Hindi remedies to treat rashes under breasts – स्तनों के नीचे के चकत्तों के इलाज़ के घरेलू उपाय

स्तनों के नीचे के चकत्ते प्राय: नीचे की त्वचा से हमेशा छुये रहने के कारण होते है। जब स्तन लगातर त्वचा को छुये रहती है तो वहाँ पर नमी पैदा हो जाती है। इन दोनों स्तरों के बीच नमी का पैदा होना, बैक्टीरिआ, कवकों और अन्य संक्रमणों को आसानी से पैदा कर देगा। अन्य सामान्य कारण जो स्तनों के नीचे चकत्तों को पैदा करता है उसमें समकालीन कारण है जो यीस्ट संक्रमण /चर्म रोग है और शरीर के किसी भी भाग पर विकसित हो सकता है, लेकिन स्तनों के नीचे प्रमुख लक्ष्य करता है। चकत्तों की समस्या आपकी उम्र के साथ साथ बढ़ती है, अगर गर्भावस्था के दौरान आपके स्तन बड़े है या जब आपके स्तन ढीले पड़ जाते हैं। नीचे दिये गये घरेलू उपाय से आप दर्द और असुविधा से दूर रह सकती हैं जो स्तनों के नीचे के चकत्तों के कारण होती है।

स्तनों के नीचे रैशेस (rashes) कई महिलाओं के लिए समस्या का कारण होते हैं। यह आमतौर पर गर्मियों के समय होता है, जब वातावरण की गर्मी आपके शरीर में पसीने का सृजन करती है। आमतौर पर आपके स्तन आपके पेट से ऊपर होते हैं। आपके स्तनों और त्वचा के निचले हिस्से के बीच के खाली हिस्से में पसीना जमा हो जाता है। पसीने के साथ त्वचा का घर्षण होने पर स्तनों के नीचे रैशेस हो जाते हैं। जिन जगहों पर आपके स्तनों के आसपास चकत्ते हो जाते हैं, वहां बैक्टीरियल या फंगल (bacterial or fungal) पैदावार शुरू हो जाती है। गलत आकार की ब्रा (bra) पहनने से भी स्तनों के नीचे रैशेस पड़ जाते हैं। नीचे इसके लिए कुछ घरेलू नुस्खे दिए गए हैं। त्वचा रोग व उपचार :-

त्वचा रोग का इलाज – नमी को कम करें (Lower the moisture)

डीओड्रेंट की सहायता ले और स्तनों के नीचे के क्षेत्र में नमी का स्तर कम बनाये रखें। डीओड्रेंट को स्तनों के नीचे और सीने के क्षेत्र में, जहाँ वे छुये रहते हैं वहाँ पर उपयोग करें। इस प्रक्रिया द्वारा पसीने को कम करने का अच्छा मौका है और वास्तविकता में चकत्तों को अंदेखा करने में सहायता मिलेगी। आप रूई के टुकड़े को सीने और त्वचा के बीच, नमी को सोखने के क्रम में, रख सकती हैं। अपने आप को नमी से लड़ाई के विरुद्ध ठण्डा रखें, अगर आप यहाँ गर्मी मह्सूस करते है तो पंखा या एयर कण्डिशनर चला लें या अपनी खिड़कियां खोल लें और अपने शरीर तक हवा को पहुंचने दें। गर्म गर्मियों के दिनों में गहरे रंग के और कसे हुए कपड़े ना पहनें, इन्हें हल्के रंग के और ठण्डे कपड़ों से बदल लें। डीह्यूमीडीफायर का प्रयोग हवा से नमी को हटाने में सहायता करेगा।

जांघों के नीचे के रैशेस के कारण

त्वचा के चकत्ते – क्षोभकों को अंदेखा करें (Avoid irritants)

त्वचा की एलर्जी, अपने सौंदर्य उत्पादों के बारे में ख्याल रखें जिन्हें आप प्रयोग कर रहे हैं। अगर आप नये नियमित साबुन या डियोड्रेंट के उपयोग के बाद इन चकत्तों के निशान (skin pe rashes) को देखते है तो इन पर भी संदेह करें। अपने स्तनों पर चकत्तों के कारण खोजेंऔर उन उत्पादों को छोड़ दें। अन्य मामलों में कसी हुई ब्रा स्तनों के नीचे के चकत्तों के लिये कारण हो सकते हैं, इसकी कसावट को ढ़ीला करें या नई से बदल लें जो नीचे के क्षेत्र से स्तनों को ऊपर उठा ले। जो दोनो के बीच पर्याप्त अन्तर बना कर नमी के मौके को न बनने दे।

त्वचा पर चकत्ते – कोल्ड कम्प्रेस को लगायें (Apply cold compress)

