Hair fall control tips in Hindi – बाल झड़ने से रोकने के घरेलू नुस्खे

बालों का झड़ना एक सामान्य प्रक्रिया है। हर रोज़ थोड़े बहुत बाल सबके ही झड़ते हैं। मगर जब इन बालों का गिरना अधिक हो जाता है तो चिंता होना स्वाभाविक है। बालों को झड़ने से रोकने के लिए हम हॉस्पिटल और ब्यूटी पार्लरों में जाकर हजारों रुपये खर्च कर देते हैं। इस दौरान उपयोग किये जाने वाले हेयर लोशन और दवाइयों में कई केमिकल रहते हैं और इनके बालों पर साइड इफेक्ट्स होते हैं। बालो का गिरना तो कम हो जाता है मगर इन हानिकारक केमिकल्स के प्रभाव से पतले और कमजोर होकर बाल टूटने लगते हैं। इसीलिए इस आर्टिकल में हम आपको हज़ारों वर्षों से दादी नानी द्वारा काम मे लिए गए बालों को झड़ने से रोकने के घरेलू उपाय/नुस्ख़े बताएंगे।

ये हैं बालों के झड़ने के मुख्य कारण (Causes of Hair fall)

बालों के झड़ने के कारण

बालों का गिरना अथवा गंजापन पुरुषों में अधिकतर पाया जाता है, मगर बालों का झड़ना महिलाओं में भी बहुत आम है। बालों के झड़ने की कई वजह हो सकती हैं और इस समस्या से निजात पाने के लिए यह जरूरी है कि हमें बालों के गिरने की मुख्य वजह पता हो तभी इसका प्रभावी रूप से इलाज संभव हो सकेगा।

तनाव (Stress)

स्ट्रेस अधिकतर समस्याओं की जड़ है। उनमें से बालों का झड़ना भी एक है। आजकल की दौड़ भाग की जिंदगी में तनाव होना बहुत आम है। तनाव ऑफिस में काम के बोझ से भी हो सकता है। पढ़ाई को लेकर, व्यापार, पारिवारिक संबंधों को लेकर भी स्ट्रेस हो जाता है। इसलिए जरूरी है कि अपनी दिनचर्या में बदलाव कर मेडिटेशन या योग करके तनाव से छुटकारा पाया जाए।

PCOS/PCOD पॉली सिस्टिक ओवरी सिंड्रोम

Polycystic Ovary Syndrome महिलाओं में वाली एक आम बीमारी है, जो हार्मोन्स के बदलाव की वज़ह से होती है। भारत मे हर वर्ष एक मिलियन से अधिक महिलाओं को पीसीओएस की समस्या होती है। इसमें महिलाओं के अंडाशय (ovary) में कई सिस्ट (cyst) हो जाती है और इसकी वजह से बाल भी पतले और कमजोर होकर टूटने लगते हैं।

गर्भावस्था (Pregnancy)

प्रेगनेंसी के दौरान महिलाओं के शरीर मे कई भावनात्मक, हार्मोनल (hormonal) और शारीरिक बदलाव होते हैं, जिनकी वज़ह से तनाव उत्पन होता है और बालों के झड़ने की समस्या हो जाती है।

प्रदूषण (Pollution)

बाल झड़ने से रोकने के घरेलू नुस्खे

बढ़ते हुए औद्योगिकीकरण की वज़ह से पॉल्युशन की समस्या बहुत आम हो गई है। हाल ही में दिल्ली में वायु प्रदूषण के आंकड़े हम सभी ने देखे हैं कि किस खतरनाक स्तर तक प्रदूषण बढ़ गया है। ऐसे में जब हम गाड़ी से निकलते हैं तो वाहनों या फैक्ट्रियों से निकला हुआ धुआं, जिसमें कई हानिकारक कार्बन उत्सर्जित तत्व होते हैं। ये सब हमारे बालों और स्किन पर जमा जाते हैं जिसकी वजह से बाल झड़ते हैं।

