Ways to make high heels more comfortable – ऊँची एड़ी के जूतों को आरामदायक बनाने के विभिन्न तरीके

आप जानते हैं कि ऊँची एड़ी के जूते पहनना स्वास्थ्य की दृष्टि से हानिकारक हो सकता है, खासकर तब जब आपको आराम की आवश्यकता हो। पर उन उत्सवों का क्या जब आपके पास इन्हें पहनने के अलावा कोई और चारा ही नहीं रहता !आप या तो इन जूतों को पहनकर एड़ियों और पैर के अंगूठों में दर्द की शिकायत कर सकती हैं या कुछ ऐसे उपायों का प्रयोग कर सकती हैं जब भी आपको इन्हें पहनना हो।

ऊँची एड़ी के जूते – जूते की पिच सही करें (Pitch it perfectly)

जूते की नोक पर बनी ढलान को पिच कहते हैं। फैशन विश्लेषक इसे अपने तरीके से परिभाषित करते हैं परन्तु आपको यह जानना चाहिए कि पिच जितनी ऊँची होगी उतने ही आपके पैर घर पर वापस आकर दर्द करेंगे। ऊँची पिच वाले जूतों से आपके पैर भी ऊँची जगह पर पड़ते हैं जिससे काफी तकलीफ होती है। आपको जूतों की पिच पर अच्छे से ध्यान देना चाहिए चाहे हील की जो भी ऊंचाई हो। आपको कई ऐसे ऊँची हील वाले जूते मिल जाएंगे जिनकी पिच नीची होती है।

ऊँची एड़ी का जूता – सही मुद्रा बनाए रखें (Mind is posture – unchi edi ka jutta)

आपके व्यक्तित्व को परिभाषित करने के अलावा शरीर की अच्छी मुद्राएं बनाना अन्य कारणों से भी आवश्यक है। इससे आप दर्शनीय और सुन्दर दिखती हैं। इसके अलावा आपकी मुद्रा आपको भारी कदमों से चलने के विपरीत एक सौम्य चाल देती है जो आपको एड़ियों की सूजन से बचाता है। तो अच्छी मुद्रा कैसे बनाएं? जब भी आप हील का प्रयोग करें तो खुद को बैलरिना समझें। इससे आपकी चाल नाज़ुक और बढ़िया हो जाएगी।

टीन एज ब्यूटी टिप्स, कॉलेज जाने वाली लड़कियों के लि

पैर की बनावट का अंदाज़ा लगाएं (Shape of a different things matter)

अगर आपके पैर चौड़े हैं तो अपने पैरों के आराम और स्वास्थ्य के हिसाब से जूते खरीदें। इसके अलावा जूते के अंगूठे वाला भाग एवं उसके हील देख लें। सौभाग्य से ऊँची हील सिर्फ स्टीलेटो तक ही सीमित नहीं रह गयी है। अच्छे विकल्पों की खोज में काफी खरीदारी करें। मोटे हील वाले जूतों में आपको काफी आराम मिलेगा। अगर आप वेज खरीदना चाहते हैं जो वैसे भी आरामदायक नहीं होते हैं तो पतले की जगह एक मोटा जोड़ा खरीदें।

इन्सोल और मोलस्किन के गुण जानें (Learn the truth about insoles and moleskin)

आपने इन दोनों चीज़ों को दवाई की दुकानों पर देखा होगा पर ये आपकी मदद किस तरह करेंगे? मोलस्किन एक तरह का सूती का कपडा होता है जो कि आपको सही प्रकार का संकर्षण देता है जो पसीने से युक्त आम बैंडेज नहीं दे सकते। आप अपनी एड़ियां रखने के स्थान पर जेल इन्सोल्स का प्रयोग कर सकते हैं। क्योंकि ज़्यादातर दर्द का अनुभव आपको यहीं से होता है अतः इन्सोल आपको इस मामले में काफी आराम दे सकता है।

ऊँची एड़ी का जूता – सस्ते जूते ना खरीदें (You will get what you pay for)

सस्ते जूते खराब क्वालिटी के पदार्थों से बने होते हैं ,अतः जितना सस्ता जूता आप पहनेंगी उतना ही आपको दर्द का अनुभव होगा। असली चंदे के जूते पहनें क्योंकि ये आपके पैरों को सही आधार देंगे। सस्ते प्लास्टिक के जूते काफी कड़े होते हैं और बिलकुल भी आरामदायक नहीं होते। ये सस्ते में आपको ज़रूर मिलेंगे पर आपको पसंद नहीं आएँगे। आपके पैरों को सही तरह की देखभाल चाहिए। इसके साथ ही इस बात का भी ध्यान रखें कि महंगे जूते भी आपको कष्ट दे सकते हैं।अतः सतर्कता से चुनाव करें।

उँगलियों को दबाएं (Tape the toes)

हर महिला के लिए लाभदायक फैशन के जुगाड़ (हैक्स)

एक मशहूर फैशन ब्लॉग के अनुसार अपने पैरों की तीसरी और चौथी उंगलियां आपस में दबाने से एड़ियों में दर्द कम हो जाता है। इस प्रक्रिया का पालन करने से उँगलियों के बीच की एक नस चोट खाने से बचती है।

मोची की मदद लें (Seek help from your cobbler)

अपने जूतों की नियमित देखभाल करें और उनका आकार बनाए रखें। इससे आपको पैरों में छाले पड़ने की समस्या से भी मुक्ति मिलेगी। जैसे ही आपके जूतों की एड़ियां घिस जाए उन्हें बदलवा लें। इसके लिए किसी मोची की मदद लें क्योंकि वो आपसे ज़्यादा पैसे नहीं मांगेगा। उसके काम पर भरोसा करें।

Subscribe to Blog via Email

Get Hindi tips to your inbox everyday