चकत्तों के द्वारा होने वाली जलन से आराम के लिये आप कोल्ड कम्प्रेस लगा सकती है जो मलाई दूध और ठण्डे पानी से बनाया जाता है। समान मात्रा में ठण्डा पानी और दूध मलाई को एक कटोरे में लें और उसमें सूती कपड़े को भिगा लें। एक या दो मिनट तक भिगोने के बाद बाहर निकाले और चकत्तों की जगह पर लगा लें यह कम्प्रेस त्वचा को आराम पहुंचायेगा और खुजलाहट और सूजन में भी कमी लायेगा।

स्किन रैशेस – मकई का आटा (Cornstarch)

त्वचा के चकत्ते (स्किन रैशेस) ठीक करने के घरेलू उपचार

मकई के आटे के प्रयोग से आप चकत्तों से आराम पा सकते हैं। लेकिन बेहतर परिणाम के लिये इसे नमी या गीली त्वचा पर कभी नही लगायें। क्योंकि मकई का आटा नमी के साथ मिलकर कवको के संक्रमण को और अधिक बढ़ा देता है इस के जादुई असर के लिये मकई का आटा लगाने के बाद शांत रहें।

त्वचा के चकत्तों – सावधानी से धोयें (Launder carefully)

जब आप कपड़ों को धोती है तो यह सुनिश्चित कर ले कि आप कड़े रसायन आधारित साबुन की बट्टियां, पाउडर या डिटेर्जेंट का प्रयोग तो नहीं कर रही हैं। ये रसायन त्वचा के लिये क्षोभकों का कार्य करती है और ये खुजलाह्ट और लाल चकत्तों, चकत्तों (skin pe rash hona) के लिये कारण हो सकती हैं।

स्तनों के नीचे रैशेस होने के लिए घरेलू नुस्खे (Home remedies to treat rashes under breasts)

स्तनों के नीचे के चकत्तों के लिए सिरका (Vinegar for under breast rashes)

आप आसानी से अपनी रसोई में सिरका प्राप्त कर सकते हैं, क्योंकि इसका प्रयोग आपके भोजन में खट्टापन लाने के लिए किया जाता है। आधा बाल्टी हल्का गर्म पानी लें और इसमें आधा कप सफ़ेद सिरका मिश्रित करें। अब शरीर के प्रभावित भाग को इस मिश्रण से अच्छे से धो लें। इससे आपकी त्वचा का संक्रमण और एलर्जी (allergy) दूर हो जाएंगे। आप इस मिश्रण में अपने अंतर्वस्त्रों को भी धो सकते हैं। इन्हें पहनने से पहले सूरज की रोशनी में धो लें।

नारियल के तेल का नुस्खा (Coconut oil remedy)

जाँघों और कूल्हों से सेल्युलाईट हटाने के लिए समुद्री शैवाल से बने घरेलू नुस्खे

नारियल का तेल किसी भी प्रकार के चकत्तों को ठीक करने का काफी प्रभावी घरेलू नुस्खा साबित होता है। आपके स्तनों के नीचे उभरते हुए चकत्तों को आसानी से ठीक किया जा सकता है। अपने हाथ की हथेली में थोड़ा सा नारियल का तेल लें और अपने स्तनों के नीचे की त्वचा पर लगाएं। इसे इसी तरह छोड़ दें और रातभर तेल को आपके स्तनों के नीचे के भाग पर काम करने दें। अगली सुबह उठें और इन चकत्तों की मात्रा में आई काफी मात्रा में कमी को अपनी आँखों से देखें।

कैलामाइन लोशन (Calamine lotion)

अपने घर में हमेशा कैलामाइन लोशन रखें। इसकी मदद से आप किसी भी तरह के दाग धब्बों को दूर करने में सफलता प्राप्त कर सकती हैं। क्योंकि यह चिकित्सकीय रूप से परीक्षित होता है, अतः इसके प्रयोग से आपको किसी भी प्रकार का कोई भी नुकसान नहीं पहुंचेगा। अगर आप इससे होने वाले साइड इफेक्ट्स (side effects) के प्रति पूरी तरह निश्चिन्त होना चाहती हैं तो इस लोशन का प्रयोग अपनी त्वचा के छोटे से हिस्से में करें। अगर इससे आपको जलन होती है तो इस लोशन का इस्तेमाल ना करें। पर अगर यह आपको ठंडक और सुकून प्रदान करे तो त्वचा की किसी भी समस्या के लिए इस लोशन का प्रयोग करें। आपके स्तनों के नीचे के चकत्तों को इस विधि की मदद से ठीक किया जा सकता है।

Subscribe to Blog via Email

Get Hindi tips to your inbox everyday