डैंड्रफ (Dandruff)

डैंड्रफ यानी रूसी बहुत ही आम है और अधिकतर यह समस्या पुरुषों में पाई जाती है। अनुवांशिक कारणों या तनाव की वजह से स्कैल्प बालों की जड़ों में जमा हो जाता है और सिर में खुजली होने लगती है। धीरे धीरे बाल जड़ों से कमजोर होकर गिरने लगते हैं। भारत में हर तीन में से एक पुरुष डैंड्रफ की समस्या से ग्रसित है।

सर्जरी या आपरेशन (Surgery or Operation)

कई बार आपरेशन के बाद मरीजों में तनाव की वज़ह से बाल गिरने शुरू हो जाते हैं। हालांकि ये समस्या परमानेंट नहीं रहती है और कुछ समय बाद बालों का झड़ना अपने आप ही कम हो जाता है। ऐसे में घरेलू नुस्खों को अपनाकर इस समस्या से जल्दी छुटकारा पाया जा सकता है।

धूम्रपान और मदिरापान (Smoking and drinking)

हालाँकि धूम्रपान और शराब पीने से होने वाले नुकसानों से सभी परिचित हैं। मगर बहुत कम लोग इस बात से वाकिफ़ होते हैं कि धूम्रपान और शराब पीने से बाल भी झड़ते है। इनके अत्यधिक सेवन से डीएनए का स्ट्रक्चर प्रभावित होता है और उसकी वज़ह से बाल गिरने लगते हैं।

बालों पर अत्यधिक केमिकल्स का प्रयोग

बाल गिरने और झड़ने से कैसे रोके और बचाएँ

किसी भी शादी पार्टी या घरेलू फंक्शन में हर महिला सबसे अलग और खूबसूरत दिखना चाहती है। पार्लर जाकर हेयर्स को कलर करना, स्ट्रेट (straight), रिबॉन्डिंग (rebounding) करवाना बहुत आम है। मगर इस दौरान आपके बाल बहुत ही शक्तिशाली केमिकल्स के कई प्रोसेस से होकर गुज़रते हैं। जिसकी वजह से बाल बहुत ही कमज़ोर और पतले हो जाते हैं। अगर उनकी सही से देखभाल न की जाए तो वो झड़ने शुरू हो जाते हैं।

हृदय रोग (Heart desease)

वैज्ञानिकों की रिसर्च से पता चला है कि बढ़ते कोलोस्ट्रॉल लेवल और हृदय की धमनियों में अवरोध (clogged arteries) की वज़ह से भी हेयर फॉल और गंजेपन की समस्या होती है। इसलिए कम तेल, वसा का भोजन अपने आहार में शामिल करें और अपने दिल का ख़याल रखें।

विटामिन, प्रोटीन की कमी

बालों की ग्रोथ के लिए विटामिन और प्रोटीन बहुत जरूरी होते हैं। अगर शरीर में विटामिन अथवा प्रोटीन की कमी हो जाए तो बालों के झड़ने की समस्या उत्पन्न हो जाती है। हालांकि मांसाहारी इंसानों में विटामिन, प्रोटीन की कमी मांस, मछली, अंडा आदि से पूरी हो जाती है। मगर शाकाहारी लोग चूंकि इन सबका सेवन नहीं करते हैं तो उनमें विटामिन और प्रोटीन की कमी होना बहुत आम है और जिसकी वजह से बाल जड़ों से कमजोर होकर गिरने लगते हैं। इसलिए जरूरी है कि दूध और डेयरी प्रोडक्ट्स का भरपूर सेवन किया जाए और समय-समय पर प्रोटीन, विटामिन सप्लीमेंट्स भी चिकित्सक की सलाह के अनुसार लिए जाए, जिससे कि शरीर में प्रोटीन विटामिन की कमी ना हों।

