How to make up for wrinkled eyes? – झुर्रियों के साथ, कैसे करें आँखों का सही मेकअप

केवल युवतियां ही नहीं बल्कि, अधिक उम्र की महिलाएं भी खुबसूरत दिखने की चाह रखती हैं और हो भी क्यों ना? यहाँ कुछ ऐसे मेकअप टिप्स दिए जा रहे हैं जो अधिक उम्र की महिलाओं के लिए उपयोगी हैं जिनकी आँखों के आस पास झुर्रियां हो गई हों, झुर्रियों को छिपाने के लिए सही मेकअप बहुत ज़रूरी होता है जो आपकी सुन्दरता को कहीं से भी कम होने नहीं देता. मेकअप के इन तरीकों को अपना कर आप एक परफेक्ट लुक पा सकती हैं.

आँखों के मेकअप के लिए हिंदी टिप्स (Way of makeup and remove wrinkles on eyes)

मोश्चराइजिंग (Moisturizing)

आँखों या त्वचा में किसी भी जगह झुर्रियों की प्रमुख वजह नमी का कम होना है. अगर आप त्वचा को ज़रूरी नमी प्रदान नहीं करेंगी तो यह रूखी होकर जल्दी ही महीन रेखाओं के साथ नज़र आने लगती हैं, जो धीरे धीरे झुर्रियों का रूप ले लेती हैं. अगर आप पर्याप्त मोश्चर त्वचा को दें तो महीन रेखाएं कम होती हुई गायब हो जाती है.

हाइड्रेशन (Hydration)

अगर आप आँखों या पलकों से झुर्रियां हटाना चाहती हैं तो आपको आवश्यक रूप से अधिक पानी पीने की ज़रूरत है. दिन में कम से कम 8 गिलास पानी ज़रूर पीना चाहिए. आपने अक्सर देखा होगा कि ऐसी महिलाएं जो कम पानी पीने की आदत का शिकार होती हैं उन्हें त्वचा से सम्बंधित परेशानियाँ ज्यादा होती हैं.

एक्सफ़ोलिएट (Exfoliate)

रिंकल्स या झुर्रियों की समस्या ड्राई स्किन में अधिक होती है और अगर ड्राई स्किन को समय समय पर एक्सफ़ोलिएट ना किया जाये तो डेड सेल्स का जमाव होता रहता है जो त्वचा कीई बाहरी परत पर जमा होती है. बाज़ार में मिलने वाले उत्पादों की जगह एक्सफ़ोलिएट करने के लिए घरेलू या प्राकृतिक तरीका बेहतर होता है.

कंसीलर का प्रयोग और मेकअप कैसे करें (Use of Concealer and makeup)

अगर आप पर झुर्रियों का इलाज करने में असमर्थ हैं या घरेलू तरीकों का प्रयोग नहीं करना चाहती तो यहाँ कुछ मेकअप टिप्स दिए जा रहे हैं जो आपकी झुर्रियों को छिपाने में मदद करते हैं.

आँखों का मेकअप करते समय कंसीलर को ब्रश या ऊँगली की मदद से सीधे झुर्रियों वाली जगह पर लगा कर रिंकल्स को कवर करने का प्रयास करें. इसके ऊपर फाउंडेशन लगकर पूरी स्किन को कवर करें. खास कर जहाँ पतली रेखाएं हो उन्हें अच्छी तरह ढँक दें. केवल फाउंडेशन ही मेकअप के लिए काफी नहीं होता इसके साथ फेस पाउडर और आई मेकअप भी ज़रूरी है. आई शेडो लगाना ना भूलें. यह आपकी भौहों को उभारता है और आँखों को आकर्षक बनाता है. पलकों पर टू टोन आई शेडो का इस्तेमाल करें. और अंत में मस्कारा तथा आई लाइनर की बारी आती है. इसे भी ध्यान से सतर्कता के साथ लगाना चाहिए.

Subscribe to Blog via Email

Join 45,326 other subscribers

मेकअप साफ़ करें  (Remove makeup)

मेकअप जिस तरह आपको सुन्दरता प्रदान करते हैं उसी तरह इन्हें लम्बे समय तक इस्तेमाल के बाद आची तरह साफ न करना नुकसानदायक भी होता है, खास तौर पर जब आप सोने जा रही हों तो मेकअप साफ़ किए बिना बिस्तर में ना जायें. किसी अच्छे क्लिंज़र से चेहरे को साफ़ करें और बंद पोरों को साफ़ करने के लिए टोनर का इस्तेमाल करें. इसके बाद आखिर में मोश्चराइज़र लगा कर त्वचा को नमी दें. ऐसा करने से आपकी त्वचा स्वस्थ रहेगी और उम्मीद है कि लम्बे समय तक झुर्रियों की समस्या आपसे दूर ही रहेगी.

आई लैशेश (Eye lashes)

आम तौर पर लोगों को आँखों के ऊपर या पलकों में तथा आँखों के नीचे के हिस्से में रिंकल्स होते हैं. आई लैश (Eye lashes) की मदद से इन हिस्सों को आसानी से छिपाया जा सकता है. कृत्रिम आई लैश कि मदद से आँखों के आस पास के रिंकल्स को कवर किया जा सकता है साथ ही इनके प्रयोग से आँखें आकर्षक व खुबसूरत भी दिखाई देती हैं.

फाउंडेशन या पाउडर का प्रयोग ना करें (No foundation or powder on crow’s feet)

अगर पलकों पर रेखाएं या रिंकल्स हो तो उस जगह पर फाउंडेशन नहीं लगाना चाहिए इससे रेखायें और भी साफ़ नज़र आती हैं. इसकी जगह कंसीलर का प्रयोग करें.

डार्क सर्कल्स को छिपायें (Hide the dark circles)

आँखों के आस पास इन झुर्रियों के साथ डार्क सर्कल्स भी चेहरे की खूबसूरती को कम कर देते हैं. इसे हटाने का प्रयास करें, अगर इन्हें हटाना मुश्किल हो तो कंसीलर की मदद से इसे छिपाया जा सकता है.

loading...