What is the right age for pregnancy – गर्भावस्था के लिए सही उम्र क्या होती है?

कई वर्षों पहले महिलाए बहुत ही कम उम्र जैसे कि 20 से 25 साल की उम्र के आसपास में गर्भवती हो जाती थी। ऐसे कई उदाहरण मिलेंगे जहां महिलाए 18 से 19 साल की उम्र के गर्भवती हो जाती है। आपने 10 से 12 बच्चों को जन्म देने वाली महिलाओ के बारे में सुना होगा। क्योकि वे बहुत ही कम उम्र में अपने पहले बच्चे को जन्म दे देती है इसलिए उन्हें कई गर्भधारण का सामना करना पड़ता है। लेकिन, बहुत कम उम्र में गर्भवती होना स्वास्थ्य के लिए अच्छा नहीं है। यहां तक कि यह जनसंख्या में वृद्धि का एक कारण भी है। आज के युग में लोग एक या दो से अधिक बच्चे पैदा करने के बारे में  सोच भी नहीं सकते। अधिकतम वे तीन बच्चों तक की  सोच सकते हैं। साक्षरता और व्यापार की दर में वृद्धि की वजह से गर्भवती होने की उम्र लम्बी हो गयी है।

प्रेगनेंट होने की सही उम्र, गर्भावस्था के दौरान की उलझनें (Complications during pregnancy)

35 से 40 साल की बड़ी उम्र की महिलाओं को बच्चे को जन्म देने में बहुत सी जटिलताओं का समाना करना पड़ता है। 25 से 30 साल की उम्र की महिलाओं की तुलना में बड़ी उम्र की महिलाओं में प्रजनन में कमी कि वजह से गर्भवती होने की संभावना कम हो जाती है। गर्भधारण का सही समय (pregnancy ki sahi age), दुनिया भर में प्रकाशित पत्रिकाओं में महिला के बच्चे पैदा करने की उम्र के बारे में लिखा गया है। एक महिला की गर्भावस्था की अवधि के दौरान जटिलताए बढ़ाने में बहुत कम और बहुत ज्यादा उम्र एक महत्वपूर्ण भूमिका निभाती है।

रॉयल कॉलेज ऑफ़ आब्स्टट्रिशन एंड गाइनकालजिस्ट के शोधकर्ताओं ने गर्भावस्था की उम्र सीमा में वृद्धि और महिलाओं में प्रजनन की संभावना को अधिकतम करने के लिए अनुसंधान किया है। कई मामलों में यह साबित किया गया है कि 40 साल की आयु सीमा कि महिलाओं ने पिछले वर्ष में 27,000 बच्चों को जन्म दिया है।

गर्भावस्था के दौरान बुरे सपनों से बचने के लिए सलाह

गर्भधारण की सही उम्र, सही उम्र के साथ प्रजनन का जीवन चक्र (Perfect age with life cycle of fertility se pregnancy ke liye umar)

गर्भवती होने के लिए महिलाओं की सही उम्र प्रजनन के जीवन वृत्त पर निर्भर करती है। डॉक्टरों के मुताबिक, गर्भवती होने की सुरक्षित उम्र 20 से 35 वर्ष की आयु सीमा के भीतर होती है। उम्र के 35 साल पार कर चुकी महिलाओं को 10 वर्ष से छोटी उम्र की महिलाओं की तुलना में 6 गुना अधिक गर्भावस्था की अड़चनो का सामना करना पड़ता है।

यह देखा गया है कि 35 से अधिक आयु सीमा वाली महिलाओं को गर्भवती होने के लिए एक साल से अधिक का समय लगता है। शोधकर्ताओं ने पाया है कि 30 वर्ष के अंतिम चरण और 40 साल की उम्र सीमा वाली महिलाओं को बहुत सारी जटिलताओं का सामना करना पड़ता है, जिसमें शामिल है:

  • अस्थानिक गर्भावस्था
  • गर्भपात
  • पूर्व एक्लंप्षण (प्राक्गर्भाक्षेपक)
  • मृत जन्म

इस प्रकार, उन्हें वास्तव में सामान्य प्रक्रिया से बच्चे को जन्म देना मुश्किल हो जाता है। वे महिलाए आम तौर पर सीज़ेरियन (ओपरेशन करके) से बच्चे को जन्म दे पाती है। आप पुरुष प्रजनन के महिला गर्भावस्था पर प्रभाव से संबंध कुछ दिलचस्प आंकड़े देख सकते हैं। महिला के साथ साथ, 25 वर्षों की उम्र के बाद पुरुष की प्रजनन में भी गिरावट शुरु हो जाती है। इस प्रकार 40 वर्ष की आयु सीमा वाले पुरुष को अपने साथी को गर्भवती करने के लिए 2 साल लग जाते हैं। इसलिए हर औरत को बच्चा पाने के लिए संबंधित तथ्यों के बारे में पता होना चाहिए।

गर्भ धारण करने का उचित समय और स्वस्थ बच्चा पाने की सही उम्र (Getting healthy babies at the perfect age)

गर्भावस्था के दौरान रक्त चाप को नियंत्रित करने का घरेलू उपाय

बड़ी उम्र की महिलाए जब बच्चे को जन्म देती है तो माँ के साथ साथ बच्चे का स्वास्थ्य भी प्रभावित होता है। गर्भधारण का सही समय, आज महिलाएं 30 से 40 साल की उम्र में गर्भ धारण करती है क्योकि वे परिवार की तुलना में उनके कैरियर पर अधिक महत्व देती है। इस प्रकार, एक बच्चे को जन्म देने की योजना में देर हो जाती है। महिला के लिए 35 वर्ष से कम की उम्र गर्भवती होने की एकदम सही उम्र है।