मिनरल्स की कमी (Mineral deficiency)

केवल शरीर ही नहीं बल्कि बालों के लिए भी खनिज (मिनरल्स) बहुत जरूरी है। मैग्नीशियम और जिंक बालों की ग्रोथ के लिए बहुत जरूरी है अगर शरीर में जिंक की कमी हो तो न केवल सिर के बाल बल्कि आइब्रो और पलकों के बाल भी झड़ना शुरू हो जाते हैं। मिनरल तेल ग्रंथियों (oil glands) को हेल्थी रखने में बहुत महत्वपूर्ण होते हैं। इसलिए ऐसे पदार्थों का सेवन करना चाहिए जिनमें में मिनरल्स की भरपूर मात्रा हो। काजू, बादाम, अखरोट के सेवन से जिंक और अन्य मिनरल्स की कमी पूरी की जा सकती है और बालों के झड़ने की समस्या से निज़ात पाई जा सकती हैं।

क्या करें और क्या करें बालों को झड़ने से रोकने के लिए (Do’s and Don’ts for hair fall home remedies)

क्या करें (Do’s)

झड़ते बालों को रोकने के घरेलू नुस्खे

    • भोजन में विटामिन, प्रोटीन और मिनरल्स  से भरपूर संतुलित आहार लें।
    • नहाने के बाद बालों को सुखाने के लिए नर्म तौलिए का इस्तेमाल करें
    • बालों में शैम्पू के बाद कंडीशनर का प्रयोग करें
    • हफ़्ते में दो बार रात को सोने से पहले बालों में तेल लगाकर सोए और सुबह शैम्पू करें
    • लंबे बालों में झड़ने और पतले होने की समस्या अधिक होती है इसलिए बालों को छोटा रखें
  • बाज़ार में मौजूद अधिकतर शैम्पू केमिकल्स से लैस होते हैं, इसलिए माइल्ड शैम्पू का प्रयोग करें

क्या करें (Don’ts)

    • चूंकि तनाव बालों के झड़ने की वजह है इसलिए अत्यधिक स्ट्रेस लें
    • हेयर स्ट्रेटनिंग (hair straightening) और हेयर कर्लरिंग (hair curling) के उपकरणों का उपयोग अधिक करें
    • एन्टी डैंड्रफ शैम्पू लंबे समय तक प्रयोग करें
    • हर रोज हेयर जेल का प्रयोग करें
    • गीले बालों में कंघी करें
    • पाँच मिनट से अधिक बालों में कंडीशनर को लगा कर रखें
  • बालों में मेहंदी के अत्यधिक प्रयोग से उन पर एक परत (coat) बन जाती है, इसलिए अत्यधिक मेहंदी का प्रयोग करें

बालों का झड़ना रोकने के घरेलू नुस्खे (baal girne rokne ke upay)

गर्म तेल से मालिश

बालों का गिरना एक बहुत ही आम समस्या है। इसका सबसे अच्छा घरेलु उपाय हॉट आयल से बालों कि मालिश करना है। सिर में गर्म तेल की मालिश करने से बालों में रक्त संचार तेज गति से होता हैं और बालों कि जड़ें मजबूत होती है। गर्म तेल से मालिश करने से न केवल बालों का झड़ना कम होता है बल्कि तनाव भी कम होता है। मालिश के लिए नारियल या जैतून का तेल सबसे बेहतर है। मगर बादाम, आंवला, अरंडी का तेल भी काम में लिया जा सकता है।

कैसे करे

    • तेल को गुनगुना गरम कर अँगुलियों के पोरों से लें बालों कि जड़ों में लगाये और धीरे धीरे सिर में मालिश करें।
    • एक तौलिया उया सूती कपड़ा लें और इसे गरम पानी में डुबोकर बालों पर लगायें।
    • इसे दस पंद्रह मिनट के लिए इसे ऐसे ही रहने दे और बाद में किसी माइल्ड शैम्पू से बालों को धो लें।
  • अच्छे परिणाम पाने के लिए सप्ताह में एक बार उपयोग करें।

