति होगी जो बड़े और आकर्षक दिखेंगे। अगर आप नियमित रूप से इस तरह के व्यायामों को करना जारी रखें तो सारा जीवन सुडौल और सुन्दर स्तन बनाए रखना काफी आसान होगा।

हिप्नोसिस की तकनीक (Technique of hypnosis)

कई शोधकर्ताओं ने हिप्नोसिस की तकनीक का अध्ययन किया है और इस बात की पुष्टि की है कि इस तकनीक के प्रयोग से स्तनों के आकर में वृद्धि पूरी तरह संभव है। इस तकनीक के द्वारा आपका शरीर खुद के ही अन्य भागों द्वारा अपनी ही भाषा में गंभीर रूप से बात कर सकता है। यह जानकार आपको काफी आश्चर्य होगा कि शरीर के अंगों के बीच इस बातचीत के फलस्वरूप टिश्यूस, कोशिकाओं तथा अन्य अंगों का भी खुद से निर्माण होता है। हॉर्मोन्स के तालमेल (hormonal synchronization) की वजह से आपके स्तनों के आकार में अपने आप ही वृद्धि दिखेगी।

ब्रेस्ट का आकार बढ़ाने के आसान तरीके, खानपान में एस्ट्रोजन (Estrogen in diet vaksh ke liye)

जिन महिलाओं और किशोर लड़कियों को छोटे स्तनों की समस्या सताती है, उन्हें एस्ट्रोजन से भरपूर खाद्य पदार्थों का सेवन करना चाहिए। एस्ट्रोजन महिलाओं का सेक्स हॉर्मोन होता है, जिसका पर्यापत मात्रा में सेवन करने से बिना किसी परेशानी के आपके स्तनों में वृद्धि होती है और वे सुडौल बनते हैं। कृत्रिम उपायों जैसे ब्रेस्ट बढ़ाने का आयल और बाज़ार में प्रचारित होने वाली ऐसी ही अन्य अटपटे उपाय करने से बचें. इनकी जगह प्राकृतिक तरीका अपनाएं. ऐसे कई प्राकृतिक तत्व हैं जिनमें एस्ट्रोजन होता है, जैसे लहसुन, लिमा बीन्स, एग प्लांट, स्क्वाश, कददू, पटसन के बीज आदि। आप इस समय सोया के उत्पादों का सेवन भी कर सकती हैं क्योंकि इसमें मौजूद आइसो फ्लेवोंस (isoflavones)आपके स्तनों का आकार बढ़ाने में काफी मदद करते हैं। इसके सेवन से आइसो फ्लेवोंस की संख्या में वृद्धि होगी और एस्ट्रोजन के स्तर तथा स्तनों के आकार में काफी वृद्धि होगी।

प्रोटीन से भरपूर डाइट (Protein rich diet se satan badane ke upay)

खूबसूरत ब्रेस्ट प्राप्त करने के टिप्स

अगर आपके स्तनों का आकार काफी छोटा है तो इसका कारण यह हो सकता है कि आपके अंदर प्रोटीन की कमी है। इसलिए तुरंत ही प्रोटीन से भरपूर भोजन लेना शुरू करें जिससे कि आपके स्तनों का आकार बढ़ाने में मदद मिले। प्रोटीन से भरपूर कुछ भोजन हैं नट्स, लीन फिश, अंडे, चिकन, सीरियल्स आदि। हर महिला की इच्छा होती है कि ना सिर्फ उनके वक्ष स्तन बड़े हों, बल्कि उनका आकार भी सुडौल हो। प्रोटीन के पर्याप्त सेवन से आपको सुडौल और नरम स्तन मिलेंगे।

छाती को सिकोड़ना (Chest contraction)

स्तनों के आकार को बढ़ाने की एक और कारगर तरकीब है छाती को सिकोड़ने की तकनीक। अपने पैरों को अच्छे से फैलाकर खड़े हो जाएं जिससे कि पैरों के बीच में जगह हो और हाथ में एक तौलिया ले लें। अब दोनों हाथों का प्रयोग करते हुए दोनों तरफ से तौलिये को खींचें और बीच में दोनों हाथों को मिलाकर इसे सिकोड़ें। इस खींचने और सिकोड़ने वाली क्रिया को 15 मिनट तक करते रहें जिसके अंतर्गत हर बारी में 10 राउंड्स करें। एक महीने में आपको अपने वक्ष स्तनों के आकार में काफी फर्क मालूम पड़ेगा।