Premenstrual syndrome (PMS) – Symptoms – प्रीमेंस्ट्रुअल सिंड्रोम के लक्षण

मासिक धर्म से पूर्व का सिंड्रोम, जिसे आमतौर पर पीएमएस कहा जाता है, के अंतर्गत ऐसे कई शारीरिक एवं मानसिक लक्षण आते हैं जो रक्तस्त्राव शुरू होने से पहले मासिक धर्म वाली औरतों में देखे जाते हैं।  पीएमएस का समय, लक्षण एवं गंभीरता हर महिला के क्षेत्र में अलग अलग होई है एवं यह हर महीने भी अलग अलग हो सकते हैं।  पीएमएस के लक्षण काफी अलग होते हैं एवं बच्चे को जन्म देने वाली आयु की 90% महिलाएं अलग अलग प्रकार  से इन लक्षणों का अनुभव करती हैं।

कुछ महिलाओं में मासिक धर्म से पूर्व के गंभीर सिंड्रोम के असल कारण अभी भी पता नहीं चल पाए हैं, पर यह कई कारकों की वजह से हो सकता है।  जीवनशैली से शुरू करके, सम्पूर्ण शारीरिक स्वास्थ्य एवं अतिरिक्त या कम कामक्रिया भी महिलाओं में पीएमएस की गंभीरता के कारण हो सकते हैं।

पीएमएस के कारण (The reason of PMS)

मासिक धर्म से पहले के सिंड्रोम के उपचार

वैसे तो पीएमएस के असल कारण का पता नहीं चल पाया है, परन्तु इसका सम्बन्ध मासिक धर्म शुरू होने से पहले शरीर में बदलते हुए हार्मोनल (hormonal) स्तर के साथ हो सकता है।  शरीर को मासिक धर्म के लिए तैयार करने के लिए कई प्रकार के महत्वपूर्ण हार्मोनल बदलाव महिला शरीर में होते हैं। महिलाओं के शरीर में मासिक धर्म पर नियंत्रण करने वाले प्राथमिक हॉर्मोन्स  एस्ट्रोजन एवं प्रोजेस्टेरोन (estrogen and progesterone) हैं।  शरीर में इन हॉर्मोन्स के बदलाव से मासिक धर्म से पूर्व के लक्षण जुड़े हुए हैं।

पीएमएस के लक्षण (What are the symptoms of PMS?)

यह काफी आवश्यक है कि हर महिला सामान्य मासिक धर्म पूर्व के लक्षणों के बारे में सावधान रहें क्योंकि जानकारी इन लक्षणों के बेहतर प्रबंधन की ओर पहला कदम है।  पीएमएस का पता लगाने का श्रेष्ठ तरीका लक्षणों का पता लगाना है।  हालांकि ये लक्षण अन्य स्वास्थ्य समस्याओं के साथ नज़र आ सकते हैं, अतः डॉक्टर आमतौर पर सम्पूर्ण स्वास्थ्य जांच पर जोर देते हैं जिससे कि ऐसी कोई स्वास्थ्य समस्याएं ना रहें जो पीएमएस का पता चलने से पहले समान लक्षण उत्पन्न करें। नीचे मासिक धर्म से पूर्व के कुछ आम लक्षण दिए जा रहे हैं।

स्तनों का नर्म होना (Tenderness of breasts)

स्तनों का नर्म होना एक काफी आम मासिक धर्म से पूर्व का लक्षण है जो आमतौर पर महिलाओं द्वारा मासिक धर्म के 1-2 हफ्ते पहले अनुभव किया जाता है।  इस नरमाहट की गंभीरता हर व्यक्ति में अलग अलग होती है एवं यह हर महीने भी बदल सकती है।

पेट फूलना (Swelling of belly)

पेट के आसपास चर्बी का बढ़ना एक और सामान्य मासिक धर्म पूर्व की समस्या है। यह मासिक धर्म से पूर्व शरीर में पानी के अतिरिक्त रूप से जमा होने के कारण होता है। इस समस्या पर नियंत्रण करने का एक आसान तरीका नमक का सेवन कम करना है, क्योंकि इस समय नमक शरीर में अधिक पानी जमा होने का कारण बनता है।

सूजन (Bloating)

सूजन एवं हाजमे की समस्याएं महिलाओं में मासिक धर्म शुरू होने से पहले देखी जाती हैं।  यदि आपको हाजमे एवं सूजन की समस्या है तो आपके मासिक धर्म से पूर्व इन समस्याओं में काफी बढ़ोत्तरी हो सकती है।  इस समस्या को नियंत्रित करने का सबसे अच्छा उपाय अपने खानपान को नियंत्रित करना है जो खाद्य फाइबर्स (fibers) एवं आसानी से हज़म होने वाले पोषक तत्वों से भरपूर हो।

थकान (Fatigue)

माहवारी की समस्याओं को न करें नज़रअंदाज़ पीरियड्स से जुड़ी कुछ खास जानकारियाँ

अचानक थकान का अनुभव होना पीएमएस का लक्षण हो सकता है।  यदि आप रोज़मर्रा के कार्यों के बाद महीने के कुछ ख़ास दिनों में थकान का अनुभव कर रही हैं तो यह मासिक धर्म से पूर्व के लक्षण हो सकता है।  हालांकि ऐसी स्थिति में यह चक्रवाती रूप से खुद को दोहराएगा एवं आपको यह सुनिश्चित करना होगा कि थकान की इस परिस्थिति के दौरान आपको कोई और स्वास्थ्य समस्याएं परेशान ना करें।

भोजन की तीव्र इच्छा या भूख ना लगना (Food craving/Lack of appetite)

भोजन की अत्याधिक इच्छा या भूख बिल्कुल ना लगना दोनों ही पीएमएस के लक्षण हो सकते हैं।  पीएमएस के अन्य लक्षणों की तरह ये महिला से महिला एवं महीने से महीने बदल सकते हैं।