शहद और जैतून

क्या यात्रा के दौरान बाल ज़्यादा गिरते है

शहद और जैतून बालों के लिए एक कंडीशनर का काम करते हैं और बालों का झाड़ना कम कर उन्हें घना बनाते हैं।

कैसे करे

    • तीन चम्मच शहद और एक चम्मच जैतून का तेल एक कटोरी में मिला लें।
    • इस पेस्ट को बालों पर लगा लें।
  • बालों को गुनगुने पानी से शैंपू कर लें।

एलोवेरा

एलोवेरा जिसे देसी भाषा में ग्वारपाठा भी कहते है अपने आपमें कई औषधीय गुण समाये हुए है। Alovera बालों के पीएच लेवल को नियंत्रण में रखता है और बालों कि जड़ों में जाकर बालो का झड़ना कम करता है। एलोवेरा ना केवल बालों का गिरना कम करता है, बल्कि बालों में चमक भी लाता है।

कैसे करे

    • एलोवेरा का गर्म पानी में पेस्ट बनाकर बालों पर लगाएं।
  • दस मिनट बाद बालों को ठन्डे पानी से धो ले।

दही

हर घर कि रसोई में दही आसानी से मिल जाता है। दही (yogurt) में प्रोटीन और विटामिन-D भरपूर मात्रा में होते हैं, जिसकी वजह से बाल चमकदार और मजबूत होते हैं। दही स्किन और हेयर्स के लिए बहुत अच्छा कंडीशनर है हफ्ते में एक बार बालों में दही को लगाने से बेजान बालों में भी जान आ जाती है। दही से बाल मुलायम और चमकदार भी हो जाते हैं।

कैसे करे

    • एक कटोरी दही में मेथी पाउडर मिलाये।
    • इस पेस्ट को अपने बालो की जड़ों में और धीरे धीरे बालो कि मसाज करें।
  • थोड़ी देर बाद गर्म पानी से शैम्पू कर लें।

नींबू का रस

पुरुषों के लिये बालों के गिरने को नियंत्रित करने के टिप्स

बालों के झड़ने का मुख्य कारण डैंड्रफ और स्कैल्प का बनना है। नींबू डैंड्रफ का बहुत अच्छा घरेलु उपचार है। नींबू में Lemon में पर्याप्त मात्रा में विटामिन-सी पाया जाता है जो इसे अम्लीय (acid) गुण प्रदान करता है। नींबू का रस सिर की मृत कोशिकाओं को हटाकर बालो से स्कैल्प को दूर करते है और डैंड्रफ को पूरी तरह से समाप्त कर देते हैं। इससे बालों का गिरना कम हो जाता है।

कैसे करे

    • एक कटोरी दही में दो चम्मच नींबू का रस मिलाये।
    • सुबह नहाने से पहले बालों में इसको लगाएं।
  • सूखने दे और शैंपू से बालों को धो लें।

धनिया

धनिया सिर्फ़ खाने में ही स्वाद नहीं लाता है ये बालों को झड़ने से रोकने में भी बहुत महत्वपूर्ण भूमिका निभाता है। धनिया बालों को झड़ने से बचाता है और उनको मुलायम बनाता है।

कैसे करे

    • धनिये और पानी का गाड़ा पेस्ट बनाकर बालों में लगाये।
  • पेस्ट को बालों में पूरी तरह से सूखने दे और लगभग 45 मिनट बाद शैम्पू से धो लें।

आलू

आलू में आयरन और विटामिन की प्रचुर मात्र होती है। आलू पोटेशियम की कमी को पूरा करता है इसकी कमी से बालों का झड़ना कम करता है।

