Hindi tips to use eyelash extensions – आईलैश एक्सटेंशन्स: फायदे एवं नुकसान

कोई भी इंसान हर तरह से परफेक्ट नहीं हो सकता पर वह लोगों के सामने पेश होने की स्थिति में पूरी तरह से सुगठित एवं सुन्दर लगना चाहता है। महिलाएं हमेशा अपनी सुंदरता को लेकर काफी चिंतित रहती हैं एवं हमेशा परफेक्ट दिखने के प्रयास में रहती हैं। अगर आँखों की पलकों की बात करें तो कई लोगों की पलकें काफी छोटी एवं पतली होती हैं जो कि मुश्किल से ही दिखाई देती हैं। इन छोटी पलकों की समस्या को दूर करने के उद्देश्य से बाज़ार में कई प्रकार के पलकों के एक्सटेंशन्स पाये जाते हैं जो कि आपकी आँखों को एक शानदार लुक देते हैं। लम्बे आईलैशेस का एक फायदा यह होता है कि यह आपको जवान दिखने में मदद करता है।

आई मेकअप टिप्स – आईलैश का चयन (Selection of eyelashes)

आँखों के लिए आईलैश लेने के पहले आपको इस बात का ध्यान रखना होगा कि वह आपकी आँखों को सूट करती हो। आईलैश को एक गोंद जैसे चिपकने वाले द्रव्य की सहायता से आँखों पर लगाया जाता है, अतः इसे खरीदने से पहले इस बात की जांच कर लें कि यह द्रव्य अच्छी क्वालिटी का हो और आपकी आँखों को नुकसान ना पहुंचाता हो। ऐसे आईलैश का प्रयोग करें जो कि देखने में प्राकृतिक लगे। अगर आपके बाल और भौंहें पतली है और आपकी आईलैशेस लंबी और घनी, तो यह देखने वाले की नज़रों में काफी खटकेगा। आँखों की लैशेस बालों की भाँति नहीं बढ़ती हैं और इनके बढ़ने के कुछ स्थायी कारक होते हैं। जिनके आईलैशेस प्राकृतिक रूप से बढ़ने में समय लगाते हैं,उनके लिए ये नकली आईलैशेस जो कि प्राकृतिक दिखते हैं, काफी कारगर होते हैं।

ब्यूटी टिप्स – आईलैशेस का प्रयोग (How to use eye lashes?)

आईलैश एक्सटेंशन को प्राकृतिक दिखाने के तरीके

आईलैशेस प्रयोग करने की तकनीक जानना काफी आवश्यक है। नकली आईलैश बनाने में सिंथेटिक पदार्थों का प्रयोग किया जाता है,अतः यह जांच करना काफी ज़रूरी है की ये पदार्थ आपकी त्वचा पर लगाने के लिए उपयुक्त हैं या नहीं।

आईलैशेस बनाने में औषधीय द्रव्य का प्रयोग करने से जहां ये आपकी आँखों के लिए सुरक्षित रहता है वहीँ ये आपकी आँखों की सुंदरता में चार चाँद लगा देता है। किसी अनुभवी व्यक्ति द्वारा आईलैश लगवाने में आपको करीब 1 घंटे का समय लग सकता है पर अगर आप खुद अपनी आँखों पर आिलश लगाना चाहती हैं तो सारी विधि को समाप्त होने में करीब 3 घंटे भी लग सकते हैं। ये आईलैश उसमें प्रयोग किये गए द्रव्य की मदद से आपकी आँखों पर 2-3 हफ़्तों तक रह सकते हैं। आप एक घरेलू किट भी ले सकती हैं जिसमें आईलैशेस लगाने की सारी विधि दी गयी होती है।

आई मेकअप टिप्स – आईलैश एक्सटेंशन प्रयोग करने के कदम (Steps for using eye lash extension)

आईलैश एक्सटेंशन किट खरीदें (Buy a kit of eyelash extension)

आप यह किट किसी भी सौंदर्य प्रसाधन की दूकान पर खरीद सकती हैं। इस किट

में विभिन्न साइज़ों के आईलैशेस, गोंद, चिमटी या ट्वीज़र्स, गोद हटाने का पदार्थ एवं आईलैश ब्रश होती है।

आईलैश साफ़ करें (Clean the eye lashes se aankhon ke liye tips in hindi)

आईलैश खरीदते ही उसका प्रयोग करना अनुचित होगा। नकली पलकें लगाने अपनी प्राकृतिक पलकों को अच्छे से धोकर साफ़ कर लें और इसके बाद पलकों को सूखने दें।

निचली परत का ध्यान रखें (Covering the bottom of lashes)

भौंहों को सही आकार देने के नुस्खे

बाजार से ख़रीदे हुए आईलैशेस के निचली तरफ एक जेल पैड होता है जो नीचे की

पलकों को संभालकर ऱखता है। इस जगह का विशेष ध्यान रखें क्योंकि आँखें बंद होने की स्थिति में पलकों के ऊपरी भाग में एक सफ़ेद द्रव्य आ जाता है जो कि ठीक से देखने में सहायता करता है।

गोंद का अच्छे से प्रयोग (Squeeze the glue se aankhon ke liye makeup tips)

अत्याधिक गोंद आपकी पलकों की सुंदरता को बिगाड़ देता है, अतः गोंद का सावधानी से तथा कम मात्रा में प्रयोग करें।

चिमटे का प्रयोग करें (Make use of tweezers)

आपके आईलैश एक्सटेंशन किट में चिमटे का होना निश्चित है। इस प्रक्रिया को आँखों के अंदरूनी भाग से शुरू करें। नकली पलकों को लें और धीरे धीरे ब्रश करें। इसके बाद धीरे से इन पलकों को अपनी प्राकृतिक पलकों पर लगाएं और पलकों से 1-2 मिमी की दूरी रखें। एक आँख पर इसका प्रयोग करने के बाद गोंद सूखने में 10 सेकंड लगते हैं और इस समय में आपको दूसरी आँख पर भी ये सारी प्रक्रिया पूरी कर लेनी चाहिए।

ब्यूटी टिप्स – सिंथेटिक पलकों के फायदे (Pros of eye lash extensions)

1. आँखों की खूबसूरती को बढ़ाते है।

2. ये काफी हलके होते हैं अतः लगाने में आसान होते हैं।

3. विभिन्न साइजों में आते हैं।

4. नियमित रूप से ध्यान देने की आवश्यकता नहीं।

मेकअप करने के कुछ बेहतरीन नुस्खे

सिंथेटिक पलकों के नुकसान (Cons of eye lash extensions)

1. ये काफी महंगे होते हैं।

2. एलर्जी होने की संभावना काफी अधिक होती है।

3. आँखों के लिए ये काफी संवेदनशील सिद्ध हो सकते हैं।

4. एक बार आईलैश लगाने के बाद आप तेल आधारित मेकअप नहीं कर सकती।

loading...

Subscribe to Blog via Email

Get Hindi tips to your inbox everyday