सही आयु में गर्भावस्था के दौरान कम जटिलतायों में आप एक स्वस्थ बच्चा प्राप्त कर सकती हैं। यहां तक कि बड़ी उम्र की महिलाए प्रसव के समय अपना जीवन जोखिम में डालती हैं। डॉक्टर और परिवार के सदस्यों द्वारा शुरू से ही उचित समर्थन प्रदान किया जाना चाहिए। प्रजनन के बारे में तथ्यों को समझना बहुत महत्वपूर्ण हैं।

गर्भावस्था की विभिन्न उम्र के फायदे और नुकसान (Pros and cons at different ages of pregnancy)

20 से 24 वर्ष की गर्भावस्था (Pregnancy at ages 20 – 24)

यह समय सबसे उर्वर साबित होता है और इस समय आपके मासिक धर्म की प्रक्रिया नियमित रूप से होती है। ज़्यादातर महिलाओं के इस समय पीरियड्स (periods) नियमित रूप से होते हैं और इनमें से कुछ में अण्डोत्सर्ग (ovulation) भी होता है। पर बच्चा पैदा करने का समय आप चाहकर भी चुन नहीं सकती। आमतौर पर 20 से 24 वर्ष की महिलाओं की हर महीने गर्भवती होने की करीब 20% संभावना होती है। अगर वे बिना किसी सुरक्षा के संभोग करती हैं तो उनके गर्भवती होने की संभावना काफी बढ़ सकती है।

लक्षण (Symptoms)

बच्चे के जन्म से पहले डॉक्टर के पास जाने के बाद आपके रक्तचाप (blood pressure) में कुछ समस्याएं आ सकती हैं। हालांकि 20 से 24 वर्ष की महिलाओं में गर्भावस्था के दौरान तनाव और चिंता की संभावना काफी कम देखी जाती है। लेकिन इस उम्र की महिलाओं को जीवन के अन्य क्षेत्रों जैसे नौकरी ढूँढने या अन्य किसी भी काम पर जोर डालने की अपेक्षा शादी कर लेने पर ही ज़ोर दिया जाता है।

गर्भावस्था के दौरान उत्तम आहार / गर्भवती महिलाओं के लिए आहार

खतरों के कारक (Risk factors)

गर्भपात इस उम्र में गर्भावस्था के दौरान पैदा हो सकने वाला सबसे बड़ा ख़तरा है। उम्र के इस पड़ाव पर एक महिला के अंडे काफी कोमल और जवान रहते हैं, अतः इस उम्र की महिलाओं के बच्चों को किसी प्रकार की जन्म विकृतियों डाउन सिंड्रोम या अन्य क्रोमोसोमल विकृतियों (down syndrome or other chromosomal abnormalities) के साथ पैदा होने की काफी कम संभावना होती है। इस उम्र में एक महिला ज़्यादा बच्चों को जन्म दे सकती है, अतः उनमें विकृति की संभावना उन 35 वर्ष की महिलाओं से ज़्यादा हो सकती है, जो स्क्रीनिंग टेस्ट (screening tests) के द्वारा ऐसी कोई भी गर्भावस्था की स्थिति में गर्भपात करवा सकती हैं, जिनमें भ्रूण में कोई जन्म विकृति होती है।

25 से 29 साल की उम्र में गर्भावस्था (Pregnancy at ages 25 – 29)

इस उम्र में गर्भवती होना कुछ हद तक खतरे का सौदा है, पर नियमित रूप से अच्छे से व्यायाम करने और संतुलित आहार ग्रहण करने से आपको कोई ख़ास समस्या का सामना नहीं करना पड़ता। सही प्रकार से व्यायाम करने पर गर्भावस्था के बाद आपका शरीर एक व्यायाम ना करने वाली महिला की तुलना में ज्यादा जल्दी पहले वाले रूप में आ सकेगा। 20 के दशक के उम्र के पड़ाव में चल रही महिलाओं का स्वास्थ्य अव्वल दर्जे का होने की संभावना ज्यादा होती है और इसी वजह से उनके बच्चे का जन्म और जन्म के बाद अतिरिक्त वज़न का घटाना काफी आसानी से संभव हो सकता है। गंभीर स्वास्थ्य समस्याएं जैसे स्तनों के और अंडाशय के कैंसर (breast cancer and ovarian cancer) से 20 की उम्र के दशक में महिलाओं के प्रभावित होने की संभावना काफी कम होती है। अण्डोत्सर्ग के दौरान हार्मोनल (hormonal) परिवर्तन होने से आपके स्तनों और अंडाशय पर प्रभाव पड़ता है। इससे कैंसर का ख़तरा भी बढ़ सकता है।

खतरों के कारक (Risk factors)

इस समय के दौरान आप काम में व्यस्त रहती हैं। आप शादीशुदा होती हैं और अपने पति के साथ आपके सम्बन्ध कई तरह के परिवर्तनों से गुज़रते हैं। इस उम्र में गर्भपात होने की संभावना 5 साल छोटी महिलाओं की तुलना में 10% ज़्यादा तक हो सकती है। इस समय डाउन सिंड्रोम से प्रभावित बच्चे को जन्म देने की संभावना 1250 में 1 और क्रोमोसोमल विकृतियों के शिकार बच्चे को जन्म देने की संभावना 476 में 1 होती है।

Subscribe to Blog via Email

Get Hindi tips to your inbox everyday