कैसे करे

    • एक आलू को छीलकर मिक्सी में पेस्ट बना लें।
    • सूती कपडे से इसका रस निकल ले।
    • आलू के रस में एक चम्मच शहद मिला लें।
    • इस पेस्ट को अपने बालों में और जड़ों में लगा ले।
  • बालों के सूख जाने पर बालों को शैंपू से धो लें।

कढ़ी पत्ता

बाल झड़ने से रोकने के लिए ताज़े आंवले के हेयर पैक्स

कढ़ी पत्ते में एंटी बैक्टीरियल और एंटी फंगल गुण होते है जो बालों की जड़ों से स्कैल्प और और फंगस को दूर करते हैं और बालों कि खोई हुई चमक लौटाते हैं।

कैसे करे

    • कढ़ी पत्ते की पत्तियों को मिक्सी में पीस कर पेस्ट बना लें।
    • कढ़ी पत्ते के पेस्ट को दही में मिलकर बालों में लगा लें।
  • लगभग 15 मिनट बाद बालों को शैम्पू से धो लें।

शिकाकाई, आंवला और मेहंदी

शिकाकाई, आंवला और मेहंदी का प्रयोग सदियों से घरों में बालों को रंगने और उन्हें मजबूती देने के उपयोग किया जाता रहा है। हीना के साथ में शिकाकाई और आंवले का प्रयोग बालों की जड़ों में स्कैल्प से होने वाली खुजली से निजात दिलाता है और बालों को नई जान देता है।

कैसे करे

    • तीनो को बराबर मात्रा में मिलाकर एक घोल बना ले।
    • इस घोल को कलर ब्रश कि मदद से अपने बालों और जड़ों में लगाएं।
  • इसको ज्यादातर तक बालों में लगा ना रहने दे और मेहंदी के सूखने से पहले ही तीस मिनट में गरम पानी से शैंपू कर लें।

अंडे का मास्क

अंडे सल्फर, फौस्फौरस, सेलेनियम, आयोडीन, जिंक एवं प्रोटीन (sulphur, phosphorous, selenium, iodine, zinc and protein) का काफी अच्छा स्त्रोत होते हैं, जो मिलकर बालों की बढ़त सुनिश्चित करते हैं। अंडे के मास्क का निर्माण करने के लिए एक बर्तन में एक अंडे का सफ़ेद भाग लें एवं इसमें एक चम्मच जैतून का तेल एवं शहद मिश्रित करें। इन्हें अच्छे से फेंटकर एक पेस्ट बनाएं एवं इसका प्रयोग जड़ों से लेकर सिरे तक करें। 20 मिनट के बाद एक हल्के शैम्पू (shampoo) से बाल धो लें।

मुलैठी की जड़

यह जड़ीबूटी बालों का झड़ना रोकती है एवं इसे और भी क्षतिग्रस्त होने से बचाती है। यह सिर की त्वचा को सुकून प्रदान करती है एवं सूखी पपड़ी/डैंड्रफ (dandruff) को दूर करती है। इससे पेस्ट बनाने के लिए एक चम्मच पिसी हुई मुलैठी की जड़ एवं एक तिहाई चम्मच केसर को एक कप दूध में मिश्रित करें। इसका प्रयोग अपने सिर तथा बालों पर करें एवं रात भर के लिए छोड़ दें। अगली सुबह अपने बालों को धो लें। इस प्रक्रिया का प्रयोग हफ्ते में दो बार करें।

ग्रीन टी

बालों का झडना रोकने के लिए सर्वोत्तम फल

यह चाय एंटीऑक्सिडेंट्स (antioxidants) से युक्त होती है, जो बालों के विकास में सहायता करती है एवं बालों के झड़ने पर लगाम लगाती है। दो-तीन टीबैग्स (teabags) को आपके बालों की लम्बाई के अनुसार एक से दो कप गर्म पानी में भिगोकर रखें। इसके ठंडा होने पर इसे अपने सिर की त्वचा एवं बालों पर लगाएं और सिर में धीरे धीरे मालिश करें। एक घंटे के बाद ठन्डे पानी से इसे धो दें।

चुकंदर का रस

चुकंदर विटामिन सी एवं बी6, फोलेट, मैंगनीज, बीटेन एवं पोटैशियम (vitamins C and B6, folate, manganese, betaine and potassium) से युक्त होता है, जो बालों के स्वास्थ्यकर विकास के लिए काफी आवश्यक होते हैं। इसके अलावा ये सिर की त्वचा को साफ़ रखकर डेटोक्सिफिकेशन (detoxification) माध्यम का भी काम करते हैं। 7 से 8 चुकंदर के पत्तों को उबालकर 5 से 6 हेना (henna) के पत्तों के साथ पीस लें। इस पेस्ट का प्रयोग अपने सिर की त्वचा पर करें एवं गर्म पानी से धोने से पहले 15 से 20 मिनट के लिए छोड़ दें।

विटामिन ई ऑइल

कमजोर बालों को जड़ों से मजबूत बनाने के लिए विटामिन ई ऑइल बहुत कारगर उपाय है। बालों की जड़ों में विटामिन ई ऑइल से हलकी हलकी मसाज करें और इसे रात भर बालों में लगा रहने दें। यह थोडा चिपचिपा होता है इसीलिए सुबह बालों में शैम्पू कर अतिरिक्त तेल को निकाल लें।

हेना

यह आमतौर पर प्राकृतिक हेयर कलर (hair color) तथा कंडीशनर (conditioner) के रूप में प्रयोग किया जाता है, पर हेना में ऐसे गुण होते हैं जो आपके बालों को जड़ से मज़बूत करते हैं। अगर आप इसे अन्य उत्पादों के साथ मिलाएं तो इससे बेहतर हेयर पैक बनेगा।

इससे अपने सिर की रोजाना मालिश करें तथा बाकी बचे तेल को एक एयरटाइट (airtight) पात्र में डाल दें।आप दही के साथ सूखे हेना का पाउडर मिलाकर भी एक पैक बना सकते हैं।

तनाव

झड़ते बालों के लिए प्राकृतिक शैम्पू

बाल झड़ने के कारण (baal jhadne ke karan), अगर आपके बाल झड़ रहे हैं, तो इसे लेकर तनाव में न रहें, वर्ना यह समस्या और विकट हो सकती है।

नारियल का तेल

इस तेल को गर्म करें तथा सिर पर धीरे धीरे मालिश करें। इसे 10 मिनट तक छोड़ दें तथा किसी शैम्पू से धो लें। मज़बूत बालों के लिए इस विधि का प्रयोग हफ्ते में 1 बार करें।

डैंड्रफ

डैंड्रफ ना सिर्फ आपके बालों, बल्कि आपके सिर की त्वचा को भी नुकसान पहुंचाता है। निरंतकार शैम्पू करके अपने सिर को स्वच्छ रखें। जिनके बाल चिकनाई युक्त हैं, वे एक दिन छोड़कर शैम्पू करें।

व्यायाम

हर दिन कम से कम एक घंटा व्यायाम करने से तनाव कम होगा, सिर में रक्त संचार अच्छे से होगा जिससे बाल अच्छे से बढ़ेंगे तथा इससे हाज़मा भी सुधरेगा जिसमें गड़बड़ी होने पर बालों के लिए पोषक पदार्थों का शरीर में जाना रूक सकता है।

सोने से पहले

बाल झड़ने का इलाज (baal jhadne ka ilaaj), बालों में मौजूद सारे पदार्थों को धो दें। रातभर बालों के किसी उत्पाद को रखना बालों के लिए हानिकारक हो सकता है। अगर आपके बाल लम्बे हैं तो गांठों को हटाएं तथा एक ढीली चोटी बांधें। सैटिन के तकियों का प्रयोग करें।